Patrika : Leading Hindi News Portal - Bangalore #educratsweb
HOME | LATEST JOBS | JOBS | CONTENTS | STUDY MATERIAL | CAREER | NEWS | BOOK | VIDEO | PRACTICE SET REGISTER | LOGIN | CONTACT US

Patrika : Leading Hindi News Portal - Bangalore

http://api.patrika.com/rss/bangalore-news 👁 9103

25 से ज्यादा सीटों पर होगी गठबंधन की जीत : देवगौड़ा


तुमकुरु. जद-एस प्रमुख एचडी देवगौड़ा ने दावा किया है कि आम चुनाव में राज्य के 25 से अधिक क्षेत्रों में गठबंधन की जीत होगी। रविवार को सिद्धगंगा मठ में डॉ. शिवकुमार स्वामी के समाधिस्थल का दर्शन करने के बाद उन्होंने कहा कि तुमकूरु के कार्यकर्ता तथा नेताओं के दबाव के कारण चुनाव लडऩे का फैसला किया है।

क्षेत्र के कांग्रेस नेताओं की नाराजगी को लेकर उन्होंने कहा कि सभी को गठबंधन धर्म का पालन करते हुए प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करनी होगी। इससे पहले सिद्धगंगा मठ के प्रमुख सिद्धलिंगा स्वामी ने देवगौड़ा का मठ की ओर सम्मान किया।

मुद्दहनुमे गौड़ा को कांग्रेस के नेता मनाएंगे: देवगौड़ा
बेंगलूरु. तुमकूरु के सांसद एसपी मुद्दहनुमे गौड़ा के गठबंधन के प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लडऩे की घोषणा से हैरान जद-एस सुप्रीमो एचडी देवगौड़ा ने भरोसा जताया है कि कांग्रेस नेता अपने सांसद को मनाने में सफल रहेंगे। रविवार को तुमकूरु जिले के कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक के पश्चात उन्होंने कहा कि सोमवार को जब नामांकन पत्र दाखिल करेंगे, इस दौरान उप मुख्यमंत्री डॉ. जी परमेश्वर समेत जिले के सभी कांग्रेस नेता उपस्थित रहेंगे।

सांसद मुद्दहनुमे गौड़ा के संदेह को दूर करने का प्रयास किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य में किसी लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लडऩे की संभावना के सवाल पर उन्होंने कहा कि इससे कर्नाटक की अहमियत बढ़ेगी।


कांग्रेस नेताओं की बगावत पर मुख्यमंत्री हैं नाराज
बेंगलूरु. तुमकूरु जिला कांग्रेस इकाई में गठबंधन के प्रति कुछ नेताओं की बगावत पर मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने नाराजगी जताई है। गौरतलब है कि मौजूदा सांसद एसपी मुद्दहनुमे गौड़ा ने इस क्षेत्र में गठबंधन प्रत्याशी एचडी देवगौड़ा को चुनौती देने की घोषणा कर दी है। प्रदेश कांग्रेस के नेता पूरे प्रयास करने के बावजूद गौड़ा को समझाने में विफल रहे हैं।


इस पर कुमारस्वामी ने कांग्रेस नेताओं से पूछा है कि अगर ऐसा ही माहौल रहा तो राज्य में गठबंधन कैसे सफल रहेगा।
मंड्या लोकसभा क्षेत्र में निर्दलीय प्रत्याशी को भाजपा के समर्थन पर सीएम ने कहा कि इससे जद-एस को कोई फर्क नहीं पड़ता है।

बेंगलूरु उत्तर से लड़ें देवगौड़ा : जमीर

मंत्री जमीर अहमद ने कहा है कि एचडी देवगौड़ा यदि बेंगलूरु उत्तर क्षेत्र से चुनाव लड़ें तो उनकी जीत तय है। रविवार को देवगौड़ा से मिलने के बाद उन्होंने कहा कि तुमकूरु क्षेत्र में कांग्रेस के समर्थन से जद-एस का कोई भी प्रत्याशी आसानी से सफल हो सकता है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/coalition-victory-over-25-seats-devgowda-4326185/

प्रचार सामग्री पर धन खर्च करने में हिचकिचाहट


मैसूरु. चुनाव आयोग द्वारा चुनाव प्रचार सामग्रियों के उपयोग को लेकर सख्त दिशा निर्देश जारी करने के कारण राज्य में करोड़ों रुपए का प्रचार सामग्री उद्योग का धंधा मंदा पड़ा है। उम्मीदवारों को फ्लेक्स, बैनर, बंटिग, पोस्टर आदि के उपयोग के पहले चुनाव अधिकारियों से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य है।

प्रचार सामग्री के उपयोग का व्यय भी उम्मीदवार के चुनावी खर्चे में जुटता है। प्रचार सामग्री के उपयोग को लेकर कई प्रकार के दिशा-निर्देश होने के कारण उम्मीदवारों द्वारा सीमित संख्या में प्रचार सामग्री का उपयोग किया जा रहा है। इसका सीधा असर उद्योग के व्यवसाय पर हो रहा है। वहीं, विधानसभा चुनाव २०१८ में ही आयोग द्वारा चुनाव सामग्री के उपयोग में प्लास्टिक के बैनर पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया था। इस कारण फ्लैक्स का इस्तेमाल भी नहीं हो रहा है।


राजनीतिक दलों के नेताओं के अनुसार प्रचार सामग्री उपयोग की अनुमति प्राप्ति भी आसान नहीं है। अगर कोई बिना अनुमति के किसी प्रकार की प्रचार सामग्री का उपयोग करते है तो चुनाव आयोग और पुलिस द्वारा मामला भी दर्ज किया जाता है। इसलिए राजनीतिक दलों का चुनाव प्रचार अब बेहद सीमित प्रचार सामग्री के साथ हो रहा है।


प्रचार सामग्री उद्योग के जानकारों का कहना है कि मांग में आई कमी के कारण राज्य में इस उद्योग से जुड़े विभिन्न क्षेत्रों को करीब ३०० करोड़ रुपए का नुकसान होगा, जबकि हजारों लोग और उनके परिवार के सदस्यों की आजीविका प्रभावित होगी। प्रतिबंधों ने उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों के बीच चिंता पैदा कर दी है, और वे प्रचार सामग्री में खर्च करने में संकोच कर रहे हैं।


एक अनुमान के मुताबिक सिर्फ बेंगलूरु में करीब ३०० डिजिटल प्रिंटिंग इकाइयां हैं, जबकि राज्य में १००० से ज्यादा हैं। प्रिटिंग इकाइयों को चुनाव के समय व्यवसाय बढऩे की उम्मीद रहती है, लेकिन आयोग की सख्ती ने इन उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। प्रचार सामग्री निर्माण में दर्जी, बढ़ई आदि भी बड़ी संख्या में सीधे जुड़े रहते हैं, लेकिन मंाग में कमी से इन पेशों से जुड़े लोगों का व्यवसाय भी प्रभावित हुआ है। बाजार विशेषज्ञों के अनुसार लोकसभा चुनाव को देखते हुए कई डिजिटल प्रिंटिंग इकाइयों ने नई मशीनों की खरीद पर भारी निवेश किया था। इसके लिए बैंकों से ऋण लिए गए थे, लेकिन अब मांग में कमी ने उनके निवेश को झटका दिया है।


विज्ञापन और पेड न्यूज पर नजर
चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों के मीडिया विज्ञापनों पर भी सख्ती दिखाई है। विज्ञापन निगरानी के लिए सूचना और प्रचार विभाग के तहत जिला स्तरीय समितियों का गठन किया गया है। जो भी उम्मीदवार या राजनीतिक दल विज्ञापन बनाना चाहते थे, उन्हें समिति से अनुमति लेनी होती है। यह समिति ‘पेड न्यूज’ पर भी ध्यान देती है जो समाचार पत्रों और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में दिखाई देती है। विज्ञापन सख्ती के कारण मीडिया उद्योग का राजस्व भी प्रभावित हुआ है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/hesitation-to-spend-money-on-promotional-material-4326172/

उम्मीदवारों के नाम लगभग तय, बढ़ी सरगर्मियां


बेंगलूरु. राज्य में लोकसभा चुनाव के मतदान में अब सिर्फ 24 दिन शेष रह गए हैं और यह तय हो चुका है कि राज्य की 28 लोकसभा सीटों में से 27 पर भाजपा और गठबंधन के बीच ही सीधी टक्कर होगी। सिर्फ मंड्या में गठबंधन के प्रत्याशी मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल गौड़ा का मुकाबला निर्दलीय प्रत्याशी सुमालता अंबरीश से होने की उम्मीद है।

इस बीच दूसरे चरण में 14 लोकसभा सीटों के लिए 18 अप्रेल को होने वाले मतदान के लिए राज्य के अधिकांश उम्मीदवारों ने अभी तक नामांकन दाखिल नहीं किया है। कांग्रेस ने 19 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है, जबकि भाजपा ने 22 उम्मीदवारों के नाम तय कर दिए हैं। भाजपा के 7 उम्मीदवार सोमवार को नामांकन दाखिल करेंगे जबकि 1 उम्मीदवार ने पहले ही पर्चा भर दिया है। तीन उम्मीदवार आखिरी दिन 26 मार्च को पर्चे भरेंगे।


पार्टी ने बेंगलूरु दक्षिण और बेंगलूरु ग्रामीण लोकसभा सीट के प्रत्याशी की घोषणा अभी नहीं की है, जबकि मंड्या में उसने सुमालता को समर्थन देने की बात कही है। सुमालता ने पिछले 20 को ही नामांकन पत्र दाखिल कर दिया था।
राज्य की 28 लोकसभा सीटों में से 22 सीटों की तस्वीर लगभग साफ हो चुकी है कि कौन-कौन उम्मीदवार आमने-सामने होंगे। जैसे-जैसे मुकाबले की तस्वीर साफ हो रही है, वैसे-वैसे चुनावी सरगर्मियां भी बढ़ रही हैं।


रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा तूमकूरु में सिद्धगंगा मठ पहुंचे। वहीं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष भी तूमकूरु में असंतुष्ट नेताओं की नब्ज टटोलने पहुंच गए। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी आदिचुनचुनगिरी मठ में माथा टेकने पहुंचे।
बाद में उन्होंने मीडिया से बातचीत में निखिल की मंड्या में सफलता की संभावनाओं पर कहा कि भले ही कितनी भी पार्टियां साथ आ जाएं मंड्या की जनता सब देख रही है। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस उम्मीदवारों की सभी 20 सीटों पर मदद करेंगे।


दरअसल, एक तरफ गठबंधन दल जिताऊ उम्मीदवारों के चयन को लेकर ऊहापोह की स्थिति में हैं वहीं जमीनी स्तर पर दोनों दलों के कार्यकर्ताओं में घमासान मचा है। दोनों ही दलों के जिला स्तरीय नेताओं ने एक-दूसरे का विरोध करते हुए अपनी छवि चमकाई अब एक-दूसरे का समर्थन करना गले के नीचे नहीं उतर रहा।


बूथ स्तर पर दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच तालमेल मुश्किल है और गठबंधन का असली मकसद पूरा होता नहीं नजर आता। जहां मंड्या, हासन और मैसूरु लोकसभा क्षेत्र में दोनों दलों के कार्यकर्ता एकजुट नहीं हो पा रहे हैं, वहीं तूमकूरु लोकसभा सीट को लेकर भी प्रदेश स्तर के नेताओं में मतभेद अभी दूर नहीं हुए हैं। बेंगलूरु उत्तर और तूमकूरु को लेकर दोनों दलों के बीच आखिरी दौर में सहमति बनाने की कोशिश जारी है।

बीके हरिप्रसाद बेंगलूरु दक्षिण से लड़ेंगे
उधर, कांग्रेस ने रविवार शाम एक और उम्मीदवार की घोषणा कर दी। बेंगलूरु दक्षिण से पार्टी ने बीके हरिप्रसाद को उम्मीदवार बनाया है। चर्चा थी कि पार्टी यहां से गोविंदराज नगर के पूर्व विधायक प्रिया कृष्णा को टिकट देगी, लेकिन अंतत: बीके हरिप्रसाद पर भरोसा जताया है। कांग्रेस अब तक अपने कोटे के 20 में से 19 सीटों पर उम्मदीवारों की घोषणा कर दी है। सिर्फ धारवाड़ सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी की घोषणा शेष है।

सदानंद गौड़ा सहित कई नेता भरेंगे आज पर्चे
बेंगलूरु. सोमवार को राज्य के विभिन्न लोकसभा क्षेत्रों में भाजपा के प्रत्याशी नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। पार्टी के सूत्रों के अनुसार सोमवार को बेंगलूरु उत्तर से केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा, हासन से ए.मंजू, दक्षिण कन्नड़ से नलिन कुमार कटील, चित्रदुर्गा से ए. नारायणस्वामी, मैसूरु-कोड़ुगू से प्रताप सिम्हा, चिकबल्लापुर से बी.एन. बच्चेगौड़ा तथा कोलार से एस. मुनिस्वामी नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/name-of-candidates-almost-fixed-increased-enthusiasm-4326165/

सशक्त नेतृत्व ने बदली देश की दशा, दिशा: सदानंद गौड़ा


बेंगलूरु. गत पांच वर्ष में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सशक्त और समर्थ नेतृत्व ने देश की दशा और दिशा बदल दी है। देश को विश्व शक्ति बनाने के संकल्प के साथ हमें फिर मतदान करना है। केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने यह बात कही।
रविवार को यशवंतपुर के मेवाड़ भवन में ‘जय जिनेंद्र’ के अभिवादन के साथ उत्तर भारतीयों के साथ संवाद कार्यक्रम का आगाज करते हुए उन्होंने दावा किया कि हाल में हुए सर्वे में अधिकतर लोग फिर से मौजूदा सरकार चाहते हैं।


प्रधानमंत्री ने देश की सीमाओं की सुरक्षा हो, आतंककारियों का दमन हो या देश की महिला युवाओं का सशक्तिकरण हो हर क्षेत्र में साहसी फैसले लिए हैं। देश की कूटनीति के कारण आतंकवादियों को पनाह देने वाले देश पूरे विश्व में अलग-थलग पड़ गए हैं।


इस अवसर पर पार्षद जयपाल, शांतिलाल बोराणा, सुरेश गन्ना, पुखराज आंचलिया उपस्थित थे। संचालन गौतम जैन ने किया प्रकाश पिरगल ने धन्यवाद अर्र्पित किए।

मतदान की ताकत का अहसास कराएं राजस्थानी : सिरोया
इस अवसर पर विधान परिषद सदस्य लहरसिंह सिरोया ने कहा कि हम जानते हैं पूरा देश किस दौर से गुजर रहा है। ऐसी संवेदनशील स्थिति में हमें देश के हितों की रक्षा को वरीयता देते हुए साहसी नेतृत्व का समर्थन करना होगा। मतदान हमको मिला गणतंत्र का सबसे बड़ा तोफहा है। लेकिन यह कैसी विडंबना है कि हमारे देश में कथित रूप से शिक्षित लोग ही मतदान करने में हिचकिचाते हैं।

हमें इस स्थिति को बदलने का संकल्प करना होगा। केवल नारे लगाने मात्र से नरेंद्र मोदी की सत्ता में वापसी नहीं हो सकती, इसके लिए अधिक मतदान सुनिश्चित करना होगा। राजस्थानियों को महाराणा प्रताप तथा भामशाह की परंपरा मिली है। भामाशाह से राणाप्रताप के लिए उनकी जमा पूंजी समर्पित की थी। आज हमें इसी परंपरा का निर्वहण करते हुए गणतंत्र को मजबूत बनाने के लिए देश को सशक्त तथा अटल नेतृत्व सुनिश्चित करने के लिए मतदान करना होगा। कर्नाटक में बसे सभी उत्तर भारतीय प्रवासी अधिकाधिक मतदान करें।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/powerful-leadership-changed-country-s-condition-direction-4326154/

उप मुख्यमंत्री के सामने ही बिफर पड़े कांग्रेस के नेता


तुमकूरु. जिला कांग्रेस इकाई कार्यालय में रविवार को आयोजित बैठक में कांग्रेस के नेता उप मुख्यमंत्री डॉ. परमेश्वर के सामने ही बिफर पड़े। उन्होंने तुमकूरु क्षेत्र जद-एस को देने पर आक्रोश जताया। कइयों ने इस स्थिति के लिए परमेश्वर के ही जिम्मेदार होने का आरोप लगाया। इस सबसे उप मुख्यमंत्री विचलित नजर आए। बहुत से नेताओं ने परमेश्वर से कहा कि वे यहां जद-एस के प्रत्याशी के लिए मतों की याचना नहीं करेंगे। अगर मुद्दहनुमे गौड़ा को टिकट नहीं मिला तो वे प्रतिद्वंद्वी के पक्ष में मतदान करेंगे, लेकिन किसी भी हालत में देवगौड़ा को मत नहीं देंगे।


कांग्रेस के नाराज स्थानीय नेताओं का आरोप था कि हेमावती बांध का पानी तुमकूरु को नहीं मिलने से जिले में देवगौड़ा परिवार के खिलाफ आक्रोश है। कांग्रेस नेताओं के इन सवालों की बौछार का परमेश्वर के पास कोई जवाब नहीं था और वे बेबस नजर आ रहे थे।


जनता दल-एस की चिंता बढ़ी
इस क्षेत्र में देवगौड़ा के समर्थन को लेकर जिला कांग्रेस इकाई में सहमति नहीं बनने से जद-एस की चिंताएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। इस बीच पूर्व विधायक तथा जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता के. राजण्णा ने भी देवगौड़ा के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी बनने की चेतावनी दी है। बैठक में कांग्रेस के नेता होन्नगिरि गौड़ा, पूर्व विधायक शफी अहमद, शहर विधायक रफीक अहमद के साथ जिला तथा तहसील पंचायतों के सदस्य उपस्थित थे।


देवगौड़ा के समर्थन में नहीं करेंगे प्रचार
बैठक के बाद डॉ. शफी अहमद ने बताया कि जिले के कई पार्टी नेता, कार्यकर्ता देवगौड़ा के समर्थन में प्रचार करने के लिए तैयार नहीं हैं। इसकी जानकारी कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडूराव, उप मुख्यमंत्री डॉ. जी. परमेश्वर और दोनों दलों की समन्वयन समिति के अध्यक्ष सिद्धरामय्या को दी है।


इसके जिम्मेदार सिर्फ सिद्धरामय्या : गौड़ा
इस बीच सांसद मुद्दहनुमे गौड़ा ने कहा कि तुमकूरु संसदीय क्षेत्र जद-एस को देने के लिए कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धरामय्या पूरी तरह से जिम्मेदार हैं। उन्होंने सिद्धरामय्या को संगठन के लिए बेहद अहितकर बताते हुए कहा कि वे अब खुद को आलाकमान समझने लगे हैं।


नाराज मुद्दहनुमे गौड़ा ने कहा कि सबसे पहले उन्हें विधायक दल के नेता के पद से हटाया जाए। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि तुमकूरु से वे सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।

नहीं मांगा था भाजपा से समर्थन : सुमालता
बेंगलूरु. मंड्या से निर्दलीय उम्मीदवार सुमालता अंबरीश ने कहा कि उन्होंने भाजपा से समर्थन नहीं मांगा था। मंड्या में भाजपा ने प्रत्याशी क्यों नहीं उतारा है, इसका जवाब बीएस येड्डियूरप्पा ही दे सकते हैं। इस समर्थन से उन्हें शक्ति मिली है। उन्होंने रविवार को जेपी नगर स्थित निवास पर कहा कि गत एक सप्ताह से उन्हें चुनाव से हटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। भाजपा का समर्थन मिलने से उनके हौसले बुलंद हुए हैं। समर्थन की घोषणा के बाद भाजपा के नेता और कार्यकर्ता उनके समर्थन में प्रचार करने लगे हंै। भाजपा से समर्थन मिलने पर जनता दल-एस के विधायकों, नेताओं, कार्यकर्ताओं को परेशानी हो रही है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/leader-of-the-congress-was-scared-in-front-of-deputy-chief-minister-4326144/

