Patrika : Leading Hindi News Portal - Cricket #educratsweb
HOME | LATEST JOBS | JOBS | CONTENTS | STUDY MATERIAL | CAREER | NEWS | BOOK | VIDEO | PRACTICE SET REGISTER | LOGIN | CONTACT US

Patrika : Leading Hindi News Portal - Cricket

http://api.patrika.com/rss/cricket-news 👁 2786

धोनी ने अर्से बाद दोहराया यह कारनामा, 8 साल पहले लगाया था लगातार तीन पचासा व बने थे मैन ऑफ द सीरीज


मेलबर्न : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह महेंद्र सिंह धोनी जो काम पूरी अपनी कप्‍तानी में नहीं कर सके, वह करिश्‍मा उन्‍होंने विराट कोहली की कप्‍तानी वाली टीम इंडिया के लिए कर दिखाया। धोनी के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने पहली बार आस्‍ट्रेलिया में वनडे सीरीज जीती है। धोनी के बेहतरीन प्रदर्शन के कारण मैन ऑफ द सीरीज का खिताब भी उनके नाम गया। इसके अलावा वह आस्ट्रेलियाई धरती पर 1000 वनडे रन पूरा करने वाले चौथे भारतीय भी बने। शुक्रवार को खेले गए मेलबर्न मैच से पहले धोनी को अपने 1000 रन पूरे करने के लिए 34 रन की जरूरत थी और उन्‍होंने इस मैच में नाबाद 87 रनों की मैच जिताऊ पारी के दौरान यह मुकाम हासिल कर लिया। उनसे पहले यह कारनामा सिर्फ सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली और रोहित शर्मा ही हासिल कर सके थे। बता दें कि इसी सीरीज के पहले मुकाबले में उन्‍होंने वनडे मैचों में 10 हजार भी रन पूरे किए थे।

8 साल लग गए इन दो उपलब्धियों को दोहराने में
आस्ट्रेलिया के साथ समाप्त तीन मैचों की सीरीज को भारत ने 2-1 से जीता। यह भारत की आस्ट्रेलिया में पहली द्विपक्षीय सीरीज जीत है। इस सीरीज में में धोनी ने लगातार 10 साल बाद लगातार तीन मैचों में अर्धशतक बनाया। पहले वनडे में 96 गेंद पर 51, दूसरे में 55 बॉल पर नाबाद 54 रन और तीसरे में 114 गेंद पर नाबाद 87 रन बनाए। पूरे सीरीज में उन्‍होंने 192 की औसत से रन बनाए। इससे पहले वह लगातार तीन अर्धशतक लगाने का कारनामा वह दो और बार कर चुके हैं। हालांकि उन्‍हें ऐसा किए अर्सा बीत गया था। पिछली बार एकदिवसीय मैच में लगातार तीन अर्धशतक उन्‍होंने 8 साल पहले इंग्‍लैंड के खिलाफ किया था और इसी सीरीज में उन्‍हें इससे पहले अंतिम बार मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला था। इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई 5 मैचों की घरेलू वनडे सीरीज में उन्‍होंने लगातार चार अर्धशतक (69, 78, 50 और नाबाद 87 रन) लगाए थे। बता दें कि पिछला साल उनके लिए काफी खराब गुजरा था। 20 वनडे मैच में करीब 25 के औसत से वह मात्र 275 रन बना सके थे और एक अर्धशतक के लिए भी तरस गए थे। उनका सर्वाधिक रन मात्र 42 था।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ind-vs-aus-mahendra-singh-dhoni-oneday-internatioonal-records-3997937/

तीसरे वनडे में चहल और धोनी का बजा डंका, कंगारू को 7 विकेट से रौंदकर भारत सीरीज जीता


मेलबर्न : टीम इंडिया ने शुक्रवार को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) पर खेले गए तीसरे और निर्णायक वनडे मैच में आस्ट्रेलिया को सात विकेट से हरा कर तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है।
भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए आस्ट्रेलिया को पूरे 50 ओवर भी नहीं दिए। निर्णायक मैच के लिए टीम में शामिल किए गए युजवेंद्र चहल की फिरकी गेंदबाजी का कहर आस्‍ट्रेलिया पर टूटा। अपने 10 ओवर के कोटे में उन्‍होंने 42 रन देकर कंगारुओं के छह विकेट झटक लिए। परिणाम यह हुआ की पूरी आस्‍ट्रेलियाई टीम 48.4 ओवर में मात्र 230 रनों पर ढेर हो गई। इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 87) की जिम्‍मेदाराना पारी की बदौलत भारत ने तीन विकेट खोकर लक्ष्य को 49.2 ओवरों में हासिल कर लिया। भारत की तरफ से महेंद्र सिंह धोनी के अलावा केदार जाधव ने नाबाद 61 रन और विराट कोहली ने 46 रनों का योगदान दिया।

पारी की शुरुआत नहीं रही अच्‍छी
लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। सिडनी में 133 और एडिलेड में 43 रन की पारी खेलने वाले रोहित शर्मा 17 गेंद खेलकर महज 9 रन पर पीटर सिडल की गेंद पर पहली स्लिप मेंशॉन मार्श के हाथों कैच देकर चलते बने। इसके बाद शिखर धवन भी 46 गेंदों पर मात्र 23 बनाकर स्‍टोइनिस की गेंद पर कॉट एंड बोल्‍ड हो गए। इसके बाद विराट कोहली (62 गेंदों पर 47 रन) ने महेंद्र सिंह धोनी के साथ मिलकर पारी को संभालने की कोशिश की। लेकिन वह भी 113 के स्‍कोर पर झे रिचर्डसन की गेंद पर विकेटकीपर एलेक्‍स कैरी को कैच दे बैठे। इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी को क्रीज पर आए केदार जाधव (नाबाद 61 ) का पूरा साथ मिला और इन दोनों ने बिना पृथक हुए टीम को जीत दिला दी।

विराट ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाजी
ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबले में सिक्‍के का उछाल भारत के पक्ष में गिरा। भारत ने यहां फिरकी गेंदबाज युजवेंद्र चहल के शानदार 6 विकेट के दम पर ऑस्ट्रेलिया को मात्र 230 रन पर ढेर कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया के लिए पीटर हैंड्सकॉम्ब ने 63 गेंदों का सामना कर सबसे ज्यादा 58 रन बनाए। भारतीय गेंदबाजी इतनी कसी हुई थी कि वह अपनी पूरी पारी के दौरान मात्र दो बाउंड्री मार पाए। उनके अलावा शॉन मार्श (39) और उस्मान ख्वाजा (34) के उपयोगी अंशदान की वजह से आस्‍ट्रेलिया 200 पार कर सका। भारत की ओर से लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के छह विकेट के अलावा भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी के हाथ दो-दो सफलताएं लगी।

भारत तीन बदलाव के साथ उतरी तो आस्‍ट्रेलिया दो
निर्णायक मैच के लिए भारत और आस्‍ट्रेलिया दोनों ने अपनी-अपनी टीम में बदलाव किए। भारत ने तीन बदलाव किए तो आस्‍ट्रेलिया ने दो प्‍लेयर्स को बदला। टीम इंडिया की ओर से मोहम्मद सिराज के स्थान पर विजय शंकर को एकदिवसीय अंतरराष्‍ट्रीय मैच में पदार्पण का मौका मिला तो अंबाती रायडू की जगह केदार जाधव को मिली। चाइनामैन कुलदीप यादव को आराम देकर उनकी जगह लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को मैदान में उतारा गया। ऑस्ट्रेलिया की ओर से चोटिल जेसन बेहेरेनडोर्फ की जगह तेज गेंदबाज बिलि स्टानलेक को मौका मिला तो स्पिन विभाग का जिम्‍मा नाथन लॉयन के बदले एडम जाम्पा ने संभाला।

टीमें :
भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, विजय शंकर, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल।

ऑस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकॉम्ब, मार्कस स्टोइनिस, ग्लैन मैक्सवेल, झाए रिचर्डसन, बिलि स्टानलेक, पीटर सिडल, एडम जाम्पा।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/australia-vs-india-melbourne-india-win-3rd-and-last-odi-and-series-3997158/

पांड्या-राहुल मामले में सर्वोच्च न्यायालय से लोकपाल नियुक्त करने का आग्रह


नई दिल्ली। क्रिकेटर हार्दिक पांड्या और लोकेश राहुल को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के लिए इंतजार करना होगा क्योंकि प्रशासकों की समिति (सीओए) ने गुरुवार को सर्वोच्च अदालत से इस मामले में लोकपाल नियुक्त करने की अपील की है। न्यायाधीश एस.ए. बोब्डे और ए.एम. सापरे की पीठ ने इस मामले की सुनवाई को अगले सप्ताह तक के लिए टाल दिया है।

