Danik Bhaskar National News #educratsweb
HOME | LATEST JOBS | JOBS | CONTENTS | STUDY MATERIAL | CAREER | NEWS | BOOK | VIDEO | PRACTICE SET REGISTER | LOGIN | CONTACT US
Redirect to http://bharatpages.in/feedviewer.php?id=5&qq=&utm_source=educratsweb

Danik Bhaskar National News

https://www.bhaskar.com/rss-feed/2322/ 👁 113659

10 में से 9 एग्जिट पोल्स ने एनडीए को स्पष्ट बहुमत दिया, भाजपा गठबंधन को औसत 304 सीटें मिल सकती हैं


नई दिल्ली. रविवार को आए लोकसभा चुनाव के10 में से 9 एग्जिट पोल्स में एनडीए को स्पष्ट बहुमत मिलने का अनुमान जताया गया है। वहीं, यूपीए को पिछली बार से दोगुनी सीटें मिलने के आसार हैं। 5एग्जिट पोल्स में कहा गया है किएनडीए को 300 से ज्यादा सीटें मिल सकती हैं।10 एग्जिट पोल्स में एनडीए को दी गई सीटों का औसत 304 आता है। वहीं, यूपीए को दी गई सीटों का औसत 119 है। 2014 में एनडीए को 336, यूपीए को 60 और अन्य को 147 सीटें मिली थीं।

दो सबसे चर्चित राज्य : उत्तर प्रदेश और बंगाल
उत्तर प्रदेश में भाजपा और अपना दल ने पिछली बार 80 में से 73 सीटें जीती थीं। इस बार एग्जिट पोल्स में उसे न्यूनतम 22 और अधिकतम 68 सीटें दी गई हैं। वहीं, किसी भी एग्जिट पोल में बंगाल में भाजपा को 10 से कम सीटें नहीं दी गई हैं। भाजपा ओडिशा में नवीन पटनायक के गढ़ में सेंध लगा सकती है। वहीं, तमिलनाडु में अन्नाद्रमुक-भाजपा के मुकाबले कांग्रेस-द्रमुक के नेतृत्व वाले गठबंधन को ज्यादा सीटें मिलने के आसार हैं।बिहार में एनडीए 2014 का प्रदर्शन कायम रख सकता है। वहीं, महाराष्ट्र में एनडीए के मुकाबले यूपीए की सीटें बढ़ सकती हैं।

उप्र : कुल 80सीटें भाजपा+ महागठबंधन कांग्रेस
एबीपी न्यूज 33 45 2
इंडिया टुडे-एक्सिस 62-68 10-16 1-2
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 37 40 2
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 58 20 2
रिपब्लिक-सी-वोटर 38 40 2
न्यूज 18 60-62 17-19 1-2
न्यूज 24-चाणक्य 65 13 2
2014 के नतीजे 73 5 (सपा)

2

बंगाल : कुल 42 सीटें भाजपा तृणमूल अन्य
रिपब्लिक-जन की बात 18-26 13-21 --
रिपब्लिक-सी वोटर 11 29 2
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 14 26 2
न्यूज नेशन 10-12 26-28 1-2
इंडिया टुडे-एक्सिस 19-23 19-22 0-1
2014 के नतीजे 2 34

6

बिहार : कुल 40 सीटें भाजपा+ राजद-कांग्रेस-रालोसपा
इंडिया टुडे-एक्सिस 38-40 0-2
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 32 8
रिपब्लिक-जन की बात 28-31 8-11
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 30 10
न्यूज 24-चाणक्य 32 8
एबीपी 34 6


बिहार में 2014 में एनडीए (भाजपा-लोजपा-रालोसपा) ने 31 सीटें जीती थीं। कांग्रेस ने राजद और राकांपा के साथ 7 सीटें जीती थीं। जदयू ने अलग चुनाव लड़ा था। उसे 2 सीटें मिली थीं। इस बार जदयू भाजपा के साथ और रालोसपा कांग्रेस-राजद के साथ है।

मप्र : कुल 29 सीटें भाजपा कांग्रेस
न्यूज 18-आईपीएसओएस 24-27 2-4
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 27 2
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 21 8
न्यूज नेशन 22-24 5-7
रिपब्लिक-सी वोटर 24 5
एबीपी 22 7
इंडिया टुडे-एक्सिस 26-28 1-3
2014 के नतीजे 27 2

राजस्थान : कुल 25 सीटें भाजपा कांग्रेस
न्यूज 18-आईपीएसओएस 22-23 2-3
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 25 0
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 24 1
न्यूज नेशन 21-23 2-4
रिपब्लिक-सी वोटर 23-25 0-2
एबीपी 19 6
इंडिया टुडे-एक्सिस 23-25 1-3
2014 के नतीजे 25 0

छत्तीसगढ़: कुल 11सीटें भाजपा कांग्रेस
न्यूज नेशन 4-6 5-7
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 7 4
न्यूज 24-चाणक्य 9 2
न्यूज 18-आईपीएसओएस 7-9 2-4
एबीपी 6 5
इंडिया टुडे-एक्सिस 7-8 3-4
रिपब्लिक-सी वोटर 6 5
रिपब्लिक-जन की बात 5 6
2014 के नतीजे 10 1

ओडिशा : कुल 21 सीटें भाजपा बीजद कांग्रेस
इंडिया टुडे-एक्सिस 15-19 2-6 0-1
न्यूज 24-चाणक्य 14 7 0
एबीपी न्यूज 9 12 0
न्यूज 18 6-8 12-14 1-2
रिपब्लिक-जन की बात 11-13 7-9 0-1
रिपब्लिक सी वोटर 10 11 0
न्यूज नेशन 8-10 11-13 0
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 12 8 1

2014 के लोकसभा चुनाव में 21 सीटों में से 20 पर बीजेडी ने जीत हासिल की थी। एक सीट भाजपा के खाते में गई थी। कांग्रेस का खाता नहीं खुला था।

तमिलनाडु : कुल 26 सीटें भाजपा+ कांग्रेस+ अन्य
एबीपी न्यूज 11 25 2
इंडिया टुडे-एक्सिस 0-4 34-38 0
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 9 29 0
रिपब्लिक-सी-वोटर 11 27 0
न्यूज 18-आईपीएसओएस 15 23
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 6 31 1

2014 में अन्नाद्रमुक को 37 सीटें मिली थीं। अन्नाद्रमुक इस बार भाजपा के साथ है।

2014 के नतीजे :कुल सीटें: 543, बहुमत: 272

पार्टी सीटें वोट%
भाजपा+ 336 39%
कांग्रेस+ 60 23%
एआईएडीएमके 37 3%
तृणमूल 34 4%
बीजद 20 2%
अन्य 56 29%


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Lok Sabha Election 2019 Exit Polls news and updates
Lok Sabha Election 2019 Exit Polls news and updates
Lok Sabha Election 2019 Exit Polls news and updates
Lok Sabha Election 2019 Exit Polls news and updates
Lok Sabha Election 2019 Exit Polls news and updates

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/lok-sabha-election-2019-exit-polls-news-and-updates-01549687.html

उप्र में भाजपा को नुकसान का अनुमान, लेकिन बंगाल के किसी भी सर्वे में 10 से कम सीटें नहीं


नई दिल्ली. रविवार को आए ज्यादातर एग्जिट पोल्स में उत्तर प्रदेश में भाजपा को नुकसान का अनुमान जताया गया है। भाजपा और अपना दल ने राज्य में पिछली बार 80 में से 73 सीटें जीती थीं। इस बार एग्जिट पोल्स में उसे न्यूनतम 22 और अधिकतम 68 सीटें दी गई हैं। एग्जिट पोल्स के मुताबिक,इस बार के चुनाव में उप्र के बाद सबसे चर्चित राज्य पश्चिम बंगाल में भाजपा बेहतर प्रदर्शन कर सकती है। किसी भी एग्जिट पोल में बंगाल में भाजपा को 10 से कम सीटें नहीं दी गई हैं। ज्यादातर एग्जिट पोल्स में मध्यप्रदेश, राजस्थान में भाजपा के अच्छे प्रदर्शन का अनुमान जताया गया है। ज्यादातर एग्जिट पोल्स में बिहार में भाजपा+ को 30 से ज्यादा सीटें दी हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
live exit poll lok sabha elections 2019 exit poll survey of up, mp, rajasthan, w bengal

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/election/election-news/news/live-exit-poll-lok-sabha-elections-2019-exit-poll-survey-of-up-mp-rajasthan-w-bengal-01549887.html

मप्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और गुजरात में भाजपा के 2014 जैसे प्रदर्शन का अनुमान


नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के सभी चरणों का मतदान खत्म होने के बाद रविवार को एग्जिट पोल्स आए। इनमें मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और गुजरात में भाजपा के 2014 जैसे प्रदर्शन का अनुमान जाहिर किया जा रहा है। भाजपा को 2014 के चुनाव में मप्र में 29 में से 27, छत्तीसगढ़ में 11 में से 10, राजस्थान की सभी 25 और गुजरात की सभी 26 सीटेंमिली थीं। हालांकि, 2018 के विधानसभा चुनाव में यहां कांग्रेस को जीत मिली थी।

  • मध्यप्रदेश

    कुल 29 सीटें भाजपा कांग्रेस
    न्यूज 18-आईपीएसओएस 24-27 2-4
    न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 27 2
    इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 21 8
    न्यूज नेशन 22-24 5-7
    रिपब्लिक-सी वोटर 24 5
    एबीपी 22 7
    इंडिया टुडे-एक्सिस 26-28 1-3
    2014 के नतीजे 27 2
  • राजस्थान

    कुल 25 सीटें भाजपा कांग्रेस
    न्यूज 18-आईपीएसओएस 22-23 2-3
    न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 25 0
    इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 24 1
    न्यूज नेशन 21-23 2-4
    रिपब्लिक-सी वोटर 23-25 0-2
    एबीपी 19 6
    इंडिया टुडे-एक्सिस 23-25 1-3
    2014 के नतीजे 25 0
  • छत्तीसगढ़

    कुल 11सीटें भाजपा कांग्रेस
    न्यूज नेशन 4-6 5-7
    इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 7 4
    न्यूज 24-चाणक्य 9 2
    न्यूज 18-आईपीएसओएस 7-9 2-4
    एबीपी 6 5
    इंडिया टुडे-एक्सिस 7-8 3-4
    रिपब्लिक-सी वोटर 6 5
    रिपब्लिक-जन की बात 5 6
    2014 के नतीजे 10 1

  • गुजरात

    कुल 26 सीटें भाजपा कांग्रेस
    न्यूज 24- चाणक्य 26 0
    न्यूज 18-आईपीएसओएस 25-26 0-1
    वीएमआर-टाइम्स नाउ 23 3
    इंडिया न्यूज-पोल स्ट्रेट 21 5
    सी वोटर-रिपब्लिक 22 4
    न्यूज नेशन 22-24 2-4
    एबीपी न्यूज 24 2
    एक्सिस-इंडिया टुडे 25-26 0-1
    2014 के नतीजे 26 0



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Despite the loss in Madhya Pradesh-Rajasthan and Chhattisgarh, the BJP will become the biggest party

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/election/election-news/news/despite-the-loss-in-madhya-pradesh-rajasthan-and-chhattisgarh-the-bjp-will-become-the-big-01549901.html

बिहार में 2014 का प्रदर्शन कायम रख सकता है एनडीए; महाराष्ट्र में बढ़ सकती हैं यूपीए की सीटें


नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के रविवार को आए एग्जिट पोल्स के मुताबिक,बिहार में एनडीए इस बार भी2014 जैसा प्रदर्शन दोहरा सकती है। यहां भाजपा और उसके सहयोगियोंको 30-40 सीटें मिलने का अनुमान जताया जा रहा है।वहीं, महाराष्ट्र में भी एनडीए को सबसे ज्यादा सीटें मिल सकती हैं। हालांकि, 2014 की तुलना में यूपीए को यहां फायदा मिल सकता है।

बिहार : कुल 40 सीटें भाजपा+ राजद-कांग्रेस-रालोसपा
इंडिया टुडे-एक्सिस 38-40 0-2
इंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 32 8
रिपब्लिक-जन की बात 28-31 8-11
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 30 10
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 32 8
एबीपी 34 6
इंडिया टुडे-एक्सिस 38-40 0-2


बिहार में 2014 में एनडीए (भाजपा-लोजपा-रालोसपा) ने 31 सीटें जीती थीं। कांग्रेस ने राजद और राकांपा के साथ 7 सीटें जीती थीं। जदयू ने अलग चुनाव लड़ा था। उसे 2 सीटें मिली थीं। इस बार जदयू भाजपा के साथ और रालोसपा कांग्रेस-राजद के साथ है।

महाराष्ट्र : कुल 48 सीटें-2014 लोकसभा चुनावमें एनडीए को43, यूपीए को 4 और अन्य को 1 सीट मिली थी।

पोल भाजपा+ कांग्रेस+
इंडिया टुडे-एक्सिस 38-42 6-10
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 38 10
रिपब्लिक-जन की बात 34-39 8-12
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 38 10
रिपब्लिक- सी वोटर 34 14
एबीपी 34 14
न्यूज-18 42-45 4-6
न्यूज नेशन 33-35 13-15

झारखंड : कुल 14 सीटें- 2014 चुनाव में एनडीए को 12 और झामुमो को 2 सीटें मिली थीं।

पोल भाजपा+ कांग्रेस+
एबीपी न्यूज 6 8
इंडिया टुडे-एक्सिस 12-14 0-2
रिपब्लिक-सी-वोटर 6 8
न्यूज 18-आईपीएसओएस 10 4
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 10 4
न्यूज नेशन 10 4
रिपब्लिक-जन की बात 9 5
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 8 6
इंडिया न्यूज-न्यूज एक्स 7 7



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Bihar exit poll Results lok sabha election 2019

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/election/election-news/news/bihar-exit-poll-results-lok-sabha-election-2019-01549907.html

7वें चरण में 64% मतदान; भाजपा की मांग- बंगाल में आचार संहिता लागू रहने तक केंद्रीय बल तैनात रहें


नई दिल्ली.लोकसभा चुनाव में सातवें चरण के लिए रविवार को8 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान हुआ। इस चरण में64.18% वोट डाले गए। 2014 लोकसभा चुनाव में इन सीटों पर64.53% मतदान हुआ था। पश्चिम बंगाल में आखिरी चरण में भीहिंसा हुई। इसके बावजूद यहांसबसे ज्यादा 73% वोटिंगहुई।झारखंड में 71%मतदान हुआ। मध्यप्रदेश में 75% वोटिंग हुई। लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ''बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शुरू से धमकी देती रहीं हैं, इसलिए हमें डर है कि मतदान खत्म होने के बाद टीएमसी वहां नरसंहार शुरू न कर दे। इसलिए चुनाव आयोग से हमारी मांग है कि आचार संहिता खत्म होने तक वहां केंद्रीय बल तैनात रहें।''

7वें चरण में इन राज्यों में वोटिंग
आखिरी चरण में बिहार की 8, झारखंड की 3, मध्यप्रदेश की 8, उत्तरप्रदेश की 13, प. बंगाल की 9, हिमाचल प्रदेश की 4, पंजाब की 13 और चंडीगढ़ की 1 सीट पर मतदान है। मप्र की देवास, उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, इंदौर, खरगोन, खंडवा सीट पर वोटिंग हुई। इस चरण मेंमनोहर पर्रिकर के निधन के बाद खाली हुई गोेवा की पणजी विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए मतदान हुआ। इसके अलावा तमिलनाडु की चार विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव के लिए वोटिंग हुई। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, शत्रुघ्न सिन्हा, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, अनुराग ठाकुर, भोजपुरी अभिनेता रविकिशन, सनी देओल, सुखबीर बादल, हरसिमरत कौर, शिबू सोरेन और पवन कुमार बंसल जैसे उम्मीदवार मैदान में थे।

किस राज्य में कितना मतदान?

राज्य 4 बजे तक 5 बजे तक कुल मतदान 2014 में मतदान
बिहार (8) 46% 48% 53% 52.06%
हिमाचल (4) 56% 58% 71% 64.45%
मध्यप्रदेश (8) 59% 62% 75% 67.13%
पंजाब (13) 48% 54% 65% 70.63%
उत्तरप्रदेश (13) 46% 49% 58% 55.2%
बंगाल (9) 63% 68% 73% 79.24%
झारखंड (3) 64% 67% 71% 68.87%
चंडीगढ़ (1) 51% 51% 63% 73.7%

राज्य 1 बजे तक 2 बजे तक 3 बजे तक
बिहार (8) 36% 36% 37%
हिमाचल(4) 29% 44% 46%
मध्यप्रदेश(8) 32% 46% 47%
पंजाब(13) 28% 38% 42%
उत्तरप्रदेश(13) 26% 37% 39%
बंगाल(9) 36% 50% 52%
झारखंड(3) 42% 53% 57%
चंडीगढ़(1) 22% 37% 38%

बंगाल में भाजपा प्रत्याशी के काफिले पर हमला

बंगाल में डायमंड हार्बर से भाजपा उम्मीदवार नीलांजन रॉय की कार में डोंगरिया क्षेत्र में तोड़फोड़ की गई।बंगाल के जाधवपुर में भाजपा सांसद अनुपम हाजरा ने तृणमूल कार्यकर्ताओं पर हिंसा का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- तृणमूल के गुंडों ने भाजपा के मंडल अध्यक्ष और एक ड्राइवर को पीटा। एक कार पर हमला किया। उन्होंने लोगों को वोट डालने से रोका।


कांग्रेस पंजाब में बाहर से गुंडे लाई- हरसिमरत कौर
पंजाब के बादल गांव में केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने आरोप लगाया- कांग्रेस बाहर से गुंडे लाई है। उसके गुंडों ने कल (शनिवार को) यहां कारों की चेकिंग की थी। हमनें निर्वाचन अधिकारी से इसकी शिकायत की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। बठिंडा में हमारे कार्यकर्ता टीटू रंधावा पर भी हमला किया गया।

दुनिया में सबसे ऊपर स्थित केंद्र पर मतदान
दुनिया में सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित लाहौल-स्पीति के ताशिगांग मतदान केंद्र पर लोगों ने वोट डाला। यह समुद्र तल से 15,256 फीट ऊपर स्थित है।

Vote

2014 में एनडीए ने 40 सीटों पर जीत हासिल की थी

इस चरण में जिन 59 सीटों पर मतदान है, 2014 में एनडीए ने इनमें से 40 (भाजपा- 33, अकाली दल- 4, रालोसपा-2, अपना दल-1) पर जीत हासिल की थी। पिछले लोकसभा चुनाव में बिहार में उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा भाजपा के साथ लड़ी थी, जबकि नीतीश कुमार की जनता दल अलग चुनाव लड़ी थी।बंगाल की जिन 9 सीटों पर मतदान है, उनमें से सभी पर तृणमूल ने जीत हासिल की थी। इन 59 सीटों में आप ने 4, कांग्रेस ने 3, झामुमो ने 2 और जदयू ने 1 सीट हासिल की थी।

7वां चरण: ये बड़े चेहरे मैदान में

नरेंद्र मोदी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2014 की तरह इस बार भी उत्तरप्रदेशकी वाराणसी लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में हैं। सपा-बसपा ने गठबंधन उम्मीदवार के तौर पर शालिनी यादव को उम्मीदवार बनाया। वहीं, कांग्रेस ने पिछली बार मोदी के खिलाफ चुनाव लड़े अजय राय को ही टिकट दिया है।