महिलाएं मत के रूप में दें आशीर्वाद


बेंगलूरु. भाजपा चिकबल्लापुर के तत्वावधान में महिला सम्मेलन रविवार को दोड्डबल्लापुर में हुआ। सम्मेलन की मुख्य अतिथि व लोकसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश सहप्रभारी किरण माहेश्वरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिलाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए बहुत कुछ किया है।

अब समय आ गया है कि महिलाएं मत के रूप में मोदी के हाथ मजबूत करें। माहेश्वरी ने कहा कि प्रधानमंत्री का उद्देश्य महिलाओं को स्वावलंबी बनाना है। सम्मेलन के दौरान चिकबल्लापुर से भाजपा प्रत्याशी बीएन बच्चेगौड़ा ने बुजुर्ग महिलाओं का वंदन किया। कार्यक्रम के दौरान भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश सचिव राघवेंद्र शेट्टी, भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष श्रुति, कविता अशोक, जिला अध्यक्ष वत्सला, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सरोजनी भारद्वाज ने भी विचार व्यक्त किए।

दूध के पैकेट देंगे जागरूकता का संदेश
मैसूरु. लोकसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए कर्नाटक दुग्ध संघ (केएमएफ) ने अद्वितीय पहल करते हुए नंदिनी दूध के पैकेटों पर लोकसभा चुनाव की तिथि मुद्रित करने का निर्णय किया है। मैसूरु लोकसभा क्षेत्र में १८ मार्च को चुनाव होगा और नंदिनी दूध के पैकेटों पर मतदान की तिथि अंकित होगी।


केएमएफ बेंगलूरु की उप निदेशक सुमा के अनुसार मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए केएमएफ ने यह पहल की है। राज्य के सभी दूध संघों में करीब ३४ लाख लीटर पैकेटों का उत्पादन होता है और चुनाव तिथि तक दैनिक रूप से दूध पैकेटों पर चुनाव तिथि अंकित होगी। अकेले मैसूरु और कोड़ुगू जिले दैनिक ७.५ लाख दूध पैकेटों का उत्पादन होता है।


दूध पैकेटों पर न सिर्फ चुनाव तिथि का मुद्रण होगा, बल्कि दैनिक रूप से चुनाव जागरूकता संबंधी अन्य प्रकार के संदेश भी होंगे। संदेशों में मतदान की महत्ता, मतदाता का कर्तव्य, लोकतंत्र में मतदान की अहमियत, मतदान से लोकतंत्र की सशक्ति आदि से संबंधि संदेश होंगे। गौरतलब है कि पिछले वर्ष संपन्न विधानसभा चुनाव के दौरान भी मैसूरु में केएमएफ ने इसी प्रकार का प्रयोग किया था, जबकि लोकसभा चुनाव २०१४ में पहली बार यह पहल की गई थी। दोनों ही अवसरों पर मतदाताओं को जागरूक करने में यह पहल रंग लाई थी।


मैसूरु दुग्ध संघ के प्रबंध निदेशक एमएस विजय कुमार ने कहा कि मैसूरु में रोजाना ७.५ लाख लीटर दूध पैकेटों का उत्पादन होता है, जिसमें ९० फीसदी आधा लीटर के दूध पैकेट होते हैं। केएमएफ का मकसद मतदाताओं को जागरूक करना और उन्हें मतदान के दिन अनिवार्य रूप से मतदान के लिए प्रेरित करना है। उन्होंने कहा कि राज्य के अन्य दूध संघ भी इसी प्रकार का मतदाता जागरूकता संदेश देंगे ताकि मतदान प्रतिशत बढ़े।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/give-blessings-as-women-do-4326136/

जनता दल-एस की राजनीति परिवार केंद्रित: ए. मंजू


तुमकूरु. हासन लोकसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी अरकलगुड मंजू ने रविवार को सिद्धगंगा मठ में डॉ. शिवकुमार स्वामी के समाधि स्थल के दर्शन किए। इसके बाद उन्होंने कहा कि जद-एस एक राजनीतिक दल से अधिक एक निजी पारिवारिक कंपनी में परिवर्तित हो गया है। जिसमें पार्टी के अन्य नेताओं की कोई कदर नहीं है। उन्होंने कहा कि दोनों पौत्र को प्रत्याशी बनाने के बद खुद भी चुनाव लडऩा देवगौड़ा की परिवार केंद्रित राजनीति का उदाहरण है।

उप मुख्यमंत्री के सामने ही बिफर पड़े कांग्रेस के नेता
तुमकूरु. जिला कांग्रेस इकाई कार्यालय में रविवार को आयोजित बैठक में कांग्रेस के नेता उप मुख्यमंत्री डॉ. परमेश्वर के सामने ही बिफर पड़े। उन्होंने तुमकूरु क्षेत्र जद-एस को देने पर आक्रोश जताया।


कइयों ने इस स्थिति के लिए परमेश्वर के ही जिम्मेदार होने का आरोप लगाया। इस सबसे उप मुख्यमंत्री विचलित नजर आए। बहुत से नेताओं ने परमेश्वर से कहा कि वे यहां जद-एस के प्रत्याशी के लिए मतों की याचना नहीं करेंगे। अगर मुद्दहनुमे गौड़ा को टिकट नहीं मिला तो वे प्रतिद्वंद्वी के पक्ष में मतदान करेंगे, लेकिन किसी भी हालत में देवगौड़ा को मत नहीं देंगे।


कांग्रेस के नाराज स्थानीय नेताओं का आरोप था कि हेमावती बांध का पानी तुमकूरु को नहीं मिलने से जिले में देवगौड़ा परिवार के खिलाफ आक्रोश है। कांग्रेस नेताओं के इन सवालों की बौछार का परमेश्वर के पास कोई जवाब नहीं था और वे बेबस नजर आ रहे थे।


जनता दल-एस की चिंता बढ़ी
इस क्षेत्र में देवगौड़ा के समर्थन को लेकर जिला कांग्रेस इकाई में सहमति नहीं बनने से जद-एस की चिंताएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। इस बीच पूर्व विधायक तथा जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता के. राजण्णा ने भी देवगौड़ा के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी बनने की चेतावनी दी है। बैठक में कांग्रेस के नेता होन्नगिरि गौड़ा, पूर्व विधायक शफी अहमद, शहर विधायक रफीक अहमद के साथ जिला तथा तहसील पंचायतों के सदस्य उपस्थित थे।


देवगौड़ा के समर्थन में नहीं करेंगे प्रचार
बैठक के बाद डॉ. शफी अहमद ने बताया कि जिले के कई पार्टी नेता, कार्यकर्ता देवगौड़ा के समर्थन में प्रचार करने के लिए तैयार नहीं हैं। इसकी जानकारी कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडूराव, उप मुख्यमंत्री डॉ. जी. परमेश्वर और दोनों दलों की समन्वयन समिति के अध्यक्ष सिद्धरामय्या को दी है।


इसके जिम्मेदार सिर्फ सिद्धरामय्या : गौड़ा
इस बीच सांसद मुद्दहनुमे गौड़ा ने कहा कि तुमकूरु संसदीय क्षेत्र जद-एस को देने के लिए कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धरामय्या पूरी तरह से जिम्मेदार हैं। उन्होंने सिद्धरामय्या को संगठन के लिए बेहद अहितकर बताते हुए कहा कि वे अब खुद को आलाकमान समझने लगे हैं।


नाराज मुद्दहनुमे गौड़ा ने कहा कि सबसे पहले उन्हें विधायक दल के नेता के पद से हटाया जाए। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि तुमकूरु से वे सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/janta-dal-s-s-politics-focused-family-a-manju-4326120/

नहीं मांगा था भाजपा से समर्थन : सुमालता


बेंगलूरु. मंड्या से निर्दलीय उम्मीदवार सुमालता अंबरीश ने कहा कि उन्होंने भाजपा से समर्थन नहीं मांगा था। मंड्या में भाजपा ने प्रत्याशी क्यों नहीं उतारा है, इसका जवाब बीएस येड्डियूरप्पा ही दे सकते हैं। इस समर्थन से उन्हें शक्ति मिली है।

उन्होंने रविवार को जेपी नगर स्थित निवास पर कहा कि गत एक सप्ताह से उन्हें चुनाव से हटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। भाजपा का समर्थन मिलने से उनके हौसले बुलंद हुए हैं। समर्थन की घोषणा के बाद भाजपा के नेता और कार्यकर्ता उनके समर्थन में प्रचार करने लगे हंै। भाजपा से समर्थन मिलने पर जनता दल-एस के विधायकों, नेताओं, कार्यकर्ताओं को परेशानी हो रही है।


समर्थकों पर झूठे मामले दर्ज किए
उन्होंने कहा कि शनिवार को कुमारस्वामी के एक कार्यक्रम के दौरान प्रशंसकों ने उनके समर्थन में नारे लगाए थे। उसी कारण सात प्रशंसकों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ दंगे भडक़ाने का झूठा मामला दर्ज किया गया है। हर दिन इसी तरह कई प्रशंसकों को गिरफ्तार कर झूठे मामले दर्ज किए गए हैं। अगर इसी तरह कानून का गलत इस्तेमाल हुआ तो मतदाता खामोश नहीं रहेंगे। कोई भी अप्रिया घटना हुई तो इसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी।