पांड्या और राहुल को टीवी शो 'कॉफी विद करण' में महिलाओं के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने का खामियाजा प्रतिबंध के तौर पर उठाना पड़ा है। इसी कारण यह दोनों आगामी न्यूजीलैंड दौर पर वनडे सीरीज में नहीं खेल पाएंगे। अदालत में सीओए का पक्ष रख रहे वरिष्ठ वकील पराग त्रिपाठी ने कहा कि इस मुद्दे को लोकपाल के लिए जिम्मे सौंप देना बेहतर होगा।

पराग ने अदालत में कहा, "सीओए ने फैसला किया है कि वह इस मसले पर कोई और टिप्पणी तब तक नहीं करेगी जब तक लोकपाल कोई फैसला नहीं ले लेता। इस मामले में लोकपाल की जरूरत है।" गुरुवार को हुई सुनवाई में जब पूर्व महान्यायवादी पी.एस. नरसिम्हा को इस मामले में वरिष्ठ वकील गोपाल सुब्रामण्यम के स्थान पर एमिकस क्यूरी बनाने का सुझाव दिया गया तो अदालत ने कहा कि उनसे पूछा जाना चाहिए क्या वह इस पद को ग्रहण करने को तैयार हैं।

सुब्रामण्यम ने एमिकस क्यूरी बने रहने पर अपनी असमर्थता जाहिर की है। बीसीसीआई के नए संविधान को राज्यों द्वारा अपनाने की स्टेटस रिपोर्ट पर ही चर्चा हुई। इस बीच राज्य संघों का पक्ष रख रहे महान्यायवादी तुषार मेहता ने कहा है कि सीओए ने अपना काम कर दिया है और अब बीसीसीआई के चुनाव कराए जाने चाहिए।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ceo-asked-high-court-to-set-a-lokpal-on-hardik-rahul-issue-3995963/

AUS vs IND : चहल के आगे बेबस ऑस्ट्रेलिया, अपने गुरु को पछाड़ते हुए तोड़ा 28 साल पुराना ये रिकॉर्ड


नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेले जा रहे सीरीज के आखिरी और निर्णायक मुकाबले में भारतीय स्पिनर लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के छह विकेटों के दम पर भारत ने शुक्रवार को यहां मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) पर मेजबान ऑस्ट्रेलिया को 48.4 ओवरों में 230 रनों पर ही ढेर कर दिया। चहल की फिरकी के सामने कोई भी बल्लेबाज क्रीज़ पर नहीं टिक पाया। चहल ने इस मैच में शानदार गेंदबाजी करते हुई 42 रन देखर 6 विकेट चटकाए। इस शानदार बोलिंग फिगर के साथ चहल ने ढेरों कीर्तिमान अपने नाम कर लिए हैं।

चहल ने छुए ये कीर्तिमान -
चहल का यह प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया में वनडे में किसी भी गेंदबाज द्वारा किया गया सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इस मामले में उन्होंने भारत के ही दिग्गज गेंदबाज अजीत आगरकर की बराबरी की है। वहीं चहल ऑस्ट्रेलिया में एक वनडे मैच में सबसे ज्यादा लेने वाले पहले स्पिनर भी बन गए हैं। अगरकर ने साल 2004 में इसी मैदान में 42 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे। इतना ही नहीं चहल ऑस्ट्रेलिया में एक पारी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले फिरकी गेंदबाज बन गए हैं। इस से पहले भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने साल 1991 में 15 रन देकर 5 विकेट चटकाए थे। चहल का ये प्रदर्शन किसी भी भारतीय द्वारा किया गया छठा सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है।

फिरकी में फंसा ऑस्ट्रेलिया -
तीन मैचों की वनडे सीरीज इस समय 1-1 की बराबरी पर है और ऐसे में सीरीज का आखिरी मैच होने के कारण इस मैच की जीतना दोनों टीमें के लिए काफी अहम है। भारत को मैच जीतने के लिए 231 रन चाहिए। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी और उनके गेंदबाजों ने कप्तान को निराश नहीं किया। भुवनेश्वर कुमार ने बीते दो मैचों की तरह ही इस मैच में भी आस्ट्रेलिया को अच्छी शुरुआत से वंचित रखा। बीते दो मैचों में आस्ट्रेलिया को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने वाला उसका मध्यक्रम और निचला क्रम इस मैच में चहल की फिरकी में फंस कर रह गया।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/yuzvendra-chahal-took-6-wicket-against-australia-in-melbourne-odi-3995415/

Pro Wrestling League : संदीप के दम पर एमपी योद्धा ने मुंबई को 4-3 से हराया


नई दिल्ली। संदीप तोमर ने गुरुवार को प्रो रेसलिंग लीग (पीडब्ल्यूएल) के चौथे सीजन में निर्णायक मुकाबला जीत एमपी योद्धा को मुंबई महारथी के खिलाफ जीत दिलाई। संदीप से पहले मुंबई की विनेश फोगाट और एमपी की पूजा ढांडा ने अपने-अपने मुकाबले जीत मैच में रोमांच बनाए रखा था। विनेश फोगट ने 53 किलोग्राम भारवर्ग के मुकाबले में एमपी योद्धा की ओर से खेल रही अपनी बहन रितू फोगाट को 15-0 के विशाल अंतर से मात दी। विनेश ने अपना मुकाबला जीतकर मुम्बई को 1-1 की बराबरी पर ला दिया था।

एमपी की उम्मीदें पूजा से थीं जिनके सामने पैन अमेरिकन चैम्पियनशिप की विजेता बेट्जाबेथा एंजेलिका थी। पूजा की जीत के बाद स्कोर 2-2 से बराबर हो गया था। इसके बाद 2018 की राष्ट्रीय चैम्पियनशिप के कांस्य पदक विजेता दीपक पुनिया ने मुम्बई महारथी को 3-2 से बढ़त दिलाई। उन्होंने 86 किलोग्राम के मुकाबले में पूर्व राष्ट्रीय चैम्पियन दीपक को 4-0 से हराया। योद्धा की एलिस मोनोलोवा ने 62 किलो के महिला मुकाबले में मुम्बई महारथी की शिल्पी यादव को 4-0 से हराया। इस परिणाम के बाद स्कोर 3-3 से बराबर हो गया और मुकाबले का अंतिम मैच निर्णायक बन गया।

मुकाबले का निर्णायक मैच 57 किलोग्राम भारवर्ग में मुम्बई के रूसी पहलवान इब्रागिम इयासोव और एमपी के संदीप के बीच था। इब्रागिम एक समय 4-0 की बढ़त पर थे लेकिन संदीप ने पिन फॉल करके चार अंक बटोर लिए और ब्रेक के समय स्कोर 4-4 था। संदीप ने दूसरे राउंड में फिर पिन फॉल दांव पर चार अंक बटोर कर 8.4 की अच्छी बढ़त बना ली। उन्होंने एक जवाबी हमले में दो अंक और अर्जित किए। संदीप ने यह मुकाबला 10-7 के अंतर से जीता और टाई एमपी को 4-3 से जीत दिलाई।

दिन के पहले मुकाबले में मुम्बई महारथी की हरफूल एमपी योद्धा के यूरोपीय चैम्पियन हाजी एलियेव के खिलाफ उतरे। अजरबैजान के पहलवान ने दूसरे राउंड में पलटवार करते हुए चार अंक बटोरे और मुकाबला 7-0 से जीतकर एमपी योद्धा को शुरुआती बढ़त दिलाई दी। 125 किलोग्राम की सुपर हैवीवेट कुश्ती में मुम्बई महारथी के यूरोपीय चैम्पियन बैस्तीव व्लादिस्लाव और एमपी योद्धा के आकाश अंटिल के बीच भी मुकाबला एकतरफा रहा। रूसी पहलवान की तकनीकी श्रेष्ठता साफ नजर आई। बैस्तीव को बढ़त 16-0 हो जाने पर रैफरी ने मुकाबला रोकते हुए विजेता घोषित किया। इससे मुम्बई की टीम 2-1 से आगे हो गई।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/mumbai-maharthi-beat-mp-yoddha-in-pro-wrestling-league-3994817/

Live AUS vs IND ODI: भारत ने रचा इतिहास, आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हरा 2-1 से जीती वनडे सीरीज


नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में खेला जा रहा है। इस मैच में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के साथ जारी तीसरे और आखिरी वनडे मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। भारत ने यहां फिरकी गेंदबाज युजवेंद्र चहल के शानदार 6 विकेट के दमपर ऑस्ट्रेलिया को मात्र 230 रन पर ढेर कर दिया। जवाब में भारतीय टीम ने धोनी के तीसरे अर्धशतक की मदद से ये लक्ष्य हासिल कर लिया और ऑस्ट्रेलिया को सात विकेट से हरा दिया। इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की वनडे सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है।