शत्रुघ्न सिन्हा: अभिनेता और बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर पटना साहिब सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। इससे पहले वे 2 बार इस सीट से भाजपा के टिकट पर सांसद रह चुके हैं। भाजपा ने सिन्हा के खिलाफ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया है।

अनुराग ठाकुर: भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर हिमाचल की हमीरपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। वे 2008 से यहां से लगातार सांसद हैं। इससीट से उनके पिता और पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी तीन बार सांसद रह चुके हैं। हमीरपुर सीट भाजपा का गढ़ रही है। 1998 से लगातार यहां भाजपा का सांसद है।

सनी देओल: अभिनेता सनी देओल को भाजपा ने गुरदासपुर से टिकट दिया है। ये उनका पहला चुनाव है। कांग्रेस ने यहां से मौजूदा सांसद सुनील जाखड़ को टिकट दिया है। गुरदासपुर से अभिनेता विनोद खन्ना 4 बार सांसद रहे हैं। हालांकि, उनके निधन के बाद जाखड़ इस सीट से उपचुनाव जीत गए थे।

सुखबीर बादल: पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के बेटे सुखबीर बादल फिरोजपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। बादल तीन बार फरीदकोट से भी सांसद रह चुके हैं। कांग्रेस ने इस बार फिरोजपुर से मौजूदा सांसद शेर सिंह घुबाया को टिकट दिया है। घुबाया यहां से अकाली दल के टिकट पर दो बार सांसद चुने जा चुके हैं। मार्च 2019 में घुबाया अकाली दल छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं।

हरसिमरत कौरबादल: सुखबीर सिंह बादल की पत्नी और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल बठिंडा से मैदान में हैं। वे यहां से लगातार दो बार से सांसद हैं। कांग्रेस ने इस सीट से विधायक अमरिंदर सिंह राजा वडिंग को टिकट दिया है। वडिंग गिद्दड़बाहा से लगातार दूसरी बार विधायक चुने गए।

शिबू सोरेन: शिबू सोरेनअपनी सीट दुमका से चुनाव मैदान लड़ रहे हैं। 1980 से 2014 तक वे इस सीट से 8 बार सांसद रहे हैं। इस दौरान वे 2 बार चुनाव भी हारे। भाजपा नेशिबू के खिलाफ सुनील सोरेनको तीसरी बार टिकट दिया है। सुनील इससे पहले 2009 और 2014 में भी चुनाव हार चुके हैं।

अब तक 6 चरणों में औसत 66.88% मतदान

चरण सीटें कब हुआ मतदान मतदान प्रतिशत
पहला 91 11 अप्रैल 69.5%
दूसरा 95 18 अप्रैल 69.44%
तीसरा 117 23 अप्रैल 68.4%
चौथा 71 29 अप्रैल 65.51%
पांचवां 51 06 मई 64%
छठवां 59 12 मई 63.43%

23 मई को देखिए सबसे तेज चुनाव नतीजे भास्कर APP पर



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal
Lok Sabha Election 2019 Phase 7: Live updates of seventh phase voting in 59 constituencies, 13 in West Bengal

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/election/election-news/news/lok-sabha-election-chunav-2019-phase-seventh-live-updates-01549313.html

ममता ने एग्जिट पोल्स को गॉसिप बताया, कहा- यह सिर्फ ईवीएम में गड़बड़ी का गेम प्लान


कोलकाता.लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद रविवार को आए एग्जिट पोल्स को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बकवास करार दिया। उन्होंने कहा कि मुझे एग्जिट पोल की गॉसिप पर भरोसा नहीं, यह सिर्फ ईवीएम में गड़बड़ी या उन्हें बदलने का एक गेम प्लान है। सभी विपक्षी दलों से अपील करती हूं कि एकजुट होकर लड़ाई लड़ें। 10 में से 9 एग्जिट पोल्स में एनडीए को स्पष्ट बहुमत मिलने का अनुमानजताया गया है।

ममता ने सवाल उठाया- ''क्या दिल्ली की मीडिया ने विश्वसनीयता खो दी? तथाकथित एग्जिट पोल्स सिर्फ भ्रमित करेंगे। हम जनता के फैसले का इंतजार करेंगे। मोदीजी ने 7वें चरण के मतदान से पहले 300+ सीटों का दावा किया था। क्या पोल सर्वे के सभी आंकड़े इससे मिलते हैं? ईवीएम में गड़बड़ी?''

उमर अब्दुल्ला ने कसा तंज

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने तंज कसा- कोई भी एग्जिट पोल गलत नहीं हो सकता! अब टीवी बंद करने और सोशल मीडिया से दूर रहने का वक्त है। 23 मई के नतीजे दुनिया देखेगी।

अमरिंदर बोले- एग्जिट पोल्स पूरी तरह सही नहीं होंगे
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि एग्जिट पोल्स की विश्वसनीयता पर हमेशा सवाल उठते रहे हैं। 50 साल की राजनीति में इस पर भरोसा करने की कोई वजह नहीं। मुझे लगता है कि कांग्रेस न सिर्फ पंजाब बल्कि देशभर में बेहतर प्रदर्शन करेगी।

भाजपा एग्जिट पोल्स के अनुमान से बेहतर प्रदर्शन करेगी: राव

भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, ''हमें भरोसा है कि भाजपा एग्जिट पोल्स के अनुमानों से बेहतर प्रदर्शन करेगी। ज्यादतर में एनडीए को 300+ सीटें मिलने के आसार हैं। यह पोल सर्वे के यह नतीजे प्रधानमंत्री मोदी पर जनता का भरोसा दिखाते हैं।''



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
ममता बनर्जी। -फाइल

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/mamata-banerjee-dismisses-exit-poll-reaction-news-and-updates-01549909.html

पटनायक के गढ़ में सेंध लगा सकती है भाजपा, पंजाब में कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद


नई दिल्ली. लोकसभा की 542 सीटों पर आए एग्जिट पोल्स के मुताबिक, भाजपानवीन पटनायक के गढ़ओडिशा में सेंध लगा सकती है। एग्जिट पोल्स की मानें तो 2014 में सिर्फ 1 सीट जीतने वाली भाजपा इस बार यहां4-19 सीटें हासिल कर सकती हैं। सत्ताधारी बीजद 2-14 सीटों पर सिमट सकती है। उधर, पंजाब में कांग्रेस 8-10 सीटें जीतने में कामयाब हो सकती है। 2014 मेंकांग्रेस को तीन सीटें मिली थीं।

तमिलनाडु में भाजपा की सहयोगी सत्ताधारी एआईएडीएमके को भारी नुकसान की उम्मीद है।एआईएडीएमके 6 से 19 सीटों पर सिमटसकती है।यहां कांग्रेस की सहयोगीद्रमुक 25-38 सीटें जीत सकती है।

ओडिशा : कुल 21 सीटें

भाजपा बीजद कांग्रेस
इंडिया टुडे-एक्सिस 15-19 2-6 0-1
न्यूज 24-चाणक्य 14 7 0
एबीपी न्यूज 9 12 0
न्यूज 18 6-8 12-14 1-2
रिपब्लिक-जन की बात 11-13 7-9 0-1
रिपब्लिक सी वोटर 10 11 0
न्यूज नेशन 8-10 11-13 0
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 12 8 1

*2014 के लोकसभा चुनाव में 21 सीटों में से 20 पर बीजद ने जीत हासिल की थी। एक सीट भाजपा के खाते में गई थी। कांग्रेस का खाता नहीं खुला था।

पंजाब : कुल 13 सीटें- आप को भारी नुकसान की उम्मीद

भाजपा+ कांग्रेस+ अन्य
एबीपी न्यूज 5 8 0
इंडिया टुडे-एक्सिस 3-5 8-9 0-1
रिपब्लिक-सी-वोटर 2 11 0
न्यूज 18-आईपीएसओएस 2 10 1
रिपब्लिक-जन की बात 4 9 0
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 3 10 0
न्यूजएक्स-नेता 4 8 1

तमिलनाडु : कुल 26 सीटें

भाजपा+ कांग्रेस+ अन्य
एबीपी न्यूज 11 25 2
इंडिया टुडे-एक्सिस 0-4 34-38 0
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 9 29 0
रिपब्लिक-सी-वोटर 11 27 0
न्यूज 18-आईपीएसओएस 15 23
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 6 31 1

2014 में अन्नाद्रमुक को 37 सीटें मिली थीं। अन्नाद्रमुक इस बार भाजपा के साथ है।

कर्नाटक : कुल 28 सीटें

भाजपा+ कांग्रेस+ अन्य
एबीपी न्यूज 15 13 0
इंडिया टुडे-एक्सिस 23 4 1
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 21 7 0
रिपब्लिक-सी-वोटर 18 9 1
न्यूज 18-आईपीएसओएस 22 6 0
न्यूज 24-टुडेज चाणक्य 23 5 0
न्यूज नेशन 18 10 0
इंंडिया न्यूज-पोलस्ट्रेट 15 12 1

2014 में भाजपा ने 17, कांग्रेस ने 9 और जेडीएस ने 2 सीटों पर जीत हासिल की थी। इस बारकांग्रेस-जेडीएस साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं।

हरियाणा : कुल 10 सीटें- भाजपा को 6-10 सीटें मिलने का अनुमान

भाजपा+ कांग्रेस+ अन्य
एबीपी न्यूज 7 3 0
इंडिया टुडे-एक्सिस 8-10 0-2 0
रिपब्लिक-सी-वोटर 9 1 0
न्यूज 18-आईपीएसओएस 7 3 0
रिपब्लिक-जन की बात 8-9 0-1 0-1
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 8 2 0
न्यूजएक्स-नेता 6 3 1

दिल्ली : कुल 7 सीटें- 2014 में भाजपा ने सभी सीटों पर जीत हासिलकी थी

भाजपा+ कांग्रेस+ आप
एबीपी न्यूज 5 1 1
इंडिया टुडे-एक्सिस 6-7 0-1 0
रिपब्लिक-सी-वोटर 7 0 0
न्यूज 18-आईपीएसओएस 6-7 0-1 0
रिपब्लिक-जन की बात 6-7 0 0-1
टाइम्स नाऊ-वीएमआर 6 1 0
न्यूजएक्स-नेता 5 2 0



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Lok Sabha Election Exit Polls highlights Modi govt to return to power

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/election/election-news/news/tamil-nadu-karnataka-odisha-exit-polls-final-result-2019-lok-sabha-election-01549923.html

पंजाब में कांग्रेस कार्यकर्ता की हत्या, मतदान केंद्र के बाहर फायरिंग; बंगाल में भी हिंसक घटनाएं


नई दिल्ली.लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान के दौरान रविवार को पश्चिमबंगाल और पंजाब में हिंसक घटनाएं सामने आईं। पंजाब के खडूर साहिब में कांग्रेस कार्यकर्ता की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। बठिंडा में मतदान केंद्र के बाहर फायरिंग हुई। राज्य में 20 से ज्यादा लोग जख्मी हुए। उधर, बंगाल के जाधवपुर, बैरकपुर, कोलकाता और बसीरहाट के मतदान केंद्रों पर मारपीट, फर्जी मतदान और हिंसक घटनाएं हुईं।

बिहार के पटना में लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप के बाउंसरों की पत्रकारों से झड़प हो गई। आरोप है कि तेजप्रताप मतदान कर निकल रहे थे, इसी दौरान फोटोग्राफर रंजन राही के पैर पर उनकी गाड़ी का पहिया चढ़ गया। कहासुनी के दौरान पत्रकारों के साथ मारपीट की गई। कार की शीशा टूटने के बाद तेज प्रताप ने कहा कि उन पर जानलेवा हमला हुआ। उन्होंने मीडियाकर्मी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। चुनाव आयोग ने डीएम कुमार रवि से घटना की रिपोर्ट मांगी। दूसरी ओर, बिहार के आरा में फर्जी मतदान को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव किया। इसमें एक सिपाही जख्मी हो गया।

पंजाब: मतदान करने जा रहेकांग्रेस कार्यकर्ता की हत्या

बठिंडा जिले के तलवंडी साबो में कांग्रेस नेता खुशबाज सिंह ने अकाली नेताओंके साथ बहस के दौरान गोली चलाई। इसके बाद लोगों ने कांग्रेस का बूथ तोड़ दिया। दूसरी ओर, खडूर साहिब सीटके एक गांव में अज्ञात लोगों नेवोट डालने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ता की हत्या कर दी।

बंगाल: तृणमूल कार्यकर्ताओं पर फर्जी मतदान का आरोप

जाधवपुर से भाजपा प्रत्याशी अनुपम हाजरा का आरोप है कि तृणमूल की महिला कार्यकर्ता मुंह पर कपड़ा बांधकर वोट देने आ रही हैं। इससे उनकी पहचानमुश्किल है। इस पर आपत्ति जताने पर तृणमूल के गुंडों ने उनके एक कार्यकर्ता को पीटा। कार में तोड़फोड़ और ड्राइवर की भी पिटाई की गई। दूसरी ओर, बसीरहाट से भाजपा प्रत्याशी सायंतन बसु और उनके समर्थकों ने मतदान केंद्र के बाहर प्रदर्शन किया। शनिवार रात को बैरकपुर के भाटपाड़ा में भाजपा और तृणमूलकार्यकर्ताओं के बीच मारपीट हुई थी। दो गाड़ियों को आग लगाई गई और बम फेंके गए।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
बठिंडा में तलवंडी साबो के मतदान केंद्र पर फायरिंग के बाद तोड़फोड़।
violence in lok sabha election phase seven in punjab bengal & bihar election live updates
violence in lok sabha election phase seven in punjab bengal & bihar election live updates

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/violence-in-lok-sabha-election-phase-seven-in-punjab-bengal-bihar-election-live-updates-01549737.html

अमरिंदर सिंह ने कहा- मुझे हटा कर खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं सिद्धू


पटियाला. पंजाब केमुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंहनेकैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर फिरनिशाना साधा। रविवार को पटियाला में वोट डालने के बादकैप्टन ने कहा- सिद्धूके साथ कोई जुबानी जंगनहीं है। वेमहत्वाकांक्षी हैं, यह ठीक है।लोगों की बहुत सी महत्वाकांक्षाएं होती हैं। मैं सिद्धू को बचपन से जानता हूं। मेरा उनके साथ कोई मतभेद भी नहीं, लेकिन मुझेलगता है कि वह मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। मुझे हटाना ही उनका मुख्य उद्देश्य है।

पत्नीनवजोत काैर को टिकट न मिलने से नाराज हैं सिद्धू

लोकसभा चुनाव में टिकट न मिलने पर सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने अमरिंदर के खिलाफ नाराजगी जताई थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि उन्हें अमरिंदर सिंह की वजह से अमृतसर से लोकसभा का टिकट नहीं मिला। वहीं, सिद्धू ने भी पत्नी का समर्थन किया था। हालांकि, अमरिंदर ने इन आरोपों से इनकार कर दिया था।


इससे पहले भीकैप्टन अमरिंदर सिंह औरनवजोत सिंह सिद्धू के बीच मतभेद की खबरें आती रहीं हैं।2018 में जब सिद्धू करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के दौरानपाकिस्तान गए थे तो कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि सिद्धू हाईकमान की परमिशन के बिना वहांगए हैं।


सिद्धू ने राहुल को बताया था अपना कैप्टन

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के दौरानउन्‍होंने कहा था, कौन कैप्‍टन, अच्‍छा कैप्टन अमरिंदर सिंह। अरे वह तो सेना के कैप्‍टन हैं। मेरे कैप्‍टन तो राहुल गांधी हैं। मेरे और अमरिंदर सिंह दोनों के कैप्‍टन राहुल गांधी हैं। इसके बाद सिद्धू निशाने पर आ गए और मामला गर्माने के बाद सिद्धू ने अम‍रिंदर सिंह से माफी मांगी थी।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
वोट डालने के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह।
Chief Minister Captain Amarinder Singh: elections is going peaceful in the state

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/chief-minister-captain-amarinder-singh-elections-is-going-peaceful-in-the-state-01549641.html

कोहली के 10 करोड़ फॉलोअर्स, अनुष्का के साथ करवाचौथ की फोटो को मिले सबसे ज्यादा लाइक्स


नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के सोशल मीडिया पर 10 करोड़ फॉलोअर्स हो गए हैं। कोहली पहले क्रिकेटर हैं, जिनके सोशल मीडिया पर इतने फॉलोअर्स बने। उनके इंस्टाग्राम पर 3.6 करोड़, ट्विटर पर 2.95 करोड़ और फेसबुक पर 3.7 करोड़ फॉलोअर्स हैं।

दो लाख 15 हजार लोगों ने करवाचौथ की फोटो पसंद की
विराट ने हाल के वर्षों में भारतीय टीम और रॉयल चैलेंजर बैंगलुरु के काफी पोस्ट किए हैं। 2018 में विराट कोहली ने पत्नी अनुष्का के साथ करवाचौथ की फोटो डाली थी, जिसे पिछले साल 2.15 लाख लोगों ने पसंद किया था। यह साल का सबसे ज्यादा पसंद किए जाना वाले ट्वीट बना था।

करीब 14 हजार बार री-ट्वीट हुई विराट की पोस्ट
विराट कोहली ने करवाचौथ पर अनुष्का के साथ जो फोटो ट्वीट की, उसे 13,876 बार रीट्वीट किया गया और 2018 का 'गोल्डन ट्वीट' का दर्जा भी दिया गया था। सोशल मीडिया पर 16.7 करोड़ फॉलोअर्स के साथ पुर्तगाल के फुटबॉल खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Virat becomes first cricketer to reach 100 million followers on social media

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/virat-becomes-first-cricketer-to-reach-100-million-followers-on-social-media-01549891.html

भाजपा विरोधी मोर्चे की कवायद: चंद्रबाबू से मुलाकात के बाद कल राहुल-सोनिया से मिलेंगी मायावती


नई दिल्ली.लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले हीआंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री और तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने की कवायद तेज कर दी। उन्होंने रविवार को लगातार दूसरे दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंनेयूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी के साथ चर्चा की। नायडू शनिवार कोलखनऊ में बसपा प्रमुखमायावती और सपा प्रमुखअखिलेश यादव से मिले थे। अब मायावती सोमवार को राहुल-सोनिया से मिलने दिल्ली जाएंगी।

लोकसभा चुनाव के ऐलान के बाद यह पहला मौका होगा, जब बसपा और कांग्रेस के शीर्ष नेता भाजपा विरोधी मोर्चा तैयार करने को लेकर चर्चा करेंगे। बसपा ने सपा के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा था, जबकि कांग्रेस अपने दम पर अकेले यूपी में उतरी थी।

विरोधी दलों को एकजुट करने में जुटे हैं नायडू

चंद्रबाबू कुछ महीने पहले तक एनडीए का ही हिस्सा थे।लेकिन आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा न मिलने से नाराज होकर उन्होंने वह खेमा छोड़ दिया। अब वे भाजपा के खिलाफ सभी विरोधी पार्टियों को एक पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए उन्होंने तृणमूल पार्टी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी से भी सम्पर्क किया।

