Patrika : Leading Hindi News Portal - Gulf #educratsweb
HOME | LATEST JOBS | JOBS | CONTENTS | STUDY MATERIAL | CAREER | NEWS | BOOK | VIDEO | PRACTICE SET REGISTER | LOGIN | CONTACT US

Patrika : Leading Hindi News Portal - Gulf

http://api.patrika.com/rss/gulf-news 👁 143

यमन: सुरंग से बारूद हटाते हुआ बड़ा धमाका, मौके पर पांच की मौत


सना। युद्ध जैसे हालात से बुरी तरह प्रभावित यमन से विस्फोट की खबर आई है। बताया जा रहा है कि वहां के मध्यीय प्रांत मारिब में बीते रविवार को एक बारूदी सुरंग में विस्फोट हुआ। इस हादसे में सुरंग हटाने वाले पांच विशेषज्ञों की मौत हो गई। इस बारे में एक सरकार समर्थक सुरक्षा अधिकारी ने जानकारी दी।

पांचों विदेशी विशेषज्ञ की मौत

अधिकारी ने बताया कि विस्फोट का शिकार हुए पांचों विदेशी विशेषज्ञ थे, ये सभी सऊदी की ओर से प्रायोजित बारुदी सुरंग हटाने के एक प्रोजेक्ट पर काम कर रहे थे। फिलहाल इस मामले की जांच की जा रही है, हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि वे सभी किस देश के थे।

इस कारण हुआ विस्फोट

शुरुआती जांच के आधार पर अधिकारी ने बताया कि बारुदी सुरंगों को निष्क्रिय करने के लिए ले जाने के दौरान यह विस्फोट हुआ था। वहां के मारिब अस्पताल के एक डॉक्टर ने भी अस्पताल में पांच शव लाए जाने की पुष्टि की है। अधिकारी ने ये भी बताया कि हादसे में कुछ अन्य लोग घायल भी हुए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार मार्च 2015 से लेकर अब तक यमन के संघर्ष में 10,000 लोगों की मौत हो चुकी है। गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र ने इस युद्ध को दुनिया का सबसे खराब मानवीय संकट बताया है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/explosion-in-tunnel-in-yemen-killed-five-foreign-specialist-4011345/

अमरीका की चेतावनी के बाद भी ईरान ने लॉन्च की सैटेलाइट, तीसरे चरण में हुआ फेल


तेहरान। अमरीका की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए ईरान ने मंगलवार को अपना पहला स्वदेशी सैटेलाइट पयाम लॉन्च किया। हालांकि ये मिशन असफल रहा और सैटेलाइट पृथ्वी की कक्षा में स्थापित नहीं हो पाया। आपको बता दें कि लॉन्चिंग से पहले इसी महीने अमरीका ने ईरान से सैटेलाइट न लॉन्च करने की चेतावनी दी थी।

तीसरे चरण में अपर्याप्त रही सैटेलाइट की स्पीड

इस संबंध में ईरान के सूचना मंत्री मोहम्मद जवाद आजरी जेहरुमी ने जानकारी दी। ट्विटर पर एक पोस्ट में उन्होंने बताया कि पयाम सेटेलाइट को कक्षा में स्थापित करने का हमारा कार्यक्रम पूरा नहीं हो पाया। मंत्री के मुताबिक 'पयाम' के प्रक्षेपण कार्यक्रम का पहला और दूसरा चरण तो सफल रहा, लेकिन तीसरे चरण में सैटेलाइट की स्पीड अपर्याप्त होने के कारण वह कक्षा में स्थापित नहीं हो पाया।

इन कामों में मदद लिए जाने की थी योजना

गौरतलब है कि इस सैटेलाइट को जलवायु, जंगलों, पानी के भंडारों का पता लगाने, धूल के तूफानों के बारे में जानकारी जुटाने जैसे कई तरह के मिशन में मदद लिए जाने की योजना थी। कार्यक्रम की विफलता के बाद ईरान के दूरसंचार मंत्री ने अपने बयान में कहा है कि ईरान अभी भी सेटेलाइट बनाने और उसके प्रक्षेपण के कार्यक्रम को सफल करने की कोशिश पूरी शक्ति और सामर्थ्य के साथ जारी रखेगा।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/iran-lauches-its-indigenous-satellite-avoiding-us-warning-but-fails-3990085/

ईरान में कार्गो प्लेन दुर्घटनाग्रस्त, पायलट समेत 15 लोगों की मौत


तेहरान। ईरान में एक कार्गो प्लेन दुर्घटनाग्रस्त होने से पायलट समेत 15 लोगों की मौत हो गई है। एसोसिएटेड प्रेस ने ईरानी राज्य टीवी के हवाले से अपनी खबर में बताया है कि बोइंग 707 किर्गिज़ कार्गो विमान खराब मौसम के चलते तेहरान के पश्चिम में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसमें चालक दल के सभी 15 सदस्य मारे गए। बताया जा रहा है कि जिस समय विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ, उस समय मौसम बेहद खराब था।

कार्गो प्लेन क्रैश

एक कार्गो विमान खराब मौसम और विपरीत परिस्थितियों के चलते दुर्घटनाग्रस्त हो गया। माना जा रहा है कि विमान बोइंग 707 मालवाहक परिवहन विमान था। विमान ईरान की राजधानी के पास एक आवासीय क्षेत्र कारज के पास फथ हवाई अड्डे पर उतरने की कोशिश कर रहा था, लेकिन रन वे पर आने से पहले ही पायलट ने विमान पर से नियंत्रण खो दिया और विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। ईरान के आपातकालीन विभाग के प्रमुख पीरहोसिन कोलिनैंड ने कहा, "हमें दुर्घटना के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं है।" एयर एंबुलेंस और अग्निशामकों को फथ हवाई अड्डों के पास मौके पर भेजा गया है। मीडिया रिपोर्टों से संकेत मिल रहा है कि विमान ईरानी वायु सेना का है। हालांकि एक स्थानीय अधिकारी ने सरकारी टीवी को बताया कि हमें अभी तक नहीं पता है कि यह ईरानी विमान था या विदेशी।