भारत की शानदार बल्लेबाजी -
भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए आस्ट्रेलिया को 48.4 ओवरों में 230 रनों पर ढेर कर दिया था। इस लक्ष्य को भारत ने 49.2 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर जीत दर्ज की। भारत के लिए अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 87 और केदार जाधव ने नाबाद 61 रन बनाए। उनके अलावा विराट कोहली ने 46 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए झाए रिचर्डसन, पीटर सिडल और मार्कस स्टोइनिस ने एक-एक विकेट लिए।

ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी -
भारतीय गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुई ऑस्ट्रेलिया को 48.4 ओवरों में 230 रनों पर ही ढेर कर दिया। तीन मैचों की वनडे सीरीज इस समय 1-1 की बराबरी पर है और ऐसे में जो टीम इस मैच को जीतेगी वह सीरीज पर कब्जा करेगी। ऑस्ट्रेलिया के लिए पीटर हैंड्सकॉम्ब ने सबसे ज्यादा 58 रन बनाए। उन्होंने इसके लिए 63 गेंदों का सामना किया और दो चौके मारे। शॉन मार्श ने 39 और उस्मान ख्वाजा ने 34 रनों का योगदान दिया। भारत के लिए लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने छह विकेट लिए। भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी को मिली दो-दो सफलताएं।

दोनों टीमों ने किए ये बदलाव -
भारत ने इस मैच में तीन बदलाव किए हैं। मोहम्मद सिराज के स्थान पर विजय शंकर को पदार्पण का मौका दिया है जबकि अंबाती रायडू के स्थान पर केदार जाधव टीम में आए हैं। कुलदीप यादव की जगह लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को टीम में शमिल किया गया है। ऑस्ट्रेलिया भी दो बदलाव के साथ उतर रही है। जेसन बेहेरेनडोर्फ के स्थान पर बिलि स्टानलेक और नाथन लॉयन के स्थान पर एडम जाम्पा को टीम में चुना गया है।

 

टीमें :

भारती : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, विजय शंकर, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल।

ऑस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकॉम्ब, मार्कस स्टोइनिस, ग्लैन मैक्सवेल, झाए रिचर्डसन, बिलि स्टानलेक, पीटर सिडल, एडम जाम्पा।

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/live-score-update-australia-vs-india-3nd-odi-melbourne-3994464/

रणजी ट्रॉफी र्क्‍वाटर फाइनल : मैच रोमांचक दौर में, केरल ने गुजरात को दिया जीत के लिए 195 रनों का लक्ष्य


वायनाड : केरल और गुजरात के बीच वायनाड में खेला जा रहा रणजी ट्रॉफी का चौथा क्वार्टर फाइनल रोमांचक मोड़ पर पहुंच गया है। इस मुकाबले में दूसरे दिन विकेटों के पतझड़ के बीच केरल ने जीत के लिए गुजरात को 195 रनों का लक्ष्य दिया है। केरल की टीम बुधवार को अपनी दूसरी पारी में भी मात्र 171 रनों पर सिमट गई। बता दें कि पहली पारी में भी केरल मात्र 185 रन ही बना सकी थी। केरल की ओर से दूसरी पारी में सिओमोन जोसफ ने सर्वाधिक 56 रनों की पारी खेली। गुजरात की ओर से अक्षर पटेल और रश कलारिया ने तीन-तीन विकेट लिए। इसके अलावा अरजान नागवासवाला को दो, पीयूष चावला और चिंतन गाजा को एक-एक विकेट मिले।

गुजरात भी 162 रनों पर सिमट गई थी
इससे पहले दूसरे दिन की शुरुआत गुजरात ने मंगलवार के पहली पारी के चार विकेट 97 रनों के स्‍कोर से आगे खेलना शुरू किया था, लेकिन उसका कोई भी बल्लेबाज क्रीज पर टिक नहीं पाया और पूरी टीम 162 रनों पर ऑल आउट हो गई।
गुजरात की ओर से कलारिया ने सबसे ज्‍यादा 36 रन बनाए। केरल की ओर से संदीप वारियर ने चार विकेट झटके। इसके अलावा बासिल थम्पी एवं मोहम्मद निधेश ने भी दमदार गेंदबाजी की और तीन-तीन विकेट अपने नाम किए।

केरल ने पहली पारी में बनाए थे महज 185 रन
इससे पहले मैच के पहले दिन चिंतन और अरजान की बेहतरीन गेंदबाजी के सामने केरल को महज 185 रनों पर ही ढेर हो गई थी। हालांकि गुजरात ने भी पहले दिन ही 97 रन बनाने में चार विकेट खो दिए थे।
पहली पारी में गुजरात की ओर से गाजा ने चार विकेट लिए तो अरजान ने 3 विकेट निकाले थे। इसके अलावा रश कलारिया ने दो विकेट लिए थे, जबकि संजू सैमसन रिटायर्ड होकर पैवेलियन लौट आए थे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ranji-trophy-quarter-final-2nd-day-match-report-gujrat-vs-kerala-3991159/

रणजी ट्रॉफी क्‍वार्टर फाइनल : गेंदबाजी के बाद विनय ने बल्‍लेबाजी में दिखाया हाथ, राजस्‍थान को बैकफुट पर धकेला


बेंगलूरु : तेज गेंदबाज आर विनय कुमार ने बुधवार को अपने होम ग्राउंड बेंगलूरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के तीसरे क्वार्टर फाइनल की पहली पारी में बल्ले से शानदार प्रदर्शन करते हुए नाबाद 83 रन बनाए और कर्नाटक को पहली पारी में 39 रनों की बढ़त दिला दी। पहली पारी में कर्नाटक ने राजस्थान के 224 रनों के जवाब में 263 रन बनाकर आउट हो गई। इसके बाद दूसरी पारी खेलते हुए राजस्‍थान ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक बिना कोई विकेट खोए 11 रन बना लिए हैं।

कर्नाटक भी नहीं बना सकी बड़ा स्‍कोर
कर्नाटक ने दूसरे दिन मंगलवार के अपने स्कोर 12 रनों से आगे खेलना शुरू किया और नियमित अंतराल पर विकेट खोए। इस कारण एक समय उसके नौ विकेट 166 रन पर गिर गए थे। इसके बाद विनय कुमार ने रोनित मोरे (10) के साथ मिलकर अंतिम विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी की और कर्नाटक को पहली पारी में बढ़त दिला दी। राजस्थान के लिए पहली पारी में राहुल चाहर ने पांच और तनवीर उल-हक ने तीन विकेट लिए, जबकि दीपक चहर को दो विकेट मिले।

राजस्थान ने बनाए थे 224 रन
इससे पहले मैच के पहले दिन बल्‍लेबाजी करते हुए राजस्‍थान ने पहली पारी में 224 रन बनाए थे। कर्नाटक के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए उन्‍हें सस्‍ते में समेट दिया था।
कर्नाटक की तरफ से अभिमन्यु मिथुन और कृष्णप्पा गौतम ने तीन-तीन विकेट लिए थे। विनय कुमार और श्रेयस गोपाल के हिस्से दो-दो सफलताएं आईं थी।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ranji-trophy-quarter-final-2nd-day-match-report-rajasthan-vs-karnataka-3991076/

रणजी ट्रॉफी : उत्तर प्रदेश के सामने लड़खड़ाई सौराष्ट्र, चेतेश्‍वर पुजारा ने भी किया निराश


लखनऊ : उत्तर प्रदेश की बेहतरीन गेंदबाजी के सामने चेतेश्‍वर पुजारा की अगुवाई वाली सौराष्ट्र की मजबूत बल्‍लेबाजी लखनऊ के अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के दूसरे क्वार्टर फाइनल मैच में पूरी तरह फ्लॉप साबित हुई। दूसरे दिन बुधवार का खेल खत्म होने तक उसने पुजारा समेत शीर्ष 7 विकेट खोकर मात्र 170 रन बनाएं हैं और वह उत्‍तर प्रदेश की ओर से बनाए गए पहली पारी के स्‍कोर 385 रन से अब भी 215 रन पीछे है, जबकि उसके मात्र तीन विकेट शेष हैं।