'सरकार बनाने के लिए तैयार रहना चाहिए'
राजनीतिक सूत्रों की मानें तो शनिवार को चंद्रबाबू ने राहुल गांधी से कहा है कि हमें चुनाव नतीजों के लिए रणनीतिक तौर पर तैयार रहना चाहिए। अगर भाजपा बहुमत से चूकती हैं, तो हमें सरकार बनाने के लिए मजबूत दावा पेश करने की तैयारी पहले ही कर लेनी चाहिए।

सोनिया ने 23 मई को बुलाई गैर-एनडीए दलों की बैठक
यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने 23 मई को गैर-एनडीए दलों को बैठक के लिए बुलाया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को इस बार बहुमत नहीं मिलेगा। इसी के मद्देनजर यूपीए प्रमुख ने सेक्युलर पार्टियों के नेताओं को निमंत्रण भेजा है। इनमें शरद पवार, द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन, राजद और टीएमसी के नेता शामिल हैं। इसके लिए कांग्रेस ने चार नेताओं की टीम बनाई है, जिसमें अहमद पटेल, पी.चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद और अशोक गहलोत हैं।

2014 लोकसभा चुनाव में किस पार्टी को कितनी सीटें मिली

पार्टी सीट
भाजपा 282
कांग्रेस 44
तृणमूल कांग्रेस 34
बीजू जनता दल 20
तेलुगु देशम पार्टी 16
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी 6

समाजवादी पार्टी

5
आम आदमी पार्टी 4
बहुजन समाज पार्टी 0


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
राहुल गांधी और चंद्रबाबू नायडू। -फाइल फोटो

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/chandrababu-naidu-holds-second-round-of-talks-with-rahul-gandhi-sharad-pawar-mayawati-a-01549659.html

हिमाचल में देश के पहले मतदाता ने वोट डाला, वाराणसी में 123 साल के शिवानंद ने भी किया मतदान


नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्रवाराणसीमें सबसे बुजुर्ग मतदाताने वोटर्स से मतदान कर देश को मजबूत करने की अपील की।बुजुर्ग बाबा भिखारी के नाम से मशहूर123 साल के शिवानंद ने मतदान किया। उनके अलावा यहां 105 साल के शिवरंजन मिश्रा ने भी वोट डाला।

चुनाव अधिकारियों ने श्याम सरन का लोक धुनों से स्वागत किया

हिमाचल में किन्नौर के कल्पा में देश के प्रथम मतदाता 103 साल के श्याम सरन नेगी ने वोट डाला। नेगी का मतदान केंद्र पर रेड कारपेट पर फूल-मालाएं पहनाकर और लोक धुनें बजाकर स्वागत किया गया। श्याम सरन नेगी बैंक अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। वे 1951 से लगातार मतदान में हिस्सा ले रहे हैं।

शिवानंद का बांग्लादेश में जन्महुआ

शिवानंद का जन्म बांग्लादेश के श्रीहट्ट जिले में हुआ था। शिवानंद जब 6 साल के थे तब से ही प.बंगाल आ गए थे। वे अपने को देश का सबसे अधिक आयु का बुजुर्ग बताते हैं, इसके लिए उन्होंने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड को आमंत्रित किया है।पासपोर्ट और आधार कार्ड पर बाबा शिवानंद की जन्म तिथि 8 अगस्त 1896 दर्ज है।

r

बिहार: सिर से जुड़ी दो बहनों ने अलग-अलग किया मतदान
राजधानी पटना में सिर से आपस में जुड़ीं दो बहनों ने समनपुरा पोलिंग बूथ पर मतदान किया। दोनों ने अपने-अपने पसंदीदा प्रत्याशियों को वोट डाला। सबाह और फराह का 2015 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में एक ही मतदाता पहचान पत्र था। इसलिए उनका एक ही वोट माना गया था। लेकिन इस बार उनके अलग-अलग वोट हैं।

b

स्वीडन से वोट डालने मऊ पहुंचीं प्रिया
यूरोपीय देश स्वीडन में रहने वाली भारतीय मूल की महिला रविवार को उत्तरप्रदेश के मऊ में एक पोलिंग बूथ पर वोट डालने पहुचीं। प्रिया ने घोसी लोकसभा स्थित निजामुद्दीनपुरा बूथ पर मताधिकार का प्रयोग किया। वोट डालने के बाद प्रिया ने कहा- जिन हाथों ने देश को मजबूत किया। उन हाथों को और मजबूत करना चाहिए। विदेशों में तो बहुत कुछ बदला है यहां भी बदलाव की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमारे देश को विकास की जरूरत है।

व


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
loksabha election 2019 oldest voter shivranjan and shivanand done his vote in varanasi
loksabha election 2019 oldest voter shivranjan and shivanand done his vote in varanasi
loksabha election 2019 oldest voter shivranjan and shivanand done his vote in varanasi

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/loksabha-election-2019-oldest-voter-shivranjan-and-shivanand-done-his-vote-in-varanasi-01549523.html

भोपाल में वोटिंग के एक हफ्ते बाद फरहान का ट्वीट- प्रज्ञा को मत चुनो; यूजर्स बोले- एक चरण बाद जागे


बॉलीवुड डेस्क.बॉलीवुड स्टार फरहान अख्तर रविवार को किए अपने ट्वीट को लेकर ट्रोल किए गए। फरहान ने भोपाल में मतदान को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट में हैशटैग "से नो टू प्रज्ञा' और "से नो टू गोडसे' लगाया। फरहान ने वोटरों से अपील की कि अपने शहर को एक और गैस त्रासदी से बचा लो। हालांकि, भोपाल में छठवें चरण में12 मई को मतदान हुआ था। यहां कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा कीसाध्वी प्रज्ञा चुनाव मैदान में हैं।

फरहान के ट्वीट पर यूजर्स ने लिखा- आप एक चरण बाद जागे हैं। हां, आपके पास पंजाब के सिख वोटरों से अपील करने का वक्त है कि वे खुद को एक और नरसंहार से बचाएं।

फरहान ने अपील की- प्यार चुनें, नफरत नहीं

फरहान ने अपने ट्वीट में से नो टू प्रज्ञा, से नोट टू गोडसे,रिमेम्बर महात्मा और चूज लव नॉट हेटहैश टैग किया।

ट्रोलर्स ने कहा- अपना इंटरनेट कनेक्शन बदल लो

एक यूजर ने फरहान के ट्वीट पर जवाब दिया अपना इंटरनेट कनेक्शन बदल लो। आपके ट्वीट पब्लिश होने में 10 दिन का वक्त ले रहे हैं। एक अन्य यूजर ने लिखा- एक हफ्ता कौन सोता है भाई! डॉ. ऑर्थो लगाने के लिए होता है, पीने के लिए नहीं। एक अन्य ने लिखा- गैस त्रासदी के लिए जिम्मेदार कौन था, इन्हें तो इतिहास भी नहीं पता। एक यूजर ने "से नो टू इडियट एक्टर्स" हैशटैग से ट्वीट किया- आप चाहते हैं ऐसी पार्टी के लिए वोट किया जाए, जिसने भोपाल के हत्यारों को सरकारी विमान में भागने दिया था।

फरहान के बचाव में उतरे विवेक ओबेरॉय
फिल्म "पीएम नरेंद्र मोदी' में मुख्य किरदार निभाने वाले विवेक ओबेरॉय ने फरहान अख्तर का बचाव किया है। विवेक ने कहा, "मैं फरहान को अच्‍छी तरह जानता हूं। जाहिर है कि उनसे अनजाने में गलती हुई। फरहान आर्टिस्‍ट है। अपनी दुनिया में रहता है। मुझे लगता है कि उसने अनजाने में वह ट्वीट किया होगा। वैसे भी सोशल मीडिया पर लोग गलतियां पकड़ने और आपको सुधारने में 30 सेकंड भी नहीं लगाते।'



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
farhan akhtar trolled brutally after appealing to Bhopal electorates after one week
farhan akhtar trolled brutally after appealing to Bhopal electorates after one week
farhan akhtar trolled brutally after appealing to Bhopal electorates after one week
farhan akhtar trolled brutally after appealing to Bhopal electorates after one week
farhan akhtar trolled brutally after appealing to Bhopal electorates after one week

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/bollywood/news/farhan-akhtar-trolled-brutally-after-appealing-to-bhopal-electorates-after-one-week-01549605.html

दुती चंद ने कहा- मैं समलैंगिक रिश्ते में हूं, वे ऐसा स्वीकारने वाली भारत की पहली एथलीट


खेल डेस्क. स्प्रिंटर दुती चंद ने खुलासा किया है कि वेसमलैंगिक रिश्ते में हैं। वे भारत की पहली एथलीट हैं जिन्होंने इस तरह की बात सार्वजनिक तौर परस्वीकार की है। दुती ने बताया कि वे अपने गृहनगर चाका गोपालपुर (ओडिशा) में एक लड़की के साथ रिश्ते में हैं। हालांकि, दुती ने अपनी पार्टनर के बारे में बताने से मना किया। वे नहीं चाहतीं कि उनकी पार्टनर फिजूल में लोगों की नजरों में आए।

उन्होंने कहा, ‘‘किसी को भी मुझे जज करने का हक नहीं है। यह मेरी निजी पसंद है। इसका सम्मान किया जाना चाहिए। मैं देश के लिए पदक जीतने की कोशिशजारी रखूंगी।’’

जेंडर विवाद के कारण प्रतिबंध लगा था
दुती पर 2014 ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों से पहले जेंडर विवाद के कारण एक साल का प्रतिबंध लगा था। वे टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले सकीं थीं। दुती का टेस्टोस्टोरेन (हार्मोन) बढ़ जाता था, इससे उन पर पुरुष होने के आरोप लगे थे। उनकी अपील पर लुसाने (स्विट्जरलैंड) स्थित खेल मध्यस्थता अदालत ने इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ एथलेटिक्स फेडरेशन (आईएएएफ) के फैसले को पलट दिया था। इसके बाद दुती 2016 रियो ओलिंपिक में हिस्सा ले सकीं थीं।

‘मैंने समलैंगिकों के लिए हमेशा आवाज उठाई’
दुती ने कहा, ‘‘मुझे ऐसा कोई मिला है, जो मेरा जीनसाथी है। मैं मानती हूं कि हर किसी को इस बात की आजादी होनी चाहिए कि वह किसके साथ जीवन बिताना चाहता है। मैंने हमेशा उन लोगों के हक में आवाज उठाई है जो समलैंगिक रिश्तों में रहना चाहते हैं। यह किसी की निजी पसंद है। मेरा ध्यान फिलहाल वर्ल्ड चैम्पियशिप और ओलिंपिक खेलों पर है, लेकिन मैं भविष्य में उसके साथ घर बसाना चाहती हूं।’’

दुती

'अगले 5-7 साल और दौड़ सकती हूं'
दुती ने कहा, ‘‘मैं किसी ऐसे के साथ रहना चाहती थी, जो मुझे एक बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए लगातार प्रेरित करे। मैं पिछले 10 सालों से स्प्रिंटर हूं और शायद अगले 5-7 सालों तक और दौड़ सकती हूं। मैं प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने के लिए पूरी दुनिया घूमती हूं। यह आसान नहीं है। मुझे किसी का सहारा भी चाहिए।’’ दुती एशियन गेम्स 2018 में दो सिल्वर मेडल जीती थीं। वे 100 मीटर और 200 मीटर के फाइनल में दूसरे स्थान पर रहीं थीं।

23 मई को देखिए सबसे तेज चुनाव नतीजे भास्कर APP पर



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
दुती चंद।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/sports/anya-khel/news/sprinter-dutee-chand-reveals-she-is-in-same-sex-relationship-01549573.html

मोदी ने बद्रीनाथ के दर्शन किए, तृणमूल का आरोप- इस यात्रा का कवरेज आचार संहिता का उल्लंघन


देहरादून. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भगवान बद्रीनाथ की पूजा-अर्चना की। इससे पहले वे करीब 17घंटे बाद केदारनाथ की गुफा से बाहर निकले। मंदिर में भगवान शिव की दूसरी बार पूजा की। उन्होंने कहा कि कल गुफा में रहने के दौरान बाहरी दुनिया से पूरी तरह कटा रहा। सिर्फ अपने में रहा।इस बीच तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर मोदी की यात्रा के कवरेज को आचार संहिता का उल्लंघन बताया।

शनिवार को मोदी केदारनाथ पहुंचे थे। यहां उन्होंने भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने के बाद केदार धाम में विकास कार्यों का जायजा लिया था। कल दोपहर में वे 2 किमी की चढ़ाई करगुफा में ध्यान लगाने के लिएगए थे।

‘केदारनाथ के लिए कुछ करने का मौका मिला’
मोदी ने कहा, ‘‘यहां आने का मुझे कई वर्षों से अवसर मिलता रहा है। इन दिनों केदारनाथ बार-बार आने का मौका मिलता है। यहां जो आपदा आई और उस समय मैं यहां पहुंचा था। दिल में एक कसक थी कि कुछ करना चाहिए। गुजरात में रहते हुए अपनी तरह से कुछ करता रहता था। इसके बाद प्रधानमंत्री बना। उत्तराखंड में भी अपने अनूकुल सरकार मिली। वैसे तो यहां 3-4 महीनों से ज्यादा काम करने का मौका नहीं मिलता। बर्फ 50 फीट से ऊपर चली जाती है। तापमान भी काफी गिर जाता है।’’

‘वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से केदारनाथ की जानकारी लेता रहता हूं’
प्रधानमंत्री के मुताबिक, ‘‘इस धरती से मेरा एक विशेष नाता भी रहा है। कल से मैं यहां हूं, दो दिन एक गुफा में रहने चला गया था। एकांत अवसर बहुत लंबे अरसे के बाद मिला। सामने ही 24 घंटे बाबा के दर्शन हो सकते हैं, ऐसी गुफा है। वहां एक छोटा छेद किया गया है, वहां से बाबा के दर्शन कर सकता हूं। तो मैं वर्तमान के भारत की स्थिति से बाहर था। कोई कम्युनिकेशन नहीं रखा था।’’

‘‘मेरा यहां जो विकास का लक्ष्य है, वो प्रकृति और पर्यावरण से जुड़ा है। लेकिन जो आस्था और श्रद्धा है, उसे हम आगे संभालने के लिए और क्या कर सकते हैं। हम आध्यात्मिक चेतना तो नहीं बढ़ा सकते। लेकिन कुछ अन्य सुविधाओं पर तो काम कर ही सकते हैं। मैं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से यहां की जानकारी लेता रहता हूं। मुझे एक अच्छी टीम मिली है काम करने के लिए। मई-जून के चुनाव तो अपने आप में कठिन होते हैं। उसके बावजूद भी आप लोग समय निकालकर यहां पहुंचे। आपके माध्यम से उत्तराखंड और केदारनाथ को काफी लाभ पहुंचेगा। लोगों में विश्वास बैठेगा कि केदारनाथ में आपदा के बाद स्थिति में काफी सुधार हुआ है। लोग यहां आएंगे। वह सोचेंगे कि छुट्टियों में सिंगापुर और दुबई की जगह केदारनाथ चला जाए।’’

‘यात्रा का कवरेज आचार संहिता का उल्लंघन’
तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव आयोग को लिखा है, ‘‘लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार समाप्त हो गया, हैरानी की बात है कि नरेंद्र मोदी की केदारनाथ यात्रा बीते दो दिनों से मीडिया द्वारा व्यापक रूप से कवर की जा रही है। यह आदर्श आचार संहिता का घोर उल्लंघन है।’'

5 साल केदारनाथ में रहे थे मोदी

मुख्यधारा की राजनीति में आने के पहले मोदी ने 5 साल एक वैरागी के रूप में बिताए थे। 1985 से 1990 के बीच मोदी ने केदारनाथ के गरुड़चट्टीमें साधना की थी।

चौथी बार केदारनाथ पहुंचे

मोदी पिछले साल नवंबर में भी केदारनाथ पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने जवानों के साथ दिवाली भी मनाई थी। 2017 में भी दो बार (मई और अक्टूबर) वे केदारनाथ पहुंचे थे।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates
Narendra Modi Uttrakhand visit Kedarnath Badinath pooja News and Updates

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/narendra-modi-uttrakhand-visit-kedarnath-badinath-pooja-news-and-updates-01549441.html

चिकमंगलूर: इंदिरा को कोबरा बताया दांव उल्टा पड़ने से हारा जनता दल


पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने इमरजेंसी खत्म करके जब चुनाव करवाए तो जेपी आंदोलन के चलते कांग्रेस 350 से खिसककर 153 सीट पर आ गई। इंदिरा और संजय दोनों हार गए। इसके बाद कांग्रेस में फूट पड़ीं, इंदिरा ने अपनी पार्टी का नाम कांग्रेस (आई) यानी कांग्रेस (इंदिरा) कर लिया। वे संसद पहुंचने के लिए दक्षिण में सुरक्षित सीट की तलाश में थी। कर्नाटक सीएम देवराज उर्स ने उन्हें चिकमंगलूर से लड़ने का न्यौता दिया, इंदिरा राजी हो गईं। कांग्रेस सांसद डी बी चंद्रेगॉडा ने सीट से इस्तीफा दे दिया, उपचुनाव हुआ।


तत्कालीन प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई ने इंदिरा के खिलाफ प्रचार करने से मना कर दिया, लेकिन जॉर्ज फर्नांडीज काफी गुस्से में थे, वो हर उस जगह पर जाकर फौरन बाद सभा करते थे, जहां इंदिरा कर चुकी होती थीं। जिसमें वे इंदिरा गांधी के दावों की पोल खोलते थे। जॉर्ज जनता दल के प्रत्याशी वीरेंद्र पाटिल के प्रचार कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ‘जब तक इंदिरा को हरा नहीं देते कहीं नहीं जाएंगे।’ इंदिरा के प्रचार के लिए चिकमंगलूर में कांग्रेसे ने पोस्टर लागए जिनपर लिखा था ‘गिव यॉर वोट टू यॉर लिटिल डॉटर’।

यहां विपक्ष ने इंदिरा को किंग कोबरा दिखाते हुए पोस्टर लगाए। इनके नीचे लिखा था कि ‘सावधान, इस इलेक्शन के जरिए ये कोबरा अपना फन फैलाने वाला है।’ दूसरे पोस्टर में लोगों को कोबरा को कुचलते दिखाया गया था। लेकिन उन्हें ये अनुमान नहीं था कि कर्नाटक के उस इलाके में कोबरा की पूजा होती है, लोगों ने उस पोस्टर को धार्मिक भावनाओं के खिलाफ माना। जिसका सीधा फायदा इंदिरा को मिला। इस चुनाव में इंदिरा की तरफ से दिया गया नारा- ‘एक शेरनी सौ लंगूर…चिकमंगलूर चिकमंगलूर’ भी काफी लोकप्रिय रहा।