हादसे की जांच जारी

घटनास्थल से मिली तस्वीरों में इमारतों के पास प्लेन के अवशेष दिखाई दे रहे हैं। हवा से भरा काला धुवां और जलती हुई तेज़ आग दिखाई दे रही है। विमान ने इमरजेंसी लैंडिंग करने से पहले किर्गिस्तान के बिश्केक इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी। दुर्घटना में सभी 15 यात्री मारे गए हैं। फिलहाल हताहतों के बारे में अधिक जानकारी नहीं है। ईरान के आपातकालीन विभाग पीरहोसिन कोलिवैंड के प्रमुख ने कहा, "हमें दुर्घटना के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं है।" ईरानी राज्य टेलीविजन ने दुर्घटनास्थल से उठते धुएं के एक चित्र को दिखाया।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/boeing-707-cargo-plane-crashes-west-of-tehran-3977399/

शारजाह के किंग से मिले राहुल गांधी, दोनों देशों के संबंधों पर हुई चर्चा


दुबई। यूएई के दौरे पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को शारजाह के शासक सुल्तान बिन मोहम्मद अल कासिमी के साथ मुलाकात की। दोनों नेताओं ने आपसी संबधों को मजबूत करने पर चर्चा की। दो दिन के संयुक्त अरब अमीरात दौरे के दौरान रविवार को राहुल गांधी ने वहां के शीर्ष नेताओं से मुलाकात की। इसके अलावा राहुल गांधी ने वहां भारतीय समुदाय को भी संबोधित किया ।

शारजाह के सुल्तान से मिले राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दो दिन के दौरे पर दुबई में थे। राहुल गांधी ने वहां कई कार्यक्रमों में भाग लिया और कई मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त किए। शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दुबई में पीएम मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला था। संयुक्त अरब अमीरात के दो दिवसीय दौरे गए राहुल गांधी ने शुक्रवार को दुबई में प्रवासी भारतीय समुदाय को संबोधित किया और मोदी सरकार पर कड़े शब्दों में लगातार हमले किए। कांग्रेस अध्यक्ष ने दुबई की मशहूर लेबर कॉलोनी में एकत्रित भारतीय कामगारों को संबोधित भी किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को वहां एक प्रेस को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। उन्होंने पाकिस्तान से लेकर आरएसएस तक कई मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त किए। कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर कहा कि 'शारजाह के शासक सुलतान बिन मोहम्मद अल कासिमी से मिलकर खुशी हुई । हम लोगों के बीच विभिन्न मुद्दों पर सौहार्दपूर्ण चर्चा हुई । हमारे देशों के बीच संबधों को और मजबूत बनाने के लिए उनके साथ काम करना चाहूंगा।'

कई अन्य नेताओं से हुई राहुल गांधी की मुलाकात

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को संयुक्त अरब अमीरात के उप राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मक्तूम के साथ भी मुलाकात हुई। इन नेताओं से मुलाकात के दौरान राहुल गांधी ने दुबई के शासक को यह भरोसा दिलाया कि उनकी व्यक्तिगत सोच यह है कि वह दोनों देशों के बीच बेहतर द्विपक्षीय संबंध के लिए प्रतिबद्ध हैं । राहुल गांधी ने इंडियन बिजनेस एंड प्रोफेशनल काउंसिल तथा पंजाबी समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात की।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/rahul-gandhi-meets-sharjah-king-3976892/

सीरिया में आईएस के ठिकानों से छुड़ाए गए 600 लोग, आगे भी जारी रहेगा बचाव अभियान


बेरुत। सीरिया के पूर्वी इलाके में इस्लामिक स्टेट समूह के कब्जे वाले इलाके से शनिवार को करीब 600 लोग निकाले गए हैं। ब्रिटेन की एजेंसी सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा है कि सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज (एसडीएफ) ने अमरीकी और पश्चिमी सुरक्षा बलों की मदद से सीरिया से 600 लोगों की जान बचाई है। सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने लोगों को निकालने के लिए बसों और छोटी गाड़ियों का सहारा लिया।

सबसे बड़ा बचाव अभियान

सीरिया से 600 से ज्यादा लोगों खासकर महिलाएं एवं बच्चों को निकाला गया। ऑब्जर्वेटरी के प्रमुख रामी अब्देल रहमान ने बताया कि कुर्द-अरब गठबंधन के कब्जे वाले इलाकों से लोग बचाए है। उन्होंने बताया कि इस आपरेशन में भेजे गए लोगों में कई जिहादी भी शामिल हैं। खबरों में बताया जा रहा है कि अमरीका समर्थित लड़ाके इस इलाके पर अंतिम धावा बोलने की तैयारी में हैं। आपको बता दें कि अमरीकी गठबंधन से समर्थन प्राप्त एसडीएफ ने सितंबर में आईएस को सीरिया के उस हिस्से से निकालने के लिए हमले बोलने शुरू किए थे जिसे आईइसआईएस समूह ने 2014 में अपना सबसे मजबूत गढ़ बताया था।

आगे बीच जारी रहेगा बचाव कार्य

सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अब्देल रहमान ने बताया कि अभी राहत और बचाव कार्य आगे भी जारी रहेगा। बताया जा रहा है कि 760 आईएस लड़ाकों समेत करीब 16,000 लोग दिसंबर की शुरुआत से इलाका छोड़ चुके हैं। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक सीरिया के हाजिन कस्बे के आस-पास के इलाकों में अब भी लगभग 2,000 आम सिविलियन फंसे हुए हैं।निगरानी एजेंसी ने कहा है कि जल्द ही अमरीकी गठबंधन सीरिया पर अंतिम हमले की तैयारी में है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/at-least-600-people-rescued-form-is-dominating-area-in-syria-3972363/

प्रधानमंत्री पर राहुल गांधी का तंज, कहा- दिन में सपने देखते हैं पीएम मोदी


दुबई। दुबई के दौरे पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को एक बार फिर पीएम मोदी पर तंज कसा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विदेश से नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखे हमले कर रहे हैं। राहुल गांधी ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा तंज कसा। राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर सीधा हमला करते हुए कहा कि उनका नाम नरेंद्र मोदी नहीं है और वे झूठे वादे नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी दिन में सपने देखने के आदी हैं।