महिलाएं मत के रूप में दें आशीर्वाद
बेंगलूरु. भाजपा चिकबल्लापुर के तत्वावधान में महिला सम्मेलन रविवार को दोड्डबल्लापुर में हुआ। सम्मेलन की मुख्य अतिथि व लोकसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश सहप्रभारी किरण माहेश्वरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिलाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए बहुत कुछ किया है।

अब समय आ गया है कि महिलाएं मत के रूप में मोदी के हाथ मजबूत करें। माहेश्वरी ने कहा कि प्रधानमंत्री का उद्देश्य महिलाओं को स्वावलंबी बनाना है। सम्मेलन के दौरान चिकबल्लापुर से भाजपा प्रत्याशी बीएन बच्चेगौड़ा ने बुजुर्ग महिलाओं का वंदन किया। कार्यक्रम के दौरान भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश सचिव राघवेंद्र शेट्टी, भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष श्रुति, कविता अशोक, जिला अध्यक्ष वत्सला, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सरोजनी भारद्वाज ने भी विचार व्यक्त किए।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/bjp-did-not-ask-for-support-sumatya-4326108/

अब प्लास्टिक बोतल में मिलेगा ‘नंदिनी’ दूध


बेंगलूरु. कर्नाटक सहकारिता दुग्ध उत्पादक संघ (केएमएफ) ने ‘नंदिनी’ दूध को अब प्लास्टिक पाउच के बदले प्लास्टिक पीइटी बोतलों में भरकर बेचने को निर्णय किया है। केएमएफ की इस घोषणा ने पर्यावरणविदों को जोरदार झटका दिया है, जो प्लास्टिक को पर्यावरण के लिए गंभीर खतरा मानते हुए केएमएफ से प्लास्टिक के बदले अन्य वैकल्पिक पैकेजिंग सामग्री का इस्तेमाल करने की मांग लंबे अरसे से करते आ रहे हैं।

केएमएफ के विपणन निदेशक एमटी कुलकर्णी के अनुसार केएमएफ ने निकट भविष्य में पीइटी बोतलों में अपने सभी डेयरी उत्पादों को पैकेज करने की योजना बनाई है। वर्तमान में, फेडरेशन प्लास्टिक पाउच के माध्यम से हर दिन 38 लाख लीटर दूध बेचता है। पीइटी बोतलों के निर्माण के लिए हासन में एक नई विनिर्माण इकाई स्थापित होगी जिसकी दैनिक उत्पादन क्षमता ५ लाख होगी।


यह संयंत्र जुलाई या अगस्त में चालू होगा। उसके बाद चरणबद्ध तरीके से प्लास्टिक पाउच के बदले सभी उत्पादों को पीइटी बोतलों में पैक किया जाएगा। पीइटी बोतलें पॉलीथिलीन टेरेफ्थेलेट से मिश्रित उत्पाद होगा, जो एक खाद्य ग्रेड प्लास्टिक होगा और इसमें खाद्यान्न सामग्री को लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सकता है। साथ ही प्लास्टिक पाउच की तुलना में इसका पुनर्चक्रीकरण भी सरल है। कुलकर्णी ने कहा है कि भविष्य में हम पुनर्चक्रण इकाई स्थापित करने की योजना बना सकते हैं।


हालांकि केएमएफ ने फिलहाल सिर्फ पीइटी बोतलों पैकिंग की योजना बनाई है। उपयोग के बाद खाली बोतलों के संग्रहण और पुनर्चक्रण को लेकर केएमएफ की कोई स्पष्ट योजना नहीं होने के कारण पीइटी बोतलें बाद में सिर्फ कचरे का ढेर बनेंगी। पर्यावरणविदों का कहना है कि प्लास्टिक पाउच की तुलना में पीइटी बोतलों का उपयोग स्वागत योग्य है, लेकिन बोतलों का कचरे का ढेर में बदल जाना अंतत: पर्यावरण को ही नुकसान पहुंचाएगा। मौजूदा समय में भी नंदिनी दूध पाउच सबसे ज्यादा कचरा जनित का कारण है।


टेट्रापैक है पर्यावरण के अनुकूल
पर्यावरणविदों का मानना है कि डेयरी और खाद्यान उत्पादों की पैकेजिंग के लिए प्लास्टिक पाउच या बोतलों के बदले टेट्रापैक का इस्तेमाल पर्यावरण अनुकूल होगा। टेट्रापैक में कागज की अधिकता होती है, जिससे यह पुनर्चक्रण में ज्यादा कारगर और पर्यावरण के लिए कम नुकसानदेह साबित होता है। केएमएफ को भी पीइटी बोतलों के बदले टेट्रापैक को तरजीह देना चाहिए।

प्रभावी संग्रहण और पुनर्चक्रण की जरूरत
दुनिया के कई शहरों में दूध या डेयरी उत्पादों की दैनिक आपूर्ति पीइटी बोतलों में होती है, उन शहरों में इस्तेमाल के बाद खाली बोतलों को कचरा में नहीं फेंका जाता है। जानकारों का मानना है कि अगर केएमएफ भी खाली बोतलों का नियमित संग्रहण सुनिश्चित करे तो उसे पुनर्चक्रित कर दोबारा उपयोग किया जा सकता है। इससे एक ओर बोतलों का बेहतर इस्तेमाल होगा तो दूसरी ओर बेंगलूरु जैसे शहर में सैकड़ों टन प्लास्टिक कचरा स्वत: समाप्त हो जाएगा।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/nandini-milk-now-available-in-plastic-bottle-4326091/

दो दिवसीय जेपीपी जैन फेयर सफलतापूर्वक संपन्न


बेंगलूरु. जयमल जैन श्रावक संघ की ओर से आयोजित दो दिवसीय जेपीपी जैन फेयर का समापन रविवार को हुआ। श्रीरामपुरम मेट्रो स्टेशन के समीप जेपीपी समनी सेंटर में आयोजित फेयर में 55 स्टॉल्स लगाई गईं। उद्घाटन राजेन्द्र, महेंद्र नाहर ने किया। चैनराज गोटावत ने दीप प्रज्ज्वलित और अध्यक्ष मीठालाल मकाणा ने स्वागत किया।


सचिव कनक चौरडिय़ा ने बताया कि शिविर में जैन समाज की प्रतिभाओं-एंटरप्रेन्योर्स की एक्सक्लूसिव स्टॉल्स लगाई गई जिसमें इलेक्ट्रॉनिक अप्लायंसेज, लेडीज ऐसेसरीज, फर्नीचर व घरेलू जरूरतों के विभिन्न उत्पादों सहित विविध प्रकार के खाद्य पदार्थ शामिल रहे। इस अवसर पर निर्मल बोहरा, जेके महावीर, पृथ्वीराज लोढ़ा, उत्तमचंद खींचा, जसवंतराज बोहरा, कविता लुंकड़, अमिता नाहर व सुनीता गोटावत ने स्टॉलधारकों का उत्साहवर्धन किया। युवक परिषद के चेतन कोठारी एवं महावीर श्रीश्रीमाल ने आभार जताया।

सामायिक से सकारात्मक ऊर्जा का विकास
बेंगलूरु. राजाजीनगर स्थानक में धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए उप प्रवर्तक गौतममुनि ने कहा कि स्थानक और सामायिक हमारे जीवन में धर्म व समता भाव को जागृत करते हैं।


प्रतिदिन स्थानक आकर सामायिक करने से हममें सकारात्मक ऊर्जा का विकास होता है। स्थानक का सुंदर वातावरण हमारे जीवन में सदगुणों को स्थापित करते हुए जीवन को धन्य बनाते हंै। इससे पूर्व सागरमुनि ने कहा कि जिस प्रकार सूर्य हमारे जीवन में प्रकाश देता है, उसी प्रकार गुरु हमारे जीवन को ज्ञान से प्रकाशित करते हैं। गुरु हमारे जीवन को ज्ञान से आलोकित कर आनंद मंगल मार्ग दिखाते हैं। सामायिक दिवस के अवसर पर प्रार्थना किताब का विमोचन चेन्नई के प्रकाश मूथा परिवार की ओर से किया गया।


महिला मंडल ने विद्यालयों को दी आवश्यक सामग्री
बेंगलूरु. वर्धमान स्थानकवासी जैन महिला मंडल विजयनगर की ओर से रविवार को एक विद्यालय को आलमारी व दूसरे विद्यालय को फिजियोथैरेपी उपकरणों के लिए राशि भेंट की। मंडल अध्यक्ष कमला बाई बोहरा ने बताया कि राजकीय कन्नड़ हायर प्राइमरी स्कूल को आलमारी तथा कुमारा पार्क स्थित मनोविकास आश्रम में बच्चों के उपचार में काम आने वाले फिजियोथैरेपी उपकरणों के लिए नकद राशि दी। इस अवसर पर इन्द्रा बाई, मंजू बाई, किरण बाई व मंडल से जुड़ी अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थीं।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/two-day-jpp-jain-fair-successfully-concluded-4326080/

सामायिक से सकारात्मक ऊर्जा का विकास


बेंगलूरु. राजाजीनगर स्थानक में धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए उप प्रवर्तक गौतममुनि ने कहा कि स्थानक और सामायिक हमारे जीवन में धर्म व समता भाव को जागृत करते हैं। प्रतिदिन स्थानक आकर सामायिक करने से हममें सकारात्मक ऊर्जा का विकास होता है।

स्थानक का सुंदर वातावरण हमारे जीवन में सदगुणों को स्थापित करते हुए जीवन को धन्य बनाते हंै। इससे पूर्व सागरमुनि ने कहा कि जिस प्रकार सूर्य हमारे जीवन में प्रकाश देता है, उसी प्रकार गुरु हमारे जीवन को ज्ञान से प्रकाशित करते हैं। गुरु हमारे जीवन को ज्ञान से आलोकित कर आनंद मंगल मार्ग दिखाते हैं। सामायिक दिवस के अवसर पर प्रार्थना किताब का विमोचन चेन्नई के प्रकाश मूथा परिवार की ओर से किया गया।


