महावीर मन्दिर, पटना, बिहार #EDUCRATSWEB

  • Home
  • Jobs
  • Q&A
  • Register
  • Login

  • आस्था का केन्द्र, प्राचीन महावीर मन्दिर।

    महावीर मन्दिर, पटना, बिहार, भारत में स्थित भगवान श्री हनुमान जी को समर्पित सबसे पवित्र हिंदू मन्दिरों में से एक है। यह देश के सर्वोत्तम और प्राचीन हनुमान मन्दिरों में से एक है। महावीर मंदीर उत्तर भारत का सबसे प्रसिद्ध मन्दिर है। मन्दिर में हर साल लाखों श्रद्धालु आते हैं। संकट मोचन की प्रतिमा भक्तों के दिल में एक विशेष स्थान रखती है। रामनवमी के पावन अवसर पर अनेक लोग इस मन्दिर में आते हैं।

    HANUMAN MANDIR PATNA BIHAR

    लाखों भक्तों की आस्था से जुड़ा यह मन्दिर अपने धार्मिक महत्व और मान्यताओं के लिए जाना जाता है। इस मन्दिर के बारे में यह मान्यता है कि, यहां आने वाले हर भक्त की मुराद जरूर पूरी होती है, कोई भी भक्त यहां से खाली हाथ नहीं लौटता है।महावीर मन्दिर में भक्तों के साथ किसी तरह का कोई भेदभाव नहीं किया जाता है।

     

    माननीय आचार्य किशोर कुणाल और उनके सहयोगियों के तमाम प्रयासों के बाद इस मन्दिर का निर्माण हुआ। वहीं माननीय आचार्य किशोर कुणाल, महावीर मन्दिर ट्रस्ट के सचिव भी हैं।

    महावीर मन्दिर न सिर्फ लाखों श्रद्धालुओं की आस्था का केन्द्र है, बल्कि गरीब (निर्बल) लोगों के उपकार का माध्यम भी है।

    मन्दिर को रामानंद संप्रदाय के उच्चतम कैलिबर और बैरागी साधुओं के 'पंडित' (संस्कृत विद्वान) और साथ ही दलित पुजारी मिले हैं, जो सबसे अधिक सद्भा के साथ प्रदर्शन करते हैं।

    यहां विराजे श्री हनुमान जी वास्तव में लोगों के संकट हरने वाले हैं, तभी इस मन्दिर में चढ़ने वाला नैवेद्यम भोग और दान पेटी से प्राप्त राशि से गरीब (निर्बल) लोगों का कैंसर का इलाज करवाया जाता है और अन्य जरुरतमंदो की सेवा और परोपकार के कार्य में लगाया जाता है।

    इस मन्दिर के ट्रस्ट का नाम श्री महावीर स्थान न्यास समिति है, जो कि उत्तर भारत की सबसे बड़ी धार्मिक न्यास समिति है, यह समिति महावीर कैंसर इंस्टीट्यूट और रिसर्च सेंटर के अलावा, महावीर वात्सल्य हॉस्पिटल, महावीर आयोग्य अस्पताल समेत कई अन्य अस्पताल गरीब (निर्बल) और जरूरतमंद लोगो कें उपकार के लिए संचालित करती है इसके साथ ही यह धार्मिक समिति बिहार के ग्रामीण इलाकों में अनाथालय भी चलाती है।

     

    महावीर मन्दिर का विस्तार।

    बिना किसी सदस्यता के मन्दिर का पुनर्निर्माण युद्धस्तर पर किया गया। दान स्वेच्छा से आया क्योंकि लोगों को मन्दिर के 'कायाकल्प' से जुड़े व्यक्तियों पर विश्वास था। मन्दिर के पुनर्निर्माण के दौरान आयोजित किए गए 'कार सेवा' में हजारों भक्तों ने भाग लिया।

    यह एक ऐसा मन्दिर है जहाँ भक्त निश्चित शुल्क के भुगतान पर अनुष्ठान पूरा करने के लिए सभी सामग्री प्राप्त करते हैं और पुरोहितों को 'दक्षिणा' का भुगतान मन्दिर प्रबंधन द्वारा किया जाता है।