दुबई के दौरे पर राहुल गांधी, आरएसएस से लेकर भारत-पाकिस्तान संबंध तक रखी अपनी बात

पीएम मोदी पर फिर साधा निशाना

दुबई के दौरे पर शनिवार को प्रेस के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि उनका नाम नरेंद्र मोदी नहीं है और वे झूठे वादे नहीं करते हैं।राहुल गांधी ने दावा किया कि वे अगला लोकसभा चुनाव जीतेंगे। उन्होंने एक बार फिर इस बात को दोहराया कि लोकसभा चुनाव के नतीजे चौंकाने वाले होंगे। राहुल ने अपने दावे के समर्थन में देश की संस्थाओं और आम लोगों से उन्हें और कांग्रेस पार्टी को जोरदार समर्थन मिल रहा है और पीएम मोदी इसे कभी नहीं समझ सकते। शनिवार को देर रात राहुल ने केंद्र सरकार पर एक के एक बाद कई हमले किए। राहुल गांधी ने कहा, "मुझे झूठ बोलना पसंद नहीं है, मेरा नाम मिस्टर नरेंद्र मोदी नहीं है, इसलिए मैं झूठे वादे नहीं करता हूं। मैं जो वचन देता हूं, उसे पूरा भी करता हूं। लेकिन पीएम मोदी अपने वादे कभी पूरे नहीं करते और ये बेहद शर्मनाक है।"

इस्लामिक आतंकियों के हमले में 12 लोगों की मौत, 28 घायल

पीएम दिन में सपने देखते हैं

राहुल गांधी ने कहा कि पीएम केवल दिन के सपने देखने के शौक़ीन हैं। उन्होंने दावा किया कि वे अगला लोकसभा चुनाव जीतेंग।राहुल ने अपने दावे के समर्थन में कहा कि यह बात वो इसलिए कह रहे हैं क्योंकि देश की संस्थाओं से उन्हें जोरदार समर्थन मिल रहा है और पीएम मोदी इस बदलाव का कारण कभी नहीं समझेंगे। राहुल गांधी ने पीएम मोदी के साथ-साथ संघ पर भी हमला किया। उन्होंने कहा कि आरएसएस का यह स्वभाव की ये प्रकृति रही है कि वो देश की संस्थाओं को खत्म करती है, जबकि कांग्रेस इनका सम्मान करती है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/my-name-is-not-pm-narendra-modi-and-i-don-t-lie-says-rahul-gandhi-3971565/

दुबई के दौरे पर राहुल गांधी, आरएसएस से लेकर भारत-पाकिस्तान संबंध तक रखी अपनी बात


दुबई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों दुबई में हैं। राहुल गांधी ने वहां कई कार्यक्रमों में भाग लिया और कई मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त किए। शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दुबई में पीएम मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला था। संयुक्त अरब अमीरात के दो दिवसीय दौरे गए राहुल गांधी ने शुक्रवार को दुबई में प्रवासी भारतीय समुदाय को संबोधित किया और मोदी सरकार पर कड़े शब्दों में लगातार हमले किए। कांग्रेस अध्यक्ष ने दुबई की मशहूर लेबर कॉलोनी में एकत्रित भारतीय कामगारों को संबोधित भी किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को वहां एक प्रेस को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। उन्होंने पाकिस्तान से लेकर आरएसएस तक कई मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त किए।

आरएसएस को मिलेगा करारा जवाब

राहुल गांधी ने कहा कि आरएसएस को लगता है कि लोगों की आवाज अप्रासंगिक है। उन्होंने कहा कि आरएसएस का यह रवैया 2019 के चुनावों को जीतने में कांग्रेस की मदद करेगा।इसका कारण यह है कि नौकरशाहों और संस्थानों से बड़े पैमाने पर प्रतिक्रिया आ रही है। देश के लोग आएसएस का यह रवैया स्वीकार नहीं करेंगे। कल राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हल्ला बोलते हुए कहा कि साल 2019 से भारत में सहिष्णुता फिर से वापस आ गई है। लेकिन पिछले साढ़े चार साल से भारत में असहिष्णुता का दौर रहा है।

बेहतर हो पाकिस्तान के साथ संबंध

संयुक्त अरब अमीरत की यात्रा पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए कहा कि वह पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के साथ नजदीकी संबंध चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मैं पाकिस्तान के साथ शांतिपूर्ण संबंध चाहता हूं, लेकिन निर्दोष भारतीयों पर की जा रही हिंसा को मैं बर्दाश्त नहीं करूंगा। राहुल गांधी ने कहा, " 'मैं विपक्ष में हूं, मेरे पास वो जानकारियां नहीं हैं, जो प्रधानमंत्री के पास हैं। मैं उन्हीं जानकारियों पर प्रतिक्रिया दे सकता हूं, जो मुझे मिलती हैं। मैं पाकिस्तान के साथ शांतिपूर्ण संबंध चाहता हूं, लेकिन मैं पाकिस्तानी द्वारा निर्दोष भारतीयों पर की जा रही हिंसा को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करूंगा। एक तरफ आप भारत में आतंक फैला रहे हैं, इसके बदले में आप भारत से दयालु होने की उम्मीद नहीं रख सकते।"

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/congress-president-rahul-gandhi-in-dubai-3971309/

दुबई में राहुल गांधी ने SP-BSP गठबंधन पर चुप्पी तोड़ी, हम लड़ेंगे और लोगों को आश्चर्यचकित करेंगे


दुबई: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी संयुक्त अरब अमीरात दौरे पर हैं। राहुल गांधी दुबई में शनिवार को समाजवादी और बहुजन समाजवादी पार्टी के गठबंधन पर पहली बार अपनी प्रतिक्रिया दी। राहुल गांधी ने कहा कांग्रेस अपनी जगह बनाकर यूपी के लोगों को आश्चर्यचकित करेगी। पार्टी अपनी विचारधारा की लड़ाई लड़ेगी और अपनी जगह खुद बनाएगी। राहुल गांधी ने कहा कि राज्य में एसपी और बीएसपी को गठबंधन करने का पूरा हक है। अखिलेश यादव और मायावती ने सोच समझकर गठबंधन किया होगा। मेरे मन में मायावती , मुलायम सिंह और अखिलेश यादव के लिए पूरा सम्मान है।

मोदी सरकार पर कांग्रेस का हमला

इस दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ हमला बोला। राहुल गांधी ने दुबी में रफाल मुद्दे का जिक्र करते हुए पीएम को अड़े हाथ लिया। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी रफाल पर संसद से भाग गए हैं। वो मेरे सवालों का अभी तक जवाब नहीं दिए। राहुल गांधी ने मोदी पर छोटे अंबानी को 30 हजार करोड़ रुपए चुराने में मदद का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मैं झूठे वादे नहीं करता मेरा नाम नरेंद्र नहीं राहुल गांधी है। मोदी सरकार पर देश में माहौल खराब करने का आरोप लगाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा असहिष्णु हो गई है। सारी संवैधानिक संस्थाओं को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। लेकिन ये कुछ समय की बात है 2019 में चुनाव के बाद हम इसे ठीक करेंगे।

