Patrika : Leading Hindi News Portal - Home Garden #educratsweb
HOME | LATEST JOBS | JOBS | CONTENTS | STUDY MATERIAL | CAREER | NEWS | BOOK | VIDEO | PRACTICE SET REGISTER | LOGIN | CONTACT US

Patrika : Leading Hindi News Portal - Home Garden

http://api.patrika.com/rss/home-garden 👁 244

टूटे गमलों से करें बागवानी


अगर आपको बागवानी का शौक है तो घर में और बगीचे में खूब सारे गमले भी होंगे। गमले टूट जाने पर यकीनन आप उन्हें फेंक देने के अलावा कुछ नहीं करती होंगी। टूटे गमले भी बड़े काम के साबित हो सकते हैं।

लिखें पौधों के नाम
गमलों की रिम का इस्तेमाल करके आप अपने बगीचे को खूबसूरत और जानकारीपरक बना सकती हैं। गमलों की रिम को हर पौधे के सामने आधा-आधा जमीन में गाड़ें और इन पर पौधों का नाम किसी परमानेंट मार्कर से लिख दें।

बनाएं मेंढकों का घर
बगीचे में मेंढक और टोड्स तो आ ही जाते हैं, क्यों न आप इन्हें एक प्यारा सा घर भी दे दें। आपको बस ऊपर से टूटे गमले को उल्टा करके बगीचे में रखना है। इसमें पानी का छोटा बरतन भी रखें। टोड्स कीड़े-मकौड़ों को दूर रखेंगे।

बचाएं पौधों को
टूटे गमलों की मदद से आप नए गमलों में पौधों को आसानी से बचा सकती हैं। गमले के टुकड़ों को पौधे के चारों ओर उल्टा डाल दें। गिलहरियां और दूसरे खोदने वाले जानवरों से आपके पौधे सुरक्षित रहेंगे।

डिजाइन करें गार्डन
अगर आपके भीतर रचनात्मकता है तो आप टूटे गमलों से भी कल्पना का हरा-भरा संसार रच सकती हैं। सबसे बड़े गमले में मिट्टी और मॉस डालें और फिर टूटे गमलों से सीढियां बनाएं। अपनी कल्पनाशीलता से सजाएं।

हरियाली की धारा
आधे टूटे गमले को मिट्टी में दबा दें। इस आधे हिस्से के आगे का बगीचा छोटे-छोटे पौधे लगाकर इस तरह विकसित करें कि हरियाली की धारा बहती हुई नजर आए। यह दिलकश नजारा हर किसी को लुभाएगा।

नहीं बहेगी मिट्टी
नए गमले में मिट्टी भरने से पहले गमले के छेद के ऊपर टूटे गमले का टुकड़ा उल्टा करके डाल दें। इससे अगली बार जब भी आप पानी डालेंगी तो गमले के छेद से मिट्टी कम निकलेगी और अतिरिक्त पानी भी निकल जाएगा। 

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/use-broken-pots-in-your-garden-1034740/

शादी के बाद नव विवाहित जोड़े घर सजाएं ऎसे


जहां तक घर सजाने का सवाल है इसमें पुरुष और महिलाओं की पसंद अलग-अलग होती है। नव विवाहितों के लिए घर सजाना ज्यादा परेशानी भरा होता है। आपको समझ नहीं आएगा कि घर को कैसे सजाएँ? नवविवाहित जोड़ों के लिए घर सजाने के कुछ आइडिया आपकी मदद कर सकते हैं।

स्पेस और साइज पर ध्यान
जगह नए घर को सेट करते समय कमरों की स्पेस और साइज पर ध्यान दें। यदि आपके पास जगह कम है तो आप मल्टी-परपज फर्नीचर ले सकते हैं। उदाहरण के लिए कम वजन वाला सोफा जो कि बैड का रूप भी ले लेता है। यदि आपके पास जगह ज्यादा है तो आप उस जगह को डिवाइड कर छोटे हिस्से कर लें। उदाहरण के लिए आप लिविंग रूम के छोटे हिस्से में कॉफी टेबल के पास सोफा या चारों और कुर्सियाँ लगाकर ग्रुप टॉक की जगह बना सकते हैं। नव विवाहितों के लिए घर सजाने का यह एक अच्छा आइडिया है।