इस चुनाव में एक बार इंदिरा को नन बनकर अपनी जान बचानी पड़ी थी। पुपुल जयकर ने अपनी किताब ‘इंदिरा गांधी: ए बायोग्राफी’ में लिखा कि ‘एक बार जॉर्ज को खबर लगी कि रास्ते से इंदिरा का काफिला आने वाला है, जॉर्ज ने सड़क को ब्लॉक कर दी और वहां सभा करने लगे। देवराज उर्स को जानकारी रास्ते में ही मिल गई। लेकिन वे केंद्रीय मंत्री से भिड़ना नहीं चाहते थे। तब इंदिरा गांधी को नन की तरह ड्रेस पहनकर एक पुरानी कबाड़ कार में बैठाकर इलाके से बाहर निकाला गया। जब चुनाव के नतीजे आए तो इंदिरा गांधी आसानी से जीत गईं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
told cobra to Indira, Janata Dal loss

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/told-cobra-to-indira-janata-dal-loss-01540481.html

शाह का ममता पर तंज- भगवान राम का नाम भारत में नहीं तो क्या पाक में लिया जाएगा


कोलकाता.भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को प.बंगाल के घाटाल में जनसभा की। इस दौरान उन्होंने जय श्रीराम कहने को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा। शाह ने कहा- ममता राज्य में लोगों को जय श्रीराम नहीं बोलने दे रहीं हैं। यह चौकाने वाला है कि भारत में राम का नाम नहीं लिया जाएगा तो क्या पाकिस्तान में जय श्री राम बोला जाएगा। भगवान राम देश की संस्कृति का हिस्सा हैं, उनका नाम लेने से कोई नहीं रोक सकता।

दरअसल, हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है। यह पश्चिम मिदनापुर का बताया जा रहा है। वीडियो में दिख रहा है कि ममता बनर्जी अपनी कार रोककर जय श्रीराम के नारे लगाने वालों को डांटती दिख रहीं हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
loksabha chunavA Congress delegation led by Congress leader Suresh Pachouri reaches Shivraj Singh Chouhan residence
loksabha chunavA Congress delegation led by Congress leader Suresh Pachouri reaches Shivraj Singh Chouhan residence

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-chunav-7-may-2019-01539887.html

सीजेआई पर आरोप लगाने वाली महिला ने कहा- मुझे जांच रिपोर्ट की कॉपी दी जाए


नई दिल्ली. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर यौन शोषण के आरोप लगाने वाली महिला ने मंगलवार को आंतरिक जांच समिति से जांच रिपोर्ट की मांग की। जस्टिस बोबडे की अध्यक्षता वाली जांच समिति ने सोमवार को सीजेआई पर लगे आरोपों को खारिज कर दिया था। समिति ने कहा था कि इन आरोपों में कोई आधार नहीं है। जांच समिति ने अपनी रिपोर्ट को सार्वजनिक ना किए जाने का भी निर्देश दिया।

जस्टिस बोबडे, जस्टिस इंदु मल्होत्रा और जस्टिस इंदिरा बनर्जी की आंतरिक जांच समिति ने 14 दिन में अपनी जांच पूरी की। 3 दिन तक जांच में हिस्सा लेने के बाद महिला ने आगे की जांच में शामिल होने से इनकार कर दिया था।

जांच समिति की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता नहीं- महिला

महिला ने जस्टिस बोबडे को खत लिखकर कहा- जांच समिति की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता नहीं है। इसके अलावा मुझे ऑर्डर की कॉपी ना दिया जाना प्राकृतिक न्याय के सिद्धांत का उल्लंघन है। यह इंसाफ का मजाक उड़ाना है। पहली ही सुनवाई में मुझे कोई स्पष्टता नहीं दिखाई दी थी। इन-हाउस कार्यवाही के नियमों का इस्तेमाल अब मुझे रिपोर्ट ना देने और इसे सार्वजनिक ना किए जाने में किया जा रहा है। ऐसा लगता है कि आरोप लगाने वाले को भी रिपोर्ट की कॉपी नहीं दी जाएगी।

चीफ जस्टिस पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा

सुप्रीम कोर्ट की एक पूर्व महिला कर्मचारी ने चीफ जस्टिस पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया। इसकी जांच सुप्रीम कोर्ट की इन हाउस कमेटी कर रही थी। कमेटी में सुप्रीम कोर्ट केजजजस्टिस बोबडे के अलावा दो महिला जज- जस्टिस इंदु मल्होत्रा ​​और जस्टिस इंदिरा बनर्जी भी थीं। आरोप लगाने वाली महिला कमेटी के सामने पेश हुई थी, लेकिन बाद में मीडिया में बयान दिया था कि अगर उसे वकील ले जाने की इजाजत नही दी गई तो वह जांच में हिस्सा नहीं लेगी।महिला का कहना था कि मुझे यहां इंसाफ की उम्मीद कम दिखाई देती है।

जूनियर कोर्ट असिस्टेंट थीआरोप लगाने वाली महिला

सीजेआई गोगोई पर 35 साल की महिला ने यौनशोषण के आरोप लगाए थे। उसने एफिडेविट की कॉपी 22 जजों को भेजी थी। यह महिला 2018 में सीजेआई के आवास पर बतौर जूनियर कोर्ट असिस्टेंट पदस्थ थी। बाद में उसे नौकरी से हटा दिया गया।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
चीफ जस्टिस रंजन गोगोई।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/allegations-against-cji-former-woman-employee-of-sc-seeks-copy-of-in-house-inquiry-repor-01540457.html

ममता ने कहा- मोदी पर लोकतंत्र का करारा थप्पड़ पड़ना चाहिए


कोलकाता. पश्चिम बंगाली की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुरुलिया में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। ममता ने कहा,‘‘मेरे लिए पैसा कोई मायने नहीं रखता। यही कारण है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बंगाल आए तो उन्होंने मेरी पार्टी पर तोलाबाज होने का आरोप लगाया। मैं चाहती हूं कि उन्हें लोकतंत्र का तगड़ा तमाचा पड़े।’’

इससे पहले मुख्यमंत्री बनर्जी ने बिष्णुपुर में जनसभा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा का बाबू जय श्रीराम कहता है लेकिन क्या उसने एक भी राम मंदिर बनवाया? चुनाव के दौरान भगवान रामचंद्र आपके पार्टी एजेंट बन जाते हैं और आप (मोदी) कहते हैं कि रामचंद्र मेरे चुनाव एजेंट हैं। आप जय श्रीराम का नारा लगाते हो और दूसरे को ऐसा जबरन बोलने के लिए कहते हो।

सोमवार को मोदी ने तामलुक (बंगाल) की रैली में कहा था, ‘‘दीदी इतनी बौखला गई हैं कि अब उन्हें भगवान की बात करना भी खटक रहा है। हालत तो यह है कि जय श्रीराम कहने वालों को दीदी गिरफ्तार करवाकर जेल भेज रही हैं। दीदी के इसी रवैये की वजह से पश्चिम बंगाल में लोगों को अपने हिसाब से पूजा पाठ करने, पूरी आजादी के साथ अपने व्रत, पर्व, त्योहार मनाने में दिक्कत हो रही है।’’

‘वे किसी से जबर्दस्तीनहीं बुलवा सकते’
ममता ने कहा, ‘‘आप (मोदी) किसी से जबर्दस्ती कुछ नहीं बुलवा सकते। हमारी भगवान राम में आस्था है। हम जानते हैं कि उन्हें किस तरह आदर देना है। हम जय हिंद, वंदे मातरम, मां-माटी-मानुष की जय, तृणमूल कांग्रेस की जय बोलेंगे। लेकिन, वे नारे कभी नहीं लगाएंगे जो भाजपा लोगों से सुनना चाहती है।’’

‘राजीव गांधी पर मोदी का बयान निंदनीय’
भूपेश बघेल ने रायपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘‘राजीव गांधी का देश के लिए योगदान एक मील के पत्थर की तरह है। सूचना-प्रौद्योगिकी और पंचायती राज के लिए किए गए उनके काम हमारे सामने हैं। देश की एकता-अखंडता के लिए उन्होंने अपना जीवन न्योछावर कर दिया। मरणोपरांत उन्हें देश के सबसे बड़े सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया। राजीव जी पर भद्दी टिप्पणी करना घोर निंदनीय है।’’

‘3-4 घंटे सोते हैं मोदी, इसलिए मानसिक संतुलन बिगड़ा’

बघेल के मुताबिक, ‘‘कोई सोच भी नहीं सकता है कि प्रधानमंत्री के पद पर बैठा व्यक्ति एक ऐसे व्यक्ति पर अभद्र टिप्पणी करेगा जो अब इस दुनिया में ही नहीं है। दरअसल, मोदी अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं। उन्हें इलाज की जरूरत है। उन्होंने खुद कहा कि वे रात में 3-4 घंटे ही सोते हैं। कम नींद लेने के चलते ही उन्होंने मानसिक स्तर बिगड़ गया है। ऐसी स्थिति में उच्च पद पर रहना देश के लिए खतरा हो सकता है।’’

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि मोदी झूठ बोलते हैं कि उन्हें देश से प्यार है। सच तो यह है कि वे केवल सत्ता के भूखे हैं और इसके लिए वे किसी भी हद तक जा सकते हैं।

हाल ही में उत्तरप्रदेश के प्रतापगढ़ में एक सभा मोदी ने राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर-1 बताया था। इससे पहले अभिनेता अक्षय कुमार को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि वे 3-4 घंटे ही सोते हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Mamata Says on Modi you say Jai Sri Ram but have you built even one Ram temple Updates
Mamata Says on Modi you say Jai Sri Ram but have you built even one Ram temple Updates

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/mamata-says-on-modi-you-say-jai-sri-ram-but-have-you-built-even-one-ram-temple-updates-01539817.html

40% भारतीय चाहते हैं वीडियो गेम पबजी और ऑनलाइन सट्टेबाजी पर बैन लगे


नई दिल्ली. करीब 60% भारतीय चाहते हैं कि स्नैक्स और कोल्ड ड्रिंक पर प्रतिबंध लगाया जाए। वहीं, 40% ने कहा कि पूरे देश में वीडियो गेम पबजी, सिगरेट, गांजा और ऑनलाइन सट्टेबाजी पर भी बैन लगाया जाए। मार्केट रिसर्च इप्सोस की रिसर्च में ये सामने आया।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
प्रतीकात्मक फोटो

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/40-per-cent-indians-want-ban-on-tobacco-01540409.html

शिवसेना ने कहा- भाजपा के लिए 280 सीटें जीतना मुश्किल, लेकिन सरकार एनडीए की ही होगी


मुंबई. एनडीए में शामिल शिवसेना के अनुसार, इस लोकसभा चुनाव में भाजपा शायद अकेले 280 सीटें न जीत पाए। पार्टी नेता और प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है तो भी सरकार एनडीए परिवार की ही बनेगी। महाराष्ट्र में भाजपा की सहयोगी पार्टी ने साफतौर पर कहा कि वो अगले प्रधानमंत्री के रूप में फिर नरेंद्र मोदी को ही देख रही है। बता दें कि भाजपा महासचिव राम माधव ने भी कहा था कि शायद उनकी पार्टी को अकेले के दम पर बहुमत का आंकड़ा छूना कठिन हो। राउत ने माधव के बयान का समर्थन किया।

माधव सही कह रहे हैं- शिवसेना
मीडिया से बातचीत में शिवसेना नेता ने राम माधव के उस बयान का समर्थन किया जिसमें उन्होंने कहा था कि शायद भाजपा अकेले पिछली बार जितनी सीटें न जीत पाए। राउत ने कहा- माधव ने सही कहा है। अगली सरकार एनडीए की ही होगी। भाजपा सबसे बड़ी पार्टी होगी। आज के हालात देखें तो मुझे लगता है कि भाजपा के लिए अकेले 280-282 सीटें जीतना थोड़ा कठिन है। लेकिन, हमारा एनडीए परिवार आसानी से बहुमत का आंकड़ा पार कर लेगा।

मोदी ही बनें फिर प्रधानमंत्री- राउत
न्यूज एजेंसी से बातचीत में राउत ने कहा, “शिवसेना एनडीए परिवार का हिस्सा है। हमें बहुत खुशी होगी अगर नरेंद्र मोदी ही फिर प्रधानमंत्री बनें।” बता दें कि वर्तमान लोकसभा में शिवसेना के 18 सांसद हैं। महाराष्ट्र में भी भाजपा-शिवसेना की गठबंधन सरकार है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Shiv Sena leader Sanjay Raut said that it bit difficult for BJP to reach the 280 seat mark.

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/shiv-sena-said-it-is-difficult-for-bjp-to-reach-280-seat-mark-01540363.html

2016 से पहले नहीं हुई कोई सर्जिकल स्ट्राइक


नई दिल्ली.लोकसभा चुनाव में सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कांग्रेस के दावों के बीच नया खुलासा हुआ है। आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, रक्षा मंत्रालय के पास 2016 से पहले किसी भी सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी नहीं है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, मंत्रालय ने आरटीआई के जवाब में कहा कि उनके पास केवल एक सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी है, जो 29 सितंबर 2016 को उत्तरी कश्मीर में उरी आतंकी हमले के बाद हुई थी। कांग्रेस ने दावा किया था कि यूपीए के शासन में 6 बार सर्जिकल स्ट्राइक हुई।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Defence Ministry has said no records of any surgical strikes conducted prior to the 2016

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/centre-says-no-records-of-surgical-strikes-during-upa-regime-revealing-rti-01540355.html

रॉयल एनफील्ड ने 7000 बुलेट और बुलेट इलेक्ट्रा बाइक्स का रिकॉल किया


नई दिल्ली. रॉयल एनफील्ड ने बुलेट और बुलेट इलेक्ट्रा मॉडल की 7,000 बाइक्स रिकॉल की हैं। ब्रेक की नली के बोल्ट (ब्रेक केलिपर बोल्ट) में फॉल्ट को दुरुस्त करने के लिए यह फैसला लिया गया है। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इस साल 20 मार्च से 30 अप्रैल तक बनाई गई बाइक्स रिकॉल में शामिल हैं।

कंपनी का कहना है कि सर्विस की जांच में यह पता चला कि ब्रेक केलिपर बोल्ट पर लगाया गया ढक्कन कंपनी के गुणवत्ता मानकों के अनुसार नहीं था। इसलिए रिकॉल का फैसला लिया। सभी ग्राहकों औरसंबंधित लोगों को इसकी सूचना दी जा रही है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
सिंबॉलिक इमेज।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/royal-enfield-recalls-around-7000-units-of-bullet-and-bullet-electra-01540109.html

सेप्टिक टैंक की सफाई करने उतरे 2 मजदूरों की मौत, 3 की हालत गंभीर


नई दिल्ली. रोहिणी में सेप्टिक टैंक की सफाई करने उतरे दो मजदूरों की इलाज के दौरान मौत हो गई। अन्य तीन का इलाज जारी है। मंगलवार को पांच मजदूर सफाई करने सेप्टिक टैंक में उतरे थे। इसी दौरान वे बेहोश हो गए। उन्हेंबाबा साहब अम्बेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

रोहिणी के पुलिस उपायुक्त एसडी मिश्रा ने बतायाकि यह घटना प्रेम नगर इलाके की है।दोनों मृतक दीपक (30) और गणेश (35) प्रेमनगर के ही रहने वाले थे। केस दर्ज कर लिया गया है। उन्होंनेबताया कि जांच की जा रही है किमजदूर सुरक्षा के कपड़े और मास्कपहने थे या नहीं।

मार्च में 2कर्मचारियों की मौत हो गई थी

इससे पहले मार्च में वेस्ट दिल्ली के रजौरी गार्डन में एक रेस्तरां के सीवर की सफाई के दौरान जहरीली गैस की चपेट में आने से दो कर्मचारियों की मौत हो गई थी। पुलिस गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर रेस्तरां मालिक को हिरासत में लिया था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
प्रतीकात्मक फोटो।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/two-labourers-have-passed-away-cleaning-a-septic-tank-in-rohini-01540307.html

अनिल विज ने मुर्दाबाद के नारे लगाने वालों को अपशब्द कहे, ग्रामीण भड़के तो पुलिस ने लाठियां भांजी


अंबाला. भाजपा प्रत्याशी रत्नलाल कटारिया के समर्थन में वोट मांगने पहुंचे हरियाणा सरकार केस्वास्थ्य मंत्री ने विरोध कर रहे लोगों को अपशब्द कह दिए, जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। लोगों ने नारेबाजी तेज की और हाथापाई पर उतारू हो गएतो पुलिस ने लाठियां भांजकर भीड़ को खदेड़ दिया।घटना के बादविज को वहां से आनन-फानन में निकलना पड़ा।

मंगलवार दोपहर मेंअनिल विज मछौंडा गांव में पब्लिक मीटिंग करने गए थे। वे मीटिंग लेकर निकले तो बाहर कुछ लोग खड़े थे। वे भाजपा प्रत्याशीरत्नलाल कटारिया और अनिल विज मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। इस पर विज ने उन्हें अपशब्द कह दिए। जिसे सुनते ही भीड़ भड़क गई और विज की तरफ भागी। ये देख पुलिसकर्मियों ने बीच-बचाव किया।

गांव वालों की आयोजकों से भी नोकझोंक

पुलिसकर्मियों और गांववालों के बीच काफी देर हाथपाई हुई। अंत में सुरक्षाकर्मी विज को उनकी गाड़ी में बैठाकर वहां से ले गए।लोग देर तक मुर्दाबाद के नारे लगाते रहे। गांववालों की आयोजकों से भी नोक-झोंक हो गई। इस पूरी घटना का वीडियो वायरल हो रहा है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
पब्लिक मीटिंग के बाद बाहर निकलते प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज।
विज ने अपशब्द कहे तो हाथापाई शुरू हो गई।
पुलिस ने बीच-बचाव करके अनिल विज को निकाला।
लोगों ने की जमकर धक्का-मुक्की।
विज को निकालते वक्त रास्ते में खड़ी बाइक को हटाते पुलिसकर्मी।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/haryana-minister-vij-abused-people-protesting-against-him-scuffle-between-police-and-local-01540213.html

सेंसेक्स 324 अंक गिरकर 38277 पर, निफ्टी 100 प्वाइंट नीचे 11498 पर बंद


मुंबई. शेयर बाजार में मंगलवार को लगातार दूसरे दिन बड़ी गिरावट आई। सेंसेक्स 323.71 अंक की गिरावट के साथ 38,276.63 पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान इसने 38,835.54 का उच्च और 38,236.18 का निचला स्तर छुआ। यानी इंट्रा-डे में ऊपरी स्तर से यह 600 प्वाइंट नीचे आया। निफ्टी की क्लोजिंग 100.35 अंक नीचे 11,497.90 पर हुई। कारोबार के दौरान यह 11,657.05 के उच्च और 11,484.45 के निचला स्तर तक गया।

अमेरिका-चीन के बीच ट्रेड वॉर की चिंता से बिकवाली बढ़ी

बाजार की शुरुआत बढ़त के साथ हुई। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 235 अंक चढ़ा लेकिन ऊपरी स्तरों से मुनाफावसूली हावी हो गई। विश्लेषकों के मुताबिक आईएमएफ की प्रमुख क्रिस्टीन लेगार्ड के बयान के बाद बिकवाली तेज हो गई। उन्होंने कहा कि अमेरिका-चीन के बीच व्यापारिक तनाव दुनिया की इकोनॉमी के लिए खतरा है।

मीडिया इंडेक्स में 2.74% नुकसान

सेंसेक्स के 30 में से 24 और निफ्टी के 50 में से 37 शेयरों ने गिरावट के साथ कारोबार खत्म किया। एनएसई के 11 में से 10 सेक्टर इंडेक्स नुकसान में रहे। मीडिया इंडेक्स 2.74% लुढ़क गया।