    सुबह वाल्मीकि रामायण का पाठ एक दैनिक दिनचर्या है जिसमें सभी महत्वपूर्ण शास्त्रों से नियमित पाठ शामिल हैं।

    इसके अलावा इस मन्दिर के परिसर में भगवान राम, श्री कृष्ण भगवान, और दुर्गा माता का भी मन्दिर हैं। इन मन्दिरों में राधा-कृष्ण, राम-सीता, शिव-पार्वती, नंदी, भगवान गणेश समेत तमाम देवी-देवताओं की मूर्तियां स्थापित हैं। इसके अलावा इस मन्दिर के बगल में पीपल का पेड़ भी है, जिसमें भगवान शनिदेव विराजमान हैं।

    महावीर मन्दिर धर्म के साथ सहयोग परोपकार में अग्रणी है। दिव्य-अर्पण एवं कर्मकाण्ड के सहयोग से समिति ने पटना में चार चैरिटेबल अस्पताल स्थापित किए हैं और दो उत्तर बिहार में निर्माणाधीन हैं। समिति ने गरीब कैंसर रोगियों के इलाज के लिए 50 लाख प्रदान किए हैं और समाज के वंचित वर्गों और योग्य व्यक्तियों को सहायता के लिए लगभग समान राशि प्रदान किए हैं।

    यह पहला धार्मिक ट्रस्ट है जिसने माता-पिता की समर्पित सेवा के लिए श्रवण कुमार अवार्ड की शुरुआत की। प्रथम पुरस्कार के रूप में ₹1,00,000 दूसरा ₹50,000 और तीसरा एक ₹25,000 निर्धारित किया गया है। इसके अलावा, 5,000 के 10 पुरस्कार हैं। प्रत्येक पुरस्कार माता-पिता की समर्पित सेवा के लिए है।

     

    महावीर मन्दिर का इतिहास।

    महावीर मन्दिर, पटना देश में अग्रणी हनुमान मन्दिरों में से एक है। हज़ारों भक्तों ने श्री हनुमानजी की आराधना और मन्दिर की यात्रा की। यह एक मनोकामना मन्दिर है, जहां भक्तों की हर मनोकामना पूरी होती है, और यह मन्दिर में भक्तों की बढ़ती संख्या का कारण है।

    सन् 1948 ईसा पूर्व पटना उच्च न्यायालय ने इसे सार्वजनिक मन्दिर घोषित कर दिया। नए भव्य मन्दिर का विनिर्माण सन् 1983 ईसा पूर्व से सन् 1985 ईसा पूर्व के बीच माननीय आचार्य किशोर कुणाल और उनके भक्तो के योगदान से किया गया था, और वर्तमान में ये देश के विश्व प्रसिद्ध मन्दिरों में से एक है।

    मन्दिर में श्री हनुमान जी की दो युग्म प्रतिमाएं एक साथ हैं, पहली परित्राणाय साधूनाम् जिसका अर्थ है अच्छे व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए और दूसरी विनाशाय च दुष्कृताम् जिसका अर्थ है दुष्ट व्यक्तियों की बुराई दूर करने के लिए। ये मन्दिर सन् 1900 ईसा पूर्व से रामानंद संप्रदाय के अंतर्गत आता है जबकि सन् 1948 ईसा पूर्व तक गोसाईं सन्यासियों के संप्रदाय के अधीन था।

    सन् 1948 ईसा पूर्व पटना उच्च न्यायालय के फैसले के अनुसार मन्दिर अनादि काल से मौजूद है। यह मन्दिर मूल रूप से स्वामी बालानंद द्वारा स्थापित किया गया था।

     

    महावीर मन्दिर का निर्माण।

    वर्तमान मन्दिर का जीर्णोद्धार 30 नवंबर से 4 मार्च 1985 के बीच हुआ है। मन्दिर का क्षेत्रफल 10 हजार वर्ग फुट क्षेत्रफल में फैला हुआ है। मन्दिर परिसर में आगंतुकों और भक्तों की सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है। मन्दिर परिसर में प्रवेश करने के पश्चात बायीं तरफ एक चबूतरे पर सीढ़ियों की श्रृंखला है जो मन्दिर के मुख्य क्षेत्र जिसे गर्भगृह कहा जाता है की ओर जाती है, जहां भगवान हनुमान का गर्भ गृह है। इसके चारों ओर एक गलियारा है जिसमें भगवान शिव जी है।