उत्‍तर प्रदेश पहली पारी में 385 रन बनाए
मेजबान टीम ने दिन की शुरुआत सात विकेट के नुकसान पर 340 रनों से की। पहले दिन के नाबाद बल्लेबाज सौरभ कुमार ने बुधवार को अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 83 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 55 रन बनाए। दूसरी तरफ गेंदबाज आउलराउंडर और पहले दिन साथ पहले दिन नाबाद लौटने वाले शिवम मावी ने भी 80 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 42 रनों का योगदान दिया। इन दोनों के अलावा रिकू सिंह ने मेजबान टीम की ओर से पहले दिन 181 गेंदों पर 19 चौकों की मदद से तेज 150 रनों की पारी खेली थी।

सौराष्‍ट्र मुश्किल में
अपनी पहली पारी खेलने उतरी सौराष्ट्र की शुरुआत रही। मात्र 35 रनों के कुल स्कोर पर उन्‍हें पहला झटका लगा। स्मित पटेल (16) अंकित राजपूत की शिकार बने। इसी स्कोर पर अंकित ने विश्वराज जडेजा को पवेलियन की राह दिखाई। हाल ही में आस्ट्रेलियाई दौर पर अपने बल्ले की चमक बिखेरने वाले चेतेश्वर पुजारा भी उत्‍तर प्रदेश के गेंदबाजों के सामने बेबस नजर आए। वह पूरी बल्‍लेबाजी के दौरान संघर्ष करते नजर आए और सिर्फ 11 रन बना कर युवा तेज गेंदबाज सनसनी शिवम मावी की गेंद पर चलते बने। विकेटों के पतझड़ के बीच हार्विक देसाई एक छोर से काफी देर खड़े रहे। वह 143 गेंदों पर 13 चौकों की मदद से 84 रनों की पारी खेलकर मावी के शिकार बने। दिन का खेल खत्म होने तक प्रेरक मांकड़ 42 और धर्मेंद्र सिंह जडेजा नौ रन बनाकर खेल रहे हैं।
उत्तर प्रदेश की ओर से शिवम मावी ने तीन विकेट लिए, जबकि अंकित और यश दयाल के हाथ दो-दो सफलताएं लगी।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ranji-trophy-quarter-final-2nd-day-match-sourastra-vs-uttarpradesh-3990815/

रणजी ट्रॉफी क्‍वार्टर फाइनल : वसीम जाफर का एक और शतक, उत्‍तराखंड के खिलाफ विदर्भ मजबूत


नागपुर : उत्‍तराखंड और विदर्भ के बीच खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी क्‍वार्टर फाइनल मुकाबले के पहले मैच में एक बार फिर वसीम जाफर ने शतक ठोंक दिया है। उनकी खेल उम्र बढ़ने के साथ-साथ और निखरती जा रही है। 41 साल के वसीम जाफर (नाबाद 111) और संजय रामास्वामी (नाबाद 112) के नाबाद शतकों की मदद से मौजूदा विजेता विदर्भ ने नागपुर के विदर्भ क्रिकेट संघ (वीसीए) स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के पहले क्वार्टर फाइनल में उत्तराखंड के खिलाफ खुद को काफी मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया है। मैच के दूसरे दिन खेल खत्म होने तक विदर्भ ने उत्‍तराखंड के पहली पारी में बनाए गए 355 रनों के जवाब में मात्र एक विकेट खोकर 260 रन बना लिए हैं। विदर्भ अब उत्‍तराखंड से मात्र 145 रन पीछे है। वसीम जाफर का रणजी ट्रॉफी में यह 57वां शतक जड़ा। वह इस टूर्नामेंट में 11 हजार से भी ज्‍यादा रन बना चुके हैं।

उत्‍तराखंड की ओर से सौरभ रावत ने लगाया शतक
उत्तराखंड ने दिन की शुरुआत तो छह विकेट के नुकसान पर 293 रनों के साथ की थी। वह एक समय काफी बड़ा स्‍कोर बनाता दिख रहा था, बुधवार को वह मंगलवार वाला खेल जारी नहीं रख सका और मात्र 62 रन जोड़कर उसके बाकी के चारों विकेट गिर गए। उत्तराखंड की ओर से सौरभ रावत ने 162 गेंदों पर 15 चौके और दो छक्कों की मदद से 108 रन बनाए। उनके अलावा अविनाश सुधा (91) नर्वस नाइंटी के शिकार हो गए।

विदर्भ के कप्‍तान नहीं खेल सके बड़ी पारी
दूसरे दिन अपनी पहली पारी खेलने उतरी विदर्भ ने अपने कप्तान फैज फजल (29) का जल्‍द ही विकेट खो दिया और यही दिन का एकमात्र विकेट भी उनकी तरफ से गिरा। फजल 45 के कुल स्कोर पर दीपक धापोला की गेंद पर आउट हो गए। इसके बाद संजय और जाफर ने कोई और विकेट नहीं गिरने दिया। दोनों के बीच अभी तक दूसरे विकेट के लिए 215 रनों की साझेदारी हो चुकी है और दोनों क्रीज पर मजबूती से जमे हुए हैं। संजय ने अभी तक 212 गेंदों का सामना किया है और 16 चौके लगाए हैं, जबकि जाफर 153 गेंदें खेल चुके हैं। वह अब तक अपनी पारी में कुल 13 चौके लगा चुके हैं।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ranji-trophy-quarter-final-2nd-day-match-report-vidarbh-vs-uttrakhand-3990564/

एबी डिविलियर्स ने किया बड़ा फैसला, 11 साल बाद पाकिस्तान में खेलेंगे मैच


नई दिल्ली। पिछले साल अचानक क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने वाले पूर्व दक्षिण अफ़्रीकी दिग्गज बल्लेबाज एबी डिविलियर्स इन दिनों पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) खेल रहे हैं। इस लीग के ज्यादातर मैच यूएई में खेले जा रहे हैं लेकिन प्लेऑफ के सभी मैच पाकिस्तान में खेले जाएंगे। ऐसे में डिविलियर्स ने इस लीग के सभी लीग मैच खेलने का करार किया था। लेकिन अब डिविलियर्स ने पाकिस्तान जाकर इस टूर्नामेंट के बचे हुए मैच खेलने का मन बना लिया है।

डिविलियर्स ने की पुष्टि -
अब्राहम डिविलियर्स ने पुष्टि करते हुए कहा है कि वह इस साल पीएसएल की अपनी टीम लाहौर कलंदर्स के दो मैच लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में खेलने को तैयार हैं। कलंदर्स ने डिविलियर्स को बीते साल नवंबर में ड्राफ्ट में खरीदा था, लेकिन उनका करार सिर्फ फ्रेंचाइजी के सात लीग मैचों तक का था जो संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेले जाने थे। अब डिविलियर्स ने कहा है कि वह बाकी के दो मैच जो लाहौर में होने हैं उनके लिए भी उपलब्ध रहेंगे।

10 मार्च को लाहौर में खेलेंगे -
वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने डिविलियर्स द्वारा जारी बयान के हवाले से लिखा है, "मैं इस बात को बताते हुए खुश हूं कि मैं नौ और 10 मार्च को लाहौर कलंदर्स के घरेलू मैचों में उपलब्ध रहूंगा। मैं एक बार फिर गद्दाफी स्टेडियम में खेलने और लाहौर कलंदर्स को खिताब तक पहुंचाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हूं।"

2007 में यहां मिला समर्थन याद है -
साल 2009 में पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम पर हुए आतंकवादी हमले के बाद से पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय मैचों का सिलसिला रूक गया था। बीते दौर में हालांकि कुछ टीमों ने वहां क्रिकेट खेली है लेकिन कोई बड़ी टीम अभी भी पाकिस्तान नहीं गई है। डिविलियर्स बीते वर्षो में पाकिस्तान में खेलने वाले बड़े नामों में से एक होंगे। उन्होंने कहा, "मैं इस बात से भलीभांति परिचित हूं कि क्रिकेट पाकिस्तान में दूसरा धर्म है। मुझे अभी भी साल 2007 में यहां मिला समर्थन याद है। मुझे लगता है कि मैं पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी में रोल अदा कर सकता हूं।"


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ab-de-villiers-will-paly-psl-playoff-matches-in-pakistan-after-11-year-3989217/

AUS vs IND : मैच के दौरान इस वजह से खलील पर भड़के धोनी, देखे वीडियो


नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी तीन मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मैच मंगलवार को एडिलेड ओवल मैदान पर खेला गया। इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली (104) और अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 55) की बेहतरीन पारियों के दम पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हरा दिया। इस मैच के दौरान कुछ ऐसा हुआ जिसके चलते हमेशा कूल दिखने वाले धोनी अपना आपा खो बैठे और युवा तेज़ गेंदबाज खलील अहमद पर भड़क गए।