बजट
आपको घर को सेट करने की शुरुआत बजट का हिसाब लगाकर करना चाहिए। निर्धारित करें कि घर में क्या जरूरी सामान चाहिए? और फिर अपने बजट के अनुसार सामान खरीदें। होम स्टोर्स में जाएँ, जरूरी चीजों की कीमतें देखें और फिर खरीदें। नए घर को सेट करते समय यह बहुत ध्यान देने वाली बात है।

शांति से काम करें
न्यूली मैरीड कपल घर सेट करते समय शांति और समझौते से काम लेना बहुत जरूरी है। आपकी सुझबुझ केवल घर को सजाने नहीं बल्कि आपके रिश्ते को भी मजबूत बनाने का काम करेगी। आपकी तरह ही आपके पार्टनर के लिए भी घर सजाना नई बात है। 

एक दूसरे की पसंद और आइडिया कर सम्मान करें
एक दूसरे की पसंद और आइडिया का सही तालमेल बिठाएं और दोनों के दिमाग से घर को एक शानदार और खास लुक दें। नवविवाहित जोड़ों के लिए घर सजाना नया है इसलिए आपको अपने पर्याप्त विचार रखने चाहिए।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/newly-married-couple-arrange-home-after-the-wedding-1037663/

घर के दीवारों को दें नया रंग


बच्चों के स्टडी रूम में चॉकबोर्ड कैलेंडर बनवाया जा सकता है। कैलेंडर की दीवार को डार्क रखें और अन्य दीवारों को लाइट।
आजकल एक और पैटर्न स्टडी रूम में काफी प्रचलित है और यह है विंटेज बुक प्रिंट। आप चाहें तो इसके वॉलपेपर दीवारों पर लगवा सकती हैं। इससे कमरे में अध्ययन का माहौल बनता है।

इसके अलावा किड्स रूम की दीवारों को सजाने के लिए आप पुराने इन्विटेशन काड्र्स और ग्रीटिंग काड्र्स आदि का भी उपयोग कर सकती हैं। साथ ही पिछली क्लास में इस्तेमाल हो चुके एटलस, मैप्स और चाट्र्स की मदद से भी दीवारों को सजाया जा सकता है, जिससे पढ़ाई में भी मदद मिले।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/give-the-new-color-walls-of-the-house-1037646/

घर में उगाएं सब्जियां


बालकॉनी, रसोई के काउंटर, छत पर रखे हुए छोटे गमले गर्मियों में आपको घर बैठे ताजी सब्जी और हब्र्स उपलब्ध करा सकते हैं। अगर आप बागवानी में निपुण नहीं हैं तो भी कर सकती हैं ये...

चुनें गमला
ऎसा गमला चुनें जो कम से कम 24 इंच व्यास का हो, ताकि पौधे की जड़ों को विकसित होने के लिए सही जगह
मिल जाए। बड़ा गमला होने का एक फायदा यह भी है कि मिट्टी देर तक नम रहती है और आपको पानी कम डालना पड़ेगा।

अच्छी नस्ल लें
लोकल नर्सरी जाकर पौधों की वे प्रजातियां चुनें जो छोटी जगह में भी अच्छी तरह उग जाती हैं। खरीदने के बाद नर्सरी संचालक से भी इसकी जानकारी पुख्ता कर लें। पौधों को चुनने के सजावट और खाने जैसे अन्य कई दूसरे आधार भी हो सकते हैं।

तैयार करें गमला
गमला तैयार करने के लिए उसमें सबसे नीचे कंकड़ या टूटे गमले के टुकड़े बिछाएं। इसके ऊपर मिट्टी डालें। सबसे ऊपर खाद, मॉस आदि डालें। मिट्टी को हल्के हाथ से दबाएं, ताकि अतिरिक्त हवा निकल जाए। पौधा लगाने से पहले मिट्टी में पानी डालें।

लगाएं पौधा
मिट्टी में चार से छह इंच का गड्ढा करें और नर्सरी से लाए पौधे को इस तरह से लगाएं कि जड़ें अंदर रहें।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/grow-vegetables-at-home-1037613/