निफ्टी के टॉप-5 लूजर

शेयर गिरावट
टाटा मोटर्स 4.90%
जी एंटरटेनमेंट 4.33%
आईसीआईसीआई बैंक 3.76%
रिलायंस इंडस्ट्रीज 3.17%
जेएसडब्ल्यू स्टील 2.98%

निफ्टी के टॉप-5 गेनर

शेयर बढ़त
हिंदुस्तान यूनीलीवर 1.71%
इन्फ्राटेल 1.38%
लार्सन एंड टूब्रो 1.17%
हिंडाल्को 1.06%
विप्रो 0.91%



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
stock market sensex rise 200 points oil marketing cos stocks fall upto 4 pc

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/stock-market-sensex-rise-200-points-oil-marketing-cos-stocks-fall-upto-4-pc-01539867.html

ट्रेनिंग के दौरान एक कैडेट की मौत, कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश


उत्तराखंड.भारतीय सैन्य अकादमी (देहरादून) में ट्रेनिंग के दौरान एक कैडेट की मौत हो गई। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, कैडेट अमूल रावल ने 6 मई को ट्रेनिंग के दौरान अपनी जान गंवादी। वेनाइट नेविगेशन एक्सरसाइज के दौरान खाई में गिरने से चोटिल हो गए थे। इसके बाद उन्हें तुरन्त अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। कोर्ट ऑफ इंक्वायरीका आदेश दे दिया गया है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
भारतीय सैन्य अकादमी (देहरादून)

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/cadet-amul-rawal-lost-his-life-during-training-exercise-in-indian-military-academy-dehradu-01540165.html

डेमोक्रेट सांसद बोलीं- इस साल महात्मा गांधी को देश के सर्वोच्च सम्मान से नवाजा जाना चाहिए


वॉशिंगटन. अमेरिकी की डेमोक्रेट सांसद कैरोलिन मैलोनी ने कहा है कि इस साल महात्मा गांधी को देश के सर्वोच्च सम्मान (कांग्रेस की तरफ से दियाजाने वालागोल्ड मेडल) से नवाजा जाना चाहिए। इस गोल्ड मेडल को अमेरिका केसबसे बड़े नागरिक सम्मान का दर्जा हासिल है। इस साल गांधी की 150वीं जन्मशती भी मनाई जा रही है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
US lawmaker says Gandhi should be honoured with Congressional Gold Medal
US lawmaker says Gandhi should be honoured with Congressional Gold Medal

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/us-lawmaker-says-gandhi-should-be-honoured-with-congressional-gold-medal-01540051.html

देशभर में सोने की खरीदारी, शुद्धता से जुड़ी 5 बातें ध्यान रखने से होगा फायदा


नई दिल्ली. अक्षय तृतीया पर देशभर में सोने की खरीदारी हो रही है। इस दिन खरीदारी शुभ मानी जाती है। पिछले साल अक्षय तृतीया पर सोने का भाव 31,535 रुपए प्रति दस ग्राम था। इस बार 32,720 रुपए है। सोने की खरीदारी करते वक्त शुद्धता से जुड़ी 5 बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए ताकि ग्राहकों को अपने पैसे का पूरा मूल्य मिल सके।

बीआईएस मार्का
ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड्स (बीआईएस) द्वारा हॉलमार्क गोल्ड ज्वेलरी पर यह निशान होता है। इससे यह पता चलता है कि लाइसेंसधारक लैब में सोने की शुद्धता की जांच की गई है। बीआईएस की वेबसाइट के मुताबिक यह देश में एकमात्र एजेंसी है जिसे सोने के गहनों की हॉलमार्किंग के लिए सरकार से मंजूरी प्राप्त है। कई ज्वेलर बीआईएस की सेवा लेने की बजाय खुद हॉलमार्किंग करते हैं इसलिए खरीदारी से पहले यह जान लेना चाहिए कि ज्वेलरी बीआईएस हॉलमार्किंग है या नहीं।

कैरेट में शुद्धता
यह सोने की शुद्धता बताने का पैमाना है। 24 कैरेट वाला सोना सबसे शुद्ध होता है। लेकिन यह बहुत नरम होने की वजह से ज्वेलरी बनाते समय कुछ मात्रा में चांदी और जिंक जैसी दूसरी धातुएं भी मिलाई जाती हैं। बीआईएस के मुताबिक फिलहाल 3 स्तरों 22 कैरेट, 18 कैरेट और 14 कैरेट के लिए हॉलमार्किंग की जाती है।

हॉलमार्किंग प्रमाणित है या नहीं ?
जिस लैब में ज्वेलरी की जांच की जाती है वह अपना लोगो डालती है। बीआईएस की वेबसाइट ये यह पता कर सकते हैं कि लैब के पास बीआईएस का लाइसेंस है या नहीं।

ज्वेलर की पहचान का निशान
ज्वेलरी पर विक्रेता की पहचान भी अंकित होती है। यह बीआईएस से सर्टिफाइड ज्वेलर या ज्वेलरी बनाने वाले का हो सकता है। बीआईएस की वेबसाइट पर सर्टिफाइड ज्वेलर्स की लिस्ट मौजूद है।

मेकिंग चार्ज
ज्वेलर्स अलग-अलग दरों पर मेकिंग चार्ज वसूलते हैं। यह ज्वेलरी की डिजायन पर भी निर्भर करता है। ज्वेलरी मशीन से बनी है या हाथ से इसका भी मेकिंग चार्ज पर असर पड़ता है। मशीन से बनी ज्वेलरी अक्सर सस्ती होती है। मेकिंग चार्ज प्रति ग्राम सोने के आधार पर लिए जाते हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
गुजरात के राजकोट में ज्वेलरी खरीदते ग्राहक।
five things to know before buying gold on akshaya tritiya

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/five-things-to-know-before-buying-gold-on-akshaya-tritiya-01540003.html

50% ईवीएम और वीवीपैट मिलान की मांग वाली 21 विपक्षी दलों की पुनर्विचार याचिका खारिज


नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को 50% ईवीएम-वीवीपैट मिलान को लेकर 21 दलों की पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी। याचिकर्ताओं की तरफ से अभिषेक मनु सिंघवी कोर्ट में पेश हुए थे। उन्होंने कहा- अगर 50% मुमकिन नहीं तो कम से कम 25% ईवीएम का वीवीपैट से मिलान कराया जाना चाहिए। सुप्रीम कोर्टने कहा कि हम अपने पुराने आदेश में कोई बदलाव नहीं करने जा रहे।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को ईवीएम और वीवीपैट के मिलान का दायरा बढ़ाने के लिए कहा था। कोर्ट ने आयोग को निर्देश दिया था कि लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाली सभी विधानसभाओं के पांच बूथों पर ईवीएम और वीवीपैट का मिलान किया जाए। इससे पहले हर विधानसभा के एक पोलिंग बूथ पर ही पर्चियों का मिलान होता था।

पहली याचिका भी 21 विपक्षी दलों ने दायर की थी

पहले भी 21 विपक्षी दलों ने इस व्यवस्था के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच विपक्षी पार्टियों की 50% पर्चियों के मिलान की मांग पर सहमत नहीं हुई थी। बेंच ने कहा था कि इसके लिए बड़ी संख्या में लोगों की जरूरत पड़ेगी, बुनियादी ढांचे को देखते हुए ये मुमकिन नहीं लगता।

अभी एक पोलिंग बूथ की ईवीएम और वीवीपैट का मिलान होता है

चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि वीवीपैट स्लिप गिनने का मौजूदा तरीका सबसे उपयुक्त है। अभी विधानसभा चुनाव में एक पोलिंग बूथ पर ईवीएम और वीवीपैट पर्चियों का मिलान होता है। वहीं, आम चुनाव में लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सभी विधानसभा क्षेत्रों की एक-एक पोलिंग बूथ पर ईवीएम और वीवीपैट पर्चियों का मिलान होता है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Supreme Court rejects review plea filed by 21 Opposition parties Updates

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/supreme-court-rejects-review-plea-filed-by-21-opposition-parties-updates-01539931.html

सुप्रीम कोर्ट ने दी कांग्रेस सांसद को चुनाव आयोग के फैसले का रिकॉर्ड दाखिल करने की अनुमति


नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव को चुनाव आयोग के फैसले का रिकॉर्ड दाखिल करने की अनुमति दे दी है। मामले की सुनवाई अब 8 मई को की जाएगी। कांग्रेस सांसद की ओर से पेश वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट में कहा है कि चुनाव आयोग ने इन शिकायतों का निपटारा कर दिया है, लेकिन मामला यहीं खत्म नहीं होता है। इस प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट को विस्तार से देखने और गाइड लाइन जारी करने की जरूरत है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Lok Sabha Chunav 6 may 2019:

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-chunav-6-may-2019-1557212382.html

51 सीटों पर 63% वोटिंग, बंगाल में लगातार पांचवें चरण में हिंसा


नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में आजसात राज्यों की कुल 51 सीटों पर मतदान हुआ।इस चरण में 63% वोटिंग हुई। 2014 में इन सीटों पर 61.8% वोट पड़े थे। इस चरण मेंसबसे ज्यादा प. बंगाल में 74% मतदान हुआ।मध्यप्रदेश में करीब 65% औरराजस्थान में 63% वोट पड़े हैं। झारखंड में भी 64% से ज्यादा मतदान हुआहै।आज जिनसीटों पर वोटिंग हो रही है उन परकरीब 8 करोड़ 75 लाख मतदाता हैं। 674 उम्मीदवार हैं। जिन 51 सीटों पर मतदान है, 2014 मेंभाजपा ने उनमें से 39 पर जीत हासिल की थी। कांग्रेस को सिर्फ 2 सीटें मिलीथीं।

प. बंगाल में लगातार पांचवें चरण में भी हिंसा की घटना सामने आईं। पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई। यहां से भाजपा उम्मीदवार अर्जुन सिंह ने कहा कि मुझ पर टीएमसी के गुंडों ने हमला किया। इन गुंडों को बाहर से लाया गया था। ये लोग वोटरों को डरा रहे हैं। मैं भी घायल हो गया हूं। भाजपा ने यहां दोबारा मतदान कराने की मांग की।

आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर मेंपुलवामा के रोहमू पोलिंग बूथ पर वोटिंग शुरू होने के कुछ देर बाद ही ग्रेनेड फेंक दिया। हालांकि, इसमें कोई घायल नहीं हुआ। पुलवामा अनंतनाग लोकसभा सीट में आता है। यहां पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती समेत 18 उम्मीदवार मैदान में हैं। उधर, शोपियां में कुछ अज्ञात लोगों ने बूथ पर पेट्रोल बम फेंका।

स्मृति ने बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया

अमेठी में भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया है। ईरानी नेकहा कि मैंने प्रशासन और चुनाव आयोग को अलर्ट करते हुए ट्वीट किया है। उम्मीद है कि वे कार्रवाई करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि देश के लोगों को तय करना है कि राहुल गांधी की इस तरह की राजनीति को दंडित किया जाए या नहीं। इस ट्वीट के साथ स्मृति ने एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें एक बुजुर्ग महिला कह रही है कि वह भाजपा कोवोट देना चाहती थी, लेकिन जबर्दस्ती हाथ पकड़कर उससे कांग्रेस को वोट दिलवा दिया गया।

कहां कितनी वोटिंग?

राज्य और सीटें 4 बजे तक 5 बजे तक कुल मतदान 2014 में मतदान
बिहार (5) 44% 52% 57.7% 56.4
कश्मीर (2) 15% 17% 18.2% 33.7
मध्यप्रदेश (7) 53% 60% 65.3% 57.6
राजस्थान (12) 50% 58% 63.7% 67.4
उत्तरप्रदेश (14) 44% 51% 57.9% 57.1
बंगाल (7) 62% 71% 74.4% 81.4
झारखंड (4) 57% 58% 64.6% 63.8

राज्य और सीटें 11 बजे तक 12 बजे तक 1 बजे तक 2 बजे तक 3 बजे तक
बिहार (5) 19% 21% 23% 32% 44%
कश्मीर (2) 4% 6% 6% 11% 12%
मध्यप्रदेश (7) 18% 30% 31% 43% 48%
राजस्थान (12) 24% 29% 32% 42% 48%
उत्तरप्रदेश (14) 20% 23% 26% 35% 41%
बंगाल (7) 26% 34% 38% 50% 59%
झारखंड (4) 29% 29% 35% 46% 51%

इस बारउत्तरप्रदेश की सबसे ज्यादा 14 सीटों पर वोटिंग है। आज यूपीएअध्यक्ष सोनिया गांधी,कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी,केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और स्मृति ईरानी समेत कई बड़े नेताओं की सीटों पर भी मतदानहै।

d

    पांचवें चरण में राज्यवार संसदीय सीट

    राज्य/केंद्र शासित प्रदेश सीटों की संख्या उम्मीदवार
    उत्तरप्रदेश 14 182
    राजस्थान 12 134
    मध्यप्रदेश 7 110
    पश्चिम बंगाल 7 83
    बिहार 5 82
    झारखंड 4 61
    जम्मू-कश्मीर 2 22
    कुल 51 674


    *जम्मू-कश्मीर का अनंतनाग देश का एक मात्र संसदीय क्षेत्र है जहां तीन चरणों (3, 4 और 5)में मतदान हो रहा है।

    *मध्यप्रदेश कीखजुराहो, सतना, रीवा, दमोह, टीकमगढ़, होशंगाबाद और बैतूल सीट पर आजमतदान।

    4 चरणों में औसत 68.2% मतदान, पहले फेज में सबसे ज्यादा 69.5% वोट पड़े

    चरण सीटें कब हुआ मतदान मतदान प्रतिशत
    पहला 91 11 अप्रैल 69.5%
    दूसरा 95 18 अप्रैल 69.44%
    तीसरा 117 23 अप्रैल 68.4%
    चौथा 71 29 अप्रैल 65.51%

    2014 मेंभाजपा ने 51 में से76.4% सीटों पर जीत हासिल की थी

    पार्टी 2014 में सीटें जीतीं
    भाजपा 39
    तृणमूल 7
    कांग्रेस 2
    समता पार्टी 1
    लोजपा 1
    रालोसपा 1

    पांचवें चरण में ये बड़े चेहरे मैदान में

    • सोनिया गांधी :सोनिया गांधी अपनी परंपरागत रायबेरली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं। इस सीट से वे तीन बार सांसद रह चुकीहैं। सोनिया से पहले इस सीट से दो बार पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और एक बार फिरोज गांधी भी संसद चुने गए। इस बार सोनियाके खिलाफ भाजपा ने दिनेश प्रताप सिंह को उतारा है।सपा-बसपा गठबंधन ने कांग्रेस कोसमर्थन दिया और इस सीट से अपना कोई उम्मीदवार नहीं उतारा।
    • राहुल गांधी : राहुल गांधी अमेठी और वायनाड से चुनाव लड़ रहे हैं। अमेठी से भाजपा ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को दोबारा टिकट दियाहै। स्मृति2014 में चुनाव हार गईथीं। इस सीट से सपा-बसपा गठबंधनने कोई उम्मीदवार नहीं उतारा।
    • राजनाथ सिंह : राजनाथ सिंह एक बार फिर भाजपा का गढ़ कहीजाने वालीलखनऊ सीटसे चुनाव लड़ रहे हैं। वे 2014 में भी इस सीट से चुनाव जीते थे। लखनऊ से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पांच बार सांसद रहे। सपा ने लखनऊ से शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हाऔर कांग्रेस ने प्रमोद कृष्णमको टिकट दिया है।
    • जितिन प्रसाद : जितिन प्रसाद धौरहरा संसदीय सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी हैं। इस सीट से भाजपा ने रेखा वर्मा को उतारा है। बसपा से अरशद अहमद सिद्दीकी मैदान में हैं। यहां 2014 में भाजपा की रेखा वर्मा ने जीत दर्ज की थी।
    • राज्‍यवर्धन सिंह राठौर : जयपुर ग्रामीण सीटसे भाजपा नेकेंद्रीय मंत्री औरओलिम्पिक पदक विजेताकर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को दोबारामैदान में उताराहै। उनके सामने कांग्रेस ने सादुलपुर से विधायक कृष्णा पूनिया को उतारा है। कृष्णा नेराष्ट्रमंडल खेल 2010 मेंडिस्कस थ्रो में स्वर्ण पदक जीता था।
    • राजीव प्रताप रूडी: बिहार की सारण लोकसभा सीट का मुकाबला काफी दिलचस्प है। यहां भाजपा ने केंद्रीय मंत्रीराजीव प्रताप रूडी को मैदान में उतारा है। दूसरी तरफ राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू यादव के समधी चंद्रिका राय (राजद) पहली बार लोकसभा पहुंचने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। हालांकि, लालू के बेटे तेजप्रताप यादव इसके खिलाफ थे, वे अपनी पार्टी के प्रत्याशी और ससुर के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं।


    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting
    lok sabha election 2019 all about know phase 5 voting

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-election-2019-all-about-know-phase-5-voting-01538693.html

    छठे चरण में बंगाल की 8 सीटों पर चुनाव, मिदनापुर छोड़कर 7 पर तृणमूल सब पर भारी


    लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 12 मई को पश्चिम बंगाल की आठ सीटों घाटाल, मिदनापुर, झारग्राम, पुरुलिया, कांठी, तामलुक, बांकुरा और विष्णुपुर में वोटिंग होगी। ये जंगल महल का वह इलाका है जो कभी माओवादियों का गढ़ था। स्थानीय मुद्दों की बजाय यहां चुनाव मोदी, दीदी और संत्रास (आतंक) पर केंद्रित है। मिदनापुर में कड़ी टक्कर को छोड़ दें तो तृणमूल को कहीं परेशानी नहीं है।

    पूर्व आईपीएस अफसर 56 साल की भारती घोष कभी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की विश्वासपात्र अधिकारी थीं, लेकिन अब राजनीतिक दुश्मन। दुश्मनी इस हद तक कि घाटाल से भाजपा से लड़ रही भारती को हराने में ममता कोई कसर नहीं छोड़ रहीं। तृणमूल उम्मीदवार व बांग्ला फिल्मों के सुपर स्टार दीपक अधिकारी (देव) के लिए ममता ने पूरी ताकत लगा दी है। भारती अपने ऊपर दर्ज 11 मुकदमों का बदला लेना चाहती हैं। 36 वर्षीय देव को भारती टक्कर जरूर दे रही हैं लेकिन तृणमूल के मजबूत और भाजपा के कमजोर नेटवर्क के कारण देव का पलड़ा भारी है।


    कोलकाता से करीब 125 किलोमीटर दूर घाटाल के इरपाला में भारती के रोड शो में भरी दोपहरी में भी भीड़ है। वे तृणमूल सरकार पर हमला बोलती हैं और जय श्री राम के नारे से खत्म करती हैं। पश्चिम मिदनापुर की एसपी रहते उनकी छवि सख्त अफसर की थी। घाटाल इसी जिले में है, इसलिए भारती जाना-पहचाना चेहरा है। उनके स्वागत के लिए खड़ी काजोल अधिकारी कहती हैं- ‘मैं इन्हें तब से जानती हूं जब बाढ़ में ये सामान लेकर हमारी मदद करने आई थीं। भारती की यह दूसरी तस्वीर है। उन्हें मिदनापुर से हटाकर जब लूप लाइन में भेजा तो उन्होंने नौकरी छोड़ दी। इसके बाद वे सरकार के निशाने पर आ गई। उन पर 11 केस दर्ज हो चुके हैं। इनमें अवैध वसूली समेत कई गंभीर आरोप हैं।