 

मोदी सीबीआई चीफ से डरे हुए थे

पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा कि रफाल पर प्रधानमंत्री बंधक बन गए हैं। वह डरे हुए हैं और उन्होंने सीबीआई चीफ को हटा दिया। सीबीआई प्रमुख रफाल सौदे पर जांच करना चाहते थे, लेकिन प्रधानमंत्री ने उन्हें हटा दिया, सुप्रीम कोर्ट ने हस्तक्षेप के बाद प्रधानमंत्री ने फिर से उन्हें बर्खास्त कर दिया। मोदी संस्थाओं का गला घोंट रहे हैं।

पाकिस्तान पर राहुल गांधी का बयान

राहुल गांधी ने पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे सीजफायर उल्लंघन पर भी हमला बोला। राहुल ने कहा कि हम पड़ोसी देशों के साथ अच्छा और शांति प्रिय संबंध चाहते हैं लेकिन अगर भारत पर कोई हमला करेगा तो बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।

 

प्रवासियों की समस्याओं पर कांग्रेस गंभीर

गौरतलब है कि पिछले दिनों राहुल गांधी ने केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी और इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा के साथ श्रमिकों के साथ बातचीत की। उन्होंने श्रमिकों से दुबई में उनको हो रही कठिनाइयों और भारत में उनके परिवार की समस्याओं के बारे में पूछा। राहुल ने कहा, मैं यह सुनने के लिए यहां हूं कि आप सभी को क्या कहना है।उन्होंने कहा, "मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि सरकार आपके लिए और भारत में आपके परिवार के लिए काम करेगी।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/rahul-gandhi-sp-bsp-gathbandhan-attacks-on-modi-gov-in-dubai-upd-3970822/

इजराइल ने सीरिया पर किए कई हवाई हमले, निशाने पर दमिश्क एयरपोर्ट


दमिश्क। सीरियाई राज्य समाचार एजेंसी ने दावा किया है कि इजराइली युद्धक विमानों ने शुक्रवार को दमिश्क क्षेत्र की ओर कई मिसाइलें दागीं। हमले के बाद सीरियाई हवाई प्रणाली को ट्रिगर कर दिया गया। सीरियाई राज्य समाचार एजेंसी ने कहा है कि अधिकांश मिसाइलों को हवा में ही मार गिराया गया। सैन्य समाचार एजेंसी ने एक सैन्य सूत्र के हवाले से कहा कि हमले दमिश्क हवाई अड्डे के आसपास स्थित सैन्य गोदामों से एक पर सीमित थे।

दुबई से राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, कहा- देश ने साढ़े चार साल झेली असहिष्णुता

इजराइल ने बोला हमला

बताया जा रहा है कि इजराइल की सेना का हमला स्थानीय समय के अनुसार रात 11:15 बजे हुआ।इससे पहले इजराइली युद्धक विमानों ने सीरिया पर क्रिसमस के दिन आखिरी बार निशाना साधा था। उस घटना में लेबनान के ऊपर उड़ान भरने वाले इज़राइली विमानों ने दमिश्क के पास के क्षेत्रों की ओर मिसाइलें दागीं। इस हमले में एक हथियार डिपो को तबाह कर दिया गया और तीन सैनिकों की मौत हो गई थी।

दक्षिण अफ्रीका में दो ट्रेनों की टक्कर, 3 की मौत, सैकड़ों लोग घायल

अमरीकी राष्ट्रपति की सलाह पर हुआ फैसला !

सीरियाई राज्य समाचार एजेंसी ने अपनी खबरों में इस बात का दावा किया है कि इजराइल ने यह फैसला अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सलाह के बाद लिया है। बता दें कि नए साल के मौके पर एक दूसरे को शुभकामना देने के लिए इजराइली पीएम और अमरीकी राष्ट्रपति की बातचीत हुई थी। इजरायल के ड्रोन और युद्धक विमानों को लेबनान के ऊपर शुक्रवार दोपहर को उड़ते हुए सुना गया। माना जाता है कि सीरिया में हवाई हमले की एक बड़ी संख्या के पीछे इज़राइल और अमरीका का हाथ है। हमले में मुख्य रूप से ईरानी और हिजबुल्लाह बलों को निशाना बनाया है जो सीरिया सरकार के साथ लड़ रहे हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/syria-says-israeli-fired-missiles-toward-damascus-3966516/

राहुल गांधी: प्रवासियों के मसले पर कांग्रेस गंभीर, चुनाव घोषणा पत्र में शामिल होंगे मुद्दे


दुबई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अपने पहले दौरे के दौरान यहां शुक्रवार को भारतीय प्रवासियों से मुलकात की। राहुल गांधी ने प्रवासियों को भरोसा दिलाया कि वह लोकसभा चुनाव में पार्टी के चुनावी घोषणा पत्र में उनके मसले शामिल करेंगे। राहुल गांधी गुरुवार की रात यहां पहुंचे थे । उन्होंने यहां दिन में यूएई के अग्रणी कारोबारियों के साथ बातचीत की। इसके बाद जेबेल अली औद्योगिक क्षेत्र में एक संवाद सत्र में वह भारतीय श्रमिकों से मुखातिब हुए।

दुबई से राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, कहा- देश ने साढ़े चार साल झेली असहिष्णुता

इशारों में पीएम मोदी पर तंज

श्रमिकों को संबोधित करते हुए गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात पर पर तंज कसा। उन्होंने कहा, "मैं यहां अपने मन की बात नहीं कहने आया हूं, बल्कि आपके मान की बात सुनने आया हूं।" राहुल गांधी ने कहा, "अपने परिवारों को भारत में छोड़कर आप यहां उनके लिए कठिन परिश्रम करके कमाने आए हैं। मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि हम आपके साथ हैं। मैं यहां आपकी समस्याएं सुनने आया हूं। मैं जो कुछ भी मदद कर सकता हूं, वह करने को तैयार हूं।"

बीवी को केबिन में बिठाकर जहाज उड़ा रहा था पायलट, एयरलाइंस ने उठाया बड़ा कदम....

