Guest Post | Submit   Job information   Contents   Link   Youtube Video   Photo   Practice Set   Affiliated Link   Register with us Register login Login
Join Our Telegram Group Join Our Telegram Group https://t.me/educratsweb

जयदेव

जयदेव (१२०० ईस्वी के आसपास) संस्कृत के महाकवि हैं जिन्होंने गीत गोविन्द और रतिमंजरी रचित किए थे। जयदेव, लक्ष्मण सेन शासक के दरबारी कवि थे । जयदेव एक वैष्णव भक्त और संत के रूप में सम्मानित थे। उनकी कृति ‘गीत गोविन्द’ को श्रीमद्‌भागवत के बाद राधाकृष्ण की लीला की अनुपम साहित्य-अभिव्यक्ति माना गया है। संस्कृत कवियों की परंपरा में भी वह अंतिम कवि थे, जिन्होंने ‘गीत गोविन्द’ के रूप में संस्कृत भाषा के मधुरतम गीतों की रचना की। कहा गया है कि जयदेव ने दिव्य रस के स्वरूप राधाकृष्ण की रमणलीला का स्तवन कर आत्मशांति की सिद्धि की। भक्ति विजय के रचयिता संत महीपति ने जयदेव को श्रीमद्‌भागवतकार व्यास का अवतार माना है।

परिचय एवं प्रशंसा

‘भक्तमाल’ के लेखक नाभादास ने ब्रजभाषा में जयदेव की प्रशंसा करते हुए लिखा है- ‘कवि जयदेव, कवियों में सम्राट हैं, जबकि अन्य कवि छोटे राज्यों के शासकों के समान हैं। तीनों लोकों में उनके ‘गीत गोविन्द’ की आभा फैल रही है। यह रचना काम-विज्ञान, काव्य, नवरस तथा प्रेम की आनंदमयी कला का भंडार है, जो उनके अष्टपदों का अध्ययन करता है, उसकी बुद्धि की वृद्धि होती है। राधा के प्रेमी कृष्ण उन्हें सुनकर प्रसन्न होते हैं और अवश्य ही उस स्थान पर आते हैं, जहां ये गीत गाए जाते हैं। जयदेव वह सूर्य हैं जो कमलवत नारी, पद्मावती को सुख की प्राप्ति कराते हैं। वे संतरूपी कमल-समूह के लिए भी सूर्य की भांति हैं। कवि जयदेव कवियों में सम्राट हैं।’

जयदेव ने ‘गीत गोविन्द’ के माध्यम से, राधाकृष्ण वैष्णव धर्म का प्रचार किया। इसलिए ‘गीत गोविन्द’ को वैष्णव साधना में भक्तिरस का शास्त्र कहा गया है। जयदेव ने ‘गीत गोविन्द’ के माध्यम से उस समय के समाज को, जो शंकराचार्य के सिद्धांत के अनुरूप आत्मा और मायावाद में उलझा हुआ था, राधाकृष्ण की रसयुक्त लीलाओं की भावुकता और सरसता से जन-जन के हृदय को आनंदविभोर किया। जयदेव का जन्म वीरभूमि के केन्दुबिल्वगांव में हुआ। यह वैष्णव तीर्थयात्रियों के लिए, पश्चिम बंगाल में, आज भी एक महत्वपूर्ण तीर्थस्थान है। यहां वार्षिक मेला लगता है जिसमें वैष्णव संतों, साधकों और महंतों का समागम होता है।

जयदेव जगन्नाथ जी के दर्शन करने पुरी जा रहे थे। उसी यात्रा के दौरान उनहें गीत गोविन्द की रचना की प्रेरणा मिली। कहते हैं- पुरुषोत्तम क्षेत्र पहुंचकर उन्होंने जगन्नाथ का दर्शन किया। एक विरक्त संन्यासी की तरह वृक्ष के नीचे रहकर भगवान का भजन-कीर्तन करने लगे। उनके वैराग्य से प्रेरित होकर, वहां अन्य बड़े संत-महात्माओं का सत्संग होने लगा। फिर एक जगन्नाथ भक्त ने प्रभु की प्रेरणा से अपनी कन्या पद्मावती का विवाह जयदेव से कर दिया। वह गृहस्थ होकर भी संत का जीवन जीते रहे।

जयदेव ने राधाकृष्ण की, शृंगार-रस से परिपूर्ण भक्ति का महिमागान एवं प्रचार किया। जयदेव के राधाकृष्ण सर्वत्र एवं पूर्णत: निराकार हैं। वे शाश्वत चैतन्य-सौन्दर्य की साक्षात अभिव्यक्ति हैं। अपनी काव्य रचनाओं में जयदेव ने राधाकृष्ण की व्यक्त, अव्यक्त, प्रकट एवं अप्रकट- सभी तरह की लीलाओं का भव्य वर्णन किया है।

