Patrika : Leading Hindi News Portal - Mutual Funds #educratsweb
HOME | LATEST JOBS | JOBS | CONTENTS | STUDY MATERIAL | CAREER | NEWS | BOOK | VIDEO | PRACTICE SET REGISTER | LOGIN | CONTACT US

Patrika : Leading Hindi News Portal - Mutual Funds

http://api.patrika.com/rss/mutual-funds-news 👁 813

इस खाते में हर माह जमा करें 210 रुपए, 60 साल की उम्र के बाद मिलेगा 60 हजार रुपए हर साल


नई दिल्ली। जैसे-जैसे आपके रिटायरमेंट के दिन नजदीक आते हैं, वैसे-वैसे आपको अपने भविष्य को वित्तीय रूप से मजबूत करने की चिंता सताने लगते ही। यदि आप भी उन लोगों में से हैं, जिन्हे रिटायरमेंट के बाद अपने भविष्य को लेकर चिंता है तो केंद्र सरकार की अटल पेंशन योजना आपके काम आ सकती है। अभी तक सरकार के इस कदम से करीब 1.25 करोड़ लोगों को लोग जुड़ चुके हैं। कम आय वर्ग के लोगों के लिए सरकार की यह पॉपुलर स्कीम तय गारंटी का एक बेहतर विकल्प देता है। आइए जानते हैं कि आप भी इस स्कीम का लाभ कैसे उठा सकते हैं।


टैक्स छूट का भी मिलेगा लाभ

मोदी सरकार की इस योजना का लाभ लेने के लिए आपकी न्यूनतम उम्र 18 साल होनी चाहिए। यदि आप भी इस स्कीम का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एक खाता खुलवाना होगा। इस स्कीम के तहत आपको 60 हजार रुपए सालाना या 5 हजार रुपए प्रति माह के पेंशन की गारंटी मिलती है। वहीं, इस स्कीम के तहत आपको आयकर अधिनियम के तहत सेक्शन 80C के तहत आपको टैक्स छूट का भी लाभ मिलेगा। इसके लिए कुछ चुनिंदा बैंकों में अपना खाता खुलवाते सकते हैं जिसमें शुरुआती 5 साल में सरकार भी आपको खाते में योगदान देगी। इस स्कीम की एक खास बात यह भी है कि यदि 60 साल पहले या बाद में खाताधारक की मौत हो जाती है तो पेंशन की रकम खाताधारक की पत्नी को मिलेगी। यदि पति-पत्नी दोनों की मौत हो जाती है तो नॉमिनी को पेंशन मिलेगी।


कितना करना होगा निवेश

इस स्कीम के तहत यदि आप 18 साल की उम्र में खाता खुलवाने के बाद आपको प्रति माह 210 रुपए प्रति माह जमा करने होंगे। 210 रुपए प्रति माह के लिहाज से देखें तो आपको हर साल केवल 2,520 रुपए ही जमा करने होंगे। यह रकम आपको 60 साल की उम्र तक हर माह जमा करने होंगे। जैसे आप 60 साल की उम्र को पार करते हैं तो इससे आपके खाते में 5 हजार रुपए प्रतिमाह पेंशन के रूप में आएंगे। वार्षिक तौर पर देखें तो यह रकम 60 हजार रुपए आपको पेंशन के रूप में मिलेगा। इस प्रकार आपकी तरफ से कुल निवेश की बात करें तो आज मात्र 1.05 लाख रुपए का निवेश कर हैं और 60 साल के बाद पूरी जिंदगी 60 हजार रुपए प्रति वर्ष पाते रहेंगे।


कैसे करना होगा निवेश

इस स्कीम के तहत आपके पास निवेश के दो विकल्प होंगे। आपके पास तिमाही व छमाही के हिसाब से निवेश करने का विकल्प है। यदि आपक तिमाही हिसाब से पैसे जमा करते हैं तो आपको हर तीन महीने में केवल 626 रुपए देने होंगे वहीं छमाही हिसाब से आपको हर छह माह में 1,239 रुपए देने होंगे। 18 साल की शुरुआती निवेश के हिसाब से आपको 42 साल तक निवेश करना होगा, जिसमें आपको केवल 1.05 लाख रुपए ही निवेश करने होंगे। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप किस उम्र में इस स्कीम के तहत निवेश कर रहे हैं। इसी के साथ हिसाब होगा कि आपको हर माह कितना निवेश करना होगा। इस स्कीम के बारे में आप अटल पेंशन स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/invest-in-atal-pension-scheme-fro-18-years-and-earn-60-thousand-a-year-4324918/

अंतिम समय में बचाना चाहते हैं टैक्स तो अपनाए ये तरीके, होगा बड़ा फायदा


नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष पूरा होने में अब बस कुछ दिन ही बचे हुए हैं। ऐसे में आप एक निवेशक के तौर पर टैक्स बचाने के लिए कई तरीकों के बारे में पता करने में लगे होंगे। टैक्स सेविंग के लिए निवेशक सबसे अधिक आयकर अधिनियम के सेक्शन 80ष्ट का सहारा लेते हैं। आज हम ऐसे ही एक खास तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे की अंतिम समय में आप टैक्स सेंविंग्स कर सकते हैं।


ऐसे बच सकता है 46,800 रुपए

इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम (इएलएसएस) छोटी अवधि के लिए एक निवेश विकल्प है, जो आपको बेहतर रिटर्न के साथ-साथ टैक्स बचाने में मदद कर सकता है। आंकड़ों की बात करें तो तनी साल से अधिक के ट्रैक रिकॉर्ड वाले ऐसे करीब 31 स्कीम्स हैं जिसमें 1 हजार करोड़ का निवेश किया गया है। आपको बताते चलें कि इएलएसस एक म्यूचुअल फंड स्कीम है जिससे आप एक वित्तीय वर्ष में आप 46,800 रुपए तक की बचत कर सकते हैं। इसके तहत 1.5 लाख रुपए तक के निवेश पर आयकर अधिनियम, 1961 के सेक्शन 80ष्ट के तहत आपको टैक्स छूट मिलती है।


कैसे मिलेगा इएलएसएस में निवेश से फायदा

इन फंड्स में निवेश से पहले आपको इस बात का ख्याल रखना है कि इनके लिए लॉक इन पीरियड तीन साल के लिए होता है। इसका मतलब है कि तीन साल के अंदर आप इस निवेश को रीडिम नहीं कर सकते हैं। इसमें आपको लिए राहत की बात यह भी है कि यदि छोटी अवधि में आपको कुछ पैसों की जरूरत है तो इससे आपको मदद मिल सकती है। बीते तीन साल में इन 31 स्कीम्स से मिलने वाले रिटर्न की बात करें तो यह करीब 49 फीसदी का रहा है।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/want-to-save-tax-in-the-last-minute-opt-of-elss-for-investment-4323767/

किसान निधि की दूसरी किस्त को चुनाव आयोग हरी झंडी, सिर्फ इन किसानों को दी जाएगी राशि


नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले किसानों को लुभाने के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना की दूसरी किस्त जारी करने की चुनाव आयोग ने सशर्त मंजूरी दे दी है। इसके तहत फिलहाल दूसरी किस्त की 2000 रुपए की रकम सिर्फ उन्हीं किसानों के खातों में भेजी जा सकेगी, जिनका रजिस्ट्रेशन चुनाव की आचार संहिता लागू होने से पहले हुआ है।

इतने किसानों का है ब्याेरा
चुनाव आयोग और कृषि मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक इस सशर्त मंजूरी के तहत 10 मार्च से पहले इस योजना में रजिस्टर्ड किसानों को एक अप्रैल से दूसरी किस्त मिलनी शुरू हो जाएगी। कृषि राज्य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के मुताबिक करीब 4.75 करोड़ किसानों का पहले से रजिस्ट्रेशन है, जिनमें से 1.65 करोड़ किसानों का ब्योरा दुरुस्त करने के लिए वापस राज्यों के पास भेजा गया है। ऐसे में मंत्रालय के पास 3.11 करोड़ पात्र किसानों का ब्योरा है, जिसमें से 2.75 करोड़ किसानों को पहली किस्त भेजी जा चुकी है। सवा सात करोड़ किसानों का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पाया है।