प्रवासियों की समस्याओं पर कांग्रेस गंभीर

केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी और इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा के साथ राहुल गांधी ने श्रमिकों के साथ बातचीत की। उन्होंने श्रमिकों से दुबई में उनको हो रही कठिनाइयों और भारत में उनके परिवार की समस्याओं के बारे में पूछा। राहुल ने कहा, मैं यह सुनने के लिए यहां हूं कि आप सभी को क्या कहना है।उन्होंने कहा, "मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि सरकार आपके लिए और भारत में आपके परिवार के लिए काम करेगी। " आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले अपने ग्लोबल आउटरीच कार्यक्रम के तहत राहुल ने यहां इंडियन बिजनेस एंड प्रोफेशनल काउंसिल (आईबीपीसी) के प्रतिनिधियों से भी बातचीत की। राहुल ने दुबई में बसे पंजाबी समुदाय के लोगों से भी मुलाकात की।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/congress-serious-on-nris-issues-says-rahul-gandhi-3966188/

दुबई से राहुल गांधी का मोदी सरकार पर बड़ा हमला, कहा- देश ने साढ़े चार साल झेली असहिष्णुता


दुबई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दुबई में पीएम मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला है। संयुक्त अरब अमीरात के दो दिवसीय दौरे गए राहुल गांधी ने शुक्रवार को दुबई में प्रवासी भारतीय समुदाय को संबोधित किया और मोदी सरकार पर कड़े शब्दों में लगातार हमले किए। कांग्रेस अध्यक्ष ने दुबई की मशहूर लेबर कॉलोनी में एकत्रित भारतीय कामगारों को संबोधित भी किया।

यूएई के दौरे पर राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को पहली बार यूएई का दौरा कर रहे हैं। इस दौरान वह भारतीय विदेशी और छात्र समुदायों के साथ बातचीत करेंगे। कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को इस बात की घोषणा की। दुबई और अबू धाबी की दो दिवसीय यात्रा के दौरान राहुल गांधी संयुक्त अरब अमीरात के वह कुछ मंत्रियों से भी मिलेंगे। आपको बता दें कि राहुल गांधी पहले भी अमरीका, लंदन, जर्मनी और बहरीन में ऐसी सार्वजनिक सभाओं को संबोधित कर चुके हैं। अपने अंतरराष्ट्रीय संपर्क कार्यक्रम को जारी रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस समय संयुक्त अरब अमीरात दो दिवसीय दौरे पर हैं। यहां राहुल गांधी ने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करने के साथ ही मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला।

मोदी सरकार पर बड़ा हमला

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हल्ला बोलते हुए कहा कि साल 2019 से भारत में सहिष्णुता फिर से वापस आ गई है। लेकिन पिछले साढ़े चार साल से भारत में असहिष्णुता का दौर रहा है। बता दें कि शुक्रवार को ही दुबई में लेबर कॉलोनी में एकत्रित भारतीय कामगारों को संबोधित करते हुए कहा कि अगर उनकी पार्टी आगामी आम चुनावों में सत्ता में आती है तो आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा देगी। राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि अपने कार्यकाल में मोदी सरकार ने देश का पूरा माहौल खराब कर दिया है। कामगारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, 'आपने भारत, भारतीय राज्यों और गरीब लोगों की मदद की तथा आपने दुबई शहर बनाने के लिए काम किया जो पूरे विश्व में अनूठा है। मैं भारतीय समुदाय की महिमा दुबई में फैलाने के लिए आपको दिल से शुक्रिया कहना चाहता हूं।' संयुक्त अरब अमीरात के विकास की तारीफ करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आप यहां जो भी बड़ा विकास देखते रहे हैं वो आपके योगदान के बिना नहीं हो सकते।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/rahul-gandhi-big-attack-on-pm-modi-3966127/

दुबई में भारतीय कामगारों से मिले राहुल गांधी, कहा- आपकी बात सुनने यहां आया हूं


दुबईः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को दुबई में भारतीय कामगारों को संबोधित किया। राहुल गांधी ने कहा कि मैं महसूस करता हूं कि आप लोग यहां पर कठिन मेहनत करते हैं। आप पूरे दिन काम करते हैं और अपने परिवार को पैसे घर पर भेजते हैं। राहुल ने कहा कि मैं यहां पर हूं आपकी बात सुनने के लिए। आप लोगों को जो भी परेशानी है मैं उसको सुनने के लिए यहां पर आया हूं।इससे पहले राहुल गांधी के पहुंचने पर भारतीय कामगारों ने उनका शानदार स्वागत किया। यहां पर राहुल से मिलने के लिए लोग काफी उत्सुक दिखाई दिए।इस दौरान राहुल के साथ इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा भी हैं। बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले अपने वैश्विक आउटरीच कार्यक्रम के हिस्से के रूप में राहुल छात्रों सहित बड़े भारतीय प्रवासी समुदाय को संबोधित करने के अलावा यूएई के मंत्रियों के साथ भी बातचीत करेंगे।

दो दिन दुबई मे रहेंगे राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी यूएई के दो दिवसीय दौरे पर दुबई पहुंच गए।गुरुवार को राहुल गांधी दुबई पहुंचे, जहां इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उनका जोरदार स्वागत हुआ। राहुल का 2019 का यह पहला अंतरराष्ट्रीय दौरा है, जिसके कई राजनीतिक मायने लगाए जाने लगे हैं। ऐसा माना जा रहा है की इस दौरे के पीछे कांग्रेस की मंशा प्रवासी भारतीयों के बीच अपनी स्वीकार्यता बढ़ाने की है। आपको बता दें की राहुल गांधी पहले भी अमरीका, लंदन, जर्मनी और बहरीन में ऐसी सार्वजनिक सभाओं को संबोधित कर चुके हैं। कांग्रेस अध्यक्ष 11 जनवरी को दुबई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में 'इंडो-अरब सांस्कृतिक कार्यक्रम' में आधिकारिक मुख्य अतिथि भी होंगे। इस कार्यक्रम में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती भी मनाई जाएगी


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/rahul-gandhi-met-indian-workers-in-dubai-3962950/

अमरीकी बैन के बाद ईरान को मिला इराक का साथ, तेल-ऊर्जा क्षेत्रों में सहयोग पर लिया फैसला


बगदाद। इराक के प्रधानमंत्री अदेल अब्दुल महदी ने ईरान के पेट्रोलियम मंत्री बिजान जांगनेह से मुलाकात की। मुलाकात तेल और ऊर्जा के क्षेत्रों में अधिक सहयोग को लेकर चर्चा के लिए की गई। एक समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, इराकी प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान में महदी ने गुरुवार को दोनों देशों के लोगों के हितों की दिशा में पड़ोसी देशों के काम की प्रशंसा की।