धोनी ने खलील को कहे अपशब्द -
दरअसल इस मैच में खलील को मौका नहीं मिला। उनके बदले मोहम्मद सिराज को इस मैच में खिलाया गया था। भारतीय बल्लेबाजी के दौरान खलील धोनी के लिए पानी लेकर आए। उस दौरान वे गलती से पिच के बीच से गुजर गए। धोनी को ये बात अच्छी नहीं लगी और उन्होंने खलील को गुस्से में पिच के साइड से जाने को कहा। इतना ही नहीं उन्होंने खलील को कुछ अपशब्द भी कहे। बता दें आईसीसी के नियमों के मुताबिक अगर कोई खिलाड़ी पिच के ऊपर चलता है तो उसे अंपायर द्वारा चेतावनी दी जाती है और अगर फिर दोबारा वो ऐसी गलती करता है तो उसपर एक मैच का बैन भी लग सकता है।

 

सीरीज में 1-1 से बराबरी की -
इस मैच में जीत हासिल कर भारत ने सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है। आस्ट्रेलिया ने सिडनी में खेले गए पहले वनडे मैच में भारत को 34 रनों से मात दी थी। सीरीज का तीसरा और आखिरी मैच शुक्रवार को मेलबर्न में खेला जाएगा जो इस सीरीज के विजेता का निर्णय करेगा।ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 298 रन बनाए थे। भारत ने इस लक्ष्य को चार गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया। आस्ट्रेलिया के लिए शान मार्श ने 123 गेंदों पर 131 रनों की पारी खेली। उन्हें ग्लैन मैक्सवेल (48) के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 94 रनों की साझेदारी भी की थी। विराट को उनकी शानदार शतकीय पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। यह इस मैदान पर हासिल किया गया दूसरा सबसे बड़ा लक्ष्य है। इससे पहले श्रीलंका इस मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ 303 रनों का लक्ष्य हासिल किया था।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/m-s-dhoni-leashed-out-at-khaleel-ahmed-in-between-the-match-3987138/

जीत के बाद कोहली ने धोनी को पारी को क्लासिक बताया तो भुवनेश्‍वर को सराहा


एडिलेड : काफी समय बाद महेंद्र सिंह धोनी ने अपना वह क्‍लासिक टच दिखाया, जिसके लिए वह जाने जाते हैं। मैच के आखिरी ओवर में अपना पुराना जादू दिखाते हुए सिक्‍स के जरिये आस्‍ट्रेलिया के स्‍कोर की बराबरी की। इसके साथ ही महेंद्र सिंह धोनी ने राहत की सांस ली होगी, साथ-साथ कप्‍तान विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट ने भी। जो यह जवाब देते-देते थक गए थे कि आखिर इतने सामान्‍य प्रदर्शन के बाद भी धोनी टीम में क्‍यों बने हुए हैं। इससे उत्‍साहित भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने मंगलवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली जीत में अहम योगदान देने वाले महेंद्र सिंह धोनी की पारी को 'क्लासिक' बता दिया। उन्‍होंने कहा कि धोनी निश्चित ही आने वाले दिनों में भी टीम का हिस्सा बने रहेंगे। बता दें कि इस मैच में धोनी के 54 रनों की पारी के अलावा कोहली ने भी 104 रनों की अहम पारी खेली है।

आने वाले समय में भी टीम का हिस्‍सा होंगे धोनी
विराट कोहली ने मैच के बाद संवाददाता सम्‍मेलन में जोर देकर कहा कि इस बात में कोई दो राय नहीं कि वह आने वाले समय में भी टीम का हिस्सा रहेंगे। आज धोनी ने क्लासिक पारी खेली। उन्होंने मैच में अच्छी कैल्‍कुलेशन की। वह मैच को आखिरी तक ले गए। वह जानते थे कि उनके दिमाग में क्या चल रहा है। आखिरी में बड़े शॉट खेलने के लिए उन्‍होंने खुद को बचाए रखा। इससे यह भी कयास लग रहे हैं कि धोनी तो विश्‍व कप तक खेलने ही वाले थे। उसके बाद विराट के यह कहने का क्‍या अर्थ है। कहीं वह यह संकेत तो नहीं दे रहे थे कि विश्‍व कप के बाद भी धोनी टीम इंडिया में बने रहेंगे।

भुवनेश्‍वर की भी जमकर तारीफ की
विराट कोहली ने कहा कि अपने आप को आगे लाने के लिए आपको छोटे-छोटे पहलुओं पर ध्‍यान रखने की जरूरत होती है और मैं यही कर रहा था। धोनी के अलावा विराट कोहली ने भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश अंत तक अपने आप को रोकने की थी। मेरा मानना है कि जब शॉन मार्श और ग्लैन मैक्सवेल खेल रहे थे, तब वह मजबूत स्थिति में थे। उनको दो गेंदों पर आउट करना शानदार रहा। मेरा मानना है कि जिस तरह से उन्होंने शुरुआत की उसके हिसाब से 298 का स्कोर इस विकेट पर ठीक था। असल में मैच में वापसी तो भुवनेश्वर ने कराई। उन्‍होंने हार्दिक पांडया की जगह टीम में शामिल किए गए विजय शंकर के बारे में कहा कि उनके होने से में एक विकल्प मिलता है, लेकिन देखना होगा की चीजें कैसे होती हैं। पांच गेंदबाजों के साथ खेलना और कप्तान के तौर पर संतुष्ट होकर लौटना मेरे लिए अच्छी बात है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/india-vs-australia-2nd-odi-kohli-says-its-a-classic-inning-of-dhoni-3986125/

रणजी ट्रॉफी र्क्‍वाटर फाइनल राउंडअप : अपने पहले रणजी सीजन में ही उत्तराखंड ने दिखाई धमक


नागपुर/वायनाड/लखनऊ/बेंगलूरु : मंगलवार से रणजी ट्रॉफी के र्क्‍वाटर फाइनल मैच उत्‍तराखंड बनाम विदर्भ, कर्नाटक बनाम राजस्‍थान, गुजरात बनाम केरल और उत्‍तर प्रदेश बनाम सौराष्‍ट्र शुरू हुआ। पहले ही दिन रणजी ट्रॉफी में पहली बार भाग ले रही टीम उत्‍तराखंड ने मौजूदा चैम्पियन टीम विदर्भ को चौंका दिया। पहले दिन का खेल खत्‍म होने तक अवनीश सुधा (91), सौरभ रावत (नाबाद 68) और वैभव सिंह (67) के अर्धशतकों की मदद से उत्तराखंड ने विदर्भ के खिलाफ नागपुर में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल मैच में पहले दिन मंगलवार को अपनी पहली पारी में छह विकेट पर 293 रन का मजबूत स्कोर बना लिया।
मेजबान टीम विदर्भ की ओर से रजनीश गुरबानी, उमेश यादव और अक्षय वखाड़े ने दो-दो विकेट लिए।

राजस्थान पहली पारी में 224 रन पर ढेर
अपने होम ग्राउंड पर खेल रह मेजबान कर्नाटक ने गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन के दम पर बेंगलूरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल मैच के पहले दिन मंगलवार को राजस्थान को पहली पारी में 224 रनों पर ही ढेर कर दिया। दिन का खेल खत्म होने तक मेजबान टीम ने पांच ओवरों में बिना कोई विकेट खोए 12 रन बना लिए हैं।
कर्नाटक के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। राजस्थान की ओर से
कप्तान महिपाल लोमरूर ने 50 रन, राजेश विश्‍नोई ने 79 रन और चेतन बिष्ट ने 39 रन का स्‍कोर किया।
कर्नाटक की तरफ से अभिमन्‍यु मिथुन और कृष्णप्पा गौतम ने तीन-तीन विकेट लिए। विनय कुमार और श्रेयस गोपाल के हिस्से दो-दो सफलताएं आईं।

गुजरात के गेंदबाजों के सामने केरल 185 पर ढेर
गुजरात ने मंगलवार को रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल मैच के पहले दिन केरल को महज 185 रनों पर ही ढेर कर दिया। गुजरात भी हालांकि अच्छी शुरुआत नहीं कर सकी और दिन का अंत होने तक उसने अपने चार विकेट 97 रनों पर ही खो दिए हैं। स्टम्प्स तक रुजुल भट्ट 10 और ध्रूव रावल 12 रन बनाकर खेल रहे हैं।
टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनने वाली गुजरात की ओर से गाजा ने चार तो वहीं अरजान ने तीन विकेट लिए। केरल की ओर से बासिल थम्पी ने 37, पूनम राहुल ने 26 और विनोद मनोहरन ने 25 रनों का योगदान दिया।
गुजरात के 97 पर चार में कप्‍तान पार्थिव पटेल ने अकेले 43 रनों का योगदान दिया।