    देव के चुनाव संयोजक विधायक शंकर दलोई कहते हैं- ‘जो केस दर्ज हैं उन्हीं से बचने के लिए वे भाजपा में गई। जब एसपी थीं तब आतंक से हर कोई त्रस्त था’। फिल्मों में व्यस्तता के कारण देव न तो क्षेत्र में सक्रिय रहे न संसद में। बावजूद इसके उन्हें देखने भीड़ उमड़ रही है। उनके साथ तृणमूल की मजबूत टीम भी है। मिदनापुर में कांटे की टक्कर है। यहां भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष का मुकाबला तृणमूल के मानस रंजन भूनिया से है। भूनिया कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। वह अभी राज्यसभा सदस्य हैं। भाजपा के दिलीप घोष खड़कपुर से विधायक हैं। क्षेत्र मेंें भाजपा का प्रभाव बढ़ा है। इसी को देखते हुए ममता ने मौजूदा सांसद अभिनेत्री संध्या रॉय की जगह भूनिया को टिकट दिया है। बांकुरा में भी यही फॉर्मूला अपनाया। वहां अभिनेत्री मुनमुन सेन की जगह राज्य के मंत्री सुब्रत मुखर्जी को उतारा है। लेफ्ट के गढ़ में मुकाबला भाजपा के सुभाष सरकार से है जो पिछली बार तीसरे नंबर पर थे। मुखर्जी की छवि की वजह से तृणमूल को दिक्कत नहीं है।


    नंदीग्राम आंदोलन की वजह से तामलुक तृणमूल का मजबूत गढ़ है। क्षेत्र में अधिकारी परिवार का दबदबा है। 2014 में शिवेंदु अधिकारी जीते थे। 2016 में शिवेंदु को ममता ने मंत्री बनाया तो उपचुनाव में उनके भाई दिव्येंदु जीते। सीपीएम से इब्राहिम अली और भाजपा के सिद्धार्थ शंकर नास्कर से मुकाबला है। इस बार भी दिव्येंदु को दिक्कत नहीं है। कांठी से शिवेंदु व दिव्येंदु के पिता शिशिर कुमार अधिकारी जीत की हैट्रिक की तैयारी में हैं। क्षेत्र में उनके प्रभाव और तृणमूल की मजबूत स्थिति को देखते राह भी आसान है। उनका मुकाबला भाजपा के देवाशीष सामंता से है।


    पुरुलिया में त्रिकोणीय टक्कर है। तृणमूल सांसद डॉ. मृगांको महतो का मुकाबला कांग्रेस के नेपाल महतो व भाजपा के ज्योतिर्मय महतो से है। नेपाल इसी संसदीय क्षेत्र के बागमुंदी से 2001 से विधायक हैं। पुरुलिया में भी कांग्रेस विधायक है लेकिन संगठन की कमजोर स्थिति उनके आड़े आएगी। भाजपा प्रत्याशी के सामने पहचान का संकट है। विष्णुपुर लोकसभा में मुकाबला अलग तरह का है। 2014 का चुनाव तृणमूल के टिकट से जीते सौमित्र खान अब भाजपा उम्मीदवार हैं। हाई कोर्ट ने उनके क्षेत्र में आने पर रोक लगा रखी है। ऐसे में प्रचार की कमान पत्नी संभाल रही हैं। सौमित्र इसी साल भाजपा में आए हैं। उनके सामने राज्य के मंत्री श्यामल सांत्रा है। सौमित्र के प्रचार में नहीं होने का फायदा तृणमूल को मिल रहा है।


    संथाली जनजाति बहुल झारग्राम में बिरबाहा नाम की दो उम्मीदवारों के कारण मुकाबला रोचक है। एक हैं तृणमूल की बिरबाहा सोरेन और दूसरी झारखंड पार्टी (नरेन) की बिरबाहा हांसदा। हांसदा संथाली फिल्मों की स्टार हैं और सोरेन स्थानीय नेता रॉबिन टुडू की पत्नी। हांसदा ने सोरेन के खिलाफ ताल ठाेंक रखी है।

    आखिर संत्रास क्यों है चर्चा में?

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ यहां कोई तीसरा शब्द चर्चा में है तो वह है संत्रास यानी आतंक। भाजपा, कांग्रेस और लेफ्ट फ्रंट नेता के भाषण में यह शब्द बार-बार आता है। भाजपा इसे बड़ा मुद्दा मान रही है। पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय इसे यूं समझाते हैं- ‘जिस प्रकार कम्युनिस्ट विरोधियों को कुचलते थे, वे सारे हथकंडे अब तृणमूल अपना रही है। मेरे प्रभारी बनने के बाद बंगाल में अब तक हमारे 96 कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    पश्चिम बंगाल में पूरा चुनाव पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम ममता बनर्जी के मुखौटे पर हो रहा है।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/trinamool-congress-strong-in-8-seats-in-west-bengal-excepting-midnapore-01539639.html

    सुप्रीम कोर्ट ने दी कांग्रेस सांसद को चुनाव आयोग के फैसले का रिकॉर्ड दाखिल करने की अनुमति


    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव को चुनाव आयोग के फैसले का रिकॉर्ड दाखिल करने की अनुमति दे दी है। मामले की सुनवाई अब 8 मई को की जाएगी। कांग्रेस सांसद की ओर से पेश वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट में कहा है कि चुनाव आयोग ने इन शिकायतों का निपटारा कर दिया है, लेकिन मामला यहीं खत्म नहीं होता है। इस प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट को विस्तार से देखने और गाइड लाइन जारी करने की जरूरत है।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Lok Sabha Chunav 6 may 2019:

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-chunav-6-may-2019-1557206896.html

    नेस वाडिया को ब्रिटानिया के बोर्ड से इस्तीफा देना चाहिए: इनगवर्न


    नई दिल्ली. प्रॉक्सी एडवाइजरी और कॉरपोरेट गवर्नेंस फर्म इनगवर्न ने ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज पर लिस्टिंग के नियम तोड़ने का आरोप लगाया है। फर्म ने सोमवार को कहा कि ब्रिटानिया ने प्रमोटर और डायरेक्टर नेस वाडिया की गिरफ्तारी की जानकारी नहीं दी। इनगवर्न ने वाडिया के इस्तीफे की मांग की है।

    इनगवर्न एक इंडिपेंडेंट कॉरपोरेट गवर्नेंस रिसर्च एवं एडवाइजरी फर्म है जो निवेशकों के हितों के लिए काम करती है। साथ ही कंपनियों के कॉरपोरेट गवर्नेंस को बेहतर बनाने में भी मदद करती है।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    नेस वाडिया।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/britannia-violated-listing-norms-in-not-reporting-ness-wadia-arrest-says-ingovern-01539835.html

    इन टैक्स प्रावधानों से सालाना 10-15 हजार रुपए की बचत संभव


    पैसे को लेकर कोई योजना बनाने, इन्वेस्ट करने या पोर्टफोलियो (कहां निवेश किया है) का मूल्यांकन करने की बात आती है तो अक्सर लोगों का एक बहाना होता है- कल से शुरू करेंगे। साफ-साफ कहें तो फाइनेंशियल प्लानिंग शुरू करने के लिए किसी खास समय को अच्छा नहीं कह सकते। आपको तत्काल इसकी शुरुआत करनी चाहिए। फिर भी अगर आपको किसी मौके की तलाश है तो नया वित्त वर्ष फाइनेंशियल प्लानिंग शुरू करने के लिए अच्छा कहा जा सकता है। यहां दो ऐसे रिजॉल्यूशन की बात करते हैं जिन्हें आपको अपनी फाइनेंशियल प्लानिंग में प्राथमिकता में रखना चाहिए।

    अपने पोर्टफोलियो के साथ ज्यादा प्रयोग करने से बचें

    यह आम चुनाव का साल है। इसलिए इस साल शेयर बाजार में काफी हद तक अस्थिरता का माहौल दिख सकता है। बहुत से लोग अपनी पोजीशन होल्ड किए बैठे हैं। यानी वे न खरीद रहे न बेच रहे हैं। वे चुनाव खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं। इसलिए मेरी सलाह होगी कि सट्‌टेबाजी से दूर रहें और पैसे लगाने (पोर्टफोलियो) में प्रयोग करने से बचें। यह लॉन्ग टर्म में आपके इन्वेस्टमेंट के लिए नुकसानदायक हो सकता है। लेकिन अस्थिरता के बावजूद इन्वेस्टमेंट के लक्ष्य को लेकर सचेत रहें। जैसे एसआईपी। इससे गलत फैसले लेने से अपने आप बच जाएंगे।

    टैक्स प्लानिंग की रिस्ट्रक्चरिंग करें

    इस साल के अंतरिम बजट में कई बदलाव किए गए हैं। सबसे अहम है टैक्स में छूट की सीमा बढ़ाकर 5 लाख रुपए की गई है। इसका मतलब है कि अगर आपकी सालाना कमाई 5 लाख रुपए तक है तो आपको इनकम टैक्स देने की जरूरत नहीं। यहां एक बात ध्यान रखने लायक है कि टैक्स में छूट के लिए इनकम की सीमा बढ़ाई गई है, टैक्स का स्लैब नहीं बदला है। यानी अगर आपकी सालाना कमाई 5 लाख रुपए से ज्यादा है तो 2.5 लाख से 5 लाख रुपए के स्लैब पर 10% इनकम टैक्स देना पड़ेगा।

    अगर टैक्स के प्रावधानों को ध्यान से पढ़ें तो कई फायदे उठा सकते हैं। कुछ अहम प्रावधान इस प्रकार हैं :-

    • वेतनभोगी वर्ग के लिए स्टैंडर्ड डिडक्शन 40,000 रुपए से बढ़ाकर 50,000 रुपए कर दिया गया है।
    • डाकघर बचत पर टीडीएस की सीमा 10,000 रुपए से बढ़ाकर 40,000 रुपए की गई है। यानी ब्याज की रकम 40,000 रुपए से ज्यादा होने पर ही टीडीएस कटेगा।
    • टैक्स फ्री ग्रेच्युटी की सीमा बढ़ाकर 30 लाख रुपए कर दी गई है।
    • सेल्फ-ऑक्यूपाइड दूसरे घर के नोशनल किराये पर कोई टैक्स नहीं लगेगा।

    अगर आप टैक्स प्रावधानों में किए गए बदलावों को ध्यान में रखकर इन्वेस्ट करते हैं तो 10 से 15 हजार रुपए की बचत आसानी से कर सकते हैं। फाइनेंशियल रिजॉल्यूशन का मतलब हमेशा अपनी प्राथमिकताएं तय करना नहीं होता, बल्कि इन्वेस्टमेंट के आसान लेकिन प्रभावी तरीके अपनाना भी होता है। यह लॉन्ग टर्म में फायदेमंद साबित होगा।

    राहुल जैन, हेड(पर्सनल वेल्थएडवाइजरी), एड्लवाइज

    -ये लेखक के निजी विचार हैं। इनके आधार पर निवेश से नुकसान के लिए दैनिक भास्कर जिम्मेदार नहीं होगा।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    सिंबॉलिक इमेज।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/rs-10-to-15-thousand-annually-savings-possible-from-these-tax-provisions-01539805.html

    पश्चिम बंगाल में ‘लेफ्ट’ जा रहा ‘राइट’ की ओर


    सुवाशीस मैत्रा,कोलकाता.बंगाल की राजनीति में अप्रत्याशित बदलाव हो रहे हैं। लेफ्ट का वोट राइट यानी दक्षिणपंथी भाजपा की ओर जा रहा है। यह नया ट्रेंड है। बंगाल के राजनीतिक इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि माकपा को हटाकर भाजपा दूसरे नंबर की पार्टी बन रही है। यह भविष्यवाणी करना तो कठिन है कि 42 में कितनी सीटें टीएमसी और कितनी भाजपा जीतेगी, लेकिन लोकसभा चुनाव में भाजपा को 30% वोट मिल रहे हैं।


    भाजपा 2014 से पहले तक कभी भी बंगाल में 11% से अधिक वोट नहीं ले सकी थी। 2014 में पहली बार 17% वोट लाई। हालांकि उसे सिर्फ दो ही सीटें दार्जिलिंग और आसनसोल मिलीं। 2016 विधानसभा चुनाव में वह बढ़त कायम नहीं रख सकी और वोट 10% ही रह गया था। लेकिन 2018 के पंचायत चुनावों में टीएमसी के भारी प्रतिरोध और हिंसा के बावजूद भाजपा का वोट शेयर 19 फीसदी हो गया। जबकि लेफ्ट को 12% और कांग्रेस को महज 3.6% वोट मिले। भाजपा का औसत वोट 19% था, लेकिन झारग्राम जैसे कई जिलों में उसे 40% तक वोट मिले थे।


    2018 के बाद हुए उपचुनावों में भाजपा की बढ़त राज्य में नजर आई। कई नगर पालिकाओं में तो हार के डर से टीएमसी ने अभी तक चुनाव नहीं कराए हैं। कई पंचायतों में बहुमत के बावजूद टीएमसी ने भाजपा को अब तक बोर्ड नहीं बनाने दिया है। टीएमसी नेता भाजपा के आरोपों को नकारते हैं।


    इस बात में कोई संदेह नहीं है कि ममता बनर्जी सरकार ने राज्य में आठ सालों में काफी विकास किया है। अगर चुनाव विकास पर होते तो टीएमसी की जीत बहुत आसान थी, लेकिन हालात ऐसे नहीं हैं। इस बार भाजपा कई सीटों पर ध्रुवीकरण में सफल रही है। ममता को माकपा से लड़ना तो आता है, लेकिन हिन्दुत्व की राजनीति से निपटने में वह कुछ भ्रमित नजर आ रही हैं।


    ममता ने इस बार नारा दिया है कि ‘दो हजार उन्नीस, भाजपा फिनिश’ और ‘42 में से 42’। यह तो तय है कि टीएमसी को 42 सीटें नहीं मिलने जा रही हैं, लेकिन राज्य में हरेक की नजर इस पर है कि भाजपा कितनी सीटें और कितने वोट ले रही है।


    स्वतंत्र भारत के पहले चुनाव 1952 में लेफ्ट को विधानसभा की 29 सीटें मिली थीं। बंगाल विभाजन के बाद पूर्वी पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थियों ने कम्युनिस्ट पार्टी का समर्थन किया। मुजफ्फर अहमद, ज्योति बसु, चारु मजूमदार सहित सभी प्रमुख वामपंथी नेता पूर्वी पाकिस्तान मूल के ही थे। 1991 में सोवियत संघ का विभाजन और 2011 में पश्चिम बंगाल में वामदलों का शासन खत्म होने से नई सुबह और क्रांति के सपने ध्वस्त हो गए। जिससे उत्पन्न खालीपन को अब भाजपा भर रही है। हमें 23 मई तक इंतजार करना होगा कि बंगाली हिन्दुत्व की राजनीति को स्वीकार करने के लिए किस हद तक तैयार हैं।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    'Left' going to 'right' in west bengal

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/left-going-to-right-in-west-bengal-01539673.html

    वीपी सिंह के दौर में यूपी से जीते मुफ्ती, राम लहर में हारे


    मुफ्ती मोहम्मद सईद ने 1987 में कांग्रेस छोड़ने के बाद वीपी सिंह ने जनता दल का दामन थाम लिया था। वे गाजियाबाद से लड़ना चाहते थे लेकिन केसी त्यागी को वहां से उतारने के बाद मुफ्ती को मुजफ्फरनगर जाना पड़ा। बोफोर्स कांड के कारण 1989 में जनता दल को यूपी की 85 में से 54 सीटें मिलीं। कांग्रेस विरोधी लहर में सईद ने कांग्रेस के ही आनंद प्रकाश त्यागी को डेढ़ लाख वोटों से हराया।

    भाजपा के समर्थन से पीएम बने वीपी सिंह ने सईद को गृह मंत्री का अहम पद दिया क्योंकि वे दिखाना चाहते थे कि उनपर भाजपा का दबाव नहीं है। सईद ने देश के पहले और एकमात्र मुस्लिम गृह मंत्री के रूप में 2 दिसंबर 1989 को शपथ ली और चार दिन बाद ही उनकी बेटी डॉ. रुबिया का कश्मीर में आतंकियों ने अपहरण कर लिया था। सरकार ने आतंकियों को छोड़कर रुबिया को रिहा कराया था। 1991 में राम लहर के बीच हुए चुनाव में भाजपा के नरेश बालियान ने एक लाख वोटों से सईद को हरा दिया। इसके बाद सईद ने पीडीपी बना ली।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Mufti wins from UP in VP Singh time

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/mufti-wins-from-up-in-vp-singh-time-01539667.html

    पूर्वी दिल्ली में लवली और आतिशी से घिरे गंभीर


    अनिरुद्ध शर्मा. पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट पर भाजपा ने पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर को उतारकर इसे हॉट सीट बना दिया है। आम आदमी पार्टी नेे आतिशी सिंह (मार्लेना) को उम्मीदवार बनाया है। कांग्रेस ने तीन बार के विधायक अरविंदर सिंह लवली को उतारकर मुकाबला त्रिकोणीय बना दिया है। तीनों उम्मीदवार पंजाबी पृष्ठभूमि से हैं। पिछले चुनाव में भाजपा के महेश गिरी जीते थे। गंभीर न सिर्फ राजनीति की पिच पर नए हैं, बल्कि नामांकन के बाद उनका प्रचार अभियान भी हिचकोले खाता रहा। आप उम्मीदवार आतिशी सरकारी स्कूलों के कायाकल्प और हेल्थ में दिल्ली सरकार के काम के नाम पर वोट मांग रही हैं।

    उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने सीट पर प्रचार अभियान की कमान संभाल रखी है। सीट उनकी प्रतिष्ठा का सवाल भी है क्योंकि संसदीय क्षेत्र की पटपड़गंज सीट से वह विधायक भी हैं। आतिशी को पहले प्रत्याशी घोषित करने का लाभ आप को मिल रहा है। हालांकि आतिशी को अपना सरनेम मार्लेना हटाना पड़ा क्योंकि इससे उनके समुदाय को लेकर विवाद हो रहा था। ओखला के पूर्व विधायक आसिफ खान तो उन्हें यहूदी घोषित कर चुके थे। इस पर सिसौदिया को सफाई भी देनी पड़ी कि आतिशी राजपूतानी हैं।


    कांग्रेस उम्मीदवार अरविंदर सिंह लवली प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवारों की तुलना में अनुभवी हैं। वह गांधी नगर विधानसभा से तीन बार विधायक रह चुके हैं। लवली अब तक एक भी चुनाव नहीं हारे हैं। संसदीय क्षेत्र की 10 विधानसभा सीटोंं में से 9 पर आप व एक पर भाजपा विधायक है। गांधीनगर के आप विधायक अनिल वाजपेयी ने भाजपा ज्वाइन की है। पूर्वी दिल्ली सीट पर करीब 16 फीसदी मुस्लिम, 14 फीसदी पंजाबी, 5 फीसदी सिख, 15 फीसदी अनुसूचित जाति, 20 फीसदी ब्राह्मण व पूर्वांचली, 10 फीसदी वैश्य, 20 फीसदी ओबीसी व अन्य हैं।