जब बनवाएं बेसमेंट, ध्यान रखें ये बातें


घर या दुकान बनवाते वक्त आजकल स्पेस निकालने के लिए बेसमेंट बनवाया जाता है। यूं तो वास्तु के लिहाज से बेसमेंट को अच्छा नहीं माना जाता, फिर भी यदि इसे बनवाया जा रहा है तो कुछ बातों को ध्यान रखा जाना जरूरी है। जानते हैं इससे जुड़े कुछ टिप्स-

सेमी बेसमेंट बनवाएं, यानी करीब 6 फीट जमीन के अंदर और 3-4 फीट जमीन के ऊपर। इससे न सिर्फ बेसमेंट में रोशनी और हवा का प्रबंध होगा, बल्कि इसमें यदि कोई कॉमर्शियल एक्टिविटी की जा रही है तो वह भी अच्छी चलेगी।

पूरे भूखण्ड में बेसमेंट नहीं बनवाएं। आदर्श स्थिति यह है कि आप करीब एक-चौथाई आकार में ही बेसमेंट का निर्माण करें।
यदि अंडरग्राउंड पानी का टैंक भी बना है तो बेसमेंट को उससे उचित दूरी पर रखें, नहीं तो आपके बेसमेंट में सीलन की समस्या आ सकती है।

गौरतलब है कि बेसमेंट में घर का स्टोर रूम बनाया जा सकता है। इसमें किचन या पूजा कक्ष नहीं बनाएं। साथ ही बेसमेंट की दीवारों पर लकड़ी का काम नहीं करवाएं। जहां तक संभव हो, इसके निर्माण में पत्थर का ही उपयोग करें।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/when-make-a-basement-keep-in-mind-these-things-1027783/

अगर चुनना चाहती हैं हाउसप्लांट, तो ध्यान रखें ये बातें


गर्मियों में हाउसप्लांट मन को काफी सुकून देते हैं लेकिन आप हाउसप्लांट लगाने से डरती हैं क्योंकि आपके कई पौधे पहले मर चुके हैं। असल में हाउसप्लांट लगाने में सबसे महत्वपूर्ण यह है कि पौधे को जितनी जरूरत है, उतनी रोशनी मिल रही है या नहीं। तकरीबन सभी पौधों को धूप की जरूरत होती है लेकिन कुछ छाया या हल्की धूप में भी आसानी से हरे रहते हैं। इसलिए पौधे खरीदने से पहले यह देखिए कि आपके घर में कितनी धूप आ रही है और पौधा उसी के अनुसार चुनिए।

यदि आपके घर की खिड़की है.....

दक्षिणमुखी
दक्षिणमुखी खिड़की से सबसे ज्यादा धूप आती है। इसलिए पौधा चुनने के आपको कई सारे विकल्प मिल जाएंगे। अगर पौधे को खिड़की से थोड़ा दूर भी रखा जाए तो भी उसे अच्छी-खासी धूप मिलेगी।

पश्चिममुखी
पश्चिममुखी खिड़की से भी काफी धूप आती है लेकिन दोपहर में। इस वक्त की धूप में तेजी होती है। इसलिए आपको ऎसा पौधा चुनना होगा, जो मध्यम धूप में पनप सके और तेज धूप बर्दाश्त कर सके।

उत्तरमुखी
उत्तरमुखी खिड़की से सबसे कम धूप आती है। आपको ऎसा पौधा चुनना होगा, जिसे कम धूप चाहिए। इसे खिड़की के पास ही रखें।

पूर्वमुखी
पूर्वमुखी खिड़की से सुबह-सुबह अच्छी धूप आती है। इसलिए आपको ऎसा पौधा चुनना होगा जो मध्यम प्रकाश में पनप सके और उसे खिड़की के पास रखना होगा।

अगर नहीं हैं खिड़की
अगर आप हरियाली ऎसे कमरे में चाहती हैं, जिसमें कोई खिड़की नहीं है तो फिर बहुत कम प्रकाश में पनपने वाले पौधे लगाएं। बेहतर होगा कि आप कृत्रिम पौधे वहां रख दें।

ध्यान रखें ये भी
यदि खिड़की के बाहर कुछ भी है तो सूरज की रोशनी आने में बाधा उत्पन्न होगी। जैसे आपके घर की खिड़की है तो दक्षिणमुखी लेकिन उसके आगे दीवार बनी हुई है तो फिर आपको कम रोशनी वाला पौधा चुनना होगा।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/know-interesting-facts-about-home-decoration-1025451/