चार लाख से ज्यादा ट्रांजेक्शन फेल
योजना के चार लाख से ज्यादा ट्रांजेक्शन फेल हो गए हैं। किसानों के खाते में पैसा भेजा तो गया, लेकिन तकनीकी कारणों से वह पैसा खाते में जमा नहीं हुआ। सूत्रों के अनुसार भाजपा शासित राज्यों ने केंद्र सरकार के कहने पर ज्यादा से ज्यादा किसानों के डाटा बगैर जांच-परख के भेज दिए, जिस कारण इस तरह की समस्या सामने आ रही है।

गलत खातों में भी गई रकम
कई ऐसे लोगों के खातों में भी रकम पहुंचने की शिकायत आई है, जिनका खेती-किसानी से कोई लेना-देना नहीं है। इसलिए सरकार पीएम-किसान योजना के लाभार्थियों के लिए अब आधार को अनिवार्य करने जा रही है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/eci-has-given-green-signal-to-second-installment-of-pm-kisan-yojna-4319293/

बेनामी संपत्ति मामले में शाहरुख खान को नहीं मिलेगी राहत, आयकर विभाग ने फैसले को दी चुनौती


नई दिल्ली। बेनामी संपत्ति के आरोप में बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता शाहरुख खान को लेकर आयकर विभाग ने उस फैसले को चुनौती दी है जिसमें उन्हें राहत मिली थी। दरअसल, बेनामी संपत्ति के आरोप में शाहरुख खान पर केस दर्ज किया गया था। इसी केस को लेकर हुए फैसले को आयकर विभाग ने चुनौती दी है। गौरतलब है कि न्यायिक निर्णय प्राधिकरण ने शाहरुख खान के एक फर्म के खिलाफ बेनामी संपत्ति के आरोप को खारिज करते हुए उन्हें राहत दिया था। बता दें कि बेनॉमी प्रॉपर्टी एक्ट के शाहरुख खान पर यह केस पहला व महत्वूपर्ण केस दर्ज किया गया था।

 

क्या है पूरा मामला

यह मामला तब सामने आया था जब डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर विजय सुर्यवंशी ने मुंबई के अलीबाग सीफ्रंट पर 87 फार्महाउस के बारे में कानूनी जानकारी मांगी थी। कथित तौर पर इनमें से एक बंगला शाहरुख खान का भी था। महाराष्ट्र टेनेसी एंड एग्रीकल्चर लैंड्स एक्ट (MTAL) कृषि योग्य इन जमीनों को गैर-कृषि कार्यों के लिए ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है। शाहरुख खान ने यह जमीन कृषि कार्य के लिए खरीदा था लेकिन उन्होंने इस जमीन पर फार्महाउस बनाया था। साल 2018 में, 15 करोड़ रुपए के इस बंगले समेत कई जमीनों को जब्त कर लिया था। आयकर विभाग ने डेजा वु फाम्र्स प्राइवेट लिमिटेड को बेनामिदार घोषित कर दिया था, साथ ही शाहरुख खान को इस फायदा लेने वाला घोषित किया था। बाद में न्यायिक निर्णय प्राधिकरण ने इस केस को खारिज कर दिया था जिसमें शाहरुख खान, उनकी पत्नी गौरी खान हिस्सेदार थे।


क्या है आयकर विभाग का कहना

आयकर विभाग से प्राप्त सूत्रों के मुताबिक, विभाग के पास पर्याप्त आधार हैं जिससे यह लेनदेन बेनामी साबित होता है। ऐसे में शाहरुख खान के खिलाफ एक मजबूत केस बनता है। सूत्र ने कहा, "कानून यह साफ तौर पर दर्शाता है कि यदि कोई संपत्ति अपनी पूंजी से नहीं खरीदता है तो यह बेनामी संपत्ति होती है। न्यायिक निर्णय प्राधिरण द्वारा इस बात नजरअंदाज किया गया था। इस केस में बेनामी संपत्ति किसी अन्य तरीके से परिभाषित किया गया है।"


क्या है बेनामी संपत्ति एक्ट

बेनामी प्रॉपर्टी के माध्यम से टैक्स चोरी को लेकर साल 2016 में इस एक्ट को संशोधन किया गया था। इस संशोधन के तहत, किसी भी व्यक्ति पर आरोप साबित होने के बाद सात साल तक का जेल व बेनामी संपत्ति की कुल मार्केट वैल्यु का 25 फीसदी हिस्सा जुर्मान के तौर पर देय है। एंटी बेनामी नियम के तहत, साबित हो जाने के बाद बेनामिदार व इसका फायदा लेने वाले को अभियोज्यित किया जा सकता है।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/no-relief-for-shahrukh-khan-in-benami-property-it-department-challenge-4300050/

मनोहर पर्रिकर ने अपने लिए कराई थी 14 LIC Policy, घरवालों को मिलेगी इतनी रकम


नई दिल्ली। अपनी जिंदगी में हर कोई अपने फ्यूचर को सेफ करने के लिए एलआईसी या म्यूचुअल फंड में इंवेस्ट करता है। अपनी जेब के हिसाब से पॉलिसी की रकम रखते हैं। ताकि वो आराम से उसका प्रीमियम दे सकें। आज देश के सबसे बड़े नेताओं में से एक मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया है। वो कैंसर से पीडि़त थे। आपको जानकर ताज्जुब होगा कि उनके पास 14 एलआईसी की पॉलिसी थी। जिनकी रकम अलग-अलग थी। अब वो इस दुनिया में नहीं है। ऐसे में अब वो रकम उनके परिजनों को मिलेगी। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर उन्होंने कितने-कितने रुपए की पॉलिसी कराई हुई थी। अब उनके घरवालों को कितने रुपए मिलेंगे।

55 लाख रुपए की 14 पॉलिसी
उन्होंने राज्यसभा चुनाव लडऩे के दौरान इलेक्शन कमिशन को जो इनकम एफिडेविट दिया था, उसमें उन्होंने अपनी एलआईसी पॉलिसी का ब्यौरा भी दिया था। एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक इलेक्शन कमिशन को उन्होंने अपनी 14 पॉलिसी के बारे में जानकारी दी थी। जो कि अलग-अलग रकम की थी। अगर सभी पॉलिसी की रकम को जोड़ा जाए तो उन्होंने 55 लाख रुपए की एलआईसी पॉलिसी ली थी। 55 लाख रुपए की पॉलिसी की रकम को काफी बड़ी रकम माना जा सकता है।

इस तरह से कराई थी पॉलिसी
मनोहर पर्रिकर की ओर से काफी सूझ-बूझ के साथ अपनी पॉलिसी कराई थी। छोटे-छोटे टुकड़ों में इन पॉलिसी को कराया था। उन्होंने 5-5 लाख रुपए की 7 पॉलिसी कराई थी। इन पॉलिसी की कुल रकम 35 लाख रुपए है। वहीं एक लाख और दो लाख रुपए की उन्होंने एक-एक पॉलिसी ही कराई थी। वहीं तीन लाख रुपए की पॉलिसी उनके पास तीन थी। वहीं उनके पास चार-चार लाख रुपए की दो पॉलिसी थी। यानि बाकी की 20 लाख रुपए की पॉलिसी एक, दो, तीन और चार लाख रुपए की पॉलिसी के रूपए थी।

3 लाख रुपए का पेंशन
इतने बड़े ओहदे पर होने के बाद भी मनोहर पर्रिकर के पास पेंशन प्लान भी था। जिसके लिए वो हर महीने या साल में प्रिमीयम भी भरते थे। उन्होंने 3 लाख रुपए का पेंशन प्लान एचडीएफसी से लिया था। देश के युवा इस बात से सीख ले सकते हैं कि अपने फ्यूचर को सेक्योर करने के लिए पेंशन प्लान भी ले सकते हैं। जिसमें आपको इमकम टैक्स में भी बेनिफिट मिलेगा।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/manohar-parrikar-had-14-lic-policy-of-rs-55-lakh-3-lakh-pension-plan-4299063/

अब आपके पास है गैस एजेंसी खोलने का मौका, बिना सिक्योरिटी डिपॉजिट करे होगी लाखों की कमाई


नई दिल्ली। अगर आप अपना नया बिजनेस शुरू करने के बारे में विचार कर रहे हैं तो हम मोटी कमाई करने वाला एक बिजनेस आपके लिए लेकर आए हैं। आपके पास दिल्ली में lpg गैस एजेंसी खोलने का मौका है। आपको बता दें कि Go Gas कंपनी ने इसके लिए विज्ञापन जारी किया है। इस ऑफर की खास बात यह है कि कंपनी एंजेसी खोलने के लिए सिक्योरिटी डिपॉडिट नहीं लेगी।