महिला मंडल ने विद्यालयों को दी आवश्यक सामग्री
बेंगलूरु. वर्धमान स्थानकवासी जैन महिला मंडल विजयनगर की ओर से रविवार को एक विद्यालय को आलमारी व दूसरे विद्यालय को फिजियोथैरेपी उपकरणों के लिए राशि भेंट की।


मंडल अध्यक्ष कमला बाई बोहरा ने बताया कि राजकीय कन्नड़ हायर प्राइमरी स्कूल को आलमारी तथा कुमारा पार्क स्थित मनोविकास आश्रम में बच्चों के उपचार में काम आने वाले फिजियोथैरेपी उपकरणों के लिए नकद राशि दी। इस अवसर पर इन्द्रा बाई, मंजू बाई, किरण बाई व मंडल से जुड़ी अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थीं।


महंगे उपचार के खिलाफ कन्नड़ वैदिके का धरना
मैसूरु. बीपीएल कार्डधारकों के लिए सरकारी अस्पताल में नि:शुल्क उपचार योजना व केन्द्र सरकार प्रायोजित आयुष्मान भारत योजना को बंद करने के राज्य सरकार के निर्णय के रविवार को कन्नड़ वैदिके के सदस्यों ने सिविल अदालत के सामने गांधी प्रतिमा के समक्ष राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर धरना दिया।


वैदिके अध्यक्ष बालकृष्ण ने कहा कि राज्य सरकार के इस निर्णय के कारण गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को इलाज कराना महंगा पड़ रहा है। निजी व सरकारी अस्पतालों में उपचार करवाना एक समान हो गया है जो न्याय संगत नहीं है। राज्य सरकार से तुरंत इस संदर्भ में उचित कदम उठाने की मांग की गई। इस अवसर पर सिद्धगौड़ा, रवि, पैलेस बाबू, गुरु, गोपी, अरविंद, स्वामी, चन्द्रा आदि मौजूद रहे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/develop-positive-energy-from-shared-4326066/

महिला मंडल ने विद्यालयों को दी आवश्यक सामग्री


बेंगलूरु. वर्धमान स्थानकवासी जैन महिला मंडल विजयनगर की ओर से रविवार को एक विद्यालय को आलमारी व दूसरे विद्यालय को फिजियोथैरेपी उपकरणों के लिए राशि भेंट की। मंडल अध्यक्ष कमला बाई बोहरा ने बताया कि राजकीय कन्नड़ हायर प्राइमरी स्कूल को आलमारी तथा कुमारा पार्क स्थित मनोविकास आश्रम में बच्चों के उपचार में काम आने वाले फिजियोथैरेपी उपकरणों के लिए नकद राशि दी। इस अवसर पर इन्द्रा बाई, मंजू बाई, किरण बाई व मंडल से जुड़ी अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थीं।


महंगे उपचार के खिलाफ कन्नड़ वैदिके का धरना
मैसूरु. बीपीएल कार्डधारकों के लिए सरकारी अस्पताल में नि:शुल्क उपचार योजना व केन्द्र सरकार प्रायोजित आयुष्मान भारत योजना को बंद करने के राज्य सरकार के निर्णय के रविवार को कन्नड़ वैदिके के सदस्यों ने सिविल अदालत के सामने गांधी प्रतिमा के समक्ष राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर धरना दिया।


वैदिके अध्यक्ष बालकृष्ण ने कहा कि राज्य सरकार के इस निर्णय के कारण गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को इलाज कराना महंगा पड़ रहा है। निजी व सरकारी अस्पतालों में उपचार करवाना एक समान हो गया है जो न्याय संगत नहीं है। राज्य सरकार से तुरंत इस संदर्भ में उचित कदम उठाने की मांग की गई। इस अवसर पर सिद्धगौड़ा, रवि, पैलेस बाबू, गुरु, गोपी, अरविंद, स्वामी, चन्द्रा आदि मौजूद रहे।


कवि सम्मेलन: ‘घर में घुसकर मारा, मजा आ गया’
बेंगलूरु. जीतो का 13वां स्थापना दिवस कवि सम्मेलन के साथ पैलेस ग्राउंड के प्रिंसेस श्राइन में मनाया गया। शिक्षा क्षेत्र में आदर्श शिक्षण संस्थान के प्रेमराज भंसाली, सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाओं के लिए बाबूलाल रांका तथा खिलाड़ी के रूप में लवनित सिसोदिया को सम्मानित किया गया।


जेएटीएफ ट्रस्टी बने प्रमोद भंडारी, नरेंद्र सामर, पवन रांका, किरण गाला, विमल खिवंसरा, भेरूलाल भंडारी, यश राजेंद्र छाजेड़, तीन विशिष्ट सम्मान तथा 31 मुख्य संरक्षक का सम्मान जीतो अपैक्स के अध्यक्ष गणपत चौधरी, जेएटीएफ के चेयरमैन पृथ्वीराज कोठारी, तेजराज गुलेच्छा, महामंत्री अनिल जैन, कमलेश सोजतिया, मिलिंद शाह, ओमप्रकाश कानूनगो, ओमप्रकाश जैन, इंदर छाजेड़, प्रकाश सिंघवी, राजेन्द्र गांधी, राजेन्द्र जैन, जीतो बेंगलूरु चैप्टर के चेयरमैन श्रीपाल खिवंसरा, महामंत्री दिनेश बोहरा, जीतो प्लस के अध्यक्ष किरण गाला और महामंत्री ओम जैन ने किया।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/women-s-mandal-has-given-the-necessary-material-to-the-schools-4326053/

महंगे उपचार के खिलाफ कन्नड़ वैदिके का धरना


मैसूरु. बीपीएल कार्डधारकों के लिए सरकारी अस्पताल में नि:शुल्क उपचार योजना व केन्द्र सरकार प्रायोजित आयुष्मान भारत योजना को बंद करने के राज्य सरकार के निर्णय के रविवार को कन्नड़ वैदिके के सदस्यों ने सिविल अदालत के सामने गांधी प्रतिमा के समक्ष राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर धरना दिया।


वैदिके अध्यक्ष बालकृष्ण ने कहा कि राज्य सरकार के इस निर्णय के कारण गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को इलाज कराना महंगा पड़ रहा है। निजी व सरकारी अस्पतालों में उपचार करवाना एक समान हो गया है जो न्याय संगत नहीं है। राज्य सरकार से तुरंत इस संदर्भ में उचित कदम उठाने की मांग की गई। इस अवसर पर सिद्धगौड़ा, रवि, पैलेस बाबू, गुरु, गोपी, अरविंद, स्वामी, चन्द्रा आदि मौजूद रहे।


कवि सम्मेलन: ‘घर में घुसकर मारा, मजा आ गया’
बेंगलूरु. जीतो का 13वां स्थापना दिवस कवि सम्मेलन के साथ पैलेस ग्राउंड के प्रिंसेस श्राइन में मनाया गया। शिक्षा क्षेत्र में आदर्श शिक्षण संस्थान के प्रेमराज भंसाली, सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाओं के लिए बाबूलाल रांका तथा खिलाड़ी के रूप में लवनित सिसोदिया को सम्मानित किया गया।


जेएटीएफ ट्रस्टी बने प्रमोद भंडारी, नरेंद्र सामर, पवन रांका, किरण गाला, विमल खिवंसरा, भेरूलाल भंडारी, यश राजेंद्र छाजेड़, तीन विशिष्ट सम्मान तथा 31 मुख्य संरक्षक का सम्मान जीतो अपैक्स के अध्यक्ष गणपत चौधरी, जेएटीएफ के चेयरमैन पृथ्वीराज कोठारी, तेजराज गुलेच्छा, महामंत्री अनिल जैन, कमलेश सोजतिया, मिलिंद शाह, ओमप्रकाश कानूनगो, ओमप्रकाश जैन, इंदर छाजेड़, प्रकाश सिंघवी, राजेन्द्र गांधी, राजेन्द्र जैन, जीतो बेंगलूरु चैप्टर के चेयरमैन श्रीपाल खिवंसरा, महामंत्री दिनेश बोहरा, जीतो प्लस के अध्यक्ष किरण गाला और महामंत्री ओम जैन ने किया।


दीप प्रज्वलन से आरंभ कार्यक्रम में श्रीपाल खींवसरा ने स्वागत किया। दिनेश बोहरा ने डिजिटल माध्यम से जीतो के सेवा कार्यों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया। स्थापना दिवस कार्यक्रम संयोजक महावीर खांटेड़ थे। मुख्य वक्ता गणपत चौधरी ने जीतो बेंगलूरु को सर्वश्रेष्ठ इकाई की उपमा दी। दीपक श्रीश्रीमाल और किनारी सोलंकी ने संचालन किया।


जीतो के सहमंत्री सज्जनराज मेहता ने बताया कि कवि सुनील जोगी के नेतृत्व में काव्यपाठ शुरू हुआ। प्रशांत ने ‘ऊंच नीच दूरकर प्रेम को दिलो में भरकर देश का बढ़ाया स्वाभिमान को प्रणाम है...कविता प्रस्तुत की। अनामिका अम्बर ने वायुसेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर में की गई एयर स्ट्राइक को आधार बनाकर अपनी रचना प्रस्तुत की। ‘जिसने पंगा किया, उनको घर में घुसकर के मजा आ गया’ प्रस्तुत कर श्रोताओं में जोश भर दिया। आशीष अनल, डॉ. सुनील जोगी, जगदीश सोलंकी आदि ने अपनी रचनाएं प्रस्तुत की।

नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर संपन्न
मंड्या. रोटरी क्लब बन्नूर, नारायण हृदयालय मैसूरुके तत्वावधान में बन्नूर गांव के रोटरी क्लब स्कूल में रविवार को स्वास्थ्य जांच शिविर लगाया गया। डॉ. रमेश व डॉ. जयराम और उनकी टीम ने शुगर, बीपी, घुटनों में दर्द की जांच कर परामर्श दिया। देर शाम तक चले शिविर बन्नूर गांव अलावा आस-पास गांवों से 327 लोगों ने लाभ लिया। रोटरी क्लब के अध्यक्ष एन. एम. रामचंद्रु, उपाध्यक्ष महेन्द्र सिंह राजपुरोहित, कोषाध्यक्ष माणकचंद काग, बी.एन. सुरेश, नागराज मौजूद थे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/kannada-vedika-rampage-against-expensive-treatment-4326041/