'गार्डन' को बनाए अपने घर का सबसे खूबसूरत कोना


अगर आप अपने घर का कोना-कोना अपने हाथों से सजा रही हैं तो क्यो ना आपके घर के सबसे अहम और सामने के हिस्से यानी अपने गार्डन को अपने से सजाया जाए। तो हम आपको बताते हैं कि आप कम पैसों में अपने घर के गार्डन को किस तरह खूबसूरत बना सकते हैं। सबसे पहले आप अपने घर की पुरानी चीजों को बाहर निकाले जैसे जुते, ड्रम, पुराने गमले। सारे समानों को निकाल कर आप उन्हे थोड़ा टचअप दें ताकी आपका गार्डन मॉर्डन लगे।

ड्रम पर आप पेंट कर उसे अपने मनपसंद आकार और रूप दे सकते जिससे आपके साथ आपके घर में आने वाले हर महमान का ध्यान आपसे पहले आपके गार्डन पर जाए। सारे समान को टचअप देने के बाद आप उन्हे सही जगह पर रखे जो आपके गार्डन में उसके लिए परफेक्ट जगह हो।
गार्डन को बनाए अपने घर का सबसे खूबसूरत कोना

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/know-how-to-make-your-garden-more-beautiful-1021927/

अपने घर पर गर्मी मे लगाएं ये देसी फूल


जयपुर। इस मौसम में आपको घर पर बगीचा लगाने में काफी मेहनत करनी पड़ती हैं, क्योंकि गर्मी के मौसम में तेज धूप के कारण पौधों की अधिक पानी की आवश्कता होती है। ऎसे में आप इन देसी फूलों को अपने बगीचे में उगा सकते हैं। बगीचे में सुदंर और रंग-बिरंगे फूलों से न केवल आपका बगीचा ही खिल उठेगा बल्कि आपके कमरे तक भी अच्छी खुशबू आएगी।

इन फूलों को गर्मियों में आसानी से लगाया जा सकता है और ये देखने में सुंदर भी लगेगें। बस आपको इन्हें अच्छी तरह से पानी देना होगा और कभी-कभार शेड में रखना होगा। ये आसानी से उग भी जाते हैं और ज्यादा देखभाल भी नहीं चाहते। ये देसी फूल हैं जो हर नर्सरी में आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं।

1. सूरजमुखी : ये फूल कड़कती गर्मी में भी खिले रहते हैं। सूजरजमुखी बहुत ही आसानी से उगने वाले पौधे हैं, साथ ही जब इन्हें सूरज की धूप मिलती है तो इन्हें देखते ही बनता है।

2. डहलिया : ये तरह-तरह के रंग में आते हैं जिन्हें बगीचे में लगाने से गर्मियों में रौनक आ जाएगी। इन्हें लगाते वक्‍त ध्यान रखें कि इन्हें तेज सूरज की रौशनी में न रखें।

3. गेंदा : यह सबसे ज्यादा घरों में दिखते हैं, इनकी महक बहुत अच्छी होती है। इनसे घरों को सजाया भी जाता है।

4. गुड़हल : आप तरह-तरह के रंगों के फूल गार्डन में लगा सकत हैं।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/count-your-garden-by-desi-flowers-1021521/

घर में कभी नहीं रखनी चाहिए ये 6 चीजें


जयपुर। भारतीय वास्तु विज्ञान चाइनीज फेंगसुई से काफी मिलता-जुलता है। यह प्राकृतिक शक्तियों को मनुष्य के लिए उपयोगी बनाने का एक कलात्मक परंपरा है। हम अक्सर सुनते आए हैं कि घर में क्या रखना अच्छा होता है और क्या रखना बुरा। आइए आज आपको बताते हैं कि घर में कौनसी 6 चीजें कभी नहीं रखनी चाहिए।

1 महाभारत की तस्वीरें या प्रतीक : महाभारत को भारत के इतिहास का सबसे भीषण युद्ध माना जाता है। कहते हैं कि इस युद्ध के प्रतीकों, मसलन तस्वीर या रथ इत्यादि को घर में रखने से घर में क्लेश बढ़ता है। यही नहीं, महाभारत ग्रंथ भी घर से दूर ही रखने की सलाह दी जाती है।