नहीं देना होगा कोई भी पैसा

आपको बता दें कि अगर आप इस गैस एजेंसी को खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन कराते हैं तो आपको डीलरशिप और डिस्ट्रीब्यूशन के लिए किसी भी तरह का डिपॉजिट नहीं जमा करना होगा, लेकिन आपको एजेंसी के लिए बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरत होगी। बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर में गोदाम, डिस्ट्रीब्यूशन सेंटर और ऑफिस के लिए जमीन आती है, जिसकी जरूरत आपको एजेंसी खोलने के लिए होती है। इसके अलावा गैस सिलेंडर की डिलीवरी और डीलरशिप स्टोर पर भी इनवेस्टमेंट करना होगा।


इन शर्तों को करना होगा पूरा

1. आवेदन करने वाले व्यक्ति की उम्र 21 से 60 साल के बीच होनी चाहिए।

2. इसके अलावा आवेदक के पास भारतीय नागरिकता होगी चाहिए।

3. आवेदन ने 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की हो।

4. आवेदक शारीरिक रुपए से विकलांग नहीं होना चाहिए।


ऐसे कर सकते हैं संपर्क

आपके पास कॉमर्शियल और नॉन कॉमर्शियल दोनों तरह के गैस सिलेंडर के डिस्ट्रीब्यूशन का मौका होगा। आपको बता दें कि कंपनी जिला और तहसील स्तर पर आवेदन मांग रही है। अगर आप Go Gas एजेंसी की डीलरशिप लेना चाहते हैं तो आप 7666555560 इस नंबर पर संपर्क भी कर सकते हैं। इसके साथ ही आप info@elitegogas.com पर भी संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा रीजनल ऑफिस 515 A अंसल चेंबर 2 भीकाजी कामा प्लेस नई दिल्ली से भी इस बारे में जानकारी हासिल किया जा सकता है।


आपको इन डॉक्यूमेंट की होगी जरूरत

1. आपके पास निवास और जाति प्रमाण पत्र होना चाहिए।

2. इसके अलावा आपके पास पैन और आधार कार्ड भी होना चाहिए।

3. आपके पास आपका जीएसटी नंबर भी होना चाहिए।

4. साथ ही जमीन के डॉक्यूमेंट या फिर लीज का सर्टिफिकेट भी होना जरूरी है।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/you-have-opportunity-to-open-go-gas-agency-in-delhi-4294658/

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम से इतने दिनों में आपका रुपया हो जाएगा डबल, ये है योजना


नई दिल्ली। इस महंगाई के जमाने लोग अपने रुपये को ऐसी जगह निवेश करनना चाहते हैं जहां पर आपको उसका रिटर्न डबल मिले। वो भी कम से कम समय में। आज हम आपको पोस्ट ऑफिस की एक ऐसी ही स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं जहां आपका रुपया कम कम समय में डबल हो जाएगा। वास्तव में यह योजना केंद्र सरकार ने शुरू की है, जिसका नाम है किसान विकास पत्र। जिसमें 112 महीनों में आपका रुपया डबल करने का दावा किया गया है। साथ ही इस योजना में आपको और भी सुविधाएं मिल सकती है। आइए आपको भी बताते हैं, इस योजना के बारे मेंज्

मोदी सरकार की है किसान विकास पत्र योजना
किसान विकास पत्र योजना मोदी सरकार की है। जिसमें कोई भी निवेश कर सकता है। पोस्ट ऑफिस से बांड की तरह सर्टिफिकेट के रूप में जारी करता है। जानकारी के अनुसार इस योजना में शुद्घ ब्याज मिलता है। ब्याज दरों में सरकार बदलाव करती रहती है। मोदी सरकार ने एक जनवरी 2019 को इस योजना की ब्याजदर 7.3 से बढ़ाकर 7.7 फीसदी किया था।

इतना कर सकते हैं निवेश
इस योजना में निवेश करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। अगर न्‍यूनतम निवेश सीमा की बात करें तो 1000 रुपए है। आप 1000 रुपए के मल्टीपल में कितनी भी राशि निवेश कर सकते हैं। मतलब आप 1500 या 2500 या 3500 का निवेश नहीं कर सकते हैं। यहां निवेेश 1 हजार, 2 हजार और 3 हजार के क्रम में होगा। इस योजना में आप किसी बच्‍चे के लिए भी इसे खरीद सकते हैं। 2 लोगों के नाम पर भी इसे खरीदा जा सकता है।

इतने दिनों के बाद डबल होगा रुपए
किसान विकास पत्र में पैसा लगाने के बाद आपको इस पर 7.7 फीसदी का सलाना ब्‍याज मिलता है। इस हिसाब से 112 महीनों यानी 9 साल और 4 महीने में आपका रुपया डबल हो सकता है। अगर आप अपना इससे पहले निकालना चाहते हैं तो आपको कम से कम 2.5 साल का इंतजार करना ही होगा।

इस तरह की मिलती हैं सुविधाएं
- इस योजना के तहत आप यह सर्टिफिकेट दूसरे व्यक्ति को भी ट्रांसफर कर सकते हैं।
- इसे दूसरे पोस्‍ट ऑफिस में भी ट्रांसफर किया जा सकता है।
- इसे देश के कुछ बैंकों से भी ऑनलाइन तरीके से खरीदा जा सकता है।

इन जरूरी कागजातों की होती है जरुरत
- 2 पासपोर्ट साइज फोटो
- पहचान पत्र जैसे राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट आदि
- निवास प्रमाण पत्र जैसे बिजली बिल, टेलिफोन बिल, बैंक पासबुक आदि
- अगर आपका निवेश 50 हजार से ज्‍यादा है ता इस आवस्‍था में पैन कार्ड जरूरी होगा
- आधार कार्ड को अक्‍टूबर 2017 में सरकार ने अनिवार्य किया है


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/know-about-kisan-vikas-patra-yozna-and-many-more-4289423/

पोस्ट ऑफिस की शानदार स्कीम: 200 रुपए जमा करने पर मिलेंगे 21 लाख रुपए


नई दिल्ली। आज के समय में हर कोई पैसे की बचत को लेकर परेशान है और बाजार में पैसे से पैसा बनाने के लिए कई तरह की स्कीम मौजूद हैं, लेकिन आज हम आपको पोस्ट ऑफिस की एक ऐसी स्कीम के बारे में बताएंगे जिसमें खाता खोलने पर आप कुछ ही सालों में लखपति बन जाएंगे और इसमें आपको बहुत ज्यादा पैसे की जरूरत नहीं पड़ेगी। आपको इसमें सिर्फ 200 रुपए की बचत करनी है।


कुछ ही सालों में बन जाएगा 21 लाख का फंड

आपको बता दें कि आप अपने रोज के खर्च में से 200 रुपए की बचत आसानी से कर सकते हैं और छोटी-छोटी बचत करके ही आप भविष्य में अपनी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं। पोस्ट ऑफिस का पब्लिक प्रोविडेंट फंड अकाउंट (PPF) आज के समय में बचत करने का सबसे अच्छा विकल्प है। आपको अपने इस अकाउंट में रोज 200 रुपए की बचत करनी है। अगर आप हर रोज यह करते हैं तो इस आधार पर आप स्कीम क्लोज होने तक 21 लाख रुपए का फंड बना सकते हैं।


कही भी खुलवा सकते हैं यह खाता

पोस्ट ऑफिस की इस खाते को आप देश के किसी भी ब्रांच में खुलवा सकते हैं। यही नहीं आप चाहे तो एक से ज्यादा खाता भी खुलवा सकते हैं। इसके अलावा 2 लोग मिलकर भी इस खाते को ऑपरेट कर सकते हैं।


ऐसे मिलेंगे 21लाख रुपए

आपको बता दें कि अगर आज अपकी उम्र 25 साल है और आप अपने खर्चों से सिर्फ 200 रुपये रोज बचाते हैं तो 15 साल बाद इसी बचत से आपको करीब 21 लाख का सपोर्ट मिल जाएगा।


कैसे बनेगा फंड

1. आपको बता दें कि इस स्कीम के तहत अगर आप सिर्फ 200 रुपए रोज बचाकर निवेश करने की सोच लें तो यह 6000 रुपए महीना हो जाएगा। इस तरह से आपका सालाना निवेश 72000 रुपए होगा।