    गंभीर सुबह आठ बजे जूते के फीते कस कर निकल पड़ते हैं। उनका पहला रोड शो पूर्वी दिल्ली के विश्वास नगर में होता है। वह विधायक ओम प्रकाश शर्मा के साथ खुली जीप में निकलते हैं। उनके साथ दो सौ से ज्यादा बाइक का काफिला होता है। बच्चे बैट पर ऑटोग्राफ मांगते हैं। रोड शो खत्म करने बाद वह लगातार बैठकें करते हैं। यह पूछने पर कि आप तो नई दिल्ली से हैं। उनका जवाब होता है ‘बाहर का कैसे हूं, मेरे पिता 45 साल से पूर्वी दिल्ली के गांधी नगर में कपड़े का कारोबार कर रहे हैं।’


    आतिशी ने आराम पार्क इलाके में चुनावी दफ्तर को ही घर भी बना रखा है। प्रकाश राज, जिग्नेश मेवाणी और विधायक रामनिवास गोयल उनका प्रचार करते हैं। जिग्नेश नारे लगवाते हैं देश की बेटी कैसी हो, आतिशी जैसी हो। वे रुक-रुककर लोगों से कह रहे हैं कि ‘संविधान बचाना है आप को जिताना है।’ ऑक्सफोर्ड की पढ़ी आतिशी की ओर इशारा करते हुए कहते हैं ‘बताइए आपको बच्चों को अयोध्या भेजना है या ऑक्सफोर्ड।’ आतिशी कहती हैं भाजपा ने सेलीब्रिटी उम्मीदवार उतारकर हमारा काम आसान कर दिया है, क्योंकि कांग्रेस प्रत्याशी सियासी पिकनिक पर है और जनता जानती है कि सेलीब्रिटी उम्मीदवार चुनाव जीतने के बाद कभी जनता से नहीं मिलता। जिग्नेश के सामने जैसे ही गौतम गंभीर का नाम लिया तो वे बोले, ‘न तो वे गौतम की तरह प्रबुद्ध हैं और न ही गंभीर।’


    अरविंदर सिंह लवली सुबह छह बजे विवेक विहार स्थित यमुना स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स पहुंच चुके हैं। सुबह सैैर पर आए बुजुर्गों व बच्चों से मिल रहे हैं। लगभग एक घंटा यहां बिताने के बाद वे यमुना पार कर फिरोजशाह कोटला पहुंचे और जनसंपर्क किया। पूर्व विधायक तरविंदर सिंह मारवाह के साथ अलग-अलग इलाकों का पैदल व खुली जीप में दौरा किया। रोड शो के दौरान राष्ट्रभक्ति के पुराने फिल्मी गीत चल रहे थे। लवली लोगों को कांग्रेस का 15 साल का शासन याद दिलाते हैं। वह कहते हैं कि नाश्ते व खाने का भी वक्त नहीं है। देख लीजिए आतिशी व गंभीर दिन में तीन से चार घंटे ट्विटर पर बिता रहे हैं। अब आप ही सोच लीजिए यदि गलती से इन्हें चुन लिया तो जनता को कितना समय देंगे। जो अभी जनता के बीच नहीं जा पा रहे तो बाद में क्या जाएंगे। गंभीर का राजनीति से सीधा संबंध नहीं है, पिछली बार वे अमृतसर में जेटली का प्रचार करने गए थे और जेटली हार गए। इस बार जेटली नेे टिकट दिलाया तो खुद लड़ रहे हैं। आतिशी तो एक तरह से सियासी पिकनिक पर हैं। लवली हर बैठक में लोगों को समझाते हैं कि कांग्रेस का मुकाबला भाजपा से है। वह आप के झूठे वादे व झांसे में न आएं।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Gambhir surrounded by Lovely and Atishi in East Delhi

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/gambhir-surrounded-by-lovely-and-atishi-in-east-delhi-01539659.html

    भव्य पिता-दादा के नाम तो दुष्यंत अपने काम के दम पर मांग रहे हैं वोट


    हिसार. हरियाणा की इस सीट पर कांग्रेस के दिग्गज नेता और तीन बार के सीएम भजन लाल के पोते भव्य विश्नोई मैदान में हैं। उनकी टक्कर पूर्व सीएम देवीलाल के पड़पोते दुष्यंत चौटाला (अजयसिंह के बेटे) से है। दो बड़े राजनीतिक परिवारों की पुश्तैनी लड़ाई के कारण सीट चर्चित हो गई है। भव्य के दादा भजनलाल और पिता कुलदीप हर पोस्टर के केंद्र में हैं। पिता और पूर्व सांसद कुलदीप विश्नोई ने प्रचार की कमान संभाल रखी है। सुबह आठ बजे वह मीडियाकर्मियों से हरियाणवी में बात करते हैं और जत्था लेकर प्रचार पर निकल पड़ते हैं। भव्य की मां विधायक रेणुका समर्थन के लिए वीआईपी नंबरों वाली गाड़ियों का काफिला लेकर निकल पड़ती हैं।


    भव्य मुस्कुराते हुए लोगों से मिलते हैं और कार्यकर्ताओं को सेल्फी देते हुए बढ़ जाते हैं। तय समय से एक घंटे की देरी से उनका काफिला 70 किमी दूर बडेसरा की ओर निकलता है। 70 किमी की दूरी करीब 40 मिनट में तय कर बडेसरा पहुुंचते हैं। स्वागत के दौरान कार्यकर्ताओं की नाराजगी भी दिखती है। उन्हें सुनने के लिए बुजुर्ग जमीन पर बैठते हैं और वह कुर्सी पर। एक बुजुर्ग पर्ची पर कुछ लिखकर भव्य को देते है। वह इसे पढ़कर जेब में रख लेते हैं। भाषण की शुरुआत में ही गांववालों से पूछ लेते है कि पर्ची में लिखे नाम उन्होंने पढ़ दिए हैं, कोई रह गया हो तो बता दें। वह दो दर्जन कार्यकर्ताओं के साथ बंद कमरे में मीटिंग करते हैं और कमरे से निकलते ही कार्यकर्ता जिंदाबाद के नारे लगाते हैं। भव्य की बातचीत के केंद्र में दादा भजनलाल रहते हैं। वह दादा के काम याद दिलाते हैं।


    पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला के पोते और देवीलाल के पड़पोते दुष्यंत छह माह पुरानी जननायक जनता पार्टी के साथ मैदान में हैं। उनकी पार्टी ने आप से गठबंधन किया है। दुष्यंत ज्ञानपुरा में हरियाणवी में मेल-मिलाप के तरीके से विराेधियों को मात दे रहे हैं। गांव के कई लोगों को वह नाम से पुकारते हैं। गाड़ी में बैठे उनके साथी कहते हैं कि आगे की दुकानवाला आपका फैन हैं। उससे मिलेंगे तो अच्छा लगेगा। दुकान के पास गाड़ी रुकती है और वह दुकानदार को गले लगा लेते हैं।
    पनिहारी गांव में वह बच्चों से नाम पूछते हैं और पढ़ाई की जानकारी लेते हैं। चबूतरे पर खड़े होकर भाषण देते हैं। भाषण के बाद पास ही खड़े समर्थक से पूछते हैं कि चुनाव चिन्ह क्या है? बताओ? समर्थक ठिठक जाता है। दुष्यंत जोश सेे कहते हैं तू तो चौटाला ही है तन्ने तो शर्म ना आवै, निशान दिखाड़े में। उत्साही समर्थक दोनों चप्पल उतार कर लोगों को दिखाता है। वे कहते हैं कि जेजेपी का चुनाव चिह्न चप्पल सभी के पास है। लोग इसका इस्तेमाल भी खूब करते हैं। 12 मई को चप्पल याद रखना। बातचीत और भाषण के दौरान खुद के काम की बात करते हैं। दादा-परदादा का जिक्र कम ही होता है। उनकी सुबह राजस्थानी राबड़ी से होती है। नाश्ते में पराठे के शौकीन हैं। अमेरिका में पढ़े दुष्यंत हफ्ते में दो दिन अपने गांव चौटाला में खेत पर जरूर जाते हैं। भव्य की मां रेणुका और दुष्यंत की मां नैना विधायक हैं।

    सबसे युवा उम्मीदवार हैं भव्य
    2014 लोकसभा चुनाव में दुष्यंत (26) देश के सबसे युवा उम्मीदवार थे। जीत के बाद सबसे युवा सांसद बने थे। 2019 में भव्य (26) सबसे युवा उम्मीदवार हैं। दुष्यंत अब 31 साल के हैं। यानी हिसार लोकसभा सीट से इस बार भी सबसे युवा उम्मीदवार मैदान में हैं।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Bhavya and Dushyant contest in hisar

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/bhavya-and-dushyant-contest-in-hisar-01539649.html

    टॉपर्स को म्यूजिक-स्पोर्ट्स का शौक, डॉक्टर-वकील और सीए बनने की ख्वाहिश


    नई दिल्ली. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं की परीक्षा में टॉप पोजीशन पर 13 छात्र हैं। इनमें 7 लड़के और 6 लड़कियां शामिल हैं। इनमें से कुछ टॉपर्स से दैनिक भास्कर प्लस ऐप ने परीक्षा की तैयारियों और नतीजों को लेकर चर्चा की। कुछ टॉपर्स को म्यूजिक और स्पोर्ट्स पसंद है। इनका सपना डॉक्टर-वकील और सीए बनने का है। टॉपर्स की सफलता की कहानी, उन्हीं की जुबानी।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    सिद्धांत पेनगोरिया, अंकुर मिश्रा, ईश मदन, योगेश कुमार, वत्सल वार्ष्णेय (ऊपर की पंक्ति में बाएं से दाएं)। तरु जैन, भावना शिवदास, अपूर्वा जैन, मान्या जिंदल, शिवानी लाठ (नीचे की पंक्ति में बाएं से दाएं)।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/cbse-toppers-dream-of-music-and-sports-doctors-lawyers-and-cas-01539671.html

    सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सीबीआई 11 लड़कियों की हत्या के मामले की जांच 3 जून तक पूरी करे


    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को मुजफ्फरपुर के शेल्टर होम में हुई 11 लड़कियों की कथित हत्याओं के मामले पर सुनवाई की। अदालत ने सीबीआई को निर्देश दिए कि 3 जून तक इस मामले की जांच पूरी की जाए और इसके बाद एजेंसी स्टेटस रिपोर्ट पेश करे। चीफ जस्टिर रंजन गोगोई, जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच ने कहा कि यह बेहद आवश्यक मसला है। ऐसे में वेकेशन बेंच 3 जून को इस पर सुनवाई करेगी। इस दौरान सीबीआई कानून के तहत सभी जरूरी कार्रवाइयों को पूरा करे और कोर्ट के सामने स्टेटस रिपोर्ट पेश करे।

    बेंच ने शुरुआत में सीबीआई को 2 हफ्तों के भीतर जांच करने के लिए कहा था, लेकिन एजेंसी की तरफ से पेश हुए अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा कि दो हफ्तों के भीतर जांच पूरी होना संभव नहीं है। इसके बाद अदालत ने एजेंसी को 3 जून तक का समय दिया।

    ब्रजेश ठाकुर पर हत्या का आरोप
    वेणुगोपाल ने बताया कि सीबीआई के हलफनामे के मुताबिक, 11 लड़कियों की हत्या की आशंका है। लेकिन, शेल्टर होम में 35 लड़कियां ठहरी थीं। वे नाम बदलकर एक या इससे ज्यादा बार शेल्टर होम में ठहरी थीं। एक मामले में हमने हड्डियां भी बरामद की हैं। सीबीआई ने अपने 30 पेज के हलफनामे में कहा कि ब्रजेश ठाकुर पर 11 लड़कियाें की हत्या के आरोप की जांच चल रही है। जल्द ही पूरक आरोप पत्र दायर किया जाएगा। शेल्टर होम से हडि्डयों का एक बंडल मिला था, उसकी फोरेंसिक जांच रिपोर्ट आना बाकी है।

    खुलासे के बाद बिहार की मंत्री ने दिया था इस्तीफा
    टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस की बिहार के समाज कल्याण विभाग को भेजी गई एक ऑडिट रिपोर्ट में लड़कियों से ज्यादती होने का खुलासा हुआ था। यह शेल्टर होम बृजेश ठाकुर चलाता था, जो पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू के पति चंद्रशेखर का दोस्त है। पिछले साल 31 मई को ठाकुर समेत 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। इस मामले के खुलासे के बाद मंजू ने बिहार की कैबिनेट से इस्तीफा दिया था।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Muzaffarpur shelter home case: SC directs CBI to complete probe on alleged murders by June 3

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/sc-directs-cbi-to-complete-probe-on-alleged-murders-in-muzaffarpur-shelter-home-by-june-3-01539663.html

    आचार संहिता उल्लंघन: मोदी-शाह के खिलाफ याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 8 मई को सुनवाई करेगा


    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपाअध्यक्ष अमित शाह पर आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कांग्रेस नेता सुष्मिता देव को चुनाव आयोग के फैसले का रिकॉर्ड दाखिल करने की अनुमति दे दी है। मामले की सुनवाई अब 8 मई को की जाएगी। सुष्मिता की ओर से पेश वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट में कहा है कि चुनाव आयोग ने इन शिकायतों का निपटारा कर दिया है, लेकिन मामला यहीं खत्म नहीं होता। इसे सुप्रीम कोर्ट को विस्तार से देखने और गाइडलाइन जारी करने की जरूरत है।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    loksabha chunav

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-chunav-6-may-2019-01539045.html

    नौसेना ने स्कॉर्पीन क्लास की चौथी सबमरीन आईएनएस वेला लॉन्च की, बाकी 2 भी जल्द आएंगी


    मुंबई.भारतीय नौसेना ने सोमवार कोमजगांव डॉक लिमिटेड (एमडीएल) में चौथी स्कॉर्पीन क्लास सबमरीन वेला लॉन्च की। प्रोजेक्ट-75 के तहत भारत छह सबमरीन तैयार करने पर काम कर रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाकी दो सबमरीन आईएनएस वागीर और आईएनएस वागशीर पर काम एडवांस स्टेज में पहुंच चुका है। इन्हें भी जल्द लॉन्च किया जा सकता है।

    मुंबई स्थित मझगांव डॉक शिप बिल्डर्स लिमिटेड और फ्रांस की कंपनी नेवल ग्रुप (डीसीएनएस) के सहयोग से स्कॉर्पीन क्लाससबमरीन के प्रॉजेक्ट पर काम चल रहा है। दोनों कंपनियों के बीच 6 सबमरीन तैयार करने लिए 2005 में करार हुआ था। इसके तहत सभी सबमरीन मुंबई में ही तैयार की जा रही हैं।

    सबमरीन की खासियत
    इन 6 सबमरीन के शामिल होने से नौसेना की ताकत काफी बढ़ जाएगी। यह सभी स्कॉर्पीन सबमरीन एंटी-सरफेस वॉरफेयर, एंटी-सबमरीन वॉरफेयर, खुफिया जानकारी जुटाना, माइन बिछाने और एरिया सर्विलांस आदि का काम कर सकती हैं।

    पहली सबमरीन पिछले साल दिसंबर में मिली थी

    प्रॉजेक्ट-75 के तहत नौसेना को पहली सबमरीन पिछले साल दिसंबर में मिली थी। स्कॉर्पिन सीरीज की पहली पनडुब्बी का नाम आईएनएस कलवरी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईएनएस खंडेरी (जनवरी 2017) और आईएनएस करंज (31 जनवरी 2018) पहले ही भारतीय नौसेनामें शामिल हो चुकी हैं। यह दोनों एडवांस स्टेज की सबमरीनहैं, इनसे नौसेनाकी ताकत में इजाफा हुआ।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    आईएनएस वेला मुंबई के मजगांव डॉक लिमिटेड में तैयार की गई।
    Indian Navy’s fourth stealth Scorpene class Submarine Vela of Project 75 has been launched in Mumbai

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/indian-navy-s-fourth-stealth-scorpene-class-submarine-vela-of-project-75-has-been-launched-01539179.html

    कल से शुरू होगी चारधाम यात्रा, अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री-यमुनोत्री के कपाट खुलेंगे


    देहरादून. चारधाम यात्रा मंगलवार से शुरू हो जाएगी। अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खोले जाएंगे। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्रियों के स्वागत के लिए उत्तराखंड तैयार है। तीर्थयात्रियों की सुरक्षा और सुख-सुविधाओं का पूरा खयाल रखा जाएगा।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    केदारनाथ मंदिर।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/chardham-yatra-to-begin-from-tuesday-01539651.html

    पुनर्विचार और राहुल के खिलाफ अवमानना याचिकाओं पर 10 मई को एकसाथ सुनवाई होगी


    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को राफेल डील मामले में सुनवाई 10 मई तक स्थगित कर दी।तीन जजों की बेंच ने कहा कि राफेल डील पर 14 दिसंबर 2018 को दिए फैसले पर पुनर्विचार याचिकाओं और इसके बाद राहुल गांधी के खिलाफ दायर अवमानना याचिका पर 10 मई को एकसाथसुनवाईहोगी।

    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके. कौल और जस्टिस केएम. जोसेफ की बेंचने कहायह मामले एक-दूसरे से जुड़े हैं। इनकी सुनवाई के लिए लिस्टिंग अलग-अलग कैसे हो सकती है।बेंच ने कहा- जब हमने पहले ही साफ कर दिया था कि इन दोनों मामलों की सुनवाई साथ की जाएगी, फिर इन दोनों को अलग-अलग तारीख क्यों दी गईं। इसको लेकर हम असमंजस में हैं।

    राहुल ने कहा था-कोर्ट ने माना चौकीदार चोर है

    हाल ही में शीर्ष अदालत राफेल डील के लीक दस्तावेजों को सबूत मानकर मामले की दोबारा सुनवाई के लिए तैयार हो गई थी। इस पर राहुल ने कहा था कि कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकीदार ने ही चोरी की है। अवमानना याचिका भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी ने दायर की थी।

    सुप्रीम कोर्ट में लगाई गई थी पुनर्विचार याचिका
    सुप्रीम कोर्ट ने 14 दिसंबर 2018 के फैसले में राफेल डील को तय प्रक्रिया के तहत होना बताया था। अदालत ने उस वक्त डील को चुनौती देने वाली सभी याचिकाएं खारिज कर दी थीं। पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने डील के दस्तावेजों के आधार पर इस फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिकाएं दायर की थीं। इनमें कुछ गोपनीय दस्तावेजों की फोटो कॉपी लगाई गई थीं। इस पर अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने केंद्र की ओर से आपत्ति दर्ज कराई थी थी। उन्होंने कहा था कि भारतीय साक्ष्य अधिनियम की धारा 123 के तहत विशेषाधिकार वाले गोपनीय दस्तावेजों की प्रतियों को पुनर्विचार याचिका का आधार नहीं बनाया जा सकता। शीर्ष अदालत ने उनकी यह दलील खारिज कर दी थी।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    सुप्रीम कोर्ट (फाइल)