2 नटराज की मूर्ति : नटराज नृत्य कला के देवता हैं। लगभग हर क्लासिकल डांसर के घर में आपको नटराज की मूर्ति रखी मिल जाती है। लेकिन नटराज की इस मूर्ति में भगवान शिव श्तांडव नृत्य की मुद्रा में हैं जो कि विनाश का परिचायक है। इसलिए इसे घर में रखना भी अशुभ फलकारक होता है।

3. ताजमहल : ताजमहल प्रेम का प्रतीक तो है, लेकि न साथ ही वह मुमताज की कब्रगाह भी है। इसलिए ताजमहल की तस्वीर या उसका प्रतीक घर में रखना नकारात्मकता फैलाता है। माना जाता है कि ऎसी चीजें घर पर रखी होने से हमारे जीवन पर बहुत गलत असर पड़ सकता है। यह सीधे-सीधे मौत से जुड़ा है इसलिए इसे घर पर न रखें।

4 डूबती हुई नाव या जहाज : डूबती नाव अगर घर में रखी हो तो अपने साथ आपका सौभाग्य भी डुबा ले जाती है। घर में रखी डूबती नाव की तस्वीर या  कोई शोपीस सीधा आपके घर के रिश्तों पर आघात करता है। रिश्तों में डूबते मूल्यों का प्रतीक है यह चिह्न। इसे अपने घर से दूर रखें।

5 फव्वारा : फव्वारे या फाउन्टन आपके घर की खूबसूरती तो बढ़ाते हैं लेकिन इसके बहते पानी के साथ आपका पैसा और समृद्धि भी बह जाती है। घर में फाउन्टन रखना शुभ नहीं होता।

6 जंगली जानवरों का कोई प्रतीक : किसी जंगली जानवर की तस्वीर या शो पीस घर पर रखना भी अच्छा नहीं माना जाता। इससे घर में रहने वालों का स्वभाव उग्र होने लगता है। घर में क्लेश और बेतरतीबी बढ़ती है।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/6-things-you-should-never-bring-in-the-house-1000532/

वास्तु में इन आठ दिशाओं का खास महत्व


जयपुर। दिशाओं के ज्ञान को ही वास्तु कहते हैं। यह एक ऎसी पद्धति का नाम है, जिसमें दिशाओं को ध्यान में रखकर भवन निर्माण व उसका इंटीरियर डेकोरेशन किया जाता है। ऎसा कहा जाता है कि वास्तु के अनुसार भवन निर्माण करने पर घर-परिवार में खुशहाली आती है।

वास्तु में दिशाओं का बड़ा महत्व है। अगर आपके घर में गलत दिशा में कोई निर्माण होगा, तो उससे आपके परिवार को किसी न किसी तरह की हानि होगी, ऎसा वास्तु के अनुसार माना जाता है। वास्तु में आठ महत्वपूर्ण दिशाएं होती हैं, भवन निर्माण करते समय जिन्हें ध्यान में रखना नितांत आवश्यक है। ये दिशाएं पंचतत्वों की होती हैं।

किस दिशा का क्या है महत्व
उत्तर दिशा:- इस दिशा में घर के सबसे ज्यादा खिड़की और दरवाजे होना चाहिए। घर की बालकनी व वॉश बेसिन भी इसी दिशा में होना चाहिए। इस दिशा में यदि वास्तुदोष होने पर धन की हानि व करियर में बाधाएं आती हैं। इस दिशा की भूमि का ऊंचा होना वास्तु में अच्छा माना जाता है।

दक्षिण दिशा:- इस दिशा की भूमि भी तुलनात्मक रूप से ऊंची होना चाहिए। इस दिशा की भूमि पर भार रखने से गृहस्वामी सुखी, समृद्ध व निरोगी होता है। धन को भी इसी दिशा में रखने पर उसमें बढ़ोतरी होती है। दक्षिण दिशा में किसी भी प्रकार का खुलापन, शौचालय आदि नहीं होना चाहिए।