2. अगर आप ऐसा लगातार आने वाले 15 सालों तक करते हैं तो आपका कुल निवेश 10.80 लाख रुपए का हो जाएगा।

3. इसके साथ ही आपको बता दें कि PPF में अब 8 फीसदी सालाना कंपाउंडिंग के लिहाज से ब्याज मिल रहा है, जोकि आपके पैसे में जुड़ता जाएगा।

4. वहीं, अगर 15 साल तक अगर इसी दर से ब्याज मिले तो कुल रिटर्न 21 लाख रुपए हो जाएगा।

5. यानी आपको अपने कुल निवेश पर 10.31 लाख रुपए का ब्याज के रूप में अतिरिक्त फायदा होगा।


100 रुपए देकर खोल सकते हैं खाता

आपको बता दें कि अगर आप अपना अकाउंट खुलवाना चाहते हैं तो आपको उसके लिए सिर्फ 100 रुपए देने होंगे क्योंकि पोस्ट ऑफिस में यह खाता 100 रुपए से खुल जाता है, लेकिन इसमें एक वित्त वर्ष में कम से कम 500 रुपए निवेश करना जरूरी है। इसके साथ ही इस खाते में आप एक साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपए का निवेश कर सकते हैं। इसमें ज्वॉइंट अकाउंट भी खोला जा सकता है। वहीं यह अकाउंट आप अपने बच्चे के नाम पर भी खोल सकते हैं। हालांकि इसमें प्रीमेच्योर विद्ड्रॉल की सुविधा नहीं है।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/get-21-lakh-rupee-by-depositing-200-rupee-every-day-4285676/

फरवरी में बीमाधारकों ने कंपनियों को हर एक सेकंड में दिया 7 लाख रुपए का प्रीमियम


नई दिल्ली। बीमा कंपनियों की बल्ले-बल्ले हो रही है। लगातार उनके कलेक्शन में इजाफा हो रहा है। इस साल फरवरी माह में बीमा कंपनियों के कलेक्शन में भारी इजाफा देखने को मिला है। जिसमें एलआई सबसे टॉप पर रही है। वहीं एचडीएफसी लाइफ दूसरे और तीसरे नंबर नंबर पर देश का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया रही है। आपको बता दें कि इस बार बीमा कंपनियों ने फरवरी माह में 1.77 लाख करोड़ रुपए का कलेक्शन किया है। यानि देश के लोगों ने हर रोज बीते हर रोज अपनी सुरक्षा के लिए 5900 करोड़ रुपए खर्च किए।

इतना दिया प्रिमीयम
बीमा उद्योग के मासिक आंकड़ों के अनुसार जीवन बीमा कंपनियों के नए प्रीमियम का कलेक्शन इस साल फरवरी में 7.60 फीसदी बढ़कर 1.77 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। इसमें भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) 66.26 फीसदी के साथ टॉप रही है। इससे पहले जनवरी महीने में नया प्रीमियम 5.32 फीसदी बढ़कर 1.64 लाख करोड़ रुपए रहा था।

इन कंपनियों ने इतना कलेक्शन
बीमा उद्योग के मासिक आंकड़ों के अनुसार फरवरी में नए प्रीमियम में एलआईसी के बाद एचडीएफसी लाइफ की 7.01 फीसदी, एसबीआई लाइफ की 6.70 फीसदी, आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल की 4.97 फीसदी और मैक्स लाइफ की 2.31 फीसदी हिस्सेदारी रही। वहीं फरवरी माह में कुल नया निजी बीमा कारोबार 4.56 फीसदी बढ़कर 81,401 करोड़ रुपए और नया सामूहिक बीमा कारोबार 10.33 फीसदी बढ़कर 95,812 करोड़ रुपए हो गया। इस दौरान कुल नए बीमा कारोबार में एलआईसी की 73.60 फीसदी, एसबीआई लाइफ की 5.67 फीसदी और एचडीएफसी लाइफ की 3.65 फीसदी हिस्सेदारी रही।

करीब 7 लाख रुपए प्रति सेकंड के हिसाब से की अपनी जान सुरक्षित
देश के लोगों ने अपनी जान को बीमित कराने के लिए फरवरी माह में हर सेकंड के हिसाब से करीब 7 लाख रुपए का प्रीमियम दिया है। आंकड़ों पर गौर करें तो देश के लोगों ने बीमा कंपनियों को 1770000000000 रुपए दिए। अगर इसे एि दिन के हिसाब से देखा जाए तो 59000000000 रुपए बनता है। इसे घंटे के हिसाब से जोड़कर देखा गया तो 2458333330 रुपए प्रति घंटा के हिसाब निकलकर सामने आया। वहीं मिनट में 40972222 रुपए का हिसाब बना। आखिरी में लोगों ने 68,2870 प्रति सेकंड के हिसाब से बीमा कंपनियों को प्रिमीयम भरा है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/7-lakh-rupees-in-every-second-for-insurance-company-in-february-4279110/

अगर खो गया है आपका वोटर आईडी कार्ड, तो घर बैठे ऐसे बनवाए डुप्लीकेट कार्ड


नई दिल्ली। आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है। 11 अप्रैल से चुनाव का आगाज हो जाएगा। इसके लिए वोटर आईडी कार्ड बहुत ही जरूरी डॉक्यूमेंट है। इसके बिना आप वोट नहीं डाल पाएंगे। इसलिए सभी लोग अपना वोटर आईडी कार्ड बनवा लें और अगर आपका वोटर आईडी कार्ड खो गया है तो आपको बिल्कुल भी परेशान होने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि अब आप घर बैठे ही डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड भी बनवा सकते हैं।


पहचान पत्र के रूप में भी किया जाता है प्रयोग

आपको बता दें कि वोटर आईडी कार्ड को वोट देने के अलावा पहचान पत्र के रूप में प्रयोग किया जाता है। कई बार हममें से कई लोगों के वोटर आईडी कार्ड खो जाते हैं, चोरी हो जाते है या किसी वजह से नष्ट भी हो जाते है। ऐसे में अब आपको बिल्कुल भी परेशान होने की जरुरत नहीं है क्योंकि अब आप इसके खोने पर डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड बनवा सकते हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि आप कैसे डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड बनवा सकते हैं-


क्या करना होगा

आपको बता दें कि आप इसके लिए दो तरह से आवेदन कर सकते हैं। पहला ऑनलाइन आवेदन और दूसरा ऑफलाइन आवेदन। पहले के समय डुप्लीकेट वोटर आई के लिए आप घर बैठे आवेदन नहीं कर सकते थे, लेकिन अब इसके लिए ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।


डुप्लीकेट वोटर आई कार्ड (Voter ID card) के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

1. सबसे पहले आप डुप्लीकेट वोटर आई कार्ड के लिए फॉर्म डाउनलोड करना होगा।

2. इसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं: https://www.nvsp.in/

3. इसके बाद आपको दिए गए निर्देशों के अनुसार फॉर्म को भरना होगा और उसमें सभी जरूरी दस्तावेज लगाने होंगे।

4. इसके साथ ही आपको वोटर आई कार्ड गुम होने पर की गई प्राथमिकी की कॉपी, पते और पहचान का प्रमाण भी लगाना होगा।

4. इसके बाद इस फॉर्म को आप अपने स्थानीय निर्वाचन अधिकारी के पास जमा कराना होगा।

5. इसके बाद आपको एक रेफ्रेंस नंबर दिया जाएगा। जिसके जरिए आप स्टेटस को ट्रैक कर सकते हैं।

6. जैसे ही आपका प्रॉसेस में आएगा और वैरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी होगी आपको मैसेज मिल जाएगा।

7. इसके बाद आप स्थानीय चुनाव कार्यालय में जाकर अपना डुप्लीकेट वोटर आईडी हासिल कर सकते हैं।


ऐसे कर सकते हैं ऑफलाइन डुप्लीकेट वोटर आई कार्ड (Voter ID card) के लिए आवेदन

1. ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने घर के पास मौजूद निर्वाचन अधिकारी के दफ्तर जाना होगा।

2. यहां से आपको दूसरा वोटर आई कार्ड बनवाने के लिए फॉर्म लेना होगा।

3. इसमें आपको सभी जरूरी जानकारी भरनी होंगी।

4. आपको इस फॉर्म के साथ समर्थन वाले दस्तावेज की फोटो कॉपी जमा करानी होगी।

5. इसके बाद आपको सभी डॉक्यूमेंट निर्वाचन कार्यालय में जमा कराने होंगे।

6. जब आपके सभी दस्तावेजों वेरीफाई हो जाएंगे तो आपको दूसरा वोटर आई कार्ड जारी कर दिया जाएगा।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/how-to-get-duplicate-voter-id-card-now-4267453/