जयदेव गीत गोविन्द रतिमंजरी
Contents shared By educratsweb.com
if you have any information regarding Job, Study Material or any other information related to career. you can Post your article on our website. Click here to Register & Share your contents.
For Advertisment or any query email us at bharatpages.in@gmail.com

RELATED POST
  1. National Testing Agency postpones Joint Entrance Examination (Main) April-2020
  2. A Must Know Java Basics For Android Development
  3. Video Courses from adda247.com
  4. National Testing Agency ExtendsDates for Submission of Online Application Forms for various Examinations
  5. Assignment Help Service
  6. Data Science Course in Chennai-360DigiTMG
  7. Free Coaching for Government Jobs Recruitment Examinations
  8. Top Five Reasons To Prove Manual Testing is Still Significant
  9. IIT JEE Coaching Institute | Narayana Delhi
  10. Best SSC Coaching in Hyderabad
  11. Engineering College In Nagpur
  12. Accelerate Your DATA SCIENCE CAREER for the high-powered future
  13. Top 5 Trends Of Software Testing To Be Watched in 2020
  14. Personal development program (PDP)
  15. Personal development program (PDP)
  16. Personal development program (PDP)
  17. About Union Territory of Ladakh
  18. Loog Guitars are an easy way for children to learn how to play music
  19. Acting Classes, Drama School, Arts School, Goldwings Arts institute, GWAI
  20. पटना शहर के 10 ऐसे स्कूल जिनकी शिक्षा का स्तर है काफी ऊँचा
  21. Why Learning Arabic Without Preschool Nursery Rhymes Is Unimaginable?
  22. Spark Academy: Best Coaching for JEE | NEET | EAMCET in Hyderabad
  23. Best School in Patna, Leeds International School
  24. eOffice : A Digital Workplace Solution
  25. Indian Institute of Astrology
  26. भारत कि प्रमुख बहुउद्देशीय परियोजनाएं
  27. Study Arabic at Olive Tree Study - One of the best Islamic schools in London
  28. 5 Best PGDM Colleges in Ghaziabad
  29. Importance of an effective conclusion in the assignment
  30. गोस्वामी तुलसीदास (1532-1623ई.)
  31. Recruitment of Executive Engineer Trainee in NPCIL 2020 - 0 Days Remaining for Apply
  32. Non-Teaching Vacancy Recruitment in Sikkim University - 13 Days Remaining for Apply
  33. Recruitment of Executives in RGPPL 2020 - 13 Days Remaining for Apply
  34. Faculty Vacancy Recruitment in AIIMS Bibinagar (Telangana) 2020 - 25 Days Remaining for Apply
  35. Recruitment of Engineer Officer Nurse Technician Pharmacist Trainee in UPRVUNL - 4 Days Remaining for Apply
  36. Faculty vacancy recruitment in CCS University Meerut 2020 - 25 Days Remaining for Apply
  37. Recruitment of Non-Teaching Vacancy in CRSU Jind 2020 - 8 Days Remaining for Apply
  38. Recruitment of Head Masters/Mistresses Vacancy by Punjab PSC - 28 Days Remaining for Apply
  39. Lateral Recruitment of Analysts/Consultants/Specialist Vacancy in RBI 2020 - 27 Days Remaining for Apply
  40. Scientist Vacancy Recruitment in CSIR CRRI 2020 - 4 Days Remaining for Apply
  41. Recruitment of Block Primary Education Officer Vacancy by Punjab PSC 2020 - 28 Days Remaining for Apply
  42. Recruitment of Principal Schools Vacancy by Punjab PSC - 28 Days Remaining for Apply
  43. Recruitment of Scientist Vacancy in CIMFR Dhanbad 2020 - 7 Days Remaining for Apply
  44. Assistant and Clerk Vacancy Recruitment by Rajasthan High Court 2020 - 25 Days Remaining for Apply
  45. Permanent Executive Government Job Vacancy Recruitment in MMRCL 2020 - 15 Days Remaining for Apply
  46. Non-Teaching Vacancy Recruitment in Central University of Rajasthan 2020 - 15 Days Remaining for Apply
  47. Recruitment of Junior Engineer (Civil) Vacancy by Uttarakhand SSSC 2020 - 0 Days Remaining for Apply
  48. Recruitment of Professional Job Vacancy in ECIL 2020 - 8 Days Remaining for Apply
  49. Indian Institute of Management (IIM) Jammu invites online applications for following positions on Regular/ Contract (R/C) - 1 Days Remaining for Apply
  50. Recruitment for Assistant Engineer (Civil) by Bihar Public Service Commission (BPSC) - 7 Days Remaining for Apply
Tag : जयदेव
Save this page as PDF | Recommend to your Friends

http://educratsweb(dot)com http://www.educratsweb.com/content.php?id=741 http://educratsweb.com educratsweb.com educratsweb