जांगनेह और उनका प्रतिनिधिमंडल बगदाद पहुंचे

जांगनेह ने भी इस दौरान द्विपक्षीय संबंधों को और विकसित करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अधिक सहयोग हासिल किया जा सकता है। जांगनेह और उनका प्रतिनिधिमंडल गुरुवार सुबह इराक की राजधानी बगदाद पहुंचा। आपको बता दें कि इससे ठीक एक दिन पहले ही अमरीका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने इराक का दौरा किया था।

2018 में ईरान पर लगे थे नए प्रतिबंध

अमरीका पिछले साल मई में 2015 ईरान परमाणु समझौते से बाहर निकल गया था। उसने सात अगस्त 2018 को ईरान के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाए थे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/iran-and-iraq-come-together-for-progress-of-energy-and-oil-fields-3962522/

राहुल गांधी का यूएई में जोरदार स्वागत, नारों से गूंज उठा दुबई एयरपोर्ट


दुबई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी यूएई के दो दिवसीय दौरे पर दुबई पहुंच गए हैं। गुरुवार को राहुल गांधी दुबई पहुंचे, जहां इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उनका जोरदार स्वागत हुआ। यूएई की अपने दो दिवसीय प्रवास के दौरान राहुल गांधी प्रवासी भारतीयों से भी मुलाकात करेंगे। राहुल गांधी का शुक्रवार में दुबई में कार्यक्रम है। शनिवार को राहुल गांधी अबुधाबी पहुंचेंगे। यहां भी वो वे प्रवासी भारतीयों से मुलाकात करेंगे।

यूएई में राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को पहली बार यूएई का दौरा कर रहे हैं। इस दौरान वह भारतीय विदेशी और छात्र समुदायों के साथ बातचीत करेंगे। कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को इस बात की घोषणा की। दुबई और अबू धाबी की दो दिवसीय यात्रा के दौरान संयुक्त अरब अमीरात के वह कुछ मंत्रियों से भी मिल सकते हैं। कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट किया की पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी कल से दुबई के दो दिवसीय दौरे पर होंगे। यहां वह भारतीय विदेशी समुदाय और छात्र समुदाय के साथ बातचीत करेंगे। आपको बता दें की राहुल गांधी पहले भी अमरीका, लंदन, जर्मनी और बहरीन में ऐसी सार्वजनिक सभाओं को संबोधित कर चुके हैं। कांग्रेस अध्यक्ष 11 जनवरी को दुबई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में 'इंडो-अरब सांस्कृतिक कार्यक्रम' में आधिकारिक मुख्य अतिथि भी होंगे। इस कार्यक्रम में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती भी मनाई जाएगी।

क्या है कार्यक्रम

राहुल गांधी दुबई के स्टेडियम में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे और भारतीय श्रमिक समुदाय से मुलाकात करेंगे । राहुल का 2019 का यह पहला अंतरराष्ट्रीय दौरा है, जिसके कई राजनीतिक मायने लगाए जाने लगे हैं। ऐसा माना जा रहा है की इस दौरे के पीछे कांग्रेस की मंशा प्रवासी भारतीयों के बीच अपनी स्वीकार्यता बढ़ाने की है। आपको बता दें की इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी जिन जगहों पर जाएंगे वहां भारत के अन्य राज्यों समेत दक्षिण भारत के लोगों की तादात बड़ी संख्या में है। इस यात्रा के दौरान इडियन ओवरसीज कांग्रेस की एक टीम राहुल गांधी को यूएइ में भारतीय प्रवासियों को पेश आने वाली दिक्कतों को लेकर एक ज्ञापन सौंपेगी ।राहुल अबुधाबी में स्थित मशहूर शेख जायद मस्जिद भी जा सकते हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/rahul-gandhi-on-2-days-uae-visit-3960897/

सैन्य परेड के दौरान हुआ बड़ा हादसा, पांच की मौत, कई शीर्ष अधिकारी घायल


सना। यमन के लाहज शहर में गुरुवार को एक सरकारी सैन्य परेड पर हौती विद्रोहियों ने ड्रोन हमला कर दिया। इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गई और कई शीर्ष अधिकारी घायल हो गए। सैन्य सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी। समाचार एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा कि घायलों में यमन सेना के चीफ ऑफ स्टाफ, उनके डिप्टी, सैन्य खुफिया विभाग के प्रमुख शामिल हैं। यह सभी राष्ट्रपति अब्द रब्बुह मंसूर हादी के प्रति वफादार हैं।

सैन्य अधिकारियों के सामने आकर फट गया ड्रोन

एक सैन्य अधिकारी ने कहा, 'पहले तो हमें लगा कि यह एक वीडियो रिकॉर्ड करने वाला ड्रोन है, जो किसी टेलीविजन चैनल का है और परेड कवर करने आया है। लेकिन, अचानक वह ड्रोन सैन्य अधिकारियों के सामने आकर फट गया।' सूत्र ने कहा कि सैन्य अड्डे पर हुए इस हमले में तीन वरिष्ठ कमांडरों के साथ 15 अन्य उच्चस्तरीय अधिकारी घायल हुए हैं।

सैन्य वर्ष शुरू होने के उपलक्ष्य में हो रही थी परेड

आपको बता दें कि सैन्य वर्ष शुरू होने के उपलक्ष्य में यह परेड हो रही थी। यह हमला परेड शुरू होने के थोड़ी देर बाद हुआ। हौती विद्रोहियों के स्वामित्व वाले अल मसीरा टेलीविजन चैनल के मुताबिक, विद्रोहियों ने हमले की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि 'यह हमला आक्रमणकारियों और भाड़े के सैनिकों के समूह' को निशाना बनाकर किया गया था।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/drone-strike-at-army-parade-in-yemen-3959014/

ईरान में भूकंप के तेज झटके, 75 लोग घायल


तेहरान। ईरान के कर्मानशाह प्रांत में रिक्टर पैमाने पर 5.9 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप के झटकों से कई घरों को भारी नुक्सान पहुंचा है। भूकंप की वजह से हुए हादसों में 75 लोग घायल हो गए हैं । समाचार एजेंसी की खबरों के मुताबिक ईरान के भूकंपीय सूचना केंद्र ने बताया है कि भूकंप का केंद्र 34.16 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 45.66 डिग्री पूर्वी देशांतर में केंद्रित रहा। खबरों में यह भी बताया गया है कि भूकंप के बाद अब तक 15 आफ्टरशॉक महसूस किए गए हैं।