उत्तर प्रदेश की मजबूत शुरुआत, बनाए 340/7
रिंकू सिंह (150) के शतक और प्रियम गर्ग के साथ 145 रनों की साझेदारी की बदौलत रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में पहले दिन मंगलवार को उत्तर प्रदेश को सौराष्ट्र के खिलाफ खेले जा रहे मैच में संभाल लिया। उत्तर प्रदेश ने दिन का अंत सात विकेट के नुकसान पर 340 रन बनाए।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ranji-trophy-quarter-final-match-roundup-first-day-report-3985980/

एडिलेड वनडे : कोहली और धोनी के पराक्रम से 20 साल बाद कोई टीम पहुंची इस स्‍कोर तक


एडिलेड : ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मैच एडिलेड ओवल मैदान पर खेला गया। भारत ने 35 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली के पराक्रम की बदौलत एडिलेड के ओवल में दूसरी सबसे बड़ी जीत हासिल की। इससे पहले इस मैदान पर श्रीलंका ने 1999 में इंग्लैंड के खिलाफ 303 रनों का लक्ष्य हासिल किया था। वहीं दूसरी सबसे बड़ी जीत 1983 में न्यूजीलैंड में इंग्लैंड के खिलाफ 297 रनों का लक्ष्य का पीछा किया था। इस छह विकेट की जीत के बाद अब दूसरे नंबर पर भारत की टीम आ गई। उसने 299 रनों का लक्ष्‍य हासिल कर न्‍यूजीलैंड की 1983 की जीत को फीका कर दिया।

विराट न जड़ा शतक
इस जीत में कप्तान विराट कोहली ने शानदार 104 रन की पारी खेली तो अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 55 का योगदान दिया। इस जीत के साथ भारत ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है।
आस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 298 रन बनाए थे। भारत ने इस लक्ष्य को चार गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया। आस्ट्रेलिया की ओर से शान मार्श ने 123 गेंदों पर 131 रनों की पारी खेली। वहीं ग्लैन मैक्सवेल (48) के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 94 रनों की साझेदारी भी की थी।
लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत को रोहित शर्मा (43) और शिखर धवन (32) ने सधी हुई शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 47 रन जोड़े। इसी स्‍कोर पर धवन जेसन बेहेरेनडॉर्फ की गेंद पर उस्मान ख्वाजा को कैच दे बैठे। इसके बाद रोहित को कप्तान कोहली का साथ मिला। दोनों ने बिना किसी परेशानी के टीम के 100 रन पूरे किए। यहां 101 के कुल स्कोर पर रोहित मार्कस स्टोइनिस की गेंद को पुल करने के प्रयास में पीटर हैंड्सकॉम्ब को कैच दे बैठे।
कोहली ने अंबाती रायडू (24) के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 59 रन जोड़े। इसके बाद मैक्सवेल ने रायडू को आउट कर दिया। भारत का स्कोर अब 160 रनों पर तीन विकेट था और मैच जीतने के लिए उसे एक बड़ी साझेदारी की जरूरत थी।
पूर्व कप्तान धोनी ने कोहली के साथ मिलकर टीम की जरूरत को पूरा किया और बिना किसी परेशानी के स्ट्राइक रोटेट करते हुए स्कोर बोर्ड को चला अपनी टीम को जीत की दहलीज पर ले जाते रहे।

विराट का 39वां शतक
कोहली ने पीटर सिडल की ओर से फेंके गए 43वें ओवर की पहली गेंद पर एक रन लेकर वनडे क्रिकेट में अपना 39वां शतक पूरा किया। इसके बाद वह ज्‍यादा देर तक नहीं टिके। इसके अगले ओवर में ही वह झाए रिचर्डसन की गेंद पर डीप मिडविकेट पर मैक्सवेल के हाथों लपके गए। कोहली ने अपनी पारी में पांच चौके और दो छक्के मारे।
यहां से धोनी के साथ अपने कंधों पर जिम्‍मेदारी दिनेश कार्तिक (नाबाद 25) ने ली। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 57 रन जोड़ टीम को जीत दिलाई।

आखिरी ओवर में एक बार फिर दिखा माही मैजिक
बहुत दिनों बाद अपने रंग में नजर आ रहे महेंद्र सिंह धोनी ने आखिरी ओवर में भारत को जीत के लिए जब सात रन की जरूरत थी तो उन्‍होंने पहली ही गेंद पर सिक्‍स मार जीत पक्की कर दी। इसके बाद अगली गेंद पर एक रन लेकर टीम को जीत दिलाई। बता दें कि इसी छक्के से माही ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया। इस सीरीज में यह उनका लगातार दूसरा अर्धशतक है। धोनी ने अपनी नाबाद पारी में 54 गेंदें खेलीं और दो छक्के मारे।

आस्‍ट्रेलिया की पारी का हाल
इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी आस्ट्रेलिया का मध्‍यक्रम एक बार फिर अपने रंग में दिखा। एक समय लग रहा था कि मार्श-मैक्सवेल की जोड़ी के दम पर आस्ट्रेलिया का 310 के पार चली जाएगी, लेकिन भुवनेश्वर ने 48वें ओवर में दोनों के विकेट लेकर उसे 300 के अंदर ही रोक दिया। स्‍लॉग ओवर में आस्ट्रेलिया आखिरी के पांच ओवरों में महज 38 रन ही बना सकी। भारत की ओर से भुवनेश्‍वर कुमार ने 4 तो मोहम्‍मद शमी ने 3 विकेट लिए।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/india-vs-australia-2nd-odi-adelaide-oval-break-35-year-old-history-3985762/

हार्दिक और राहुल के बचाव में उतरा ये दिग्गज, कहा गलतियों से सीखने की जरूरत


नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज अंपायर साइमन टॉफेल ने सोमवार को महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक बात कहने वाले भारत के प्रतिबंधित क्रिकेट खिलाड़ी हार्दिक पांड्या और लोकेश राहुल का बचाव किया है। टॉफेल ने कहा है कि इस मुद्दे को सावधानी से संभालना चाहिए क्योंकि हर कोई गलतियां करता है, लेकिन गलतियों से सीखने की जरूरत है।

इन दोनों खिलाड़ियों ने बॉलीवुड फिल्म निर्माता करण जौहर के शो पर महिलाओं के प्रति अपात्तिजनक बातें कहीं थी जिसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और प्रशासकों की समिति (सीओए) ने इन दोनों पर प्रतिबंध लगाया है। यहां की स्थानीय क्रिकेट लीग- द सिल्वर ओक स्टेट क्रिकेट लीग में मेहमान की तरह आए टॉफेल से जब इस मुद्दे के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "मैं जानता था कि यह सवाल पूछा जाएगा। मैं हमेशा एक बात कहता हूं कि हर टीम में, हर व्यवसाय में और हर खेल में अच्छे खिलाड़ी होते हैं और अच्छे खिलाड़ी ही अच्छी टीम बनाते हैं।"

टॉफेल ने कहा, "मैंने हालांकि वो शो नहीं देखा है। मैंने इसके बारे में प्रेस में जरूर पढ़ा है। मैंने भी अपने करियर में कई गलतियां की हैं और साथ ही उनसे सीखा भी है।" उन्होंने कहा, "इन खिलाड़ियों ने गलती की है लेकिन यह लोग भी सीखेंगे। मेरा मानना है कि हमें ज्यादा आलोचनात्मक होने से बचना चाहिए। लोग गलतियां करते हैं, लेकिन अगर हम उससे सीखते हैं तो और वाकई कुछ अच्छा करना चाहते हैं तो यह अच्छी बात है।" टॉफेल ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की भी तारीफ करते हुए कहा है कि अब उनकी कप्तानी में सुधार हो रहा है।

ऑस्ट्रेलियाई अंपायर ने कहा, "विराट को पता है कि एक अच्छा लीडर क्या होता है। वह सचिन तेंदुलकर को देखते हुए बड़े हुए हैं और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में बने हैं। इन दोनों का उनके ऊपर काफी असर है। लेकिन विराट अपने आप में अलग हैं। एक अच्छा कप्तान क्या होता है और उसमें क्या होना चाहिए इस बात का उन्होंने पता लगा लिया है।"


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/australian-umpire-simon-taufel-backed-hardik-pandya-and-lokesh-rahul-3982142/

AUS vs IND ODI : 20 साल बाद किसी टीम ने एडिलेड में चेस किया इतना बड़ा स्कोर, भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हराया


नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मैच एडिलेड ओवल मैदान पर खेला जा रहा है। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। ऑस्ट्रेलिया ने शॉन मार्श के शानदार शतक की मदद से भारत के सामने 299 रनों का विशाल लक्ष्य रखा है। अगर भारत इस लक्ष्य को हासिल कर लेता है तो ये इस मैदान पर लक्ष्य का पीछा करते हुए दूसरी सबसे बड़ी जीत होगी। इस से पहले 1999 में श्रीलंका ने इंग्लैंड के खिलाफ 303 रनों का लक्ष्य हासिल किया था। वहीं 1983 में न्यूज़ीलैंड ने इंग्लैंड के खिलाफ 297 रनों का लक्ष्य चेस किया था।

मैच का हाल -
विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी रही। धवन और रोहित ने मिलकर पहले विकेट के लिए 47 रन जोड़े। लेकिन तभी धवन जेसन बेहेरेनडॉर्फ की गेंद पर उस्मान ख्वाजा को कैच दे बैठे। धवन ने अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 32 रन बनाए। वहीं अच्छी लय में दिख रहे रोहित शर्मा अपने अर्धशतक से चूक गए और 43 के निजी स्कोर पर मार्कस स्टोइनिस की गेंद पर पीटर हैंड्सकॉम्ब को कैच दे बैठे। इसके बाद पूरी तरह जम जाने के बाद मैक्‍सवेल की गेंद पर अंबाती रायडू (24) भी स्‍टोइनिश को कैच थमा कर चलते बने। 43वें ओवर में विराट कोहली (100) ने अपना शतक पूरा कर लिया। शतक पूरा करते ही विराट झाए रिचर्डसन की गेंद पार ग्लैन मैक्सवेल को कैच दे बैठे। इसके बाद धोनी और दिनेश कार्तिक ने भारत को लक्ष्य तक पंहुचा दिया। 20 साल बाद इस पिच में किसी टीम ने इतना बड़ा स्कोर हासिल किया है।


ऑस्ट्रेलिया के शानदार बल्लेबाजी -

ऑस्ट्रेलिया ने हुए निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट खोकर 298 रन बनाए। उसके लिए शॉन मार्श ने बेहतरीन शतक जमाया। ये मार्श के वनडे करियर का 7वां शतक था। मार्श ने इस मैच में 123 गेंदों पर 131 रनों का पारी खेली जिसमें 11 चौके और तीन छक्के शामिल रहे। ये भारत के खिलाफ मार्श का सर्वाधिक स्कोर है। उनके अलावा ग्लैन मैक्सवेल ने 48 रन बनाए। मैक्सवेल ने 37 गेंदों का सामना किया और पांच चौकों के अलावा एक सिक्स मारा। मार्कस स्टोइनिस ने भी अहम 29 रनों का योगदान दिया। भारत के लिए भुवनेश्वर ने चार विकेट लिए। मोहम्मद शमी को तीन विकेट मिले। रवींद्र जडेजा ने एक विकेट लिया।

टीम ने किए ये बदलाव -
भारतीय टीम इस मैच में एक बदलाव के साथ उतरी है। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज खलील अहमद के स्थान पर कोहली ने मोहम्मद सिराज को पदार्पण करने का मौका दिया है। वहीं ऑस्ट्रेलिया ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया है।

 

 

टीमें

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अंबाती रायडू, दिनेश काíतक, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज।

ऑस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकॉम्ब, मार्कस स्टोइनिस, ग्लैन मैक्सवेल, नाथन लॉयन, पीटर सिडल, झाए रिचर्डसन, जेसन बेहेरेनडॉर्फ।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/live-score-upadte-australia-vs-india-2nd-odi-adelaide-oval-3981716/

बॉलीवुड में कदम जमाने के बाद श्रीसंत करना चाहते हैं ऑस्‍कर विजेता स्पीलबर्ग के साथ काम, उड़ा मजाक


पणजी : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व स्‍टार आक्रामक तेज गेंदबाज श्रीसंत का स्‍पॉट फिक्सिंग क्रिकेट करियर तो लगभग समाप्‍त ही हो चुका है, लेकिन सिनेमा जगत में वह उभरते सितारे बन गए हैं। उन्‍हें धड़ाधड़ फिल्‍में मिल रही है, लेकिन वह इससे संतुष्‍ट नहीं हैं। अब उनकी तमन्‍ना कई ऑस्‍कर पुरस्‍कार अपने नाम रखने वाले दिग्‍गज हॉलीवुड निर्देशक स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग के साथ काम करने की है।

फिल्‍म कैबरे से शुरू किया बॉलीवुड करियर
बता दें कि फिल्‍म कैबरे के जरिये उन्‍होंने बॉलीवुड में कदम रखा है। यह फिल्‍म हाल ही में रिलीज हुई है। इस फिल्‍म में उनके अपोजिट रिचा चड्ढा ने काम किया है। वह दक्षिण की फिल्‍मों में काम कर रहे हैं। उनकी दक्षिण की एक फिल्‍म 'केम्पेगॉडा-2' मार्च में रिलीज होने जा रही है। इसके अलावा वह एक कन्‍नड़, एक मराठी और दो बॉलीवुड फिल्‍में साइन कर चुके हैं। लेकिन जब उन्‍होंने स्‍टीवन स्‍पीलबर्ग के निर्देशन में काम करने की अपनी इच्छा जताई तो लोगों ने उनका मजाक उड़ाना शुरू कर दिया। पुणे में संवाददाता सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए उन्‍होंने इस पर कहा कि लोग तो उनका मजाक तब भी उड़ा रहे थे, जब वह भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल होने की कोशिश कर रहे थे। यह उस समय की बात है, जब वह केरल की अंडर-19 क्रिकेट टीम में थे। उन्‍होंने कहा कि हां वह स्टीवन स्पीलबर्ग के साथ काम करना चाहते हैं। यह उनका सपना है। अगर आप मेरे दोस्तों से पूछेंगे तो वह बताएंगे कि जब वह अंडर-19 टीम में थे तो उनसे जब कोई पूछता था कि वह क्या करना चाहते हैं तो वह बोलते थे कि वह देश के लिए खेलना चाहता हैं। वे तब भी हंसते थे।

न्‍यूयॉर्क फिल्‍म अकादमी में लेंगे दाखिला
करीब आधा दर्जन फिल्‍में साइन कर चुके इस क्रिकेटर ने कहा कि वह हॉलीवुड में जाने का अपना लक्ष्य पूरा करने के लिए न्यूयॉर्क फिल्म अकादमी में दाखिला लेंगे। इसके अलावा उनकी रुचि नेटफ्लिक्स या अमेजन पर अंग्रेजी भाषा की सीरीज में भी अभिनय करने की है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/sreesanth-want-to-work-with-oscar-winning-director-steven-spielberg-3980323/

रणजी ट्रॉफी : इन आठ टीमें भिड़ेंगी क्‍वार्टर फाइनल में, इनके हैं अगले राउंड में पहुंचने की उम्‍मीद


नई दिल्ली : भारत का सबसे अहम और प्रतिष्ठित घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी का नॉकआउट चरण मंगलवार से शुरू होने जा रहा है। क्वार्टर फाइनल में पहुंची कुल आठ टीमें सेमीफाइनल में जाने के लिए एक-दूसरे के का सामना करेगी। अगर कागजों पर बात की जाए तो जो आठ टीमें क्वार्टर फाइनल में पहुंची हैं, उनमें से खिताब की सबसे प्रबल दावेदार मौजूदा विजेता विदर्भ और कर्नाटक की टीम लग रही है।

पहली बार रणजी खेलने वाली उत्‍तराखंड का सामना मौजूदा विजेता विदर्भ से
पहले क्‍वार्टर फाइनल में विदर्भ को अपने घर नागपुर में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पहली बार रणजी खेल रही नई टीम उत्तराखंड का सामना करना है। उत्‍तराखंड प्लेट ग्रुप से अंतिम-8 में पहुंचने वाली इकलौती टीम है। उत्तराखंड का अपने ग्रुप में शानदार प्रदर्शन कर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। उसने प्लेट ग्रुप में आठ में से छह मैचों में जीत हासिल कर कुल 44 अंक हासिल किए हैं। इस ग्रुप से बिहार की टीम ने भी छह जीत हासिल किए थे, लेकिन उसे एक मैच में उत्‍तराखंड से ही हार का सामना करना पड़ा था, जबकि उत्‍तराखंड की टीम अपराजेय रही थी। अब उसकी असली परीक्षा शुरू होगी, जब वह क्‍वार्टर फाइनल में विदर्भ का सामना करेगी। उसके सामने आने वाली यह अब तक की सबसे कड़ी चुनौती है। बता दें कि विदर्भ मौजूदा रणजी चैम्पियन है और वह लगातार दूसरी बार खिताब जीतने के लिए पूरा जोर लगा देगी। प्‍लेट ग्रुप में उत्तराखंड का जैसा प्रदर्शन रहा है, उसे देखते हुए वह उसे हल्‍के में नहीं लेगी। दूसरी तरफ उत्‍तराखंड ग्रुप मैचों वाले अपने प्रदर्शन को जारी रखने की कोशिश करेगा। अगर उसने अपने उस प्रदर्शन को दोहरा दिया तो विदर्भ को चौंकाने की काबिलियत रखती है।