कवि सम्मेलन: ‘घर में घुसकर मारा, मजा आ गया’


बेंगलूरु. जीतो का 13वां स्थापना दिवस कवि सम्मेलन के साथ पैलेस ग्राउंड के प्रिंसेस श्राइन में मनाया गया। शिक्षा क्षेत्र में आदर्श शिक्षण संस्थान के प्रेमराज भंसाली, सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाओं के लिए बाबूलाल रांका तथा खिलाड़ी के रूप में लवनित सिसोदिया को सम्मानित किया गया।


जेएटीएफ ट्रस्टी बने प्रमोद भंडारी, नरेंद्र सामर, पवन रांका, किरण गाला, विमल खिवंसरा, भेरूलाल भंडारी, यश राजेंद्र छाजेड़, तीन विशिष्ट सम्मान तथा 31 मुख्य संरक्षक का सम्मान जीतो अपैक्स के अध्यक्ष गणपत चौधरी, जेएटीएफ के चेयरमैन पृथ्वीराज कोठारी, तेजराज गुलेच्छा, महामंत्री अनिल जैन, कमलेश सोजतिया, मिलिंद शाह, ओमप्रकाश कानूनगो, ओमप्रकाश जैन, इंदर छाजेड़, प्रकाश सिंघवी, राजेन्द्र गांधी, राजेन्द्र जैन, जीतो बेंगलूरु चैप्टर के चेयरमैन श्रीपाल खिवंसरा, महामंत्री दिनेश बोहरा, जीतो प्लस के अध्यक्ष किरण गाला और महामंत्री ओम जैन ने किया।


दीप प्रज्वलन से आरंभ कार्यक्रम में श्रीपाल खींवसरा ने स्वागत किया। दिनेश बोहरा ने डिजिटल माध्यम से जीतो के सेवा कार्यों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया। स्थापना दिवस कार्यक्रम संयोजक महावीर खांटेड़ थे। मुख्य वक्ता गणपत चौधरी ने जीतो बेंगलूरु को सर्वश्रेष्ठ इकाई की उपमा दी। दीपक श्रीश्रीमाल और किनारी सोलंकी ने संचालन किया।


जीतो के सहमंत्री सज्जनराज मेहता ने बताया कि कवि सुनील जोगी के नेतृत्व में काव्यपाठ शुरू हुआ। प्रशांत ने ‘ऊंच नीच दूरकर प्रेम को दिलो में भरकर देश का बढ़ाया स्वाभिमान को प्रणाम है...कविता प्रस्तुत की। अनामिका अम्बर ने वायुसेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर में की गई एयर स्ट्राइक को आधार बनाकर अपनी रचना प्रस्तुत की। ‘जिसने पंगा किया, उनको घर में घुसकर के मजा आ गया’ प्रस्तुत कर श्रोताओं में जोश भर दिया। आशीष अनल, डॉ. सुनील जोगी, जगदीश सोलंकी आदि ने अपनी रचनाएं प्रस्तुत की।

नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर संपन्न
मंड्या. रोटरी क्लब बन्नूर, नारायण हृदयालय मैसूरुके तत्वावधान में बन्नूर गांव के रोटरी क्लब स्कूल में रविवार को स्वास्थ्य जांच शिविर लगाया गया। डॉ. रमेश व डॉ. जयराम और उनकी टीम ने शुगर, बीपी, घुटनों में दर्द की जांच कर परामर्श दिया। देर शाम तक चले शिविर बन्नूर गांव अलावा आस-पास गांवों से 327 लोगों ने लाभ लिया। रोटरी क्लब के अध्यक्ष एन. एम. रामचंद्रु, उपाध्यक्ष महेन्द्र सिंह राजपुरोहित, कोषाध्यक्ष माणकचंद काग, बी.एन. सुरेश, नागराज मौजूद थे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/poet-conference-go-home-hit-it-4326031/

रुपए भी गए, जान भी गई


 

हुब्बल्ली. धारवाड़ में बहुमंजिला इमारत गिरने से 15 जनों की मौत होने के साथ इस इमारत में दुकान लेने वाले परिवारों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। ढही इमारत में कई दुकानें भी संचालित हो रही थीं। भवन ढहने से वे दुकानें भी जमींदोज हो गईं। साथ ही कई दुकानदारों की जिन्दगी भी फना हो गई। इस भवन में दुकान लेने वाले परिवारों के दुखों का पार नहीं है।


ढहे भवन के ग्राउण्ड फ्लोर तथा प्रथम मंजिल पर कई कार्यालय, होटल, मेडिकल स्टोर, इंटरनेट सेंटर आदि संचालित होते थे। इन सभी ने सीधे तौर पर भवन मालिकों को रुपए देकर दुकानों को किराए पर प्राप्त किया था। सूत्रों के अनुसार ग्राउण्ड फ्लोर पर स्थित होटल के मालिक मासिक छह हजार रुपए के हिसाब से किराया दे रहे थे और उन्होंने दस माह की अग्रिम राशि भी दी थी।

इसी प्रकार अपोलो मेडिकल स्टोर कंपनी ने सीधे तौर पर इस भवन के मालिकों के साथ समझौता कर दुकान को किराए पर प्राप्त किया था। जिला प्रशासन को प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राउण्ड फ्लोर तथा प्रथम मंजिल पर स्थित 35 से भी अधिक स्टालों का किराए के लिए समझौता किया गया था।


कुछ लोगों का कहना है कि संबंधित मंजिलों पर स्थित दुकानों को वर्गफीट के आधार पर खरीदा गया था। प्रति वर्गफीट के लिए छह हजार रुपए के हिसाब से दुकानों की बिक्री की गई थी परन्तु इस बारे में किसी भी दुकानदार ने जिला प्रशासन को अब तक अधिकृत जानकारी नहीं दी और कुछ लोगों ने दुकानों को खरीदकर दूसरों को किराए पर दिया था।

करीब आधा दर्जन दुकानों को मालिकों से खरीदकर किराए पर देने की जानकारी मिली है। अपने परिवारों को पेट पालने के लिए पसीना बहाकर अर्जित की राशि देकर दुकान खरीदने वाले मध्यम वर्ग के लोगों की पीड़ा का कोई अनुमान भी नहीं कर सकता। उनके लिए उनकी राशि भी गई और कई की जान भी गई।

अपने प्राणों की चिंता किए बिना बचाई 17 लोगों की जान
हुब्बल्ली. धारवाड़ में पिछले मंगलवार को निर्माणाधीन इमारत ढहने के तुरंत बाद कई लोगों ने अपनी जान की परवाह किए बिना इमारत के मलबे में फंसे लोगों को बचाया है। इनमें एक व्यक्ति ने बचाव कर्मियों के आने से पहले ही 17 जनों को मलबे से बाहर निकालने के साथ साहस का परिचय दिया है।


इमारत गिरने की सूचना मिलते ही दमकल दल के कर्मचारी पुलिस मौके पर पहुंचे थे। इसके बाद एसडीआरएफ तथा एनडीआरएफ के कर्मचारी बचाव कार्य में जुट गए। बचाव कर्मियों के साथ बसवराज जाधव नामक व्यक्ति ने इमारत के मलबे में घुसकर वहां फंसे लोगों को बचाया है। इनके साहस की लोगों ने सराहना की है।


पिछले पांच दिनों से इमारत के मलबे में फंसे लोगों को बचाने का कार्य लगातार जारी है। इसके चलते मलबे में फंसे वाघू, नवलु तथा सहदेव नामक व्यक्तियों के परिजन तथा रिश्तेदार मौके पर ही डेरा डाले अपनों का इंतजार कर रहे हैं।

 


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/rupees-got-too-4325922/

मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा, हादसा सरकार के लिए बड़ा सबक


हुब्बल्ली. राज्य के जल संसाधन मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा है कि धारवाड़ के कुमारेश्वर नगर में स्थित बहुमंजिला इमारत गिरने का मामला राज्य सरकार के लिए बड़ा सबक है। धारवाड़ में शनिवार को हादसा स्थल का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंत्री शिवकुमार ने कहा कि इस बारे में सभी को व्यापक चर्चा करनी चाहिए।

खासतौर पर सरकार के सभी अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों को चर्चा करनी चाहिए। नवनिर्माण करवाने वाले तथा निर्मित भवनों की सुरक्षा प्रमाण पत्र एवं फिटनेस की समीक्षा होनी चाहिए। यह ग्रामीण में हो सकता है। शहरी विकास विभाग की ओर से होना चाहिए। किसी की गलती का आज इतने लोगों ने अपनी जान देकर $खमियाजा चुकाया है। इसके लिए कौन जिम्मेदार हैं। इस भवन के मालिकों को लिप्तता के बारे में चर्चा होनी चाहिए। हमारी व्यवस्था में हममें जो अनुभव है इसी के चलते इस बात को कह रहा हूं।

कानून में संशोधन लाकर सभी भवनों के फिटनेस प्रमाण पत्र आयोजित करना चाहिए। जरूरी कई स्कूल भवनों की भी समीक्षा करनी चाहिए। निजी भवनों के लिए इलेक्ट्रिकल वायर की समीक्षा के तहत किस मंजिल के भवन, कौन सा सीमेंट, लोहा, कितने गेज का इस्तेमाल किया गया है आदि की समीक्षा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अधिकारियों की जिम्मेदारी निर्धारित करनी चाहिए। एम सैण्ड माफिया हमारे कार्यक्षेत्र में नहीं आता है। इस बारे में भी व्यापक विचार कर कानून लाने पर विचार किया जाएगा।