युद्धपोत यूएसएस कोल पर हमले के आरोपी जमाल अल-बदावी की मौत

ईरान में तेज झटके

ईरान के कुरमानशाह प्रांत के गिलानगर्ब शहर को हिलाकर रख देने वाले 5.9 तीव्रता के भूकंप में कम से कम 75 लोग घायल हो गए हैं। ईरान के आपातकालीन संगठन के प्रमुख पीर होसैन कोलीवांड ने कहाएक मेडिकल अधिकारी ने तसनीम समाचार एजेंसी को बताया कि अधिकतर घायलों को बाहर निकलते वक्त चोटें लगी हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार ईरान के भूकंप का केंद्र देश के पश्चिमी हिस्से में था। इसे 34.16 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 45.66 डिग्री पूर्वी देशांतर पर दर्ज किया गया। केंद्र के अनुसार भूकंप के बाद कम से कम 15 आफ्टरशॉक महसूस किए गए जिनकी तीव्रता 3 से लेकर 4.8 तीव्रता तक थी।

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग का आह्वान, लड़ाई के लिए तैयार रहें सेनाएं

बढ़ सकती है घायलों की संख्या

समाचार एजेंसी के हवाले से बताया गया है कि घायलों में से अधिकांश लोग बाहर की तरफ भाग रहे थे। ईरान की रेड क्रीसेंट सोसाइटी की आकलन टीमों को भूकंप स्थल पर भेजा गया है। गिलानगर्ब प्रांत के के गवर्नर कुरोश महमूदियन ने समाचार एजेंसी तस्नीम को बताया कि कुछ आवासीय भवनों को नुकसान हुआ है। पशु फार्म क्षतिग्रस्त हो गए हैं और चट्टान गिरने से इलाके में सड़कें अवरुद्ध हो गईं। उन्होंने कहा कि गिलानगर्ब में पीने के पानी की गुणवत्ता भी प्रभावित हुई है। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों को पर्याप्त उच्च गुणवत्ता वाला पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। इलाके के प्राथमिक विद्यालय और हाई स्कूल सोमवार को बंद रखे गए हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/5-9-magnitude-earthquake-hits-iran-s-gilangharb-city-3939578/

खशोगी हत्याकांड: अमरीका को जांच पर बिल्कुल भरोसा नहीं, सऊदी अरब पर बनाया जाएगा दबाव


वॉशिंगटन। अमरीका के उच्च अधिकारी का कहना है कि सऊदी अरब द्वारा पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या की जांच अभी भी पूर्ण रूप से विश्वसनीय नहीं है। अधिकारी के अनुसार विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ अगले सप्ताह मध्यपूर्व के आठ देशों की यात्रा के दौरान रियाद दौरे पर खशोगी की हत्या को लेकर सऊदी अरब पर दबाव बनाना जारी रखेंगे।

विश्वसनीयता बरतने का दबाव बनाएंगे

अधिकारी ने पहचान न बताने की शर्त पर पत्रकारों से कहा कि वह जमाल खशोगी का मामला उठाएंगे और सऊदी नेतृत्व पर इस हफ्ते के आरंभ में शुरू हुई कानूनी प्रक्रिया में जवाबदेही और विश्वसनीयता बरतने का दबाव बनाएंगे। अधिकारी ने कहा कि उन्हें नहीं लगता सऊदी अरब की ओर से शुरू की गई अब तक की कानूनी प्रक्रिया में किसी तरह की जवाबदेही और विश्वनीयता है। गौरतलब है कि बीते साल दो अक्टूबर को सऊदी अरब के करीबी से आलोचक बने वॉशिंगटन पोस्ट के पत्रकार खशोगी की तुर्की में सऊदी दूतावास में हत्या कर दी गई थी, जिसके लिए अमरीका समेत कई देशों ने सऊदी अरब को जिम्मेदार ठहराया था।

Read the Latest World News on Read the Latest World N Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/america-does-not-believe-in-inquiry-pressure-will-be-made-on-saudi-3931519/

बुर्ज खलीफा से छिन जाएगा सबसे ऊंची बिल्डिंग का खिताब, बन रही है 1 किमी ऊंची इमारत


दुबई। बहुत जल्द ही बुर्ज खलीफा से दुनिया की सबसे ऊंची इमारत का तमगा छिनने वाला है, क्योंकि संयुक्त राज्य अमीरात (यूएई) में ही जल्द ही दो ऐसी बिल्डिंग बनकर तैयार हो रही हैं जिसकी ऊंचाई इससे कहीं ज्यादा है। अब पश्चिम एशिया के दो टावरों में दुनिया की सबसे ऊंची इमारत बनने की होड़ लगी हुई है।

2020 तक बनकर तैयार हो जाएंगे ये टावर

बताया जा रहा है कि ये दोनों ही टावर चार साल बाद यानी 2020 तक बनकर तैयार हो जाएंगे। इन इमारतों में से एक की ऊंचाई 1 किलोमीटर से अधिक है, जबकि बुर्ज खलीफा की ऊंचाई 830 मीटर है। बुर्ज खलीफा को टक्कर देने वाले पहला टावर दुबई में ही निर्माणाधीन क्रीक हार्बर का 'द टावर' है। इसका निर्माण शुरू हो चुका है, जिसे 938 मीटर बनाने की योजना है। एमार द्वारा बनाए जा रहे इस बिल्डिंग के निर्माण में करीब 65 अरब का खर्च आएगा। इस टावर में 360 डिग्री यानी चारों तरफ का सीन देखने वाला ऑब्जर्वेशन सेंटर भी बनाया जाएगा। इसके ऊंची मंजिलों रहने घर और होटल के साथ-साथ बगीचे भी होंगे।

जेदाह टावर की कुल ऊंचाई एक किलोमीटर

हालांकि इसे सबसे ऊंची इमारत का खिताब तभी मिल सकता है, अगर इसका निर्माण सऊदी अरब में बन रहे 'जेदाह टावर' से पहले पूरा हो जाएगा। दरअसल जेदाह टावर की कुल ऊंचाई एक किलोमीटर आठ मीटर है, यानी 'द टावर' से करीब 72 मीटर ऊंचा है। इस टावर का निर्माण 2013 में हो शुरु हो चुका है तब उसका नाम 'किंगडम टावर' रखा गया था। इसके 2020 तक बनकर तैयार हो जाने की उम्मीद है। पहले योजना थी कि ये टावर 2018 में बनकर तैयार हो जाएगा, लेकिन अब इसके दो साल की देरी से बनकर तैयार होने की उम्मीद है।