पूर्व दिशा:- पूर्व दिशा सूर्योदय की दिशा है। इस दिशा से सकारात्मक व ऊर्जावान किरणें हमारे घर में प्रवेश करती हैं। गृहस्वामी की लंबी उम्र व संतान सुख के लिए घर के प्रवेश द्वार व खिड़की का इस दिशा में होना शुभ माना जाता है। बच्चों को भी इसी दिशा की ओर मुख करके पढ़ना चाहिए। इस दिशा में दरवाजे पर मंगलकारी तोरण लगाना शुभ होता है।

पश्चिम दिशा:- इस दिशा की भूमि का तुलनात्मक रूप से ऊंचा होना आपकी सफलता व कीर्ति के लिए शुभ संकेत है। आपका रसोईघर व टॉयलेट इस दिशा में होना चाहिए।

उत्तर-पूर्व दिशा:- ईशान दिशा के नाम से जानी जाने वाली यह दिशा "जल" की दिशा होती है। इस दिशा में बोरिंग, स्वीमिंग पूल, पूजास्थल आदि होना चाहिए। घर के मुख्य द्वार का इस दिशा में होना वास्तु की दृष्टि से बेहद शुभ माना जाता है।

उत्तर-पश्चिम दिशा:- इसे "वायव्य दिशा" भी कहते हैं। यदि आपके घर में नौकर है तो उसका कमरा भी इसी दिशा में होना चाहिए। इस दिशा में आपका बेडरूम, गैरेज, गौशाला आदि होना चाहिए।

दक्षिण-पूर्व दिशा:- यह "अग्नि" की दिशा है इसलिए इसे आग्नेय दिशा भी कहते हैं। इस दिशा में गैस, बॉयलर, ट्रांसफॉर्मर आदि होना चाहिए।

दक्षिण-पश्चिम दिशा:- इस दिशा को "नैऋत्य दिशा" भी कहते हैं। इस दिशा में खुलापन अर्थात खिड़की, दरवाजे बिल्कुल ही नहीं होना चाहिए। गृहस्वामी का कमरा इस दिशा में होना चाहिए। कैश काउंटर, मशीनें आदि आप इस दिशा में रख सकते हैं।पुराने समय में गृहनिर्माण वास्तु के अनुसार ही होता था, जिससे घर में धन-धान्य व खुशहाली आती थी। आजकल हममें से हर किसी की जिंदगी में आपाधापी व तनाव ही तनाव है। जिससे मुक्ति के लिए हम तरह-तरह के टोटके व प्रयोग करते हैं।

वास्तु तनाव व परेशानियों से मुक्ति की एक अच्छी पद्धति हो सकती है। वास्तु की कुछ बातें ध्यान में रखकर आप अपने जिंदगी में परिवर्तन की उम्मीद तो कर सकते हैं किंतु पूर्णत: परिवर्तन तभी होगा, जब आप स्वयं अपने व्यवहार व कार्यशैली में सकारात्मक परिवर्तन लाएं।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/importance-of-these-eight-directions-in-vastu-1000531/

ऎसा इंटीरियर डिजाइन कर रखे अपने घर को कूल!


जयपुर। भूमि खरीदने के बाद सबसे बड़ी समस्या होती हैं घर का इंटीरियर डिजाइन कैसा हो। घर तैयार होने के बाद घर की सजावट अपने आप में एक विशेष महत्व रखती है। माना आपको गर्मी का मौसम पसंद नहीं। लेकिन प्रकृति के नियम में परिवर्तन या हेर-फेर की कोई गुंजाइश नहीं। इस जलती-चुभती गर्मी में घर का कूल इंटीरियर घर को हवादार, खुला-खुला बनाने में सक्षम है। इसके लिए जरूरत है-

झीने-झीने पर्दे
इस मौसम में हल्के रंग के पर्दे मुफीद रहते हैं। अगर आपकी खिड़की से सीधी धूप आती है तो दो तरह के परदे लगाएं। खिड़की के पास नेट के हल्के रंग के पर्दे और उसके ऊपर मोटे कपड़े वाले पर्दे जो धूप को रोक सकें लगाएं। नेट वाले परदों से आप सुबह की गुनगुनी धूप का मजा ले सकती हैं और जब दिन चढ़ने लगे और धूप कमरे में आने लगे तब उसके ऊपर दूसरा पर्दा डाल दें।