किसी के बारे में हम क्या कहें
हुब्बल्ली हवाई अड्डे पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा कि कौन क्या क्या कह रहा है उससे हम क्या कह सकते हैं। राज्य में फिर से डायरी मुद्दे का जिक्र होने से अत्यधिक चर्चाएं हो रही हैं। इसके चलते कई नेता बयानबाजी कर रहे हैं। डायरी मामले में हर कोई बयान दे रहे हैं परन्तु हम न्याय का सम्मान करते हैं। इस बारे में अभी कुछ नहीं कहूंगा। मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा कि सीएस शिवल्ली हमारे अच्छे मित्र थे। एक साथ राजनीति में आए थे। वे आमजनता के नेता थे। वे मित्रता व सरलता के लिए जाने जाते थे। भगवान उनकी आत्मा को शांति दें। साथ ही उनके प्रशंसकों, समर्थकों तथा परिजनों को उनकी कमी से उभरने की शक्ति दें।

दो आरोपी अस्पताल में, दो पुलिस हिरासत में
धारवाड़. कुमारेश्वर नगर बहुमंजिला इमारत हादसा मामले में पुलिस के समक्ष समर्पण करने वाले चारों भवन मालिकों में से दो को न्यायाधीश ने पुलिस हिरासत में जबकि दो को उनकी वृद्धावस्था व बीमारियों के मद्देनजर अस्पताल भेजने का आदेश दिया।


भवन गिरते ही उसके चार मालिक गंगप्पा शित्रे, बसवराज निगदी, रवि सबरद तथा महाबलेश्वर पुरदनगुडी घबरा कर फरार हो गए थे। हालात थोड़ा शांत होते ही तीन दिन बाद इमारत के चारों मालिक गुरुवार देर रात्रि धारवाड़ के उपनगर थाने में पेश हुए।


उपनगर थाना पुलिस शुक्रवार देर रात्रि चारों को हिरासत में लेकर अस्पताल ले गई और उनके स्वास्थ्य की जांच कराने के बाद चारों को न्यायाधीश के घर ले जाकर उनके सामने पेश किया था। इमारत गिरने के मामले में 15 लोगों की मृत्यु हुई तथा 54 जने गंभीर रूप से घायल होने के चलते भवन मालिकों से अधिक पूछताछ करने की जरूरत होने से पुलिस ने चारों को पुलिस हिरासत में देने की मांग की थी। पुलिस की मांग पर न्यायाधीश ने भवन मालिक एवं पूर्व मंत्री विनय कुलकर्णी के रिश्तेदार गंगप्पा शिंत्रे तथा बसवराज निगदी को बढ़ती उम्र की बीमारी के मद्देनजर किम्स अस्पताल में भर्ती करने के निर्देश दिए।


इसके अलावा और दो आरोपी रवि सबरद तथा महाबलेश्वर पुरदनगुडी को चार दिन की पुलिस हिरासत में भेजने के आदेश जारी किए। दो आरोपी गंगप्पा शिंत्रे तथा बसवराज निगदी को हुब्बल्ली के किम्स अस्पताल में भर्ती किया गया है तथा रवि सबरद व महाबलेश्वर पुरगुडी को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।


इमारत के अभियंता विवेक पवार को पुलिस पहले ही हिरासत ले चुकी थी जिसे 25 मार्च तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/minister-dk-shivkumar-said-a-big-lesson-for-the-accident-government-4325898/

गठबंधन धर्म नहीं मानने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई: सारा महेश


बेंगलूरु. पर्यटन मंत्री एसआर महेश ने कहा कि कांग्रेस और जद (एस) गठबंधन के शीर्ष नेताओं के बीच हुए करार के मुताबिक दोनों पक्षों के नेता संयुक्त चुनावी अभियान चलाएंगे। संवाददाताओं से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों दलों के कार्यकर्ता अनुशासित ढंग से चुनाव प्रचार चलाएंगे और गठबंधन की जीत सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि मंड्या से निखिल गौड़ा जद-एस के उम्मीदवार होंगे वहीं, चामराजनगर से कांग्रेस के धु्रवनारायण व मैसूरु से विजयशंकर उम्मीदवार होंगे। कहीं अंतर्विरोध होगा तो उसे कड़ाई से निपटा जाएगा।

केआर नगर के कांग्रेस नेताओं द्वारा सुमालता को समर्थन दिए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस नेताओं के संज्ञान में लाया गया है और सिद्धरामय्या ने इस मामले को सुलझाने को भरौसा भी दिलाया है। असली समस्या ओल्ड मैसूरु क्षेत्र में है क्योंकि यहां दोनों दल एक-दूसरे पर भरोसा कर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि मसला सुलझा लिया जाएगा और निखिल गौड़ा और विजयशंकर दोनों भारी मतों के अंतर से चुनाव जीतेंगें।

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या और जिला प्रभारी मंत्री जीटी देवेगौड़ा एक साथ सार्वजनिक सभाओं में भाग लेंगे। जद-एस के शीर्ष नेताओं ने मंत्रियों, विधायकों को गठबंधन धर्म निभाने का निर्देश दिया है। किसी क्षेत्र में गठबंधन उम्मीदवार को उम्मीदों के अनुरूप मत नहीं मिलते हैं तो उस क्षेत्र के नेता के जिम्मेदार होंगे। जो नेता भी गठबंधन धर्म नहीं मानेगा उसे पहले चेतावनी दी जाएगी और फिर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दोनों ही दल इस अनुशासन को अपनाएंगे।

फ्लाइंग स्क्वाड ने जब्त की तीन लाख की राशि
हुब्बल्ली. लोकसभा चुनाव के चलते आचार संहिता जारी है। बिना दस्तावेज के ले जा रहे तीन लाख 52 हजार रुपए को फ्लाइंग स्क्वाड के अधिकारियों ने जब्त किया है। हुब्बल्ली हवाई अड्डे पर फ्लाइंग स्क्वाड के अधिकारी पी. नागेश के नेतृत्व के दस्ते ने कार्रवाई कर तलाशी ली तो तलाशी के दौरान यह राशि मिली। राजस्थान मूल के हिंदूराम देवासी राशि इस राशि को ले जा रहे थे, जिन्हें हिरासत में लिया गया है। इस संबंध में गोकुल रोड थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/alliance-will-act-against-those-who-do-not-believe-in-religion-4325876/

सिद्धरामय्या ने दी चुनौती, मोदी सच्चे तो डायरी मामला लोकपाल को सौंपें


हुब्बल्ली. पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यदि सच्चे हैं तो उन्हें भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा के डायरी मामले को जांच के लिए लोकपाल को सौंपना चाहिए। हुबली हवाई अड्डे पर पत्रकारों से बातचीत में सिद्धरामय्या ने कहा कि केंद्र में आपकी ही सरकार है।

सच्चे हो तो आपमें घबराहट क्यों है। चोर मन होने से इस प्रकार बयान दे रहे हैं। ईमानदार हो तो इस मामले को लोकपाल को सौंपना चाहिए। उन्होंने कहा कि तुमकूरु लोकसभा सीट से टिकट नहीं मिलने से सांसद मुद्देहनुमेगौड़ा नाराज हैं। उनके निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लडऩे के संबंध में उनके साथ बातचीत कर समस्या का समाधान किया जाएगा।

राज्य के मंत्री सीएस शिवल्ली की मृत्यु पर शोक जताते हुए सिद्धरामय्या ने कहा कि शिवल्ली ईमानदार, सरल एवं सज्जन राजनेता थे। शिवल्ली से उनका वर्षों से परिचय था। तीन बार विधायक बनने वालों को इस बार मंत्री बनाया गया था। वे इतनी जल्दी वे हमसे दूर चले जाएंगे ऐसा नहीं लगा था। शिवल्ली के निधन से इस भाग में पार्टी को भारी नुकसान हुआ है।

गठबंधन धर्म नहीं मानने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई: सारा महेश
बेंगलूरु. पर्यटन मंत्री एसआर महेश ने कहा कि कांग्रेस और जद (एस) गठबंधन के शीर्ष नेताओं के बीच हुए करार के मुताबिक दोनों पक्षों के नेता संयुक्त चुनावी अभियान चलाएंगे। शुक्रवार को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों दलों के कार्यकर्ता अनुशासित ढंग से चुनाव प्रचार चलाएंगे और गठबंधन की जीत सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि मंड्या से निखिल गौड़ा जद-एस के उम्मीदवार होंगे वहीं, चामराजनगर से कांग्रेस के धु्रवनारायण व मैसूरु से विजयशंकर उम्मीदवार होंगे। कहीं अंतर्विरोध होगा तो उसे कड़ाई से निपटा जाएगा।

केआर नगर के कांग्रेस नेताओं द्वारा सुमालता को समर्थन दिए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस नेताओं के संज्ञान में लाया गया है और सिद्धरामय्या ने इस मामले को सुलझाने को भरौसा भी दिलाया है। असली समस्या ओल्ड मैसूरु क्षेत्र में है क्योंकि यहां दोनों दल एक-दूसरे पर भरोसा कर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि मसला सुलझा लिया जाएगा और निखिल गौड़ा और विजयशंकर दोनों भारी मतों के अंतर से चुनाव जीतेंगें।

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या और जिला प्रभारी मंत्री जीटी देवेगौड़ा एक साथ सार्वजनिक सभाओं में भाग लेंगे। जद-एस के शीर्ष नेताओं ने मंत्रियों, विधायकों को गठबंधन धर्म निभाने का निर्देश दिया है। किसी क्षेत्र में गठबंधन उम्मीदवार को उम्मीदों के अनुरूप मत नहीं मिलते हैं तो उस क्षेत्र के नेता के जिम्मेदार होंगे। जो नेता भी गठबंधन धर्म नहीं मानेगा उसे पहले चेतावनी दी जाएगी और फिर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दोनों ही दल इस अनुशासन को अपनाएंगे।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/modi-s-true-diary-handed-over-to-the-lokpal-4325860/