    मन्दिर की पहली मंजिल में देवताओं की चार गर्भगृह है। इनमें से एक भगवन राम का मन्दिर है जहां से इसका प्रारंभ होता है। राम मन्दिर के पास भगवान कृष्ण का चित्रण किया गया है जिसमें वे अर्जुन को धर्मोपदेश दे रहे है। इससे अगला देवी दुर्गा का मन्दिर है। इसके बाद भगवान शिव, ध्यान करती माँ पार्वती और नंदी-पवित्र बैल की मुर्तिया हैं जो लकड़ी के कटघरे में रखी गयी हैं। लकड़ी के कटघरे में शिव जी के ज्योतिर्लिंग को स्थापित किया गया है।

    इस मंजिल पर एक अस्थायी राम सेतु है। इस सेतु को कांच के एक पात्र में रखा गया है। इस पत्थर की विशिष्ट भार मात्र 13,000 एमएम है जबकि इसका वजन लगभग 15 किलो है और पानी में तैर रही है जो कि कभी डूबती नहीं है

    मन्दिर की दूसरी मंजिल का प्रयोग अनुष्ठान प्रयोजन के लिए किया जाता है। संस्कार मंडप इसी मंजिल पर मौजूद है। यहाँ मंत्रो का उच्चारण, जप, पवित्र ग्रंथो का गायन, सत्यनारायण कथा और अन्य धर्मिक अनुष्ठान किये जाते है। इस मंजिल पर रामायण की विभिन्न दृश्यों का चित्र प्रदर्शन भी किया गया है।

    पहली मंजिल पर ध्यान मंडप को पार करने के पश्चात, बायीं ओर मौजूद भगवान गणेश, भगवान बुद्ध, भगवान सत्यनारायण, भगवान राम और सीता और देवी सरस्वती की प्रतिमाएं भक्तो को अपना आशीर्वाद देकर कृतार्थ करते है। इन देवताओं के सामने, पीपल के वृक्ष के नीचे शनि महाराज का मन्दिर है जिसे एक गुफा के आकार का बनाया गया है जो दिखने में बहुत आकर्षक लगता है।

    मन्दिर के मुख्य परिसर में एक कार्यालय, धर्मिक वस्तुयों की एक दूकान और किताबो की दुकान है जहां धार्मिक शैली की किताबें मिलती है। इस परिसर में एक ज्योतिषी और हस्तकला केंद्र और मणि पत्थरो का भी केंद्र है जो भक्तो की आवश्कताओं को सही मार्गदर्शन से पूर्ण करता है।

     

    महावीर मन्दिर का प्रसाद।

    मन्दिर को एक और विशेषता इसके प्रसाद की है, जो पीठासीन देवताओ को अर्पित किया जाता है। प्रसाद के रूप में “नैवेद्यम” दिया जाता है जिसे तिरुपति और आंध्र प्रदेश के विशेषज्ञों द्वारा तैयार किया जाता है।

    महावीर मन्दिर का नैवेद्यम लडडुओं का पर्याय है जिसे हनुमान जी को अर्पित किया जाता है। संस्कृत भाषा में नैवेद्यम का अर्थ है देवता के समक्ष खाद्य सामग्री अर्पित करना। इस प्रसाद को तिरुपति के विशेषज्ञों द्वारा तैयार किया जाता है। इस प्रसाद में बेसन का आटा, चीनी, काजू, किशमिश, हरी इलायची, कश्मीरी केसर और अन्य फलेवर डालकर घी में पकाया जाता है और गेंद के आकार में बनाया जाता है।

    नैवेद्यम बनाने में प्रयोग की जाने वाली केसर कश्मीर के पंपोर जिले के उत्पादकों से सीधे मंगाई जाती है जिसे कश्मीर में सोने (केसर) की भूमि के नाम से जाना जाता है।