इंटीरियर में फेरबदल
घर को खुला-खुला और हवादार बनाने में आपके घर का इंटीरियर अहम भूमिका निभाता है। अगर आपका ड्राइंग रूम छोटा है तो आप ऎसे सोफा सेट का चुनाव करें, जो कम जगह घेरता हो। साथ ही देखने में भारी भरकम न लगे। अगर सेंटर टेबल बड़ी है तो कमरा बहुत तंग, छोटा लगेगा। ड्राइंग रूम की सजावट बहुत हैवी न करें, वरना कमरा और भी छोटा लगेगा और वेंटिलेशन न हो पाने से कमरे में घुटन का अहसास होगा। अगर आप सोफा कवर्स इस्तेमाल करती हैं तो गर्मियों के मौसम के अनुरूप पतले और हल्के रंग के कवर्स प्रयोग में लाएं। बदलाव के लिए फ्लोरल प्रिंट वाले कवर भी फ्रेशनेस का अहसास कराते हैं।

एक जरूरी बात। खिड़की और सोफा के बीच में कोई सामान न रखा हो, ताकि हवा के रास्ते में कोई रूकावट न आए। साथ ही जब भी आप खिड़की खोलें तो हवा के वेंटिलेशन में कोई समस्या न हो। खिड़की के आस-पास ताजे फूल सजाएं। ताजे फूलों से कमरे में ताजगी बनी रहेगी। जब भी खिड़की से हवा आएगी,फूलों की खुशबू से कमरा महक उठेगा।

शीशे की झलक-पलक
आजकल ऎसे शीशे भी बाजार में उपलब्ध हैं जो सूरज की किरणों को अंदर भेजते हैं और हानिकारक अल्ट्रा वायलेट किरणों और इंफ्रारेड किरणों को रोक लेते हैं। यूरोप और अमेरिका में ऎसे शीशे बेहद लोकप्रिय हैं। अगर ये शीशे आपके बजट को गड़बड़ाते नहीं, तो खिड़कियों में ऎसे शीशे लगवाएं।

दीवारों पर रंगों की पिचकारी
दीवारों को पुतवाने का सोच रही हैं, तो हर दीवार के लिए नए-नए रंगों का चुनाव कर सकती हैं। कुछ ब्राइट कलर्स फ्रेश लुक भी देते हैं। वहीं दीवारों पर सॉफ्ट और ब्राइट कलर्स का कॉम्बिनेशन आंखों को सुकून देता है। अगर आपने हाल ही में दीवारों पर पुताई करवाई है, तो नएपन के लिए दीवारों पर वॉल पेपर्स लगवाएं। कमरे में पेंटिंग्स लगाएं या पुरानी के स्थान पर नई पेंटिग्स को दीवारों पर स्थान दें। यह बदलाव कमरे में ठंडक, नयापन लाते हुए जीवन में जीवंतता बरकरार रखेगा।

सीएफएल का कमाल
अगर आपने किसी लैम्प शेड में बल्ब का प्रयोग किया है तो समय आ गया है कि आप बल्ब को सीएफएल से बदल दें। बल्ब से बहुत ऊष्मा उत्पन्न होती है जो कमरे को गर्म कर देती है।

कुछ और बातों पर ध्यान दें, जैसे- रसोई की खिड़की घर के अंदर न खुलती हो वरना रसोई की सारी गर्मी घर के अंदर आएगी और जितनी देर खाना बनेगा उसकी महक और गर्मी पूरे घर में फैलती रहेगी। घर में कुछ इनडोर प्लांट्स लगाना भी फायदेमंद होता है। जब आते-जाते आपकी नजर खूबसूरत हरे पौधे पर पड़ेगी तो आपका मूड फ्रेश रहेगा। अगर आप लैपटॉप पर काम करते-करते थक जाएं या पढ़ते-पढ़ते आंखें थकान महसूस करें, तब यह पौधे आपको ताजगी का अहसास कराएंगे। इसलिए घर के अंदर-बाहर इनडोर प्लांट जरूर रखें। निश्चित फायदा पहुंचाएगी इनडोर हरियाली।

घर को हवादार बनाने के लिए वेंटिलेशन दुरूस्त रखें। ताजी हवा के आने-जाने का क्रम बने रहने से भी घर ठंडा रहता है। इसके अलावा आप कुछ और ऎसे उपाय अपना सकती हैं जिससे गर्मी में तेज लू और धूप आपको और आपके घर को रखेंगे कूल-कूल।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/interior-design-ideas-to-keep-cool-your-house-1000530/