अधिकारियों ने आंख मूंद कर दिया अनापत्ति प्रमाणपत्र


हुब्बल्ली. उपमुख्यमंत्री डॉ. जी. परमेश्वर ने कहा है कि धारवाड़ के कुमारेश्वर नगर में चार दिन पूर्व हुआ भवन हादसा भवन अभियंता तथा मालिकों की लापरवाही से हुआ। बिना किसी समीक्षा के अधिकारियों ने एनओसी दी है। प्लानिंग की जांच नहीं की। भवन निर्माण के दौरान सुरक्षा कार्रवाई करनी चाहिए थी परन्तु कर्तव्य में लापरवाही नजर आने के चलते हुब्बल्ली-धारवाड़ महानगर निगम के सात अधिकारियों को निलंबित किया गया है।

उपमुख्यमंत्री डॉ. परमेश्वर, शनिवार दोपहर को धारवाड़ के बहुमंजिला इमारत गिरने के स्थल का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि इस हादसे में अब तक 15 जनों की मृत्यु हुई है और अब तक 57 जनों की रक्षा कर विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया गया है। मृतकों की मृत्यु पर दु:ख व्यक्त करते हैं। उनके परिजनों के दुख में हम साथ हैं। मुआवजा तथा उचित इलाज के खर्च का वहन करेंगे।


उन्होंने कहा कि इस मामले के संबंध में अभी तक पांच जनों को गिरफ्तार किया गया है। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, दमकल दल के कर्मचारी तथा स्थानीय निवासी बचाव कार्य में शामिल हैं। नए भवन निर्माण के लिए कठिन नियमों का गठन कर शीघ्र ही नए कानून को लागू किया जाएगा। आगामी दिनों में नए नियम बनाए जाएंगे। किस विभाग को साथ लेकर कानून का गठन करना चाहिए इस बारे में चर्चा कर एनओसी देने के निर्देश दिए जाएंगे।


दमकल दस्ते की जानकारी के अनुसार एक सप्ताह पूर्व ही निर्देश दिए जाने पर भी भवन मालिक तथा अभियंता ने लापरवाही बरती है। अगर उन्होंने कार्रवाई की होती तो इस हादसे को टाला जा सकता था। दोषी जो कई भी हो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस बारे में किसी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरती जाएगी।


दो आरोपी अस्पताल में, दो पुलिस हिरासत में
धारवाड़. कुमारेश्वर नगर बहुमंजिला इमारत हादसा मामले में पुलिस के समक्ष समर्पण करने वाले चारों भवन मालिकों में से दो को न्यायाधीश ने पुलिस हिरासत में जबकि दो को उनकी वृद्धावस्था व बीमारियों के मद्देनजर अस्पताल भेजने का आदेश दिया।


भवन गिरते ही उसके चार मालिक गंगप्पा शित्रे, बसवराज निगदी, रवि सबरद तथा महाबलेश्वर पुरदनगुडी घबरा कर फरार हो गए थे। हालात थोड़ा शांत होते ही तीन दिन बाद इमारत के चारों मालिक गुरुवार देर रात्रि धारवाड़ के उपनगर थाने में पेश हुए।


उपनगर थाना पुलिस शुक्रवार देर रात्रि चारों को हिरासत में लेकर अस्पताल ले गई और उनके स्वास्थ्य की जांच कराने के बाद चारों को न्यायाधीश के घर ले जाकर उनके सामने पेश किया था। इमारत गिरने के मामले में 15 लोगों की मृत्यु हुई तथा 54 जने गंभीर रूप से घायल होने के चलते भवन मालिकों से अधिक पूछताछ करने की जरूरत होने से पुलिस ने चारों को पुलिस हिरासत में देने की मांग की थी। पुलिस की मांग पर न्यायाधीश ने भवन मालिक एवं पूर्व मंत्री विनय कुलकर्णी के रिश्तेदार गंगप्पा शिंत्रे तथा बसवराज निगदी को बढ़ती उम्र की बीमारी के मद्देनजर किम्स अस्पताल में भर्ती करने के निर्देश दिए।


इसके अलावा और दो आरोपी रवि सबरद तथा महाबलेश्वर पुरदनगुडी को चार दिन की पुलिस हिरासत में भेजने के आदेश जारी किए। दो आरोपी गंगप्पा शिंत्रे तथा बसवराज निगदी को हुब्बल्ली के किम्स अस्पताल में भर्ती किया गया है तथा रवि सबरद व महाबलेश्वर पुरगुडी को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।


इमारत के अभियंता विवेक पवार को पुलिस पहले ही हिरासत ले चुकी थी जिसे 25 मार्च तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/officers-blindfolded-no-objection-certificate-4325849/

शिशु ऑडियो परीक्षण केंद्र सेवा शुरू


बल्लारी. शहर के जिला अस्पताल में स्थित नवजात शिशु देखभाल अनुभाग इकाई में नवजात शिशु ऑडियो परीक्षण केंद्र की सेवा शुरू की गई है। तीन माह तक के शिशुओं को मूक-बधिर होने से बचाने के लिए इस नवजात शिशु श्रवण सेवा केंद्र की शुरुआत की गई है। ये सेवा-बसम्मा हियरिंग फाउंडेशन बल्लारी तथा लायन्स क्लब की ओर से शुरू की गई है।


सेवा केंद्र की इकाई का उद्घाटन बसम्मा हियरिंग फाउंडेशन के अध्यक्ष बसवराज बी. तथा लायन्स क्लब के अरविंद पाटील ने की। बसम्मा हियरिंग फाउंडेशन की स्थापना इंग्लैंड में रह रहे नाक, कान, गला चिकित्सा विशेषज्ञ बल्लारी के डॉ. श्रीशैल. बी. ने अपनी माता की याद में की है।

इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य तथा परिवार कल्याण अधिकारी डॉ. शिवराज हेडे ने कहा कि तीन महीने के बच्चे का यदि समय रहते इलाज करवाया जाए तो उसे मूक बधिर होने से बचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में नवजात शिशु श्रवण केंद्र की सेवा का लाभ अधिक से अधिक लोगों को उठाना चाहिए। जिला शल्य चिकित्सक डॉ. एन. बसरेड्डी ने कहा कि एक हजार बच्चों में ५ से ६ बच्चे ऐसे होते हैं जो ठीक तरह से सुन नहीं पाते।

केरल से लगे जिले हाई अलर्ट पर
बेंगलूरु. वेस्ट नील वायरस से केरल में एक सात साल के बच्चे की मौत के बाद स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने विशेष कर केरल से सटे जिलों सहित प्रदेश भर में अलर्ट जारी किया है। विभाग इस पर नजर बनाए हुए है।


चूंकि यह वायरस मच्छरों के काटने से फैलता है। इसलिए सावधानी बरतने की जरूरत है। यह वायरस पक्षी से लेकर इंसान तक को चपेट में लेने की क्षमता रखता है। वायरस क्यूलेक्स नाम के मच्छर के काटने से फैलता है। हालांकि वायरस का शुरुआती सोर्स वेस्ट नील पक्षी है। पक्षी से मच्छर और मच्छर से इंसान तक यह वायरस पहुंचता है। इंसानों को इससे बचाने के लिए कोई टीका नहीं है। 

राष्ट्रीय मच्छर जनित बीमारी नियंत्रण कार्यक्रम के संयुक्त निदेशक डॉ. एस. सज्जन शेट्टी ने बताया कि मैसूरु, चामराजनगर, कोड़ुगू और दक्षिण जिले को एहतियातन हाई अलर्ट पर रखा गया है। लेकिन चिंता वाली बात नहीं है, क्योंकि इस वायरस से गंभीर परिस्थितियां पैदा होने की संभावना बेहद कम है।


गत वर्ष जनवरी में दक्षिण कन्नड़ जिले में वेस्ट नील वायरस के एक संदिग्ध मरीज की पुष्टि हुई थी। उचित उपचार के बाद मरीज ठीक हो गया था। चिकित्सकों का कहना है कि इस वायरस को लेकर विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है, क्योंकि ज्यादातर मामलों में कोई विशेष लक्षण नहीं दिखते हैं।

सिर दर्द, बुखार, थकान, शरीर में दर्द, उल्टी, त्वचा पर लाल चकते और मांसपेशियों में कमजोरी इसके शुरुआती लक्षण हो सकते हैं। गंभीर मामलों में गर्दन में अकडऩ, तेज बुखार, मानसिक असंतुलन और कोमा में जाने जैसी स्थिति पैदा हो सकती है। लेकिन १५० में से एक मरीज में ही इसकर संभावना होता है।


Click here to Read full Details Sources @ https://www.patrika.com/bangalore-news/infant-audio-testing-center-service-start-4325832/

SHARE THIS


Subscribe via Email


Explore Jobs/Opportunities
West Bengal Jobs / Opportunities / Career
Sarkari Naukri Jobs / Opportunities / Career
Assam Jobs / Opportunities / Career
Explore Articles / Stories
Education
Government Schemes
News
Career
Admit Card
Study Material
Bihar
State Government Schemes
Technology
DATA
Public Utility Forms
Travel
Sample Question Paper
Exam Result
Employment News
Scholorship
Business
Astrology
Syllabus
Festival
Explore more
Main Page
Register / Login
Like our Facebook Page
Follow on Twitter
Subscrive Our Newsletter Via Nuzzle
Get Updates Via Rss Feed
Sarkari Niyukti
Free Online Practice Set
Latest Jobs
Feed contents
Useful Links
Photo
Video
Post Jobs
Post Contents
Supremedeal : India Business Directory
Find IFSC Code
Find Post Office / Pincode
Contact us
Best Deal

Disclaimer: we only provide job information. we are not associated with any job website. Although we take extreme care for accuracy of the information provided, but you must check the authenticity of the website before applying for the job. We are not responsible for your operation , once you leave our website and apply thereafter. Please recheck the genuineness of the job website from yourself also.

Copyright © 2018. Website template by WebThemez.com