गुजरात के इस शख्स को मिला 48 लाख रुपए का टैक्स नोटिस, पूरा मामल जानकर चौंके लोग


नई दिल्ली। गुजरात के सूरत में आयकर विभाग द्वारा टैक्स नोटिस का एक अजीबो-गरीब व चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, आयकर विभाग ने एक सेल्समैन को 48 लाख रुपए टैक्स भरने का नोटिस दिया है। आयकर विभाग को इस शख्स के खाते में 10.58 करोड़ रुपए के लेनदेन का पता चला जिसके बाद विभाग ने शख्स से 48 लाख रुपए टैक्स के तौर पर जमा करने का नोटिस दिया। जब इस शख्स को इसके बारे में जानकारी मिली तो उसने पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। शख्स ने बताया कि उसे इस खाते से इतनी बड़ी रकम की लेनदेन के बारे में कुछ भी नहीं पता है।


पुलिस में दर्ज हुई शिकायत

इस शख्स से मिली जानकारी के बाद वारच्छा की स्थानीय पुलिस ने अपरिचित शख्स के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। इस शिकायत के मुताबिक, व्रच चौक के एक 45 वर्षीय शख्स जिसका नाम ललित थोलिया है, बैंक खाते को आयकर विभाग ने जब्त कर लिया है। साथ ही आयकर विभाग ने 2.35 लाख रुपए भी टैक्स अमाउंट के तौर पर निकासी की। थोलिया ने दावा किया कि उन्हें इस खाते के बारे में कोई जानकारी नहीं है। थोलिया ने इस बात की जानकारी दी कि उन्होंने अक्टूबर 2011 इलाहाबाद बैंक में अपना खाता खुलवाया है। उस दौरान उन्होंने अपना पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस व बिजली बिल की कॉपी जमा की थी। उसी माह में उन्होंने मानसी फैशन के नाम से आईडीबीआई बैंक में एक और अन्य खाता खुलवाया था। उन्होंने यह खाता हीरा बाग ब्रांच में खुलवाया था ताकि अपने व्यापार से जुड़े पैसे वो इस खाते में जमा कर सकें।


मिली ये चौंकाने वाल जानकारी

हालांकि, बाद में थोलिया ने दोनों खातों में अपने पते की जानकारी में बदलाव किया था। वर्तमान में वो सार्थना में रहते हैं। उनके पुरान आवास के पड़ोसी ने उनको आयकर विभाग से प्राप्त नोटिस के बारे में जानकारी दी। जब इस नोटिस को लेकर वो आयकर विभाग के कार्यालय गए तो उन्हें उन्हीं के नाम से खातों के बारे में जानकारी मिली। चौंकानें वाली बात है कि थोलिया ने इन खातों को कभी खुलवाया ही नहीं।
Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/it-department-gives-notice-of-48-lakhs-to-salesman-in-gujarat-4257484/

LIC का नया प्लान: बेटी के लिए जमा करें केवल 150 रुपए, कन्यादान पर मिलेंगे 22 लाख रुपए


नई दिल्ली। आप अगर अपनी बेटी की शादी के लिए चितिंत है तो अब चिंता की कोई बात नहीं। देश की सबसे बड़ी सरकारी बीमा कंपनी LIC यानी लाइफ इंश्योरेंस कारपोरेशन ने इसके लिए एक खास स्कीम निकाली है। जिसके तहत आपको बेटी के कन्यादान के लिए 22 लाख रुपए मिलेंगे। आइए जानते हैं इस स्कीम की पूरी डिटेल...

इसलिए खास है ये पॉलिसी

इस पॉलिसी के तहत आपको हर दिन केवल 150 रुपए जमा करने हैं। और जब आप अपनी बेटी की शादी करने वाले होंगे तो आपको पूरे 22 लाख रुपए मिलेंगे। यहीं नहीं अगर पॉलिसी की मियाद पूरी के बीच में अगर पिता की मृत्यु हो जाए तो किश्तें नहीं ली जाएंगी लेकिन फिर भी पॉलिसी चलती रहेगी। पिता की मृत्यु होने पर परिवार को तत्काल 10 लाख रुपए मिल जाएगा। वहीं एक्सीडेंट में पिता की मृत्यु हो जाती है तो यह रकम 20 लाख की होगी।

 

LIC

सबसे महत्वपूर्ण बात

इस पॉलिसी में बिटिया की पढ़ाई और दूसरे खर्चों के लिए भी हर साल विवाह होने तक 1 लाख रुपए की रकम मिलती रहेगी और साथ में पॉलिसी भी चलती रहेगी। इस पॉलिसी की ज्यादा जानकारी के लिए आप एलआईसी की वेबसाइट पर जा सकते हैं या फिर एलआईसी एजेंट को काल कर सकते हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/you-can-get-22-lakh-rupee-for-your-daughters-marriage-in-lic-plan-4253851/

चुनाव के दौरान निवेश कर अपने रुपए को बढ़ाने का एक बेहतरीन मौका, जानें कैसे


नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं और चुनाव के दौरान अर्थव्यवस्था में भारी मात्रा में नकदी का प्रवाह होता है, जो अर्थव्यवस्था के पहिए को गतिशील कर देता है। ऐसे में जो लोग निवेश करके पैसा बनाना चाहते हैं उनके लिए यह एक बेहतरीन मौका साबित हो सकता है। यह बात महिंद्रा म्युचुअल के प्रबंध निदेशक (एमडी) और सीईओलोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं और चुनाव के दौरान अर्थव्यवस्था में भारी मात्रा में नकदी का प्रवाह होता है, जो अर्थव्यवस्था के पहिए को गतिशील कर देता है। ऐसे में जो लोग निवेश करके पैसा बनाना चाहते हैं उनके लिए यह एक बेहतरीन मौका साबित हो सकता है। आशुतोष बिश्नोई ने कही है।

बिश्नोई का कहना है कि नोटबंदी और जीएसटी के कारण अर्थव्यवस्था थोड़ी रुक सी गई थी। पहले तो लोगों के हाथ में पैसा नहीं था और फिर सप्लाई में भी कमी आ गई। तब कंज्यूमर डिमांड जो रुक गई थीं, वो अब बहुत तेजी से आगे आ रही हैं। ऐसे में अब कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ रहा है। पिछले छह महीने के कारपोरेट रिजल्ट्स देखकर यह समझा जा सकता है कि कई सेक्टरों में मुनाफा तेजी से बढ़ रहा है।"

उन्होंने कहा, "बजट भी ऐसा रहा है जो लोगों को खर्च करने का बढ़ावा देगा, ऐसे में लोगों की डिमांड बढ़ेगी और इससे कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ेगा। वहीं दूसरी तरफ कंपनियों की कॉस्ट घट रही है। तेल की कीमतें कम हो चुकी हैं, स्टील-कॉपर जैसी इंडस्ट्रियल कमॉडिटीज की कीमत अब तक के सबसे निचले स्तर पर है। ऐसे में आने वाले समय में भी कंपनियों की लागत घटेगी और मुनाफा बढ़ेगा। लिहाजा, यह समय अच्छी कंपनियों में निवेश के लिए बहुत अच्छा है। हर इंवेस्टर को चुनाव को इंवेस्टमेंट के मौके के तौर पर देखना चाहिए।"

आशुतोष ने कहा, "अगर आप एसआईपी में निवेश करते हैं, तो इसे बढ़ा भी सकते हैं। अगर हर महीने एक एसआईपी कर रहे हैं और अगर आपके पास थोड़े और पैसे हों तो दो एसआईपी डालने लगें। अगर डेट मार्केट यानी फिक्स्ड इनकम फंड्स की तरफ देखें तो उसके रेट्स कम होते जा रहे हैं। रेट कम होने का मतलब है कि आपके फंड की वैल्यू बढ़ रही है। यह सिलसिला अभी चलता ही रहेगा।"

उन्होंने कहा, "अगले 6-8 महीनों में रेट बढऩे की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है। रेट घटने की ही संभावना ज्यादा है। अगर पिछले एक-दो सालों का कारपोरेट बॉन्ड फंड का रिटर्न देखें तो 11-12 फीसदी के करीब हो चुका है। लिक्विड फंड में भी 7.25-7.5 का रिटर्न मिल रहा है। इसमें तो रिस्क भी न के बराबर होता है। ऐसे में जो लोग लंबे समय के लिए मार्केट में हैं, वो अपना एसआईपी करते रहें।"