कम पैसों में बेडरूम को दें फाइव स्टार का लुक


अगर आप अपने बेडरूम को कम पैसों में एक फाइव स्टार होटल के रूम जैसा बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ज्यादा टेंशन लेने की बात नहीं है। अब आप कम पैसों में अपने बेडरूम को शानदार लुक दे सकते हैं। ऎसा करने के लिए पढ़े ये आसान पांच तरीके

1. अगर आप अपने रूम को एक लग्जरी लुक देना चाहते हैं तो आप को अपने रूम की खिड़कियों पर फुल लेंथ के पर्दे लगाने चाहिए। फुल लेंथ के इन पर्दो की मदद से आपका रूम बड़ा नजर आता है और साथ ही इससे आपको अपने रूम में एक लग्जरी फीलिंग का भी एहसास मिलेगा।

2. अपने रूम को होटल के रूम जैसा लग्जरी लुक देने के लिए जिस चीज पर आपको सबसे ज्यादा निवेश करना चाहिए, वो है आपका बेड सेट। आपको अपने बेड को एक लग्जरी लुक देने के लिए महंगी दिखने वाली बेड शीट्स, सॉफ्ट पिलोज और नर्म गद्दे लेने चाहिए। अगर आप अपने बेड के साथ ये एक्सपेरिमेंट करते हैं तो यकीन मानिए इससे आपके बेडरूम को एक फाइव स्टार होटल के रूम जैसी फील मिलेगी।

3. अपने रूम में बेड को वाकई में लग्जरी लुक देने के लिए आपको अपने बेड पर बेहतर हेडबोर्ड लगवाना चाहिए। कम पैसों में आप अपने वुडेन या फिर सोफ्ट टफ्टड फेब्रिक का हेड बोर्ड लगवा सकते हैं।

4. अपने बेड रूम के एक लग्जरी फील देने के लिए आपको अपने रूम की लाइटनिंग का विशेष ध्यान रखना चाहिए। आपको अपने रूम में अलग-अलग लेयर्स की लाइट्स लगानी चाहिए, लेकिन अगर ये आपके बजट में नहीं है तो ऎसा करने के लिए आप अलग-अलग वॉट के बल्ब अपने बेडरूम में लगा सकते हैं। इसके साथ ही कम पैसों में आप अपनी लाइट्स को डिम करने के लिए डिमर स्विच भी लगवा सकते हैं।

5. भले ही आपके रूम में बैठने की ज्यादा जगह ना हो, लेकिन फिर भी आपको अपने रूम में छोटा सा सिटिंग एरिया जरूर निकालना चाहिए। ताकी सुबह के समय न्यूजपेपर के साथ कॉफी पीने में अच्छा महसूस हो और आप रिलेक्स फील कर सकें।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/home-garden/make-your-bedroom-feel-like-luxur-by-following-these-5-easy-steps-1000529/

SHARE THIS


Subscribe via Email


Explore Jobs/Opportunities
West Bengal Jobs / Opportunities / Career
Sarkari Naukri Jobs / Opportunities / Career
Assam Jobs / Opportunities / Career
Explore Articles / Stories
Education
Government Schemes
News
Career
Admit Card
Study Material
Bihar
State Government Schemes
Technology
DATA
Public Utility Forms
Travel
Sample Question Paper
Exam Result
Employment News
Scholorship
Business
Astrology
Syllabus
Festival
Explore more
Main Page
Register / Login
Like our Facebook Page
Follow on Twitter
Subscrive Our Newsletter Via Nuzzle
Get Updates Via Rss Feed
Sarkari Niyukti
Free Online Practice Set
Latest Jobs
Feed contents
Useful Links
Photo
Video
Post Jobs
Post Contents
Supremedeal : India Business Directory
Find IFSC Code
Find Post Office / Pincode
Contact us
Best Deal

Disclaimer: we only provide job information. we are not associated with any job website. Although we take extreme care for accuracy of the information provided, but you must check the authenticity of the website before applying for the job. We are not responsible for your operation , once you leave our website and apply thereafter. Please recheck the genuineness of the job website from yourself also.

Copyright © 2018. Website template by WebThemez.com