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/sc-to-hear-review-petition-on-rafale-and-contempt-against-rahul-gandhi-on-10-may-01539603.html

    कश्मीर के पुलवामा में हैंड ग्रेनेड से हमला, बिहार में ईवीएम तोड़ी गई- आरोपी गिरफ्तार


    नई दिल्ली. सोमवार कोलोकसभा चुनाव 2019 के पांचवे चरण के लिए मतदान हुआ। देश के कुछ हिस्सों से चुनावी हिंसा की खबरें भी आईं। बिहार में ईवीएम तोड़ दी गई। कश्मीर के पुलवामा में मतदान केंद्र के बाहर हैंड ग्रेनेड से हमला किया गया। पश्चिम बंगाल में एक भाजपा प्रत्याशी ने आरोप लगाया कि उस पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हमला किया। इन कुछ घटनाओं को छोड़ दें तो आमतौर पर मतदान शांतिपूर्ण रहा।

    ईवीएम तोड़ने वाला शख्स गिरफ्तार
    बिहार के छपरा में मतदान के दौरान बूथ क्रमांक 131 पर एक शख्स ने ईवीएम ही तोड़ दी। आरोपी का नाम रंजीत पासवान बताया जा रहा है। घटना के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। बता दें छपरा सारण लोकसभा सीट के अंतर्गत आता है। यहां मुकाबला रोचक है। भाजपा की तरफ से राजीव प्रताप रूडी और महागठबंधन की तरफ से लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय मैदान में हैं। पिछली बार यह सीट रूडी ने जीती थी।

    पुलवामा में ग्रेनेड हमला
    न्यूज एजेंसी के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सोमवार को मतदान के दौरान एक मतदान केंद्र के बाहर अज्ञात लोगों ने ग्रेनेड से हमला किया। विस्फोट वोटिंग सेंटर से करीब 200 मीटर हुआ और इसमें किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ। कश्मीर में तीन चरणों में मतदान होना था। सोमवार कोआखिरी चरण रहा। घटना के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके में तलाशी अभियान चलाया। बता दें रविवार को अज्ञात लोगों ने उन दो स्कूलों में आग लगा दी थी जहां मतदान केंद्र बनाए गए थे।

    टीएमसी कार्यकर्ताओं पर हमले का आरोप
    पश्चिम बंगाल में बैरकपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे भाजपा प्रत्याशी अर्जुन सिंह ने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर हमले का आरोप लगाया है। सिंह के अनुसार- सोमवार को जब वे एक गांव में मतदाताओं से बातचीत कर रहे थे तभी कुछ लोगों ने उन पर हमला कर दिया। सिंह ने कहा कि उन्हें कुछ चोटें आईं हैं और वो घटना की शिकायत चुनाव आयोग से करेंगे। भाजपा प्रत्याशी ने इसे सुनियोजित हमला करार दिया।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    बिहार के छपरा में एक पोलिंग बूथ पर ईवीएम तोड़ी गई।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-election-fifth-phase-violence-in-bihar-kashmir-and-west-bengal-01539151.html

    मोदी की कांग्रेस को चुनौती- बोफोर्स घोटाले में आरोपी पूर्व पीएम के मान-सम्मान के मुद्दे पर चुनाव लड़ें


    कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पश्चिम बंगाल के तामलुक और झारखंड के चायबासामें चुनावी जनसभाओं को संबोधित किया। चायबासामें उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा। मोदी ने कहा, ''चुनाव केदो चरण बाकी हैं और मैं पूरी कांग्रेस पार्टी, नामदार के परिवार और उनके रागदरबारियों, चेले चपाटों को चुनौती देता हूं कि अगर हिम्मत है तो पूर्व प्रधानमंत्री, जिन पर बोफोर्स के आरोप हैं, उनके मान-सम्मान के मुद्दे पर आइए मैदान पर। इस मुद्दे पर दिल्ली-पंजाब में चुनाव लड़ते हैं। भोपाल में हजारों लोगगैस लीक में मर गए थे और उस समय के प्रधानमंत्री ने जो काम किया था वहसामने आ जाएगा।''

    प्रधानमंत्रीने कहा, ''नामदार और उनके साथी अमर्यादित भाषा में प्रधानमंत्री को गाली देते रहते हैं। मैंने एक सभा में पुराने बोफोर्स के भ्रष्टाचार को याद कराया तो तूफान आ गया, कुछ लोगों के पेट में इतना दर्द हुआ कि बस दहाड़े मार-मारकर रोना ही बाकी रह गया।''

    दीदी भगवान राम का नाम लेने पर लोगों को जेल में डाल रहीं- मोदी

    तामलुक में उन्होंने कहा,दीदी इतनी बौखला गई हैं कि अब उन्हें भगवान की बात करना भी खटक रहा है। हालत तो यह है कि जय श्री राम कहने वालों को दीदी गिरफ्तार करवाकर जेल भेज रही हैं। मीडिया अगर न्यूट्रल होने का दावा करता है तो उसे यह खबरें आगे पहुंचानी चाहिए। दीदी के इसी रवैये की वजह से पश्चिम बंगाल में लोगों को अपने हिसाब से पूजा पाठ करने, पूरी आजादी के साथ अपने व्रत, पर्व, त्योहार मनाने में दिक्कत हो रही है।’’

    उन्होंने कहा कि मैं फैनी तूफान को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बात करना चाहता था, लेकिन अहंकारी स्पीड ब्रेकरदीदी ने दो बार मेरा फोन नहीं उठाया।दीदी बौखला गई हैं, जय श्रीराम कहने वालों कोजेल में डाल रहीं।

    'दीदी को अपनी राजनीति की चिंता ज्यादा'

    • प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘चक्रवात के संबंध में मैंने ममता दीदी से बात करने की कोशिश की थी। लेकिन दीदी का अहंकार इतना ज्यादा है कि उन्होंने मुझसे बात नहीं की। मैं इंतजार करता रहा कि शायद वेवापस मुझे फोन करें,लेकिन उन्होंने फोन नहीं किया। मैंने उन्हें दोबारा फोन किया। मैं पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए चिंता में था। इसलिए मुख्यमंत्री से बात करना चाहता था,लेकिन दीदी ने दूसरी बार भी मुझसे बात नहीं की।’’
    • ‘‘दीदी को अपनी राजनीति की इतनी ज्यादा चिंता है। उन्हें पश्चिम बंगाल के लोगों की परवाह नहीं है। देशहितके ऊपर राजनीति करने की इसी आदत ने देश का नुकसान किया है।’’
    • ‘‘स्पीडब्रेकर दीदी के इसी रवैये की वजह से बंगाल के विकास पर ब्रेक लगा हुआ है। चक्रवात से हुए नुकसान के निरीक्षण के लिए मैं यहां के प्रशासन के साथ बैठकर चर्चा करना चाहता था। भारत सरकार क्या मदद करे, इसकी जानकारी लेना चाहता था, लेकिन स्पीडब्रेकर दीदी ने उसे भी मना कर दिया।’’
    • ‘‘दीदी की इसी राजनीति के बीच मैं बंगाल के लोगों को भरोसा देता हूं कि केंद्र सरकार पूरी सख्ती से पश्चिम बंगाल की जनता के साथ खड़ी है और राहत के कार्य में राज्य सरकार का सहयोग कर रही है।’’
    • ‘‘भारत ने जिस तरह चक्रवात का मुकाबला किया, उसकी पूरे विश्व में चर्चा हो रही है। देशवासियों की जान और संपत्ति की रक्षा के लिए आपदा प्रबंध से जुड़े हमारे तमाम साथी निस्वार्थ भाव से जुटे रहते हैं। यह हमारा सौभाग्य है इन साथियों के लिए हमारी सरकार ने राष्ट्रीय पुरस्कार सुभाष चंद्र बोस के नाम पर ही शुरू किया है। देश की सुरक्षा करने वालों का सम्मान देश की ताकत बढ़ाता है।’’
    • ‘‘हल्दिया को वाराणसी से जोड़ दिया गया है। मैं वाराणसी का सांसद हूं। इसका मतलब है कि मैं आपसे सीधे तौर पर जुड़ गया हूं। आज बंगाल में हर तरफ यही आवाज उठ रही है कि चूपे चाप कमल छाप, बूथ-बूथ से टीएमसी साफ।’’

    'दीदी देश की तारीफ से डरती है'

    मोदी ने कहा, ‘‘आपने क्या कभी दीदी को देश की तारीफ करते सुना? शायद वह डरती होगी कि मसूद अजहर पर उन्होंने कुछ बोल दिया तो उनके वोट बैंक पर खतरा हो जाएगा। इसी राजनीति ने दीदी की जमीन को खिसका दिया है। अब दीदी का राजनीतिक धरातल पर रुकना मुश्किल हो गया है।’’

    'बंगाल में माफिया राज'

    पीएम मोदी ने कहा, ‘‘बंगाल की स्थिति से आप भली-भांति परिचित हैं। हल्दिया पोर्ट से कंथाई तक कैसा माफिया राज यहां है, आप सभी इसके भुक्तभोगी हैं। टीएमसी के भ्रष्टाचार का मॉडल यहां स्पष्ट दिखता है। यूनिवर्सिटी में भर्ती के लिए युवा साथियों से लाखों रुपए वसूले जाते हैं। इन्होंने बंगाल को ऐसा राज्य बना दिया है जहां पढ़ाई पर टैक्स लगाया जा रहा है। ट्रिपल टी यानी तृणमूल तोलाबाजी टैक्स।’’

    ‘‘इस तृणमूल तोलाबाजी टैक्स से बच्चा बच्चा परिचित है। एडमिशन हो, टीचर की भर्ती हो या ट्रांसफर हो लोग बताते हैं हर जगह तृणमूल तोलाबाजी टैक्स लगता है। पश्चिम बंगाल के बच्चों का भविष्य बर्बाद करने वालों को आप सबक सिखाएं। पहले ट्रिपल टी वालों को चुनौती देने वाला ही कोई नहीं था। लेकिन अब यह लंबा चलने वाला नहीं है। भाजपा सामान्यजन, किसान, कामगार, बेटियों और युवाओं की आवाज बनकर आपके साथ खड़ी है।’’



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Lok Sabha Election Narendra Modi Rally News and Updates

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-election-narendra-modi-rally-news-and-updates-01539241.html

    पिता के अंतिम संस्कार के बाद मतदान करने पहुंचा पुत्र; सोशल मीडिया ने कहा- यह लोकतंत्र का सबसे सच्चा चेहरा


    नई दिल्ली/भोपाल. लोकसभा चुनाव 2019 के पांचवे चरण के लिए सोमवार को मतदान हुआ।वोटिंग के दौरान सुबह से दो तस्वीरें खासतौर पर चर्चा में रहीं। सोशल मीडिया पर इन्हें सराहना भी मिली। पहली- मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में एक युवक पिता का अंतिम संस्कार करने के बाद मतदान करने पहुंचा। दूसरी- झारखंड के हजारीबाग में एक पुत्र 105 वर्षीय मां को कंधे पर लेकर गया और मतदान कराया। सोशल मीडिया पर इन दोनों तस्वीरों का खासतौर पर जिक्र हो रहा है।

    घर में शोक के बाद भी मतदान
    छतरपुर जिले में सोमवार को मतदान हुआ। यहां के युवा शिवेंद्र प्रताप सिंह के पिता का निधन हुआ था। शिवेंद्र पिता का अंतिम संस्कार करने के बाद मतदान स्थल पहुंचे। सोशल मीडिया पर एक यूजर ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा- यह लोकतंत्र का सबसे सच्चा चित्र है। इसके बाद कई यूजर्स ने इसे शेयर किया और अपने साथियों से अपील में कहा कि वो मतदान जरूर करें। सतना में भी एक पूर्व पार्षद की माताजी का रविवार को निधन हुआ। सोमवार को उनके अंतिम संस्कार से पहले परिवार ने वोटिंग की।

    विवाह से पहले मतदान का संदेश
    मध्यप्रदेश के पिपरिया में रहने वाले अभिषेक पुरोहित की सोमवार को शादी है। बारात रवाना होने वाली थी। इसके पहले उन्हें सपरिवार मतदान किया। बैतूल की रहने वाली पूजा साहू की विवाह तारीख 7 मई है। पूजा के अनुसार- शादी की पहले जो तारीख पहले तय हुई थी वो 6 मई यानी मतदान वाले दिन ही थी। लेकिन, मतदान दिनांक होने की वजह से हमने शादी का दिन 7 मई चुना।

    105 वर्षीय मां को कंधे पर ले जाकर कराया मतदान
    मतदान की प्रेरणा देने वाली एक और तस्वीर झारखंड के हजारीबाग से आई। इस चित्र की भी सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है। हजारीबाग के बूथ नंबर 450 पर एक शख्स 105 वर्षीय मां को कंधे पर लेकर गया और उनसे मतदान कराया। जम्मू-कश्मीर में भी कई उम्रदराज शख्स मतदान के लिए लाइन में नजर आए।



    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    छतरपुर में पिता के अंतिम संस्कार के बाद मतदान करने पहुंचे शिवेंद्र।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/lok-sabha-election-2019-man-votes-after-performing-last-rites-of-dad-01539437.html

    5 साल बाद रिजल्ट सुधरा; 91.1% बच्चों ने परीक्षा पास की, 13 टॉपर्स को 499 नंबर


    नई दिल्ली.केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सोमवार दोपहर 10वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया। इस साल 18 लाख छात्रों में से 91.1% ने परीक्षा में सफलता हासिल की। 10वीं के नतीजों में 5 साल से चल रहा गिरावट का दौर थम गया। 2018 के मुकाबले इस साल रिजल्ट में 5 फीसदी का सुधार आया है। त्रिवेंद्रम रीजन में सबसे ज्यादा 99.85% छात्र पास हुए। 10वीं की परीक्षा 2 मार्च से29 मार्च तक चली थी।

    मोदी ने युवा साथियों को दी बधाई

    मोदी ने रिजल्ट जारी होने के बाद ट्वीट किया- मुझे अपने उन युवा साथियों पर गर्व है, जिन्होंने 10वीं की परीक्षा सफलतापूर्वक पास की। आगे की यात्रा के लिए उन्हें शुभकामनाएं।

    13 टॉपर्स में 7 लड़के, 6 लड़कियां
    13 टॉपर्स ने 500 में से 499 अंक हासिल किए। इनमें 7 लड़के और 6 लड़कियां शामिल हैं। सिद्धांत पेंगोरिया, दिव्यांश वाधवा, योगेश कुमार गुप्ता, अंकुर मिश्रा, वत्सल वार्ष्णेय, आर्यन झा, इश मदन, मान्या, तरु जैन, भावना एन शिवादास, दिवजोत कौर जग्गी, अपूर्वा जैन और शिवानी लाठ ने यह उपलब्धि हासिल की।

    44


    टॉप थ्री रीजन में त्रिवेंद्रम, चेन्नई और अजमेर
    टॉप थ्री रीजन में त्रिवेंद्रम नंबर वन पोजिशन पर है, यहां 99.85% छात्र पास हुए। इसके बाद चेन्नई में 99% और अजमेर में 95.89% छात्रों ने सफलता हासिल की।

    परीक्षा के 38 दिन बाद नतीजे घोषित
    सीबीएसई ने 10वीं की परीक्षाएं होने के 38 दिन के बाद रिजल्ट जारी कर दिए। पिछली बार परीक्षा खत्म होने के 55 दिन बाद नतीजे जारी किए गए थे। इस साल बोर्ड ने 12वीं के नतीजे परीक्षा खत्म होने के रिकॉर्ड 28 दिन बाद जारी कर दिए जबकि पिछले साल 12वीं के नतीजे 42 दिन बाद जारी किए गए थे।

    काउंसलिंग के लिए हेल्पलाइन शुरू की
    सीबीएसई ने रिजल्ट के बाद छात्रों की काउंसलिंग के लिए हेल्पलाइन शुरू की। जिन छात्रों को रिजल्ट के संबंध में सवाल पूछने हैं, वे सीबीएसई के प्रशिक्षित स्टाफ से 1800118004 नंबर पर बात कर सकते हैं। यह हेल्पलाइन 16 मई तक सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक खुली रहेगी।

    डिजिटल लॉकर में भी मिलेगी मार्कशीट
    सीबीएसई 10वीं की मार्कशीट को डिजिटल लॉकर में भी उपलब्ध कराएगा। छात्र https://digilocker.gov.in पर 'परिणाम मंजूषा' सुविधा पर क्लिक करके अपनी डिजिटल मार्कशीट देख सकेंगे और शेयर भी कर सकेंगे। बोर्ड 2016 से ये सुविधा दे रहा है।

    ऐसे देखें रिजल्ट

    • सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in पर जाएं।
    • होमपेज पर दिए गए रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करें। एक नया पेज ओपन होगा।
    • नए पेज पर अपना रोल नंबर और कैप्चा कोड डालकर सबमिट करें।
    • इसके बाद रिजल्ट स्क्रीन पर दिखाई देने लगेगा।


    आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
    Central Board of Secondary Education (CBSE) class 10th results declare news and updates
    मान्या।
    तरु जैन।

    Click here to Read full Details Sources @ /national/news/central-board-of-secondary-education-cbse-class-10th-results-declare-news-and-updates-01539303.html

    SHARE THIS


    Subscribe via Email

    
    Explore Jobs/Opportunities
    Jobs Jobs / Opportunities / Career
    Uttar Pradesh Jobs / Opportunities / Career
    Medical & Pharma Jobs / Opportunities / Career
    Uttarakhand Jobs / Opportunities / Career
    Defense & Police Jobs / Opportunities / Career
    Assam Jobs / Opportunities / Career
    SSC Jobs / Opportunities / Career
    Engineering Jobs / Opportunities / Career
    UPSC Jobs / Opportunities / Career
    Delhi Jobs / Opportunities / Career
    Faculty & Teaching Jobs / Opportunities / Career
    Maharashtra Jobs / Opportunities / Career
    Jammu and Kashmir Jobs / Opportunities / Career
    Himachal Pradesh Jobs / Opportunities / Career
    Chhattisgarh Jobs / Opportunities / Career
    Explore Articles / Stories
    Education
    Government Schemes
    News
    Career
    Admit Card
    Study Material
    Bihar
    State Government Schemes
    Technology
    Exam Result
    DATA
    Public Utility Forms
    Travel
    Sample Question Paper
    Employment News
    Scholorship
    Business
    Astrology
    Syllabus
    Festival
    Explore more
    Main Page
    Register / Login
    Like our Facebook Page
    Follow on Twitter
    Subscrive Our Newsletter Via Nuzzle
    Get Updates Via Rss Feed
    Sarkari Niyukti
    Free Online Practice Set
    Latest Jobs
    Feed contents
    Useful Links
    Photo
    Video
    Post Jobs
    Post Contents
    Supremedeal : India Business Directory
    Find IFSC Code
    Find Post Office / Pincode
    Contact us
    Best Deal

    Disclaimer: we only provide job information. we are not associated with any job website. Although we take extreme care for accuracy of the information provided, but you must check the authenticity of the website before applying for the job. We are not responsible for your operation , once you leave our website and apply thereafter. Please recheck the genuineness of the job website from yourself also.

    Copyright © 2018. Website template by WebThemez.com