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/investing-a-great-opportunity-during-the-elections-learn-how-4245344/

चुनाव में है अापके पास जबरदस्त कमार्इ करने का मौका, जानिए कैसे


नई दिल्ली। महिंद्रा म्युचुअल के प्रबंध निदेशक (एमडी) और (सीईओ) आशुतोष बिश्नोई का कहना है कि लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं और चुनाव के दौरान अर्थव्यवस्था में भारी मात्रा में नकदी का प्रवाह होता है, जो अर्थव्यवस्था के पहिए को गतिशील कर देता है। ऐसे में जो लोग निवेश करके पैसा बनाना चाहते हैं उनके लिए यह एक बेहतरीन मौका साबित हो सकता है। बिश्नोई ने एक बयान में कहा, "नोटबंदी और जीएसटी के कारण अर्थव्यवस्था थोड़ी रुक सी गई थी। पहले तो लोगों के हाथ में पैसा नहीं था और फिर सप्लाई में भी कमी आ गई। तब कंज्यूमर डिमांड जो रुक गई थीं, वो अब बहुत तेजी से आगे आ रही हैं। ऐसे में अब कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ रहा है। पिछले छह महीने के कारपोरेट रिजल्ट्स देखकर यह समझा जा सकता है कि कई सेक्टरों में मुनाफा तेजी से बढ़ रहा है।"


उन्होंने कहा, "बजट भी ऐसा रहा है जो लोगों को खर्च करने का बढ़ावा देगा, ऐसे में लोगों की डिमांड बढ़ेगी और इससे कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ेगा। वहीं दूसरी तरफ कंपनियों की कॉस्ट घट रही है। तेल की कीमतें कम हो चुकी हैं, स्टील-कॉपर जैसी इंडस्ट्रियल कमॉडिटीज की कीमत अब तक के सबसे निचले स्तर पर है। ऐसे में आने वाले समय में भी कंपनियों की लागत घटेगी और मुनाफा बढ़ेगा। लिहाजा, यह समय अच्छी कंपनियों में निवेश के लिए बहुत अच्छा है। हर इंवेस्टर को चुनाव को इंवेस्टमेंट के मौके के तौर पर देखना चाहिए।"


आशुतोष ने कहा, "अगर आप एसआईपी में निवेश करते हैं, तो इसे बढ़ा भी सकते हैं। अगर हर महीने एक एसआईपी कर रहे हैं और अगर आपके पास थोड़े और पैसे हों तो दो एसआईपी डालने लगें। अगर डेट मार्केट यानी फिक्स्ड इनकम फंड्स की तरफ देखें तो उसके रेट्स कम होते जा रहे हैं। रेट कम होने का मतलब है कि आपके फंड की वैल्यू बढ़ रही है। यह सिलसिला अभी चलता ही रहेगा।"


उन्होंने कहा, "अगले 6-7 महीनों में रेट बढ़ने की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है। रेट घटने की ही संभावना ज्यादा है। अगर पिछले एक-दो सालों का कारपोरेट बॉन्ड फंड का रिटर्न देखें तो 11-12 फीसदी के करीब हो चुका है। लिक्विड फंड में भी 7.25-7.50 का रिटर्न मिल रहा है। इसमें तो रिस्क भी न के बराबर होता है। ऐसे में जो लोग लंबे समय के लिए मार्केट में हैं, वो अपना एसआईपी करते रहें।"


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/lok-sabha-election-is-a-good-opportunity-for-you-to-earn-money-4244168/

YouTube ही नहीं बल्कि कमाई के भी बादशाह हैं भुवन बाम, हर महीन करते हैं इतने की कमाई


नई दिल्ली। हम सब सोशल मीडिया के दौर में जी रहे हैं। हर व्यक्ति अपने दिनभर का एक अच्छा खासा समय किसी ने किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बीताता है। एक तरफ सोशल मीडिया लोगों के लिए मनोरंजन से लेकर अनजाने लोगों से जुड़ने का मौका देता है। वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया कमाई का भी एक बेहतर जरिया बनता जा रहा है। यूट्यूब इन्हीं प्लेटफॉर्म में से एक है जहां से लोग पैसे कमाते हैं। यदि आप भी सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं तो आपने बीबी की वाइन्स के बारे में जरूर सुना होगा। आज हम आपको बीबी की वाइन्स बनाने वाले भुवन बाम के बारे में बताने जा रहे। हम आपको यह भी बताएंगे कि भुवन बाम आखिर अपने यूट्यूब चैनल से हर माह कितने की कमाई कर लेेते हैं।


खुद ही एक्टिंग व रिकॉर्डिंग करते हैं भुवन

भुवन बाम को म्यूजिक में खास दिलचस्पी है और कई प्लेटफॉर्म पर इस टैलेंट का प्रदर्शन भी कर चुके हैं। लेकिन, उनके यूट्यूब चैनल ने ही उन्हें देशभर में मशहूर बनाया है। उनके यूट्यूब चैनल के बारे में सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाला हर युवा जानता होगा। आपको बता दें कि अपने चैनल पर भुवन कॉमेडी वीडियो बनाते हैं जिसमें वो खुद ही अलग-अलग किरदारों की एक्टिंग करते हैं। इन अलग-अलग किरदारों की एक्टिंग ही भुवन के चैनल को सबसे फेमस बनाता है। उनकी वीडियो कंटेंट में आम लोगों और युवाओं के बारे में कई ऐसी बातें होती हैं जिसकी वजह से भुवन तेजी से फेमस हुए। भुवन इन वीडिया कि रिकॉर्डिंग भी खुद की मोबाइल फोन की मदद से करते हैं। वर्तमान में उनके यूट्यूब चैनल के करीब 1.3 करोड़ से भी अधिक सब्सक्राइबर्स हैं।


करते हैं इतनी कमाई

सवा करोड़ से भी अधिक सब्सक्राइबर्स के लिए बीबी की वाइन्स चैनल को सोशल ब्लेड वेबसाइट ने ग्रेड दिया। दुनियाभर में इनके चैनल की 218वीं रैंकिंग है। भुवन के चैनल की वीडियो व्यू रैंक की बात करें तो यह दुनियाभर में 1200वीं रैंक है। बेस्ट यूट्यूबर का अवार्ड जीत चुके भुवन को यूट्यूब ने भी 1 करोड़ सब्सक्राइबर्स होने पर सम्मानित किया था। सोशल ब्लेड वेबसाइट के मुताबिक भुवन को अपने चैनल से हर माह करीब 298 हजार डॉलर (करीब 20 लाख) की कमाई होती है। भुवन बाम की सालाना कमाई की बात करें तो यह 3.6 मिलियन डॉलर (करीब 25 करोड़ रुपए) से भी अधिक की कमाई होती है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/know-how-bb-ki-vines-fame-bhuvan-ban-earns-per-month-4244016/

चुनाव के पहले लिक्विड फंड से लेकर एसआईपी तक में निवेश का बेहतरीन मौका, हो जाएंगे मालामाल


नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहा है। चुनाव के दौरान अर्थव्यवस्था में काफी मात्रा में नकदी का प्रवाह होता है जो अर्थव्यवस्था की पहिया को गतिशील कर देता है। ऐसे में जो लोग निवेश करके पैसा बनाना चाहते हैं उनके लिए यह एक बेहतरीन मौका है। इस बारे में बता रहे हैं महिंद्रा म्युचुअल के एमडी और सीईओ आशुतोष बिश्नोई। उनका कहना है कि अगर आप इंवेस्ट करने के बारे में सोच रहे हैं तो कई चीजों को आप ध्यान में जरूर रखें।