    इस मन्दिर से होनेवाली आय से जनहित में महावीर कैंसर संस्थान, महावीर आरोग्य संस्थान, महावीर नेत्रालय, महावीर वात्सल्य अस्पताल संचालित है जहां न्यूनतम शुल्कों पर लोगों का इलाज किया जाता है।

    educratsweb.com

    Posted by: educratsweb.com

    I am owner of this website. I Love blogging and Enjoy to listening old song. ....
    Enjoy this Author Blog/Website visit http://twitter.com/educratsweb

    if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
    For Advertisment or any query email us at educratsweb@gmail.com

    RELATED POST
    1. Text of PM's address at the launch of multiple development projects in Bihar
    बिहार के गवर्नर श्री फागू चौहान जी, बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी, केंद्रीय मंत्रिमंडल के मेरे सहयोगी श्री हरदीप सिंह पुरी जी, श्री रविशंकर प्रसाद जी, केंद्रीय और राज्य मंत्रिमंडल के
    2. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा अंतर्राष्ट्रीय बस टर्मिनल (आई.एस.बी.टी.), पटना तथा आरा, औरंगाबाद, नवादा एवं झाझा के बस अड्डों का उद्घाटन दिनांक-18 सितम्बर 2020, समय.5 बजे अपराह्न
    मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को पटना के अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटी) का उद्घाटन करेंगे। यह उद्घाटन समारोह शाम पांच बजे होगा। उद्घाटन के साथ ही आईएसबीटी से फेज-1 में बसों का परिचालन शु
    3. बिहार:वनों के क्षेत्र पदाधिकारी के 43 पदों पर होगी बहाली, महिलाओं के लिए 35 फीसदी आरक्षण
    राज्य सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के अंतर्गत वनों के क्षेत्र पदाधिकारी (रेंज ऑफिसर ऑफ फॉरेस्ट) के 43 पदों पर बहाली होगी। इसके लिए बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग अभ्यर्थियों से ऑनला
    4. BPSC ने जारी किया परीक्षाओं का कैलेंडर, दिसंबर से मार्च तक होने वाले कई Exams की ये हैं तारीखें
    बिहार लोक सेवा आयोग ने शुक्रवार को करीब आधा दर्जन बड़ी परीक्षाओं की तिथि जारी कर दी। आयोग ने लंबित सभी परीक्षाओं का कैलेंडर तैयार कर लिया है। इसकी संभावित तिथि तैयार कर ली है। इसी के अनुसार दिसंब
    5. बिहार बोर्ड:9 से 21 सितंबर के बीच होगी बिहार एसटीईटी की परीक्षा, 2.47 लाख छात्र होंगे शामिल
    बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने बिहार एसटीईटी परीक्षा की तारीख की घोषणा की है। परीक्षा 9 से 21 सितंबर के बीच ऑनलाइन लिया जाएगा। परीक्षा में धांधली के चलते बिहार बोर्ड ने 28 जनवरी को ली गई परीक्षा रद
    6. चुनाव से पहले बिहार सरकार का शिक्षकों को तोहफा, 15 फीसदी बढ़ाया मूल वेतन
    इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बिहार सरकार ने राज्य के शिक्षकों को बड़ा तोहफा दिया है। पंचायती राज संस्थाओं और नगर निकायों में तैनात शिक्षकों और मुख्य लाइब्रेरियन के मूल वेतन में नीतीश
    7. Lockdown extended in Bihar for a period of 16 days effective from 1st August in wake of #COVID19
    Lockdown extended in Bihar for a period of 16 days effective from 1st August in wake of #COVID19 सर्व साधारण को सूचित किया जाता है कि सोशल मीडिया में लॉक ड
    8. बिहार में कई रियायतों के साथ 16 अगस्त तक बढ़ाया गया लॉकडाउन
     