बुर्ज खलीफा को बनने में लगा था 5 साल का वक्त

गौरतलब है कि वर्तमान में दुनिया की सबसे ऊंची बिल्डिंग बुर्ज खलीफा को बनने में 5 साल का वक्त लगा था। इसका निर्माण जनवरी 2004 में शुरू हुआ था और अक्टूबर 2009 में ये पूरी तरह बनकर तैयार हो गया था। हालांकि इसे आज के ही दिन 4 जनवरी 2010 को आधिकारिक रूप से खोला गया था।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/these-two-towers-to-snatch-world-s-tallest-tower-tag-from-burj-khalifa-3927471/

नाइजीरिया में अतिवादियों से लड़ते हुए हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, 5 मरे


उत्तरी नाइजीरिया के दमशक शहर में अतिवादियों के खिलाफ सैन्य अभियान चलाया जा रहा है। इसी दौरान बोर्नों प्रांत में एक सेन्य हेलीकॉप्टर दुर्घनाग्रस्त हो गया। इसमें पांच लोगों की जान चली गई। स्थानीय मीडिया के माध्यम से यह जानकारी सामने आई है।

रिपोर्ट के अनुसार- यह हेलीकॉप्टर नाइजीरिया के दमसक शहर में सैन्य अभियान के दौरान सैनिकों को हवाई सहायता प्रदान करा रहा था। यह एमआई-35 एम हेलीकॉप्टर था, जो दुर्घटनाग्रस्त हो गया। मारे जाने वाले पांचों लोग चालक दल के सदस्य थे।

रिपोर्ट में वायु सेना अधिकारी इबिकुन्ले डरमोला के हवाले से कहा गया है कि- उन्होंने दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा- ‘बहुत दुख के साथ बताना चाहता हूं कि बोर्नो राज्य के दमसक में सैनिकों को हवाई सहायता प्रदान कर रहा वायु सेना का एमआई -35 एम हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया और इसमें सवार चालक दल के पांच सदस्यों की जान चली गई।’ गौर हो, इस जगह पर अतिवादियों के खिलाफ संयुक्त सैन्य अभियान चलाया जा रहा है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/helicopter-crashed-while-fighting-extremists-in-nigeria-5-die-3926569/

इराक: इस्लामिक स्टेट से जुड़ने पर 616 विदेशियों को सुनाई गई सजा


बगदाद। इराक ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट से जुड़ने के अपराध में इस साल 616 से ज्यादा विदेशियों को सजा सुनाई। इराक की न्यायपालिका ने सोमवार को इस संबंध में जानकारी दी। तीन साल तक जिहादियों के खिलाफ लड़ाई के बाद इराक ने 2017 के अंत में इस्लामिक स्टेट पर जीत की घोषणा की थी। गौरतलब है कि इराक में आईएस ने 2011 के बाद से भयानक आतंक मचा रखा है। इस दौरान उसने इराक के कई क्षेत्रों पर कब्जा जमाया और यहां की जनता में काफी दहशत का माहौल बनाया।

सीरिया के भी भूभाग पर कब्जा किया

एक समय जिहादियों ने देश के एक तिहाई हिस्से और पड़ोसी सीरिया के भी भूभाग पर कब्जा कर लिया था। वर्ष 2014 के बाद इराक में 20,000 लोगों को इस्लामिक स्टेट से जुड़ाव के संदेह में गिरफ्तार किया गया। न्यायपालिका के प्रवक्ता अब्देल सत्तार बयरकदार ने सोमवार को कहा कि 2018 में आईएस से जुड़े 616 पुरूषों और महिलाओं के खिलाफ मुकदमा चलाया गया और इराक के आतंकवाद रोधी कानून के तहत उन्हें सजा सुनाई गई। उन्होंने बताया कि इनमें कुल 466 महिलाएं, 42 पुरुष और 108 बच्चे थे। हालांकि उन्होंने सजा के बारे में अभी तक खुलासा नहीं हुआ है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/gulf-news/iraq-616-foreigners-sentenced-to-death-for-joining-islamic-state-3910809/

SHARE THIS


Subscribe via Email


Explore Jobs/Opportunities
Jobs Jobs / Opportunities / Career
Haryana Jobs / Opportunities / Career
Bank Jobs / Opportunities / Career
Delhi Jobs / Opportunities / Career
Sarkari Naukri Jobs / Opportunities / Career
Uttar Pradesh Jobs / Opportunities / Career
Himachal Pradesh Jobs / Opportunities / Career
Rajasthan Jobs / Opportunities / Career
Scholorship Jobs / Opportunities / Career
Engineering Jobs / Opportunities / Career
Railway Jobs / Opportunities / Career
Defense & Police Jobs / Opportunities / Career
Gujarat Jobs / Opportunities / Career
West Bengal Jobs / Opportunities / Career
Bihar Jobs / Opportunities / Career
Uttarakhand Jobs / Opportunities / Career
Punjab Jobs / Opportunities / Career
Admission Jobs / Opportunities / Career
Jammu and Kashmir Jobs / Opportunities / Career
Madhya Pradesh Jobs / Opportunities / Career
Explore Articles / Stories
Education
Government Schemes
News
Career
Admit Card
Bihar
State Government Schemes
Study Material
Technology
DATA
Public Utility Forms
Travel
Sample Question Paper
Exam Result
Employment News
Scholorship
Syllabus
Festival
Business
Wallpaper
Explore more
Main Page
Register / Login
Like our Facebook Page
Follow on Twitter
Subscrive Our Newsletter Via Nuzzle
Get Updates Via Rss Feed
Sarkari Niyukti
Free Online Practice Set
Latest Jobs
Feed contents
Useful Links
Photo
Video
Post Jobs
Post Contents
Supremedeal : India Business Directory
Find IFSC Code
Find Post Office / Pincode
Contact us
Best Deal

Disclaimer: we only provide job information. we are not associated with any job website. Although we take extreme care for accuracy of the information provided, but you must check the authenticity of the website before applying for the job. We are not responsible for your operation , once you leave our website and apply thereafter. Please recheck the genuineness of the job website from yourself also.

Copyright © 2018. Website template by WebThemez.com