अच्छी कंपनियों में निवेश के लिए बहुत अच्छा समय

नोटबंदी और जीएसटी के कारण अर्थव्यवस्था थोड़ी रुक सी गई थी। पहले तो लोगों के हाथ में पैसा नहीं था और फिर सप्लाई में भी कमी आ गई थी। तब कंज्यूमर डिमांड जो रुक गई थीं, वो अब बहुत तेजी से आगे आ रही हैं। ऐसे में अब कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ रहा है। पिछले छह महीने के कारपोरेट रिजल्ट्स देखकर यह समझा जा सकता है कि कई सेक्टर्स में मुनाफा तेजी से बढ़ रहा है। बजट भी ऐसा रहा है जो लोगों को खर्च करने का बढ़ावा देगा, ऐसे में लोगों की डिमांड बढ़ेगी और इससे कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ेगा। वहीं दूसरी तरफ कंपनियों की कॉस्ट घट रही है। तेल की कीमतें कम हो चुकी हैं, स्टील-कॉपर जैसी इंडस्ट्रियल कमॉडिटीज की कीमत अब तक के सबसे निचले स्तर पर है। ऐसे में आने वाले समय में भी कंपनियों की लागत घटेगी और मुनाफा बढ़ेगा, लिहाजा यह समय अच्छी कंपनियों में निवेश के लिए बहुत अच्छा है। हर इंवेस्टर को चुनाव को इंवेस्टमेंट के मौके के तौर पर देखना चाहिए। चुनाव को लेकर हमेशा एक अनिश्चितता रहती है, तो अगर सस्ते वैल्यूएशन में पोर्टफोलियो तैयार करने के लिए सबसे अच्छा समय है।

एसआईपी भी होगा फायदे का सौदा

अगर आप sip में निवेश करते हैं, तो इसे बढ़ा भी सकते हैं। अगर हर महीने एक SIP कर रहे हैं और अगर आपके पास थोड़े और पैसे हों तो दो SIPडालने लगें। अगर डेट मार्केट यानी फिक्स्ड इनकम फंड्स की तरफ देखें तो उसके रेट्स कम होते जा रहे हैं। रेट कम होने का मतलब है कि आपके फंड की वैल्यू बढ़ रही है। यह सिलसिला अभी चलता ही रहेगा। अगले 6-8 महीनों में रेट बढ़ने की कोई संभावना नजर नहीं आ रही है। रेट घटने की ही संभावना ज्यादा है। अगर पिछले एक-दो सालों का कारपोरेट बॉन्ड फंड का रिटर्न देखें तो 11-12% के करीब हो चुका है। लिक्विड फंड में भी 7.25-7.5 का रिटर्न मिल रहा है। इसमें तो रिस्क भी न के बराबर होता है। ऐसे में जो लोग लंबे समय के लिए मार्केट में हैं, वो अपना SIP करते रहें। कुछlumpsum अमाउंट डालने की काेशिश करें इक्विटी मार्केट में। जिन्हें ज्यादा रिस्क नहीं लेना है, वो लिक्विड फंड या कॉरपोरेट बॉन्ड फंड में पैसा डालें।

खुद निवेश करने से पहले जांच ले तीन बातें

अगर आप अपना पैसा खुद ही निवेश करना चाहते हैं, तो इसके आपको काफी रिसर्च करना होगा। इस रिसर्च में आपको तीन चीजें देखनी होंगी।

1. क्या इस कंपनी का बिजनेस अच्छा है‌? इसके लिए आपको कंपनी की कई सालों की बैलेंसशीट देखनी पड़ेगी।

2. कंपनी का वैल्यूएशन मार्केट में कैसा है? कंपनी का बिजनेस बहुत बढ़िया हो सकता है, लेकिन जरूरी नहीं है कि मार्केट में उसे वैल्यूएशन मिला हो। यानी कंपनी को प्रॉफिट तो होता है, लेकिन जरूरी नहीं है कि स्टॉक मार्केट में कंपनी का नाम दिख रहा हो। कई बार इसका उल्टा भी होता है कि कंपनी का प्रॉफिट बिलकुल नहीं हो रहा है, लेकिन स्टॉक मार्केट में उसकी वैल्यू नजर आती है। ऐसी कंपनी ढूंढनी चाहिए जिसमें बिजनेस और वैल्यू दोनों बढ़िया हों।

3. क्या यह निवेश का सही समय है सबसे जरूरी चीज है यह देखना कि किस कंपनी या स्टॉक में कब निवेश करना चाहिए। समय बहुत बड़ा फैक्टर है। आपको आकलन करना हाेगा कि बाजार में इसका वॉल्यूम कितना है। कौन-कौन से बड़े इंवेस्टर्स इसमें पैसा डाल रहे हैं या निकाल रहे हैं। यह टेक्नीकल एनालिसिस करना जरूरी है, कि कहीं इस समय निवेश करना घाटे का सौदा तो नहीं हो जाएगा।

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/better-options-for-investment-before-elections-4237699/

अब आपके घर का सपना पूरा करेगा LIC, 75 वर्ष तक कर सकते हैं होम लोन का भुगतान


नई दिल्ली। LIC हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड ने गत सोमवार को जानकारी दी की उसने इंडिया मॉर्टगेज गारंटी कॉरपोरेशन (IMGC) के विशेष लोन स्कीम के लिए पार्टनरशिप किया है। इसके तहत अब आप लिए गए लोन का भुगतान 75 वर्ष की उम्र तक कर सकते हैं। इस पार्टनरशिप के तहत, IMGC एलाआर्इसी हाउसिंग फाइनेंस को मॉर्टगेज गारंटी देगा जो कि एक तरह का वित्तीय उत्पाद होगा। यह गारंटी वित्तीय संस्थानों को किसी मॉर्टगेज लोन डिफॉल्ट के बाद भरपाई कर सकेगा। इसके बारे में एलआइसी हाउसिंग फाइनेंस ने जानकारी दी है।


एलआइसीएचएफएल को मिलेगी ग्राहकों की संख्या में बढ़ाने में मदद

इस स्ट्रैटेजिक टाइअप के बाद एलआइसी हाउसिंग फाइनेंस को अधिक से अधिक संख्या में होम लोन लेने वाले ग्राहकों को फायदा होगा। साथ ही कंपनी को अपने ग्राहक बेस बढऩे की भी उम्मीद है। कंपनी ने कहा कि इससे होम लोन मार्केट में हमारी पकड़ मजबूत होगी और साथ ही बढ़ते हुए फंसे कर्ज की समस्या से भी राहत मिलेगी। कंपनी ने कहा, "इससे एलआइसी हाउसिंग फाइनेंस को अपने ग्राहकों की संख्या बढ़ाने में मदद मिलेगी, एलिजीबिलीटी क्राइटेरिया बढ़ेगी और पहले से लिए गए लोन का रिपेमेंट अवधि बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।"


पूरा हो सकेगा सरकार के हाउसिंग फॉर ऑल का सपना

इस टाइअप के बारे में जानकारी देते हुए एलआइसी हाउसिंग फाइनेंस के एमडी व सीईओ विनय शाह ने कहा कि आइएमसीजी के साथ पार्टनरशिप करने से हमें ग्राहकों की संख्या बढ़ाने में फायदा मिलेगा। उन्होंने आगे कहा, "इससे हम एसएमई व एमएसएमई सेग्मेंट के कर्मचारियों को भी अपनी सेवाओं के तरफ आकर्षित करने का मौका मिलेगी क्योंकि इन्हीं तबके से अधिक से अधिक लोग होम लेन लेते हैं। इसके साथ ही हम भारत सरकार के 2022 हाउसिंग फॉर ऑल विजन को भी पूरा कर सकेंगे।"

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/lic-housing-ties-up-with-imgc-for-mortgage-loan-guarantee-4230906/

पोस्ट ऑफिस की शानदार स्कीम: 1,000 रुपए जमा करने पर मिलेंगे 72,505 रुपए


नई दिल्ली। पैसे से पैसा बनाने के लिए कई तरह की स्कीम् बाजार में मौजूद है। लेकिन पोस्ट ऑफिस में एक स्कीम ऐसा है जहां आपको बैंकों से ज्यादा ब्याज मिलता है। अगर आप यहां अपना खाता खुलवाते हैं तो आपको 7.3 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा। इस हिसाब से अगर आप रोज के 33 रुपए या महीने के 1,000 रुपए जमा करते हैं तो आपको रिटर्न के तौर पर 72,000 रुपए से अधिक की राशि मिलेगी। आइए जानते हैं कैसे खुलेगा खाता और क्या है इसकी पूरी प्रक्रिया..