    9. बिहार में कंप्यूटर ऑपरेटर्स के लिए बड़े पैमाने पर निकलने वाली है वैकेंसी
    बिहार के सभी अंचलों में कंप्यूटर ऑपरेटर बहाल किए जाएंगे। खासकर अंचलों में बनने वाले आधुनिक रिकॉर्ड रूम में काम करने के लिए इन ऑपरेटरों की बहाली होगी। अत्याधुनिक रिकॉर्ड रूम सह डाटा केंद्र में क
    10. बिहार : एक नजर मे
    बिहार : एक नजर मे (1). बिहार का नाम ' बिहार ' कैसे पड़ा ? ( क ) भगवान् महावीर की कर्मस्थली के कारण ( ख ) बिहार म
    11. बिहार में 16 से लेकर 31 जुलाई तक लॉकडाउन रहेगा
    बिहार में कोरोना महामारी (Corona epidemic) के बढ़ते संक्रमण के बीच राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. नीतीश सरकार ने बिहार में एक बार फिर से लॉकडाउन (Lockdown) लागू कर दिया है. इसके तहत अब बिहार में 16 से लेकर 31 जुल
    12. बिहार : एक नजर मे
    बिहार : एक नजर मे 189. अंग्रेजों ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान बिहार के किस नेता को जिंदा या मुर्दा पकड़क
    13. पटना में सात दिनों के लिए लगेगा लॉकडाउन, सचिवालय में आम आदमी की एंट्री पर बैन
     बिहार की राजधानी पटना में काेरोना विस्‍फोट की स्थिति को देखते हुए प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। पटना में फिर से लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। डीएम ने निर्णय लिया है। पटना, जेएनएन। Bihar News: बि
    14. बिहार एसटीईटी : 9 से 21 सितंबर तक ऑनलाइन परीक्षा होगी, इन 12 जिलों में बनाए गए सेंटर्स
    एसटीईटी यानि शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 की पुनर्परीक्षा को लेकर तारीखों के साथ परीक्षा केंद्र की सूची जारी कर दी गयी है. 9 सितंबर से 21 सितंबर तक परीक्षार्थियों को पुनर्परीक्षा में भाग लेना पड़ेगा.
    15. बिहार : एक नजर मे
    बिहार : एक नजर मे 101. बिहार के प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय में शिक्षा का माध्यम क्या था ? ( क ) संस्कृत ( ख ) प
    16. कोरोना महामारी से व्याप्त वैश्विक संकट में बिहार सरकार अपने प्रवासी नागरिकों की सुरक्षा व संरक्षण हेतु दृढ़ संकल्पित है
    कोरोना महामारी से व्याप्त वैश्विक संकट में बिहार सरकार अपने प्रवासी नागरिकों की सुरक्षा व संरक्षण हेतु दृढ़ संकल्पित है। बिहार के प्रवासी श्रमिकों को सहायता पहुंचाने के उद्देश्य
    17. बिहार में व्यवसाय का प्रारंभ अब आसान। सरकारी जमीन मिलना आप की सोच से भी अधिक आसान। #BiharIndustriesDept #BiharBiyada
    बिहार में व्यवसाय का प्रारंभ अब आसान। सरकारी जमीन मिलना आप की सोच से भी अधिक आसान। #BiharIndustriesDept #BiharBiyada  
    18. कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार ने यह फैसला लिया है कि संक्रमण वाले क्षेत्रों में लॉकडाउन जारी रहेगा।
    कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार ने यह फैसला लिया है कि संक्रमण वाले क्षेत्रों में लॉकडाउन जारी रहेगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को जदयू के वर्चुअल सम्मेल
    19. अत्याचार पीड़ित के अधिकार
    अत्याचार पीड़ित के लिए देय परिवर्धित मानक क्षतिपूर्ति राशि अविलम्ब प्राप्त करने का अधिकार पीड़ित या उसके आश्रित परिवार को देय क्षतिपूर्ति के
    20. Lockdown in Bihar: छह सितंबर तक बढ़ा लॉकडाउन; जानिए क्‍या मिली छूट, कहां की जाएगी सख्‍ती
    Lockdown in Bihar: बिहार में एक अगस्‍त से जारी अनलॉक (Unlock) का रविवार को अंतिम दिन था। राज्‍य में कोरोना संक्रमण (CoronaVirus Infection) के हालात को देखते हुए सरकार ने इसके प्रावधानों को छह सितंबर तक लॉकडाउन के तहत बढ
    21. संविदा कर्मियों के साथ भेदभाव कर रही सरकार
    मोतिहारी.  कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव व रोकथाम के लिए प्रतिनियोजित संविदा कर्मियों के साथ सरकार भेदभाव कर रही है। उक्त आरोप टीईटी एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के जिलाध्यक्
    22. आत्मा क्या है ?
    About Atma आत्मा का निबंधन 31 मार्च 2002 आत्मा शासी परिषद का गठन अगस्त 2002
    23. बिहार दिवसः क्या आप जानते हैं ये पांच बातें, जानें कैसे ट्रेंड में आया ये शब्द
    बिहार दिवस को 22 मार्च के दिन मनाने का प्रमुख कारण है कि इसी दिन बिहार राज्य की स्थापना हुई थी। असल में अंग्रेजों ने सन 1912 में इसी दिन बिहार को बंगाल प्रसीडेंसी से अलग कर नए राज्य के रूप में मान्यता द
    24. सावधान: बिहार सरकार में बहाली के नाम पर चल रहा है फर्जीवाड़ा, देखभाल कर ही करें आवेदन
    बिहार सरकार के विभागों की फर्जी वेबसाइट बना कर बहाली के फर्जीवाड़े का खेल सामने आया है. फर्जी वेबसाइट बनाने वाले ठग आवेदकों से आवेदन शुल्क के नाम पर पैसे वसूल रहे हैं. लिहाजा बिहार सरकार में नियु
    25. भ्रष्ट को पकड़ावाओ 5 लाख तक इनाम पाओ - बिहार सरकार
    भ्रष्ट को पकड़ावाओ 5 लाख तक इनाम पाओ - बिहार सरकार
    We would love to hear your thoughts, concerns or problems with anything so we can improve our website educratsweb.com ! visit https://forms.gle/jDz4fFqXuvSfQmUC9 and submit your valuable feedback.
    Save this page as PDF | Recommend to your Friends
    Add FREE Listing to Bharatpages Business Directory
    Read this site in Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu Urdu or Any other Language Google's cache Page
    January 21 - Historical Events - On This Day
    Sushant Singh Rajput - (21 January 1986 - 14 June 2020) was an Indian film and television actor, dancer, television personality,an entrepreneur and a philanthropist. Rajput started his career with television serials. His debut show was Star Plus romantic drama Kis Desh Mein Hai Meraa Dil (2008), followed by an award-winning performance in Zee TV popular soap opera Pavitra Rishta   IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK
    Sushant Singh Rajput - (21 January 1986 - 14 June 2020) was an Indian film and television actor, dancer, television personality,an entrepreneur and a philanthropist. Rajput started his career with television serials. His debut show was Star Plus romantic drama Kis Desh Mein Hai Meraa Dil (2008), followed by an award-winning performance in Zee TV popular soap opera Pavitra Rishta
    #21January