उत्‍तर प्रदेश अपने घर में भिड़ेगी सौराष्‍ट्र से
दूसरे क्वार्टर फाइनल में सौराष्ट्र का सामना उत्तर प्रदेश से लखनऊ में होगा। बता दें कि उत्तर प्रदेश अभी तक सिर्फ एक बार 2005-06 में रणजी खिताब अपने नाम कर पाया है। सौराष्‍ट्र भी रणजी विजेता रह चुकी टीम है और उसके पास टीम इंडिया के नए दीवार चेतेश्‍वर पुजारा भी हैं, जो आस्‍ट्रेलिया टेस्‍ट सीरीज खत्‍म होने के बाद अपनी टीम से रणजी खेलने के लिए जुड़ गए हैं। इस समय वह शानदार फॉर्म में हैं और किसी भी टीम के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। दूसरी तरफ उत्‍तर प्रदेश को अपने होम ग्राउंड में खेलने का फायदा होगा। उत्‍तर प्रदेश की सबसे बड़ी समस्‍या यही है कि उसके किसी प्‍लेयर ने पूरे टूर्नामेंट में स्‍थायित्‍व भरा प्रदर्शन नहीं किया है।

घर में कर्नाटक के सामने होगी राजस्‍थान
पिछली बार की सेमीफाइनलिस्‍ट कर्नाटक का क्‍वार्टर फाइनल में राजस्थान से मुकाबला है। कर्नाटक को यह मैच अपने घर बेंगलूरु में खेलनी है। आस्‍ट्रेलिया के चौथे टेस्‍ट में शानदार प्रदर्शन करने वाले ओपनर बल्‍लेबाज मयंक अग्रवाल कर्नाटक की टीम से जुड़ गए हैं। इसका फायदा कर्नाटक को मिलेगा। बीते सीजन में सेमीफाइनल कर्नाटक को विदर्भ के हाथों हार मिली थी। इस बार अगर कोई चौंकाने वाला परिणाम नहीं होता तो वह एक बार फिर सेमीफाइनल तक का सफर तय कर सकती है। हालांकि वह ग्रुप ए और बी से अंतिम-8 में पहुंचने वाली तीसरी और अंतिम टीम थी।

गुजरात और केरल के बीच है बराबरी का मुकाबला
ग्रुप-ए से ही क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली गुजरात को ग्रुप मुकाबलों में करीब-करीब अपने जैसा ही प्रदर्शन करने वाली ग्रुप बी की टीम केरल से चुनौती मिलेगी। गुजरात 2017-18 में एक बार रणजी ट्रॉफी अपने नाम कर चुका है। केरल ने ग्रुप-बी में 26 अंक हासिल कर अंतिम-8 में जगह बनाई है। गुजरात और केरल के बीच बराबरी का मुकाबला होने की उम्‍मीद है।

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/ranji-trophy-8-best-teams-play-for-semifinal-3979984/

श्रीसंत ने कहा कि पांड्या, राहुल से बड़ी गलती करने के बावजूद खेल रहे हैं कुछ लोग


पणजी : मैच फिक्सिंग के आरोप में भारतीय टीम से प्रतिबंधित तेज गेंदबाज एस. श्रीसंत ने सोमवार को हार्दिक पांड्या और लोकेश राहुल पर बड़ा बयान दिया। उन्‍होंने कहा कि 'कॉफी विद करण' शो में इन दोनों ने जो बयान दिए वह गलत थे, लेकिन भारतीय टीम को विश्व कप में उन दोनों की जरूरत है। हार्दिक पांड्या और केएल राहुल पर बीसीसीआइ और सीओए ने करण जौहर के टॉक शो में महिलाओं के बारे में विवादित बयान देने के कारण उन पर तब तक के लिए प्रतिबंध लगाया है, जब तक कि जांच पूरी नहीं हो जाती।

हार्दिक और राहुल दोनों अच्छे खिलाड़ी हैं
श्रीसंत ने सोमवार को पुणे में संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि इस मुद्दे पर वह सिर्फ इतना कह सकते हैं कि जो कुछ भी हुआ वह बहुत बुरा हुआ, लेकिन विश्व कप पास में है और हार्दिक और राहुल दोनों अच्छे खिलाड़ी हैं।

दोनों करेंगे वापसी
श्रीसंत ने कहा कि अभी केवल इतना कहेंगे कि हार्दिक और राहुल कभी न कभी मैदान पर जरूर वापसी करेंगे। वह दोनों मैच विजेता खिलाड़ी हैं। संवाददातों से बात करते वक्‍त मैदान से दूर रहने का श्रीसंत का दर्द भी झलक आया। उन्‍होंने कहा कि वह जानता हैं कि एक क्रिकेट खिलाड़ी के लिए मैदान से दूर जाना कितना बुरा होता है। वह बस उम्मीद कर सकते हैं कि बीसीसीआइ उन्हें मैदान पर खेलने की अनुमति दे। एक बार जब उन्हें एहसास हो जाएगा तो वह वहां खेलेंगे जहां उन्हें खेलना चाहिए।

खुद की वापसी को लेकर भी जताई उम्‍मीद
श्रीसंत ने इस बातचीत के दौरान यह भी उम्मीद जताई कि उन पर से भी भारत में प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलने पर लगा प्रतिबंध जल्‍द समाप्‍त होगा। बता दें कि अदालत अपने निर्णय में बोल चुकी है कि श्रीसंत के मैच फिक्सिंग में संलिप्‍त होने का कोई सबूत नहीं है।

पांडया और राहुल के बयान से भी बुरे बयान देने वाले खेल रहे हैं
श्रीसंत इतने पर ही नहीं रुके, उन्‍होंने कहा कि अतीत में पांड्या और राहुल से भी बुरे बयान कई लोग दे चुके हैं, लेकिन वह बच निकले। जिन्होंने इनसे भी बड़ी गलतियां की हैं और वह अब भी खेल रहे हैं। न सिर्फ क्रिकेट में, बल्कि कई अन्य खेलों में भी। वही लोग अब बोल रहे हैं। वह जब मौका देखते हैं तो चीते की तरह दहाड़ने लगते हैं।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/cricket-news/sreesanth-told-rahul-and-pandya-is-valuable-player-for-world-cup-3979486/

SHARE THIS


Subscribe via Email


Explore Jobs/Opportunities
Jobs Jobs / Opportunities / Career
Haryana Jobs / Opportunities / Career
Bank Jobs / Opportunities / Career
Delhi Jobs / Opportunities / Career
Sarkari Naukri Jobs / Opportunities / Career
Uttar Pradesh Jobs / Opportunities / Career
Bihar Jobs / Opportunities / Career
Himachal Pradesh Jobs / Opportunities / Career
Rajasthan Jobs / Opportunities / Career
Scholorship Jobs / Opportunities / Career
Engineering Jobs / Opportunities / Career
Railway Jobs / Opportunities / Career
Defense & Police Jobs / Opportunities / Career
Gujarat Jobs / Opportunities / Career
West Bengal Jobs / Opportunities / Career
Uttarakhand Jobs / Opportunities / Career
Maharashtra Jobs / Opportunities / Career
Punjab Jobs / Opportunities / Career
Meghalaya Jobs / Opportunities / Career
Admission Jobs / Opportunities / Career
Explore Articles / Stories
Education
Government Schemes
News
Career
Admit Card
Bihar
State Government Schemes
Study Material
Technology
DATA
Public Utility Forms
Travel
Sample Question Paper
Exam Result
Employment News
Scholorship
Syllabus
Festival
Business
Wallpaper
Explore more
Main Page
Register / Login
Like our Facebook Page
Follow on Twitter
Subscrive Our Newsletter Via Nuzzle
Get Updates Via Rss Feed
Sarkari Niyukti
Free Online Practice Set
Latest Jobs
Feed contents
Useful Links
Photo
Video
Post Jobs
Post Contents
Supremedeal : India Business Directory
Find IFSC Code
Find Post Office / Pincode
Contact us
Best Deal

Disclaimer: we only provide job information. we are not associated with any job website. Although we take extreme care for accuracy of the information provided, but you must check the authenticity of the website before applying for the job. We are not responsible for your operation , once you leave our website and apply thereafter. Please recheck the genuineness of the job website from yourself also.

Copyright © 2018. Website template by WebThemez.com