कही भी खुलवा सकते हैं यह खाता

पोस्ट ऑफिस की इस खाते को आप देश के किसी भी ब्रांच में खुलवा सकते हैं। यही नहीं आप चाहे तो एक से ज्यादा खाता भी खुलवा सकते हैं। इसके अलावा 2 लोग मिलकर भी इस खाते को ऑपरेट कर सकते हैं।

33 रुपए की बचत ऐसे बनाएगी मालामाल

पोस्ट ऑफिस की इस रेकरिंग डिपॉजिट स्कीम में आप 33 रुपए हर रोज या 1,000 रुपए महीने जमा कर सकते हैं। मौजूदा के 7.3 फीसदी के रिटर्न के हिसाब से कैलकुलेट करें तो अगर आप 33 रुपए रोजाना बचाकर हर महीने 1000 रुपए आरडी में जमा करें तो 5 साल में आपकी रकम 72505 रुपए हो जाएगी। जबकि इस दौरान आपका प्रिंसिपल अमाउंट करीब 60 हजार रुपए होगा।

ऐसे उठा सकते हैं लाभ

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए आपको एक तय तिथि पर हर महीने पैसा जमा करना होगा। आप एक से पंद्रह तारीख तक अपना पैसा जमा कर सकते हैं। 1 तरीख को खुले खाते में आप महीने की 15 तरीख तक डिपॉजिट कर सकते हैं। 16 तरीख को खुले खाते में डिपॉजिट का आखिरी मौका आपके लिए महीने की अंतिम तारीख तक होता है।

72,000 रुपए बनाने के फॉर्मूले को आप ऐसे समझ सकते हैं

अगर आपने 1,000 रुपए महीने के हिसाब से जमा किया तो एक साल में आपने 12,000 रुपए दमा किए। 7.3 फीसदी की ब्याज दर के हिसाब से आपको एक साल में 12,482 का रिटर्न मिला। इसी तरह आगर आपने पांच साल तक पैसा जमा किया तो आपको 72,505 रुपए का रिटर्न मिलेगा।


Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/get-72-000-by-depositing-1000-rupee-per-month-4230178/

हर घंटे 1000 रुपए कमाने का है मौका, साथ में मिलेगी ऐसी चीज जो कभी सपने में भी नहीं सोची होगी


नई दिल्ली। अगर आपके पास कुछ चॉकलेट कंपनियों के बस नाम ही बता दिया जाए तो हो सकता है कि आपके मुह में पानी आ जाए। सोचिए, इससे बेहतर क्या हो सकता है कि आपको चॉकलेट तो खाने को मिले ही, साथ में इसके लिए पैसे भी मिले। हो सकता है कि इस पर आपको यकीन न हो, लेकिन यह सच है। दरअसल, कैडबरी, ओरियो, मिल्का जैसे कई ब्रांड्स लोगों को चॉकलेट टेस्ट करने के लिए पैसे दे रही है।

यह भी पढ़ें - ILFS संकट: Grant Thorton ने पेश की अंतरिम रिपोर्ट, 13 हजार करोड़ की संदेहात्मक लेनदेन आया सामने

हर घंटे मिलेंगे 1000 रुपए

आपको बता दें कि मॉन्डेल्ज इंटरनेशनल कुछ ऐसे लोगों की तलाश कर रही है जो कंपनी के लिए चॉकलेट टेस्ट कर सके। इतना ही नहीं, आपको खुश करने वाली बात ये है कि यह कंपनी कैडबरी, ओरियो, मिल्का, चिप्स ओहॉय, टोबलरॉन और मिकाडो जैसे चॉकलेट्स का उत्पादन करती है। सबसे खास बात ये भी है कि इसके लिए आपको प्रति घंटे 14.23 डॉलर (करीब एक हजार रुपए) के हिसाब से पैसे भी मिलेंगे। इसके लिए आपको कंपनी की आधिकारिक साइट पर जाना होगा।

यह भी पढ़ें - हर साल पराली जलाने से भारत को 21 लाख 30 हजार करोड़ रुपए का नुकसान

क्या है कंपनी की शर्त

इसके लिए आपको किसी प्रकार के अनुभव की भी जरूरत नहीं है। कंपनी ने शर्त रखी है और वो ये कि आपको ग्लुटेन, नट्स या डेयरी उत्पादों से एलर्जी नहीं हो। हालांकि, कंपनी ने एक और शर्त रखी है। कंपनी की शर्त के मुताबिक आप हर सप्ताह में केवल 8 घंटे ही कंपनी के लिए यह काम कर सकते हैं।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/earn-per-hour-1000-rupees-for-tasting-chocolates-4227508/

PNB की नई स्कीम, 10 हजार रुपए निवेश करने से 111 दिन बाद मिलेंगे इतने ज्यादा पैसे


नई दिल्ली। बेहतर भविष्य के लिए लोग कड़ी परिश्रम कर कमाते हैं और निवेश करते हैं ताकि उन्हें अच्छा रिटर्न मिले। भारत के बड़े सरकारी बैंकों की सूची में शामिल पंजाब नेशनल बैंक (PNB) अपने ग्राहकों के लिए एक खास स्कीम लेकर आया है। इस सुगम प्लस टर्म डिपॉजिट स्कीम की खास बात ये है कि इस स्कीम में ग्राहकों को महज 111 दिन से लेकर 333 दिन के मैच्योरिटी पीरियड का विकल्प मिलेगा। आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में -

यह भी पढ़ें: LIC की ये खास पॉलिसी, 1,300 रुपए निवेश करने पर मिलेंगे 63 लाख रुपए


बैंक ने ट्वीट कर दी जानकारी

 

 

बैंक ने ट्वीट कर इस स्कीम की घोषणा की है। पीएनबी की सुगम प्लस टर्म डिपॉजिट स्कीम में ग्राहकों को 111 दिन, 222 दिन और 333 दिन का विकल्प मिलेगा। इन स्कीम में 333 दिन वाली एफडी पर बैंक आम नागिरकों को सबसे अधिक ब्याज देगा। 111 दिन और 222 दिन वाली स्कीम पर बैंक 333 दिन वाली स्कीम के मुकाबले कम रिटर्न देगा। PNB की इस नई फिक्सड डिपॉजिट स्कीम की शुरुआत हो चुकी है। बता दें कि इस स्कीम में प्री-मैच्युरिटी विड्रॉवल की सुविधा नहीं है और प्री-मैच्योर कैंसिलेशन पर 1 फीसदी ब्याज दर से पेनल्टी लगेगी।

यह भी पढ़ें: बदल गए चालान कटने के नियम, 16 करोड़ रुपए की लागत से सरकार ने बनाया ये नया सिस्टम


10,000 रुपए से शुरू कर सकते हैं निवेश

इस स्कीम में आप 10,000 रुपए से लेकर 10 करोड़ रुपए तक का निवेश कर सकते हैं। 111 दिन की एफडी पर बैंक सामान्य नागरिकों को 6.50 फीसदी और वरिष्ठ नागरिकों को 7 फीसदी की दर से ब्याज देगा। 222 दिन की एफडी पर बैंक सामान्य नागरिकों को 6.60 फीसदी और वरिष्ठ नागरिकों को 7.1 फीसदी की दर से ब्याज देगा। वहीं 333 दिन की एफडी पर बैंक सामान्य नागरिकों को 7.10 फीसदी और वरिष्ठ नागरिकों को 7.6 फीसदी की दर से ब्याज देगा।


Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/mutual-funds-news/good-returns-from-pnb-scheme-in-111-days-by-investing-10000-rupees-4224639/

SHARE THIS


Subscribe via Email


Explore Jobs/Opportunities
West Bengal Jobs / Opportunities / Career
Sarkari Naukri Jobs / Opportunities / Career
Assam Jobs / Opportunities / Career
Explore Articles / Stories
Education
Government Schemes
News
Career
Admit Card
Study Material
Bihar
State Government Schemes
Technology
DATA
Public Utility Forms
Travel
Sample Question Paper
Exam Result
Employment News
Scholorship
Business
Astrology
Syllabus
Festival
Explore more
Main Page
Register / Login
Like our Facebook Page
Follow on Twitter
Subscrive Our Newsletter Via Nuzzle
Get Updates Via Rss Feed
Sarkari Niyukti
Free Online Practice Set
Latest Jobs
Feed contents
Useful Links
Photo
Video
Post Jobs
Post Contents
Supremedeal : India Business Directory
Find IFSC Code
Find Post Office / Pincode
Contact us
Best Deal

Disclaimer: we only provide job information. we are not associated with any job website. Although we take extreme care for accuracy of the information provided, but you must check the authenticity of the website before applying for the job. We are not responsible for your operation , once you leave our website and apply thereafter. Please recheck the genuineness of the job website from yourself also.

Copyright © 2018. Website template by WebThemez.com