    Bihar Government Calendar 2021  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK Bihar Government Calendar 2021

    Recent Posts

    Great Republic Day Sale | 20th - 23rd Jan  IMAGES, GIF, ANIMATED GIF, WALLPAPER, STICKER FOR WHATSAPP & FACEBOOK Great Republic Day Sale | 20th - 23rd Jan

    Jobs & Career Engineering Faculty & Teaching Defense & Police UPSC Scholorship Railway IT & Computer SSC Clerk & Steno UGC NET
    Contents News Education General Awareness Government Schemes Admit Card Study Material Exam Result Scholorship DATA Syllabus Contact us
    Explore more Archives Web Archive Register / Login Rss feed Posts Free Online Practice Set Useful Links / Sitemap Photo / Video Search Pincode Best Deal Greetings Recent Jobs Guest Contributor educratsweb Latest Jobs Notification sarkariniyukti.blogspot.com Bharatpages - BUSINESS DIRECTORY IN INDIA - FREE ONLINE BUSINESS LISTING
    Our Blog Bhakti Sangam chitragupta ji maharaj shri shirdi sai baba sansthan

    Great Republic Day Sale | 20th - 23rd Jan
    Great Republic Day Sale | 20th - 23rd Jan

    Guest Post | Submit   Job information   Contents   Link   Youtube Video   Photo   Practice Set   Affiliated Link   Register with us Register login Login
    educratsweb logo
    educratsweb provide the educational contents, Job, Online Practice set for students.
    if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
    For Advertisment email us at educratsweb@gmail.com
    Search | http://www.educratsweb.com/content.php?id=1656